बिहार : पुरोहित के माथे पर दोषारोपण का टीका न लगाएं और न लगने दें - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 9 अक्तूबर 2021

बिहार : पुरोहित के माथे पर दोषारोपण का टीका न लगाएं और न लगने दें

dont-blame-prist
चखनी. पश्चिम चम्पारण जिले में बेतिया,चुहड़ी,चनपटिया, रामनगर, रामपुर और चखनी रजवटिया में  रोमन कैथोलिकों की जनसंख्या अधिक है.प्रारंभ में रोजगार की तलाश में बहुत सारे रोमन कैथोलिक पलायन कर अन्य राज्य और जिले में चले गये.अब जो बच रहे हैं वे भी मकान बेच कर शहरी जीवन जीना चाहते हैं.पश्चिम चम्पारण के बेतिया में रहने वाले रोमन कैथोलिकों के धर्मगुरू बिशप पीटर सेवास्टियन गोबियस चिंतित हैं. बताया जाता है इस समय धर्मगुरू बिशप पीटर सेवास्टियन गोबियस और अधिक परेशान हैं.138 साल से स्थापित होली फैमिली चर्च के प्रधान पल्ली पुरोहित पर लोगों ने तथाकथित दोषारोपण कर प्रताड़ित करने लगे हैं.जब से सीधा लाभ मिलने का आसार बंद हो गया है.इसके चलते बिशप और प्रधान पल्ली पुरोहित हलकान हो रहे हैं. पश्चिम चम्पारण जिला की चखनी पल्ली के प्रधान पल्ली पुरोहित फादर चेम्बरलीन ने कहा कि चखनी पल्ली में तीन साल से हूं.इन तीन सालों में पल्ली लोगों के द्वारा किसी तरह की कोई शिकायत न थी.एक धर्मसमाज से निकले व्यक्ति ने युवकों का गिरोह बनाकर अशांति फैलाने का प्रयास किया गया है.इसके कारण चखनी के भक्तगण भी परेशान हैं. फादर चेम्बरलीन ने कहा कि दहशत का माहौल बन जाने के कारण  चखनी के भक्तगण ही बेतिया बिशप हाउस पहुंचा दिये हैं.यहां बिशप हाउस में रहकर युवकों का गिरोह का नेतृत्व करने वाले शख्स के लिए प्रार्थना करता हूं.प्रार्थना के बल पर चखनी पल्ली शांत है. एक सवाल के जवाब में फादर चेम्बरलीन कहते हैं कि मेरे पास कोई महिला सेक्रेटरी नहीं हैं.न ही युवकों के द्वारा दोषारोपण करने वाला गोपनीय पत्र बिशप को प्रेषित किया गया है.खुद बिशप भी कथित गोपनीय पत्र से अनजान हैं. इस बीच चखनी पल्ली से पलायन कर जाने वाले पीटर के परिवार वालों ने चखनी के लोगों से खासकर युवकों से अपील किये हैं कि किसी तरह की राजनीति न करें.और न ही पुरोहित के माथे पर दोषारोपण का टीका लगाएं और न लगने दें.

कोई टिप्पणी नहीं: