प्रतापगढ़ में विधिक जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 26 अक्तूबर 2021

प्रतापगढ़ में विधिक जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन

  • धोलीखेड़ा, टीमरवा, दौतड़, वड़लीखोड़ी, झन्या, पीपलिया आबाद, कचौटिया एवं सेन्ट पॉल स्कूल 

awareness-programme-pratapgadh
प्रतापगढ़/26 अक्टूबर, आजादी के अमृत महोत्सव के अवसर पर राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण, नई दिल्ली आजादी के अमृत महोत्सव के अवसर पर पेन इंडिया अवेयरनेस एण्ड आउटरीच कार्यक्रम के तहत धोलीखेड़ा, टीमरवा, दौतड़, वाड़लीखोड़ी, झन्या, पीपलिया आबाद, कचौटिया एवं सेन्ट पॉल स्कूल प्रतापगढ़ में जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया गया।   सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण(अपर जिला एवं सेशन न्यायाधीश), प्रतापगढ़ श्री शिवप्रसाद तम्बोली द्वारा आजादी के अमृत महोत्सव के अवसर पर आमजन को कृषि से संबंधित जानकारी देते हुए देशी खाद निर्माण, देशी कीटनाशक निर्माण, खेती की देशी पद्धति तथा जल संचय कर एक से अधिक फसल का उत्पादन एवं संचय किये हुए पानी में सिंघाड़ा उत्पादन, कमल के फूल उगाना तथा मछली पालन की जानकारी प्रदान की गई। आमजन को बीज उपचार(कल्चर) करने के आसान तरीकों से अवगत कराते हुए बताया गया कि गाय के गौमूत्र से बीजोपचार किया जा सकता है। उक्त विधियों के माध्यम से कृषक कृषि लागत में कमी कर आय में वृद्धि कर सकें। आमजन को यह भी बताया गया कि गोबर व पत्तियों को सड़ा कर देशी खाद और आसान तकनीक की सहायता से कैसे कीटनाशक का निर्माण किया जा सकता है और रासायनिक खाद और कीटनाशक से होने वाले खतरों से स्वयं को और आमजन को सुरक्षित रखा जा सकता है।  स्वरोजगार के क्षेत्र में कार्यरत धरियावद रोड़ स्थित बड़ौदा स्वरोजगार संस्थान की जानकारी भी आमजन को दी गई। संस्थान द्वारा निःशुल्क सिलाई सिखाने, अगरबत्ती बनाना एवं वर्मी कम्पोस्ट बनाना सिखाया जाता है। इसके माध्यम से अधिक से अधिक प्रशिक्षण कार्यक्रमों से जुड़कर ग्रामीण एवं आमजन स्वरोजगार से जुड़ सकते हैं और स्वयं की आय में वृद्धि कर सकते हैं।  विधिक जानकारियांे के तहत बाल विवाह निषेध, मृत्यु-भोज निषेध, कन्या भ्रूण हत्या निषेध, पीसीपीएनडीटी एक्ट, जन्म-मृत्यु पंजीयन, मोटर व्हीकल अधिनियम, वरिष्ठ नागरिकों के अधिकार, पीड़ित प्रतिकर स्कीम एवं विधिक सहायता की जानकारी दी गई।  प्रतापगढ के सेंट पॉल स्कूल में विधिक जागरूकता शिविर कर उपस्थित विद्यार्थियों को संविधान में वर्णित मूल अधिकार  नागरिकों के मूलभूत कर्त्तव्यों, सामाजिक बुराईयों जैसे डाकन प्रथा, बाल-विवाह, दहेज प्रथा, मृत्यु भोज जैसी बुराईयों व उनका समाज पर प्रभाव बताया गया, बेटी बचाव-बेटी पढ़ाओ, नैतिक मूल्यों के बारे में जानकारी, महिला सशक्तिकरण, राष्ट्रीयता और महत्वपूर्ण विधिक प्रावधानों, रालसा एवं नालसा की योजनाओं की जानकारी प्रदान की गई।

कोई टिप्पणी नहीं: