विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 04 अक्टूबर - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 4 अक्तूबर 2021

विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 04 अक्टूबर

कांग्रेस पार्टी द्वारा लखीमपुर की घटना के विरोध में सौंपा जायेगा ज्ञापन


उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी में शांतिपूर्ण  किसान आंदोलन में शामिल किसानों पर केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा के बेटे आशीष मिश्रा ने बर्बरपूर्ण तरीके से गाड़ी चढ़ा दी जिससे 5 किसानों की मौत हो गई है। उत्तर प्रदेश सरकार को बर्खास्त करने एवं केंद्रीय गृह राज्य मंत्री के पुत्र सहित समस्त दोषियों को गिरफ्तार करने हेतु कल 5 अक्टूबर दिन मंगलवार सुबह 11 बजे विवेकानंद चौराहा से एकत्रित होकर कलेक्ट्रेट पहुंचकर कलेक्टर विदिशा को महामहीम राष्ट्रपति महोदय के नाम से ज्ञापन प्रस्तुत किया जायेगा, जिसमें पीडित किसान परिवारों को न्याय दिलाए जाने हेतु मांग की जायेगी। इस अवसर पर सभी कांग्रेस पार्टी के कार्यकर्ता एवं पदाधिकारीगण उपस्थित रहेंगे।


आबादी भू-स्वामित्व के भू-अधिकार पत्रों का वितरण छह को प्रधानमंत्री जी और मुख्यमंत्री जी का लाइव उद्बोधन , प्रभारी मंत्री शामिल होंगे


आबादी भू-स्वामित्व के भू-अधिकार पत्रों का वितरण संबंधी जिला स्तरीय कार्यक्रम बुधवार छह अक्टूबर को ग्यारसपुर में आयोजित किया गया है कि जानकारी देते हुए कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव ने बताया कि उपरोक्त कार्यक्रम में प्रभारी मंत्री श्री विश्वास कैलाश  सारंग भी शामिल होंगे। स्वामित्व योजना अंतर्गत अधिकार अभिलेख के वितरण कार्यक्रम में प्रधानमंत्री, मुख्यमंत्री जी के लाइव उद्बोधन को सुनने देखने के प्रबंध सुनिश्चित किए गए है। उक्त प्रसारण जिले की सभी ग्राम पंचायतों में देखने, सुनने की व्यवस्थाएं सुनिश्चित की गई है। जिला स्तरीय कार्यक्रम में पचास हितग्राहियों को अतिथियों द्वारा भू-अधिकार पत्रों का वितरण मौके पर किया जाएगा। ग्यारसपुर में आयोजित उक्त जिला स्तरीय कार्यक्रम में तमाम व्यवस्थाएं सुव्यवस्थित रूप से समयावधि में पूरी कराई जाएं। इसके लिए कलेक्टर श्री भार्गव ने विभिन्न विभागो के अधिकारियों को आवश्यक जबावदेंही सौंपी है। अपर कलेक्टर श्री वृदांवन सिंह ने बताया कि जिला स्तरीय कार्यक्रम ग्यारसपुर तहसील प्रागंण में बुधवार छह अक्टूबर की प्रातः 11 बजे से शुरू होगा। कार्यक्रम आयोजन व सुव्यवस्थित रूप से संचालन के लिए कलेक्टर द्वारा कार्य विभाजन कर अधिकारियों को आवश्यक जबावदेंही सौंपी है तदानुसार ग्यारसपुर एसडीएम श्री बृजेश कुमार रावत को सम्पूर्ण कार्यक्रम का प्रभारी नियुक्त किया गया है। एसडीएम कुरवाई, बासौदा,ग्यारसपुर चयनित हितग्राहियों को कार्यक्रम स्थल तक लाने के प्रबंध सुनिश्चित करेंगे। एसडीएम बासौदा श्री रोशन राय, हितग्राहियों की बैठक व्यवस्था संबंधी कार्यो का संपादन करेंगे। डिप्टी कलेक्टर श्री विजय राय मंच की समस्त गतिविधियों के प्रभारी एवं आमंत्रण पत्र का मुद्रण बैकड्राप का मुद्रण, कार्यशाला के बैनर, स्वामित्व योजना के अधिकार पत्रों का वितरण कार्यो को अंजाम देंगे। ग्यारसपुर जनपद पंचायत के सीईओ स्थानीय एसडीएम के निर्देशन में मंच, टेन्ट, साउण्ड, एलईडी, स्क्रीन, लाईट, माइक, पेयजल व्यवस्था के प्रबंध सुनिश्चित करते हुए शिकायत निवारण काउंटर संचालित कराएंगे। तहसीलदार ग्यारसपुर, गुलाबगंज, त्योंदा तथा कुरवाई के द्वारा अधिकार पत्रों का मुद्रण एवं वितरण कार्य को अंजाम दिया जाएगा। गुलाबगंज तहसीलदार श्री सुनील शर्मा कार्यक्रम स्थल पर पार्किंग की व्यवस्था सुनिश्चित कराएंगे। अधीक्षक भू-अभिलेख श्री राजेश राम को मंच पर पट्टा, अधिकार अभिलेख वितरण हेतु हितग्राहियों का चयन, भोपाल से पम्पलेट प्राप्त करना एवं तहसीलवार वितरण सुनिश्चित कराने के कार्यो का संपादन किया जाएगा। मंच,टेन्ट के सुदृढीकरण संबंधी कार्य पीडब्ल्यूडी के ईई तथा कार्यक्रम स्थल पर विद्युत व्यवस्था हेतु मध्यप्रदेश मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी लिमिटेड विदिशा के कार्यपालन यंत्री श्री अवधेश त्रिपाठी को सौंपी गई है। सोशल मीडिया आदि के माध्यम से आयोजित कार्यक्रम के प्रसारण की व्यवस्था, जिंगल एवं लघु फिल्म का प्रदर्शन कार्य की जबावदेंही जनसम्पर्क अधिकारी, लोक सेवा केन्द्र के जिला प्रबंधक तथा ई गवर्नेस के जिला प्रबंधक को संयुक्त रूप से सौंपी गई है।


संभागायुक्त द्वारा जिले की परियोजना क्षेत्रो का भ्रमण आज


भोपाल संभागायुक्त श्री कवीन्द्र कियावत पांच अक्टूबर को विदिशा जिले में महिला एवं बाल विकास विभाग की संचालित परियोजना का निरीक्षण कर सेम एवं मेम बच्चों के उन्नयन हेतु संचालित कार्यक्रमों के अलावा आंगनबाडी केन्द्रो के माध्यम से प्रदाय सेवाओं का जायजा लेंगे तथा बच्चो के अभिभावको से संवाद करेंगे।  संभागायुक्त श्री कियावत के परियोजना क्षेत्रों हेतु जारी भ्रमण कार्यक्रम की जानकारी देते हुए कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव ने बताया कि मंगलवार की प्रातः नौ बजे से सायं साढे पांच बजे तक जिले की सभी नौ परियोजना क्षेत्रों का भ्रमण संभागायुक्त द्वारा किया जाएगा। संभागायुक्त श्री कियावत मंगलवार की प्रातः नौ बजे कैलाश सत्यार्थी सभागृह एसएटीआई में आयोजित कार्यक्रम में शामिल होंगे। इसके पश्चात 10.30 बजे ग्यारसपुर विकासखण्ड के अटारीखेजडा सामुदायिक भवन में आयोजित कार्यक्रम में शामिल होंगे। संभागायुक्त का प्राप्त दौरा कार्यक्रम अनुसार मंगलवार की दोपहर 12 बजे बासौदा के जनपद सभागृह में आयोजित कार्यक्रम में, दोपहर दो बजे जनपद सभाकक्ष कुरवाई में, दोपहर 3.30 बजे अम्बेडकर भवन बस स्टेण्ड सिरोंज में तथा सायं 4.30 बजे सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र लटेरी में तथा सायं 5.30 बजे जनपद सभागृह नटेरन में आयोजित कार्यक्रम में शामिल होंगे। संभागायुक्त भ्रमण के दौरान आयोजित कार्यक्रम स्थलों पर मौजूद पोषण मित्रों, पालक से संवाद करेंगे।  संभाग स्तर से निर्मित पोषण मित्र टेलीग्राम ग्रुप से जोड़ा जाएगा। कुपोषित बच्चों के अभिभावको की स्थिति मजबूत करने हेतु आवश्यक विभिन्न आर्थिक गतिविधियों तथा स्वरोजगारमूलक योजनाओं से लाभांवित कराने के प्रयास किए जाएंगे ताकि बच्चों को पोषण संबंधी आवश्यकताओं की पूर्ति हेतु अतिरिक्त संसाधन जुटा सकेंगे।


सेम एवं मेम बच्चों को सामान्य श्रेणी में लाया जाएगा


जिले में चिन्हित किए गए सभी सेम एवं मेम बच्चों को सूचीबद्ध कर 14 नवम्बर बाल दिवस तक सामान्य श्रेणी में लाने के लिए महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा विशेष रणनीति जिले में तय की गई है। प्रत्येक परियोजना स्थल पर विशेष कार्यक्रमों का संचालन किया जाएगा। संभागायुक्त श्री कवीन्द्र कियावत जी मंगलवार को भ्रमण कर समस्त परियोजनाओं में विशेष कार्यक्रम के आयोजनों की शुरूआत करेंगे। महिला एवं बाल विकास विभाग के जिला कार्यक्रम अधिकारी श्री बृजेश शिवहरे ने विभागीय भूमिका के संबंध में बताया कि पोषण अभियान अंतर्गत आंगनबाडी कार्यकर्ताओं द्वारा अगस्त 2021 तक कुल 498 सेम तथा 2470 मेम बच्चों का चिन्हांकन किया गया है। ऐसे ग्राम जहां आंगनबाडी कार्यकर्ता द्वारा गंभीर कुपोषित बच्चे चिन्हित किए गए है वहां एएनएम की निर्धारित व्हीएचएनडी भ्रमण तिथि को चिन्हांकित कर बच्चों का स्वास्थ्य परीक्षण तथा हीमोग्लोबिन की जांच की जाएगी। बीमार बच्चों का मूलभूत उपचार व्हीएचएनडी स्थल पर ही सुनिश्चित किया जाएगा। विशेष चिकित्सीय जटिलतायुक्त गंभीर कुपोषित बच्चों की भूख की जांच में फेल बच्चों को पोषण पुर्नवास केन्द्रो हेतु रिफर किया जाएगा। जिले में 14 नवम्बर तक सेम एवं मेम बच्चों को सामान्य श्रेणी में लाने के लिए अन्य विभागो का भी सहयोग अपेक्षित किया गया है ततसंबंध में कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव ने अंर्तविभागीय समन्वय स्थापित कराकर संबंधित विभागो के जिलाधिकारियों को निर्देश दिए है कि विशेष कार्यक्रम के तहत जिले में ऐसे बच्चे जो चिन्हित किए गए है को आवश्यकता के अनुरूप सुविधाएं मुहैया कराकर उन्हें सामान्य श्रेणी में लाने की हम सबका नैतिक दायित्व है। कलेक्टर श्री भार्गव के द्वारा अंर्तविभागीय समन्वय के माध्यम से जिन विभागो को सहयोगप्रद करने हेतु निर्देशित किया गया है उनमें स्वास्थ्य विभाग के सहयोग से आव्हीएस के चिकित्सक एवं एएनएम द्वारा चिन्हित बच्चों का स्वास्थ्य परीक्षण किया जाएगा। सेम श्रेणी के बच्चों के उपचार में दी जाने वाली आवश्यक दवाईयां उपलब्ध कराई जाएगी। इसी प्रकार आयुष विभाग द्वारा सेम श्रेणी के बच्चों को आवश्यक दवाईयां उपलब्ध कराई जाएगी। उद्यानिकी विभाग के माध्यम से फल एवं सब्जियों से खनिज तत्व विटामिन एवं अन्य पोषक तत्व मिलते है से अवगत कराते हुए इनकी आवश्यकता क्यो जरूरी है साथ ही शरीर की वृद्धि के साथ-साथ कुपोषण दूर करने में फल एवं सब्जियों की महत्वता को नकारा नही जा सकता। चिन्हित स्थलों पर उद्यानिकी विभाग के द्वारा हितग्राहियों को सब्जियों, फल के बीज व किट उपलब्ध कराई जाएगी। पोषण मित्र, पोषक पालक सेम एवं मेम श्रेणी के बच्चों को पोषण स्थिति की निगरानी हेतु पालको का चयन परियोजना, आंगनबाडी स्तर से किया जाएगा। पोषण मित्र को संभाग द्वारा इंस्टाग्राम गु्रप में जोडकर प्रशिक्षित किया जाएगा। 


लंबित आवेदनों की समीक्षा : हितग्राहियों को समय पर लाभांवित कराना सुनिश्चित करें


vidisha news
कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव ने आज लंबित आवेदनों की समीक्षा बैठक के दौरान हितग्राहीमूलक योजनाओं का क्रियान्वयन कराने वाले विभागो के जिला अधिकारियों को निर्देश दिए है कि हितग्राहियों को समय पर योजनाओं का लाभ दिलाया जाना सुनिश्चित हो। हितग्राही भटकाव से बचें, खासकर वित्त पोषण के मामलो में बैंको के चक्कर ना लगाना पडें। ऐसी कार्यप्रणाली सभी विभागो के अधिकारी स्पष्ट रूप से क्रियान्वित करते हुए परलिक्षित हो। कलेक्टर श्री भार्गव ने एनआरएलएम के प्रकरणो में अब तक 16 करोड रूपए की राशि वित्त पोषित की गई है जिस पर असंतोष जाहिर करते हुए उन्होंने कहा कि सितम्बर माह तक 25 करोड़ रूपए का लक्ष्य निर्धारित किया गया था। उन्होंने लीड बैंक आफीसर एवं एनआरएलएम के जिला समन्वयक को विकास खण्ड स्तरो पर बैठक आयोजित कर वित्त पोषण की कार्यवाही उसी दिन सुनिश्चित कराने के निर्देश दिए है। कलेक्टर श्री भार्गव ने समस्त विभागो के जिलाधिकारियों को निर्देश दिए है कि हर विभाग के अधिकारी अपना टूआईसी अर्थात सेकेण्ड लाइन के अधिकारी को तैयार रखें ताकि आवश्यकता पडने पर अथवा जिलाधिकारी के अवकाश पर होने पर शासकीय कार्यो का क्रियान्वयन प्रभावित ना हो। उन्होंने मिलावट के खिलाफ अभियान को जन  अभियान बनाने के लिए हर स्तर पर प्रबंध सुनिश्चित कराने के निर्देश दिए है। कलेक्टर श्री भार्गव ने कहा कि अनुसूचित जाति, जनजाति के वर्ग के पीड़ितो के प्रकरणो में किसी भी प्रकार का विलम्ब ना हो के पुख्ता प्रबंध सुनिश्चित किए जाए। उन्होंने ततसंबंध में समस्त एसडीएम और अजाक डीएसपी को आवश्यक कार्यवाही करने हेतु ताकिद किया है। कलेक्टर श्री भार्गव ने बताया कि कोविड 19 टीकाकरण के क्रियान्वित अभियानो के तहत जिले के 92 प्रतिशत नागरिकों का प्रथम टीकाकरण हो चुका है अतः द्वितीय टीकाकरण के लिए संबंधितों तक सूचनाएं सम्प्रेषण कराने की कार्यवाही क्रियान्वित करने हेतु विभागो को अधिकृत किया है। कलेक्टर श्री भार्गव ने लंबित आवेदनों की समीक्षा बैठक के दौरान स्कूल शिक्षा विभाग की हरित क्रांति भूमि की नीलामी प्रक्रिया शीघ्रतिशीघ्र सम्पन्न कराने के निर्देश दिए है ताकि प्राप्त राशि का शैक्षणिक शाला भवनो एवं गतिविधियों के क्रियान्वयन पर व्यय की जा सकें। उन्होंने लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के अधिकारी को निर्देशित दिए है कि जल मिशन अभियान के तहत क्रियान्वित ग्रामो की शासकीय आंगनबाडी, स्कूल तथा अन्य संस्थान नल कनेक्शन से वंचित ना रहें। कलेक्टर श्री भार्गव को जिला पंचायत सीईओ डॉ योगेश भरसट ने ग्रामीण विकास विभाग के तहत लंबित आवेदनों पर की गई कार्यवाही से अवगत कराया। इसी प्रकार शिक्षा, स्वास्थ्य, सड़क, खाद्य, कॉ-आपरेटिव, ऊर्जा, पीएचई, जिला पंजीयक, जिला योजना, गर्ल्स कॉलेज, मार्कफेड, सामाजिक न्याय विभाग, सम्राट अशोक सागर के अलावा आरईएस विभाग में लंबित आवेदनों पर की गई कार्यवाही से संबंधित विभागीय अधिकारी के द्वारा अवगत कराया गया है। नवीन कलेक्ट्रेट के बेतवा सभागार कक्ष में सम्पन्न हुई इस बैठक में अपर कलेक्टर श्री वृदांवन सिंह, जिला पंचायत सीईओ डॉ योगेश भरसट, डिप्टी कलेक्टर द्वय श्रीमती अमृता गर्ग, सुश्री अनुभा जैन, श्री विजय राय के अलावा विभिन्न विभागो के जिलाधिकारी मौजूद थे।


खण्ड स्तरीय कार्यो की समीक्षा व्हीसी से


कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव ने वीडियो कांफ्रेसिंग के माध्यम से आज अनुविभाग स्तरीय कार्यो की समीक्षा की। उन्होंने कहा कि आगामी त्यौहारो को ध्यानगत रखते हुए प्रत्येक एसडीएम अनुविभाग क्षेत्र में शांति समिति की बैठक आयोजित कर समिति के सदस्यों से संवाद अनिवार्यतः करें और त्यौहारो के मद्देनजर किए जाने वाले बेहतर प्रबंधो का क्रियान्वयन करें। कलेक्टर श्री भार्गव ने कहा कि प्रत्येक मंगलवार को आयोजित जनसुनवाई कार्यक्रम को अतिप्रभावीशील बनाया जाए इसके लिए प्रत्येक ग्राम पंचायत पर जनसुनवाई आयोजित करने के निर्देश प्रसारित किए गए है। उक्त जनसुनवाई कार्यक्रम में ग्राम स्तरीय मुद्दो का समाधान किया जाए साथ ही हितग्राहीमूलक योजनाओ के सुपात्रो का चयन कर संबंधित विभागो को एसडीएम, जनपदों के माध्यम से अवगत कराया जाए। कलेक्टर श्री भार्गव ने कहा कि हाई कोर्ट में प्रचलित प्रकरणो के मामले में किसी भी स्तर पर लापरवाही ना बरती जाए। समय सीमा में जबाव दाखिल किए जाएं और कि गई कार्यवाही का पालन प्रतिवेदन जिला कार्यालय को उपलब्ध कराया जाना सुनिश्चित हो। उपरोक्त कार्यवाही सभी विभागो के अधिकारियों द्वारा क्रियान्वित की जाए के निर्देश दिए गए है। कलेक्टर श्री भार्गव ने बताया कि अब से प्रत्येक माह में दो बार जनपदो के सीईओ के साथ वर्चुअल संवाद कर समीक्षा की जाएगी जिसमें मुख्य रूप से हितग्राहीमूलक योजनाओं और निर्माण कार्यो की अद्यतन जानकारियां प्राप्त की जाएगी। कलेक्टर श्री भार्गव ने सीएम हेल्पलाइन सहित वरिष्ठ कार्यालयों से प्राप्त होने वाले आवेदनों पर समय सीमा में कार्यवाही करने के निर्देश दिए है। कलेक्टर श्री भार्गव ने अनुविभाग क्षेत्रों में अतिक्रमण हटाने की मुहिम पुनः संचालित करने के निर्देश दिए है। उन्होंने चरनोई भूमि पर से अतिक्रमण हटाने की कार्यवाही पर विशेष बल दिया है। बैठक में सीएम हेल्पलाइन सीमांकन, बंटवारा, नामांतरण, राजस्व वसूली, धारणाधिकार कार्यो के संबंध में भी आवश्यक निर्देश दिए गए है। नवीन कलेक्ट्रेट के बेतवा सभागार कक्ष में वीडियो कांफ्रसिंग समीक्षा के दौरान जिला पंचायत सीईओ डॉ योगेश भरसट, अपर कलेक्टर श्री वृदांवन सिंह, डिप्टी कलेक्टर श्री विजय राय, सुश्री अनुभा जैन, श्रीमती अमृता गर्ग के अलावा विभिन्न विभागो के अधिकारी मौजूद थे। 


ग्राम बामोरी शाला में विधिक जागरूकता शिविर का आयोजन हुआ


vidisha news
अखिल भारतीय जागरूकता कार्यक्रम के अंतर्गत जिले में विधिक जागरूकता शिविरों का आयोजन जारी है। सोमवार चार अक्टूबर को सिरोंज तहसील के ग्राम बामोरी शाला में शिविर का आयोजन किया गया था जिसमें जिला न्यायाधीश एवं सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण श्री उपेन्द्र सिंह के द्वारा निःशुल्क विधिक सेवा, लोक अदालत, मध्यस्थता ओर शासन की जन हितकारी योजनाओं पर गहन प्रकाश डाला गया है। कार्यक्रम में मौजूद दीपनाखेडा के थाना प्रभारी, पैरालीगल वांलिटियर्स रामबाबू कुशवाह ने भी सम्बोधित किया। विधिक जागरूकता शिविर में ग्रामीणजनों को पोस्ट आफिस के माध्यम से प्रदाय विधिक सहायता व एप के द्वारा विधिक जानकारी से भी अवगत कराया गया है। उपरोक्त कार्यक्रम मेंं समीपवर्ती ग्रामो के नागरिक भी मौजूद रहें। जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के द्वारा इस प्रकार के आयोजन 14 नवम्बर तक आयोजित किए जाएंगे। आज सम्पन्न हुए जिला विधिक जागरूकता शिविर से 265 नागरिक लाभांवित हुए है कि जानकारी जिला विधिक सहायता अधिकारी श्री प्रदीप ठाकुर ने दी है। 


शांति समिति की बैठक आज


आगामी त्यौहारों के परिपेक्ष्य में शांति समिति की बैठक मंगलवार पांच अक्टूबर को आयोजित की गई है यह बैठक पुलिस कंट्रोल रूम, पुलिस लाइन विदिशा में सायं पांच बजे से शुरू होगी।


अवैध मदिरा की धरपकड़ जारी मोटर साइकिल सहित अवैध मदिरा जप्त


vidisha news

कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव के द्वारा दिए गए निर्देशो के अनुपालन में आबकारी एवं पुलिस विभाग द्वारा संयुक्त कार्यवाही कर अवैध मदिरा की धरपकड कार्यवाही जारी है। जिला आबकारी अधिकारी श्री शैलेष जैन ने बताया कि जिले में अवैध मदिरा के क्रय, विक्रय, परिवहन एवं भण्डारण पर कठोरतापूर्ण अंकुश लगाया गया है। हर स्तर पर सूचना तंत्र के माध्यम से जानकारियां प्राप्त की जा रही है। जैसे ही संज्ञान में आती है तत्काल कार्यवाही की जा रही है। सहायक आबकारी अधिकारी श्री राहुल ढोंके के नेतृत्व में क्रियान्वित अभियान के तहत आज सम्पादित की गई कार्यवाही से अवगत कराया गया है कि विदिशा शहर में मुखबिरो से प्राप्त सूचना के आधार पर माया भोजनालय, राजीवनगर में दबिश देकर आरोपी रमा राठौर, पत्नि विनोद कटारे के कब्जे से 19 पांव विदेशी मदिरा व्हीस्की तथा गोपीचंद पुत्र कुंजीलाल शिल्पकार के कब्जे से एक पांव अवैध मदिरा पीते हुए बरामद की गई है। इसी प्रकार आबकारी वृत्त विदिशा ‘ब’ में सुखराम  पिता सनमान, भागसिंह पुत्र बाबूलाल निवासी घाटखेडी थाना करारिया के कब्जे से एक मोटर साइकिल पर परिवहन करते हुए एक बोरी में पचास पांव मसाला मदिरा तथा एक केन में पांच लीटर हाथ भट्टी मदिरा जप्त की गई है। जप्तसुदा मादक पदार्थ एवं मोटर साइकिल का बाजार मूल्य 39 हजार रूपए आंकलित किया गया है उपरोक्त कार्यवाही आबकारी उप निरीक्षक महेश विश्वकर्मा, सुनील चौहान तथा आबकारी आरक्षक  शिवलाल चिडार, राहुल राठौर, पवन गौर, प्रमोद धुव्रे तथा होमगार्ड बल के जवानो द्वारा सम्पादित की गई है।  


अप्रेन्टिसशिप मेला में 60 प्रतिभागी शामिल हुए


vidisha news

विदिशा के शासकीय आईटीआई प्रशिक्षण संस्थान में एक दिवसीय अप्रेन्टिसशिप मेला का आयोजन आज किया गया था संस्था के प्राचार्य श्री एपी श्रीवास्तव ने बताया कि मेला में आदित्य ग्रासिम गुजरात एवं बालाजी वेफर्स इन्दौर निजी कंपनियों के द्वारा प्रतिभागियों का चयन किया गया है। उक्त मेला में 60 प्रतिभागी शामिल हुए थे जिसमें से पूर्व उल्लेखित निजी कंपनियों के द्वारा 16 प्रतिभागियों का चयन किया गया है। उन्हें नियुक्ति पत्र आगामी तीन दिवसों के भीतर प्रदाय किए जाएंगे। 


कीटनाशक लायसेंस निलंबित


अनुज्ञापन अधिकारी एवं किसान कल्याण तथा कृषि विकास विभाग के उप संचालक श्री पीके चौकसे ने एक कीटनाशक लायसेंस को तत्काल प्रभाव से निलंबित करने का आदेश जारी कर दिया है। मैसर्स चौकसे कृषि सेवा केन्द्र पचमा बासौदा रोड से कीटनाश्क औषधी विक्रय से प्रतिबंधित औषधी विक्रय केन्द्र से कीटनाशक निरीक्षक द्वारा लिए गए सेम्पलो का परीक्षण पश्चात् प्राप्त रिपोर्ट के आधार पर विक्रय संस्था को कारण बताओं पत्र जारी किया गया था किन्तु कीटनाशक औषधी विक्रेता द्वारा जबाव प्रस्तुत नही करने के कारण मेसर्स चौकसे कृषि सेवा केन्द्र पंचमा रोड बासौदा का कीटनाश्क लायसेंस क्रमांक 69 को कीटनाशी अधिनियम के प्रावधानो अनुसार तत्काल प्रभाव से निलंबित किया गया है।


पांच प्रकरणो में एफआईआर दर्ज


मिलावट से मुक्ति अभियान के तहत जिले में खाद्य सुरक्षा मानक अधिनियम के तहत कार्यवाही जारी है। कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव द्वारा मिलावट खोरो के खिलाफ सख्त कार्यवाही करने के निर्देश प्रसारित किए गए है और औचक निरीक्षक की कार्यवाही अधिक से अधिक सम्पादित कराने के निर्देश उन्होंने समस्त एसडीएमो को दिए है। विदिशा जिले में मिलावट से मुक्ति अभियान के तहत संपादित की गई कार्यवाही की जानकारी देते हुए खाद्य सुरक्षा प्रशासन की अभिहित अधिकारी ने बताया कि संकलित प्रकरणो में से पांच में एफआईआर दर्ज कराने की कार्यवाही सम्पादित की गई है। जिले में 283 नमूने संकलित किए गए है जिसमें से 190 की जांच प्रतिवेदन पर कार्यवाही हुई है। 30 नमूने अमानक स्तर के पाए गए है। संकलित किए गए नमूनो में से अधिरोपित जुर्माने की राशि 12 लाख बीस हजार रूपए वसूली गई है जबकि जप्त, विनिष्टकृत खाद्य पदार्थो का मूल्य 39300 रूपए आंकलित किया गया है।

कोई टिप्पणी नहीं: