कांग्रेस के चुनावी वादे महज वादे नहीं हैं बल्कि गारंटी हैं : राहुल गांधी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 30 अक्तूबर 2021

कांग्रेस के चुनावी वादे महज वादे नहीं हैं बल्कि गारंटी हैं : राहुल गांधी

congress-comitted-to-promisses-rahul-gandhi
पणजी, 30 अक्टूबर, गोवा में कांग्रेस के चुनाव प्रचार अभियान का बिगुल फूंकते हुए राहुल गांधी ने शनिवार को कहा कि उनकी पार्टी अपने चुनाव घोषणापत्र में जो वादे करती है, वे महज कोई प्रतिबद्धता नहीं है बल्कि एक ‘‘गारंटी’’ है। गोवा में अगले साल की शुरुआत में विधानसभा चुनाव होने हैं। गोवा की एक दिवसीय यात्रा पर पहुंचने के बाद दक्षिण गोवा में मछुआरे समुदाय को संबोधित करते हुए उन्होंने आरोप लगाया कि भारतीय जनता पार्टी नफरत फैलाती है और लोगों को विभाजित करती है जबकि कांग्रेस प्यार और स्नेह फैलाती है क्योंकि वह लोगों को जोड़ने और उन्हें आगे ले जाने में यकीन करती है। गांधी ने कहा, ‘‘मैं यह स्पष्ट करना चाहता हूं कि भाजपा और कांग्रेस के बीच क्या अंतर है। कांग्रेस भारत के लोगों को एकजुट करने और उन्हें आगे ले जाने में विश्वास करती है।’’ उन्होंने कहा कि भाजपा की नफरत का कांग्रेस का जवाब प्यार और स्नेह है। उन्होंने कहा, ‘‘जब भी वे नफरत फैलाते हैं और लोगों को बांटते हैं तो हम प्यार और स्नेह फैलाते हैं। मैं यहां आपका और अपना वक्त बर्बाद करने के लिए नहीं आया हूं। जैसे आपका वक्त महत्वपूर्ण है तो मेरा वक्त भी महत्वपूर्ण है। हम आपसे घोषणापत्र में जो वादा करेंगे वह महज कोई वादा नहीं होगा बल्कि गारंटी होगी।’’ गांधी ने कांग्रेस के आश्वासनों के बारे में मछुआरों से कहा, ‘‘मेरी विश्वसनीयता मेरे लिए महत्वपूर्ण है। अन्य नेताओं के विपरीत जब मैं यहां कुछ कहता हूं तो मैं सुनिश्चित करूंगा कि वैसा ही हो। अगर मैं यहां आया हूं तो मैं आपसे कहता हूं कि हम कोयला हब की अनुमति नहीं देंगे और अगर मैं यह नहीं करता हूं तो अगली बार जब मैं यहां आऊंगा तो मेरी कोई विश्वसनीयता नहीं रहेगी।’’ दरअसल, मछुआरे दक्षिण पश्चिम रेलवे की दोहरी पटरी वाली परियोजना का विरोध कर रहे हैं क्योंकि उनका आरोप है कि यह राज्य को कोयला हब में बदलने की कोशिश है। गांधी ने कहा कि पार्टी ने छत्तीसगढ़ में किसानों का कर्ज माफ कर उनसे किए वादे पूरे किए। उन्होंने कहा, ‘‘आप पंजाब और कर्नाटक जा सकते हैं, हमने वहां भी यही (वादा पूरा) किया।’’ अपने दौरे पर गांधी शाम को पार्टी कार्यकर्ताओं के सम्मेलन को संबोधित करेंगे और खनन उद्योग पर निर्भर लोगों से भी मुलाकात करेंगे।

कोई टिप्पणी नहीं: