सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 25 अक्टूबर - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 25 अक्तूबर 2021

सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 25 अक्टूबर

21 राज्यों के यजमानों ने 21 ब्राहम्णों के सानिध्य में 21 हजार मंत्रों के साथ गन्नारस से अभिषेक कर किया 1 हजार बिल्व पत्रों से सहस्त्रार्चन


sehore news
सीहोर। सोमवार को श्रीं शक्ति सेवा संस्थान के द्वारा सौभाग्य पैलेश में आयोजित स्फटिक श्रीयंत्र प्राण प्रतिष्ठा महालक्ष्मी अनुष्ठान में ज्योतिषाचार्य अनिल सोनी के मार्गदर्शन में देश के 21 राज्यों के यजमानों ने ऑनलाईन 21 ब्राहम्णों के सानिध्य में 21 हजार मंत्रों के साथ गन्ना रस से श्रीयंत्र का अभिषेक कर 16 दिवसीय कार्यक्रम में 1 हजार बिल्व पत्रों से सहस्त्रार्चन किया। प्रतिदिन के भाति श्रद्धालुओं ने विधिविधान से गौमाता, देवीलक्ष्मीरूपा कन्या और देवरूप ब्राहम्णों का पूजन अर्चन किया। यजमनाों ने गौमाता, देवीलक्ष्मीरूपा कन्या और ब्राहम्णों को भोजन कराया गया। कार्यक्रम में ऑनलाईन सम्मिलित होकर सोमवार को राजस्थान, गुजरात, महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, बिहार, उत्तराखंड, जम्मूकश्मीर, अरूणाचल प्रदेश, दिल्ली, हरियाणा, उड़ीसा, छत्तीसगढ़, हिमाचल प्रदेश, गोवा, पंजाब, लददाख, झारखंड सहित अन्य राज्य के और स्थानीय श्रद्धालु यजमानों ने स्फटिक श्रीयंत्र प्राण प्रतिष्ठा अनुष्ठान किया। ज्योतिषाचार्य अनिल सोनी के सानिध्य में ब्राहम्णों के द्वारा एक हजार बिल्व पत्रों से स्फटिक श्री यंत्र, दक्षिणवर्ती शंख, मोती, मूंगा, चांदी का सिक्का, गोमती चक्र, पीली कोड़ी, कुमकुम, कमल गट्टे, स्फटिक की मालाओं को अभिमंत्रित किया गया। विश्वशांति और श्रद्धालुओं की सुख शांति समृद्धी के लिए हवन में यजमानों के साथ 21 सौ आहुतियां दी गई। यज्ञाचार्य सौरभ शास्त्री के अनुसार मंगलवार सुबह फलों के रस से महालक्ष्मी माता श्रीयंत्र का अभिषेक किया जाएगा। जिस के बाद एक मूंगा से सहस्त्रार्चन किया जाएगा। कायज़्क्रम में सम्मिलित होने की अपील नागरिकों से श्रीं शक्ति सेवा संस्थान के कायज़्कताओज़्ं के द्वारा की गई है। 

प्रतिभाशाली फुटबाल खिलाड़ी शुभम माने के चार गोल की बदौलत नीमच सुपर लीग में प्रवेश, एक तरफा मुकाबले में नीमच ने खरगोन को 6-0 से हराकर किया सुपर लीग में प्रवेश


sehore news
सीहोर। शहर के चर्च मैदान पर खेली जा रही मध्यप्रदेश प्रीमियर लीग फुटबाल प्रतियोगिता में प्रदेश के उभरते फुटबाल खिलाड़ी शुभम माने के चार गोल की बदौलत एक तरफा मुकाबले में नीमच ने खरगोन को 6=0 के विशाल अंतर से हराकर अपनी टीम को सुपर लीग में प्रवेश कराया है। माने के अलावा बलराम और अशरफ हुसैन ने भी 1-1 गोल किया था। इस मैच में नीमच टीम के खिलाडिय़ों ने पूरे जोश का परिचय देते हुए जीत हासिल की, क्योकि भोपाल  के बराबर उसके पाइंट थे। इस संबंध में जानकारी देते हुए जिला फुटबाल एसोसिएशन के जिला उपाध्यक्ष सुदीप व्यास ने बताया कि सोमवार को मध्यप्रदेश प्रीमियर लीग के दूसरे चरण का अंतिम दिन था। इस मौके पर तीन मैच खेले गए। इसमें पहला मुकाबला नीमच और खरगोन के मध्य खेला गया। जिसमें नीमच ने आसानी से खरगोन पर जीत हासिल की। इसके अलावा दूसरा मैच बालाघाट और भोपाल के मध्य खेला गया। इस मुकाबले में बालाघाट ने भोपाल को 4-1 से हराकर भोपाल फुटबाल टीम के विजय अभियान को रोक कर सुपर लीग में प्रवेश किया। वहीं अंतिम मुकाबला जबलपुर और बडवानी के मध्य खेला गया। जिसमें जबलपुर ने बडवानी टीम को 4-0 से हराया। उन्होंने बताया कि सोमवार को नीमच विरुद्ध खरगोन के बीच खेला गया नीमच की टीम ने शानदार खेल का प्रदर्शन करते हुए पहले हाफ में 3 गोल की बढ़त बना ली थी नीमच की ओर से शुभम माने ने शानदार खेल का प्रदर्शन कर अपनी टीम को आगे बढ़ाने का प्रयास किया। दूसरा मैच भोपाल विरुद्ध बालाघाट के बीच में बीच में भोपाल के सामने कड़ी चुनौतियां भोपाल शानदार खेल का प्रदर्शन कर रही थी काउंटर अटैक बालाघाट के खिलाड़ी जर्सी नंबर 14 मार्शल  किस्कु ने भोपाल के दो डिफेंडर को चकमा देते हुए 2 गोल की बढ़त बना ली दूसरे हाफ में भोपाल ने शानदार खेल का प्रदर्शन और 1 गोल की बढ़त कर गोल मारकर 4-1से ले ली दोनों के बीच जबरदस्त खेल देखने को मिला। इस मौके पर जिला खेल अधिकारी अरविन्द इलिजारा, राजू जैन, मनोज दीक्षित मामा, प्रदीप शर्मा और शिशिर शर्मा आदि ने पहले मैच के मैन ऑफ द मैच शुभम माने (नीमच) दूसरा मैच का मैन ऑफ द मैच मार्शल किस्कु (बालाघाट)  तीसरा मैच का मैन ऑफ द मैच  रामास्वामी (जबलपुर )को दिया। तीसरा मैच जबलपुर विरुद्ध बड़वानी के बीच खेला गया  जिसमें 40 मिनट में पहला गोल जर्सी नंबर 7 साहिल रजक ने किया तथा दूसरा गोल जर्सी नंबर 12 अनीश तथा तीसरा  और चौथा गोल जर्सी नंबर 9 रामास्वामी ने किया.  मैन ऑफ द मैच  श्री गौतम कार तथा एचएस नगबी राजू जैन अरविंद लियज़ोर द्वारा दिया गया. मैच पॉइंट बालाघाट 15, नीमच के 12, जबलपुर के 6, भोपाल के 9, बड़वानी के 3 और खरगोन अब तक कोई मैच नहीं जीत सकी है। इसलिए उसके कोई पाइंट नहीं है। आज के मैच के निर्णायक सदानंद ठाकुर, ज्योति गौर, विजेंद्र परमार, रोशन पाठक, अतुल तिवारी, अक्षय कनौजिया शामिल थे। 


श्री कार्तिक शिव महापुराण कथा का पहला दिन, गलत होने पर खुद को सही साबित करने का प्रयास मत करो-भागवत भूषण पंडित प्रदीप मिश्रा


sehore news
सीहोर। जो अपनी गलती को स्वीकार करता है उसके महान बनने की प्रक्रिया शुरू होती है, मनुष्य का जीवन सिर्फ एक बार मिलता है। असम्भव मानकर अपने लक्ष्य प्राप्ति का मार्ग छोड़ देना व्यक्ति की सबसे बड़ी गलती हैं। उक्त विचार जिला मुख्यालय के समीपस्थ चितावलिया हेमा स्थित निर्माणाधीन मुरली मनोहर एवं कुबेरेश्वर महादेव मंदिर में सोमवार से आरंभ कार्तिक मास के पावन अवसर पर श्री कार्तिक शिव महापुराण कथा के पहले दिन भागवत भूषण पंडित श्री मिश्रा ने कहे। उन्होंने कहा कि आपने अपने आस-पास कई लोगों को देखा होगा, जिन्हें यह पता भी हो कि उन्होंने गलत किया है लेकिन अपने गलत को सही साबित करने के लिए वे अजीबोगरीब तर्क देंगे और उसे सही साबित करने की कोशिश करेंगे। यही नहीं अगर उन्हें अपनी गलत कामों को सही साबित करने का कोई आधार नहीं मिल रहा है, तो वे यह कहकर उस गलत काम को ढकने की कोशिश करते हैं कि कौन ऐसा व्यक्ति है जिन्होंने गलती नहीं की है और अगर सभी लोग गलती करते हैं, तो मुझसे गलती हो गई तो कौन सी बड़ी बात है। उस त्रुटि में सुधार करो।

तारा स्नान आदि का वर्णन किया
महापुराण कथा के पहले दिन पंडित श्री मिश्रा ने कार्तिक माह के महत्व को बताते हुए कहा कि इस माह में सूर्योदय से पूर्व तारों की छाया में स्नान करने और सायंकाल में तारों की छाया में भोजन किया जाता है। इसे तारा स्नान और तारा भोजन कहा जाता है। शास्त्रों में कार्तिक स्नान का बड़ा महत्व बताया गया है। हिन्दू शास्त्रों के अनुसार, कार्तिक माह में व्रत, स्नान और दान का बहुत ही ज्यादा महत्व है. मान्यता इससे पाप का नाश होकर सुख, शांति और मोक्ष की प्राप्ति होती है। इस माह में पवित्र नदी या जलाशयों में स्नान करने के महत्व दोगुना बढ़ जाता है. इस दिन महिलाएं सुबह जल्दी उठकर स्नान करती हैं। यह स्नान कुंवारी या शादीशुदा महिलाएं दोनों कर सकती हैं। कार्तिक माह में व्रत, तप, दान-पुण्य, पवित्र नदियों में स्नान और मंत्र जप आदि का विशेष महत्व होता है, इस माह के बारे में शास्त्रों में कहा गया है कि, जो मनुष्य कार्तिक माह में व्रत, तप, मंत्र जप, दान-पुण्य और दीपदान करता है वह जीवित रहते हुए पृथ्वी पर समस्त सुखों का भोग करता है और मृत्यु के पश्चात भगवान विष्णु के परम धाम बैकुंठ में निवास करता है। विठलेश सेवा समिति के मीडिया प्रभारी प्रियांशु दीक्षित ने बताया कि महापुराण कथा का प्रसारण प्रतिदिन दो बजे से पांच बजे तक आन लाइन किया जा रहा है। 


पीएम आवास योजना के गरीब हितग्राहियों के सपनों से खिलवाड़ करने वालों को सेवादल कांग्रेस कार्यकर्ता बर्दास्त नही करेंगे राकेश राय
  • सेवादल कांग्रेस ने दिया तहसील कार्यालय के सामने विशाल धरना, एसडीएम ने लंबित 2360 प्रधानमंत्री आवास योजना के प्रकरणों में दिया जांच कराने का आश्वासन

sehore news
सीहोर। पीएम आवास योजना के गरीब हितग्राहियों के सपनों से कुछ ओहदेदार खिलवाड़ कर रहे है पात्र हितग्राहियों को दरकिनार किया जा रहा है। गरीबों को उनका हक नहीं दिया जा रहा है। सरकार केवल गरीबों को झूटे सपने दिखा रही है। प्रशासनिक अधिकारी भी गरीबों को आवास उपलब् ध कराने में निंदाजनक लापरवाही बरत रहे है। सेवादल कांग्रेस के कार्यकर्ता पीएम आवास योजना के गरीब हितग्राहियों के सपनों से खिलवाड़ करने वालों को बर्दास्त नही करेंगे उक्त बात सोमवार को तहसील कार्यालय के सामने सेवादल कांग्रेस के द्वारा आयोजित धरना प्रदर्शन में शामिल प्रधानमंत्री आवास योजना के हितग्राहियों और सेवादल कांग्रेस कार्यकर्ताओं को संबांधित करते हुए सेवादल कांग्रेस के प्रदेश सचिव पूर्व नगर पालिका सीहेार के अध्यक्ष राकेश राय ने कहीं। उन्होने कहा की नगर पालिका परिषद क्षेत्र सीहेार के 35 वार्डो में निवासरत प्रधानमंत्री आवास योजना के अनेक कच्चे मकानों में रहने वाले गरीब तबके के लोगों ने प्रधानमंत्री आवास योजना के लाभ के लिए आवेदन नगर पालिका कार्यालय में किया है जिस में से कुछ लोगों को हीं प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ अबतक दिया गया है। जबकी सीहेार शहर के 2360 नागरिकों को योजना से वंचित रखा गया है। इन नागरिकोंं की फाईले नगर पालिका कार्यालय के बाद अनुविभागीय कार्यालय में जांच के लिए भेजी गई है लेकिन यह पर कुछ प्रशासनिक अधिकारियों ने जानबुूझकर फाईले अटका दी है। जिस कारण सैकड़ों लोग नगर पालिका कार्यालय के चक्कर काट रहे है और क्षेत्रीय जनप्रतिनिध भी परेशान हो रहे है। गरीबों के हित में स्थानीय प्रशासन से सेवादल कांग्रेस शीघ्र प्रधानमंत्री योजना के आवेदकों के प्रकरणों की जांच कराने की मांग पहले भी कर चुका है लेकिन लापरवाह अधिकारी कर्मचारी इस तरफ ध्यान देने को तैयार नही है। सेवादल कांग्रेस जिलाध्यक्ष नरेंद्र खंगराले ने संबोधित करते हुए कहा की अनुविभागीय अधिकारी द्वारा वंचित हितग्राहियों के कच्चे मकानों का कर्मचारियों द्वारा मौका स्थल पर जांच नही कराई जा रही है। जिस के चलते हितग्राहियों के बैंक खातों में योजना से संबंधित मकान निर्माण की राशि नही डाली जा रही है। हितग्राही इस कारण दर दर की ठोकरे खानों को मजबूर हो रहे है। अनेक हितग्राही कच्चे मकानों में तिरपाल डालकर और टूटी फूटी चददरों के घरों में निवास करने को विवश हो रहे है। बारिश के मौसम में इन कच्चे मकानों में हादसे भी हो जाते है लेकिन प्रशासन प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ देने को तैयार नही है। सेवादल कांग्रेस के द्वारा तहसील कार्यालय के सामने रखे गए धरना प्रदर्शन स्थल पर पहुुंचकर अनुविभागीय अधिकारी ने ज्ञापन प्राप्त किया। एसडीएम ने सेवादल कांग्रेस के प्रदेश सचिव  राकेश राय और सेवादल कांग्रेस के जिलाध्यक्ष नरेंद्र खंगराले को प्रधानमंत्री आवास योजना के सभी 2360 प्रकरणों के आवेदकों का शीघ्र भौतिक सत्यापन करने का आश्वासन दिया। धरना प्रदर्शन में प्रमुख रूप से युवक कांग्रेस प्रदेश सचिव राजीव गुजराती, अनुसुचित कांग्रेस विभाग जिलाध्यक्ष सीताराम भारती, असंगठित कामगार कांग्रेस जिलाध्यक्ष राजेंद्र नागर,कुबुददीन शेख, पवन राठौर,संतोष सिंह, मांगीलाल टिमरई, मुन्नालाल मालवीय लखन मालवीय, गुडडू लाल सोनकर, कमल सूर्यवंशी, पन्नालाल खंगराले, फरीद खान, राजकुमार सेन, क्षेत्रीय पार्षद आरती खंगराले, आशा गुप्ता, स्वाती जाटव, गायत्री सिलावट, कुशुम विश्वकर्मा, मीरा सोनकर, रूपा सोनकर, फूलवती राठौर, माया विश्वकर्मा, राधा बाई यादव, बबीता जाटव, बबीता लोधी, सुनीता जाटव, पार्वती बुदेला, भागवती राठौर, हेमलता लोधी,रामसवा मालवीय, पाचों बाई मालवीय, प्रियंका जाटव आदि सेवादल कार्यकर्ता और पीएम आवास योजना के हितग्राही महिलाएं शामिल रही।


अजमत नगर में किया जाएगा भव्य कार्यक्रम का आयोजन


sehore news
सीहोर। हर साल की तरह इस साल भी ग्राम अजमत नगर स्थित देव नारायण मंदिर में दीपावली के एक दिन बाद भव्य कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा। इससे पहले गत दिनों अहमदपुर शंकरपुरा पठार से होता हुआ देवनारायण का झंडा अजमत नगर देव बाबा के स्थान पर पहुंचा भंडारा का किया गया आयोजन शामिल हुए। इस संबंध में समाजसेवी खुमान सिंह गुर्जर ने बताया कि भगवान देवनारायण जी का झंडा देव बाबा के स्थान पर पहुंचा। इस मौके पर यात्रा करीब चार किलोमीटर तक जारी रही। इस दौरान सनखेड़ा, नाईहेडी, अहमदपुर, सुआखेड़ी सहित एक दर्जन से अधिक गांवों के श्रद्धालु शामिल थे। उन्होंने बताया कि ग्राम अजमद नगर में प्राचीन देवनारायण बाबा का मंदिर क्षेत्र सहित आस-पास के श्रद्धालुओं की आस्था का केन्द्र है और यहां पर अनेक धार्मिक कार्यक्रमों का आयोजन किया जाता है। यात्रा के दौरान चैन सिंह पंडा, नंदराम, भाव सिंह और इमरत सिंह आदि शामिल थे। झंडे में शामिल श्रद्धालुओं का ग्रामीणों ने अनेक स्थानों पर स्वागत किया।


आगामी दिनों में किया जाएगा मुस्लिम त्योहर कमेटी का गठन


सीहोर। गत दिनों मुस्लिम त्योहर कमेटी के तत्वाधान में इस्लाम धर्म के प्रवर्तक हजरत पैगंबर मोहम्मद साहब के जन्म दिवस पर ईद-मिलाद-उन-नबी का पर्व आस्था और सादगी के साथ मनाया गया था। अब कोरोना संक्रमण काल आदि की परिस्थतियों को मद्देनजर रखते हुए आगामी दिनों में मुस्लिम त्योहर कमेटी का गठन किया जाएगा। इस संबंध में जानकारी देते हुए मुस्लिम त्योहर कमेटी के अध्यक्ष नईम नवाब ने बताया कि हाल के दिनों में कुछ लोग छावनी त्योहर कमेटी का गठन आदि करने जा रहे है, उन्होंने कहा कि इस तरह की कमेटी अवैध मानी जाएगी। उन्होंने कहा कि आगामी दिनों में सर्व सम्मति से कमेटी का गठन किया जाएगा। 



जिला पंचायत सीईओ ने खाद्य पदार्थों की जांच के दिए निर्देष
  • सीएम हेल्पलाइन के लंबित प्रकरणों का निराकरण समय सीमा में करें-सीईओ श्री सिंह
  • समय सीमा पत्रों की समीक्षा बैठक संपन्न

sehore news
जिला पंचायत सीईओ श्री हर्ष सिंह एवं अपर कलेक्टर श्रीमती गुंचा सनोबर ने समस्त सीएम हेल्पलाइन के प्रकरणों का समय सीमा में संतुष्टिपूर्ण निराकरण करने के निर्देष दिए। श्री सिंह ने समय सीमा पत्रों के साथ-साथ समाधान ऑनलाइन में चयनित विषयों, समय सीमा पत्रों और सीएम हेल्पलाइन में लंबित शिकायतों की समीक्षा की। उन्होंने निर्देश दिए कि समस्त अधिकारी अधिकारी दैनिक रूप से सीएम हेल्पलाइन शिकायतों की समिक्षा करें और शिकायतों को संतुष्टि पूर्ण निराकरण के पश्चात बंद कराएं।  श्री सिंह ने सभी विभागों के जिलाधिकारियों को निर्देष दिए कि जन सुनवाई में आने वाले लोगों की समस्याओं और शिकायतों का पूरी गम्भीरता से निकराकरण करें ताकि बार बार जन सुनवाई में आना न पड़े। उन्होंने कोविड टीकाकरण के द्वितीय डोज का लक्ष्य समय पर पूर्ण करने के लिए माइक्रो प्लान बनाकर सभी नागरिकों का कोविड-19 का द्वितीय डोज लगाना सुनिश्चत करने के निर्देष दिए। सीईओ श्री सिंह ने निर्देश दिये कि समस्त अनुविभागीय अधिकारी, तहसीलदार भू माफियाओं, खनिज माफिया एवं मिलावट करने वाले माफियाओं पर सख्ती से कार्रवाई करें। उहोंने कहा कि विभिन्न विभागों से संबंधित फैमिली पेंशन के प्रकरणों में परिवार को समय पर लाभ मिले इसके लिए तत्परता से एवं यथोचित समय में कार्यवाही करते हुए परिवार को लाभ दिलाएं। लंबित पेंशन प्रकरणों की समय सीमा बैठक में नियमित रूप से समीक्षा भी की जाएगी। श्री सिंह ने कृषि विभाग की समीक्षा के दौरान उन्होंने कहा कि जिले में खाद वितरण सुचारू रूप से करने की व्यवस्था की जाए ताकि किसानों को परेषानी न हो। उन्होंने खाद-बीज एवं कीटनाषक दूकानदारों द्वारा अधिक भण्डारण न किया जा सके तथा  निर्धारत दर पर ही बिक्री हो, इसके लिए दूकानों का नियमित नरीक्षण करने के निर्देष दिए। उन्होंने महिला बाल विकास द्वारा बाल स्वास्थ्य संर्वधन अभियान के तहत पोषण मित्र बनाये गये अधिकारियों को सतत संपर्क बनाये रखने और कुपाषित बच्चे को समुचित पोषण दिया जाना सुनिष्चित करने के निर्देष दिए। श्री सिंह ने कोविड-19 अनुकम्पा नियुक्ति, कोविड अनुग्रह योजना की समीक्षा करते हुए कहा कि कोई प्रकरण लंबित न रहे। उन्हेंने सभी अधिकारियों को निर्देष दिए की नेशनल अचीवमेंट सर्वे के लिए स्कूलों की एवं छात्रों की समुचित तैयारी के लिए स्कूलों का निरीक्षण करने के निर्देष दिए।  अपर कलेकटर श्रीमती गुंचा सनोबर ने स्वामित्व योजना, खाद्यान वितरण सहित अनेक राजस्व संबंधित प्रकरणों की समीक्षा करते हुए शीध्र निराकरण के निर्देष दिए। बैठक में एसडीएम श्री बृजेष सक्सेना, डिप्टी कलेक्टर श्री रवि वर्मा, डिप्टी कलेक्टर प्रगति वर्मा, डिप्टी कलेक्टर आदित्य जैन सहित सभी विभागों के जिला अधिकारी उपस्थित थे।


अंतिम छोर के किसान के खेत तक पहुंचे पानी - अपर कलेक्टर


sehore news
जिला जल उपयोगिता समिति की बैठक में अपर कलेक्टर श्रीमती गुंचा सनोबर ने कहा कि सिंचाई हेतु अंतिम छोर तक पानी पहुंच सके। इसके लिए नहरों के माध्यम से पर्याप्त मात्रा में पानी छोडा जावे। पानी पहुंचने में आने वाली तकनीकी दिक्कतों को विभाग का अमला मौके पर जाकर दूर करें। उन्होंने कहा कि नहरों की नियमित साफ-सफाई के साथ ही नहरों से व्यर्थ जा रहे पानी को रोकने हेतु  नहरों की मरम्मत कराई जाये। उन्होंने कहा कि नहरों से पानी छोड़ने की पूर्व सूचना ग्रामीणों को भी दें। बैठक में जिला पंचायत के मुख्य कार्यपाल अधिकारी हर्ष सिंह भी उपिस्थत थे। बैठक में कार्यपालन यंत्री प्रियंका भंडारी एवं हर्षा जैनवाल ने विस्तार से जानकारी दी।  बैठक में वर्ष 2021-22 में जलाशयों में उपलब्ध जल भण्डारण क्षमता पर चर्चा करते हुए जानकारी दी गई कि सीहोर जिले में जल संसाधन संभाग, सीहोर के अधीन मध्यम परियोजना 04 (दोराहा, रामपुराखुर्द, बनेटा मध्यम उद्दहन सिंचाई योजना एवं घोघरा परियोजना  तथा 66 लघु सिंचाई तालाब, 10 लघु उदवहन सिंचाई योजना 01 नहर तथा 194 स्टापडेम-वैराज है। इस प्रकार जिले में कुल 275 सिंचाई योजनायें निर्मित हैं, जिनकी कुल उपयोगी जल भण्डारण क्षमता 227.233 मि.घ.मी. है। जिसके विरूद्ध इस वर्ष दिनांक 21/10/2021 की स्थिति में मात्र 177.044 मि.घ.मी. जल संग्रहण हुआ है जो कि 78 प्रतिशत है।         

वर्ष 2021-22 में रबी फसल के सिंचाई लक्ष्यों का निर्धारण पर अनुमोदन
सीहोर जिले में मध्यम परियोजना 03 एवं 01 मध्यम उद्वहन सिंचाई योजना व 66 लघु सिंचाई तालाब एवं 10 लघु उदवहन सिंचाई योजना 01 नहर तथा 194 स्टापडेम-बैराज अर्थात् कुल 275 सिंचाई योजनाओं से सिंचाई सुविधा उपलब्ध हो रही है। इन योजनाओं का सी.सी.ए. का क्षेत्र 50648 हैक्टेयर है। जिसके विरूद्ध जल वाष्पीकरण एवं पेयजल हेतु जल मात्रा के आरक्षण आदि को ध्यान में रखते हुए वर्ष 2021-22 में जिला सीहोर के अंतर्गत कुल 51267 हैक्टेयर सिंचाई लक्ष्य निर्धारित किया गया है।         
                                              
पेयजल के लिए जल का आरक्षण           
इस वर्ष रामपुराखुर्द जलाशय में उपयोगी जल भण्डारण मात्र 3.80 मि.घ.मी. ही हुआ है, जो आष्टा नगर के पेयजल प्रयोजन हेतु रखा गया है. इससे सिंचाई प्रस्तावित नहीं की गई है। जमोनिया तालाब से सीहोर नगर को पेयजल हेतु उपलब्ध 3.10मि.घ. मी. तथा भगवानपुरा जलाशय में उपलब्ध 2.56 मि.घ.मी. पेयजल-निस्तार प्रयोजन हेतु रखा गया है। इस प्रकार जिले में कुल 8.72 मि. घ.मी. जल मात्रा का आरक्षण प्रस्तावित है।          
                                                           
कोलार परियोजना   
बैठक में जानकारी दी गई कि कोलार परियोजना एक बहुउद्देशीय परियोजना है, इससे सीहोर जिले की रेहटी एंव नसरूल्लागंज तहसीलों की 45087 हेक्टर क्षेत्र में सिंचाई सुविधा कराना एंव भोपाल शहर के लिये पेयजल उपलब्ध कराया जाना प्रस्तावित था, किन्तु बांध की निर्मित क्षमता के कारण यह क्षेत्र 35040 हेक्टर निर्धारित किया गया था। वर्तमान में परियोजना के 35040 हेक्टर क्षेत्र में सिंचाई क्षमता निर्मित की जा चुकी है। निर्मित सिंचाई क्षमता के सम्पूर्ण क्षेत्र में वर्ष 2020-21 में रबी सिंचाई हेतु पलेवा एंव दो पानी प्रदाय किया गया है। परियोजना से सिंचाई सुविधा इसकी बांयी तट नहर प्रणाली एंव दांयी तट नहर प्रणाली के माध्यम से कराई जाती है, जो कि कोलार नहर संभाग नसरूल्लागंज के कार्य क्षेत्र के अन्तर्गत है।



कैरियर कांउसिलिंग योजनान्तर्गत काउंसलर/विषय विशेषज्ञों के पैनल गठन


जिला रोजगार कार्यालय में वित्तीय वर्ष 2021-22 के लिये कैरियर कांउसिलिंग योजनान्तर्गत काउंसलर, विषय विशेषज्ञ के पैनल के गठन के लिए 28 अक्टूबर तक विषय विशेषज्ञों से आवेदन आमंत्रित किये जाते है। चयनित कांउसलर, विषय विशेषज्ञ को उनके गुणवत्ता के आधार पर प्रत्येक कार्य दिवस का मानदेय समिति द्वारा निर्धारित कर अधिकतम एक हजार रूपये प्रदाय किया जावेगा। उन्हे सीहोर के सभी विकासखण्डों के शासकीय महाविद्यालयों, हाई, हायर सेकेण्डरी स्कूलों व अन्य शैक्षणिक-गैर शैक्षणिक संस्थाओं में कांउसिलिंग प्रोग्राम आयोजित करने हेतु जाना होगा।   योग्य एवं इच्छुक उम्मीदवार 28 अक्टूबर की शाम 5.00 बजे तक अपने आवेदन पत्र कार्यालय में जमा करवा सकते है अथवा ई-मेल कमवेमीवत/हउंपसण्बवउ पर भेज सकते है। काउंसलर के लिये कांउसलर गाइडेन्स डिप्लोमा अथवा मनोविज्ञान से एम.ए. तथा विषय विषेषज्ञ के लिये स्नातकोत्तर पी.एच.डी. उपाधि होना अनिवार्य है। अनुभवी आवेदकों को प्राथमिकता दी जायेगी। आवेदन पत्र जिला रोजगार कार्यालय कलेक्ट्रेट भवन कक्ष क्रमांक 119 में कार्यालयीन समय में प्राप्त कर सकते है। शासकीय सेवक अपने विभाग के अनापत्ति प्रमाण पत्र के साथ आवेदन पत्र प्रस्तुत करें। 28 अक्टूबर के उपरांत प्राप्त आवेदन पत्रों पर विचार नहीं किया जावेगा।


शासकीय कन्या महाविद्यालय में 26 अक्टूबर को रोजगार मेला


कलेक्टर श्री चन्द्र मोहन ठाकुर द्वारा दिए गये निर्देशानुसार जिला रोजगार कार्यालय द्वारा जिले के विभिन्न स्थानों पर निरन्तर रोजगार मेले का आयोजन किया जारा है। इसी श्रृंखला में 26 अक्टूबर को स्थानीय शासकीय कन्या महाविद्यालय सीहोर में प्रातः 12 बजे से 4 बजे तक रोजगार मेला आयोजित किया जाएगा जिसमें सेल मेन्युफेक्चरिंग कंपनी, भारतीय जीवन बीमा निगम, एसबीआई लाईफ,वेल्सपन इण्डिया प्रा. लिमिटेड आइसेक्ट, सेनापति सिक्योरिटी सर्विसेस एवं अन्य कंपनियों द्वारा एलआईसी एजेंट, मशीन आपरेटर, बीमा अभिकर्ता, सेक्योरिटी गार्ड आदि पदों पर वेतन 6000-12500 पर भर्ती की जावेगी। उम्र 18-35, वर्ष हो और न्यूनतम योग्यता 10वी उत्तीर्ण इच्छुक युवक/युवतियां निर्धारित समय पर अपने समस्त प्रमाण पत्रों सहित उपस्थित होंवे। 


सशक्त राष्ट्र निर्माण में शिक्षित और जागरूक होना आवश्यक -  सचिव श्री दांगी



sehore news
विधिक सेवा प्राधिकरण प्रधान जिला न्यायाधीश श्री आरएन चंद के निर्देश पर आजादी का अमृत महोत्सव अंतर्गत ‘‘पेन इंडिया अवेयरनेस कार्यक्रम‘‘ के तहत विधिक जागरूकता के उद्देश्य से ग्राम पंचायत दोराहा में विधिक जागरूकता शिविर आयोजित किया गया। जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव श्री मुकेश कुमार दांगी ने कहा कि देश की 70 प्रतिशत जनसंख्या गांवों में निवास करती है, इसलिए ग्रामीण बच्चों का शिक्षित और जागरूक होना आवश्यक है। शिक्षित व जागरूक होने से ही सशक्त राष्ट्र का निर्माण होगा। विधिक सेवा प्राधिकरण के गठन संबंधी जानकारी देते हुए कहा कि प्राधिकरण का मूल उद्देश्य एवं कार्य है कि गरीब एवं निर्धन व्यक्ति को निःशुल्क एवं सुलभ न्याय मिले, प्राधिकरण हर वर्ग को निःशुल्क विधिक परामर्श देने के लिए तत्पर है। उसी उद्देश्य की पूर्ति के लिए गांव-गांव जाकर आमजन को योजनाओं की जानकारी देकर जागरूक किया जा रहा है। उन्होंने साईबर क्राईम के संबंध में कहा कि मोबाईल का उतना ही प्रयोग करें जितना आवश्यक हो, अन्यथा ज्यादा उपयोग करने से मानसिक एवं शारीरिक रूप से बीमार हो सकते हैं, मोबाईल पर किसी प्रकार का मेसेज या वीडियो एवं फोटो भलिभांति जांच कर ही फारवर्ड करें अन्यथा आपके द्वारा कोई गलत मेसेज या वीडियो या फोटो चला जाता है तो आप दण्ड के भागीदार हो जाते हैं। शिविर में म.प्र. अपराध पीड़ित प्रतिकर योजना, पाक्सो एक्ट, मोटर दुघटना दावा अधिनियम, नेशनल लोक अदालत के संबंध में जानकारी दी।



जिले में आज कोई भी व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव नहीं मिला, वर्तमान में कोरोना एक्टिव पॉजिटिव की संख्या शून्य

 
पिछले 24 घंटे के दौरान प्राप्त रिपोर्ट में जिले में आज कोई भी व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव नहीं मिला है। सीएमएचओ कार्यालय से प्राप्त जानकारी के अनुसार जिले में अब तक कुल कोरोना पॉजिटिव व्यक्तियों की संख्या 10142  है। वर्तमान में एक्टिव पॉजिटिव शून्य हो गई हैं। कुल रिकवर व्यक्तियों की संख्या 10020  हैं। आज 654 सैम्पल लिए गए है। जांच के लिए सीहोर शहरी क्षेत्र से 193, श्यामपुर से 131, नसरूल्लागंज 61, आष्टा से 184,  बुधनी से 28 तथा इछावर से 57 सेंपल लिए गए हैं। अभी तक कुल जांच के लिए भेजे गए सेंपल 284378 हैं। जिनमें से 272776 सैंपलों की रिपोर्ट नेगेटिव आई है। आज 578 सैंपलों की रिपोर्ट निगेटिव आई है। कुल 1389 सैंपलों की रिपोर्ट आना शेष है। पैथोलॉजी द्वारा कोरोना वायरस सेंपल की रिजेक्ट संख्या कुल 71 है।


त्रिस्तरीय पंचायत आम निर्वाचन 2021 के संबंध में प्रशिक्षण आज

 

त्रिस्तरीय पंचायत आम निर्वाचन 2021 के संबंध में कलेक्टर श्री चन्द्र मोहन ठाकुर निर्देशानुसार जिले के समस्त अनुविभागीय अधिकारी, तहसीलदार, नायब तहसीलदार एवं ब्लॉक स्तर के मास्टर ट्रेनरों के प्रशिक्षण का आयोजन 26 अक्टूबर को दोपहर 01:00 बजे से जिला पंचायत सभाकक्ष में किया जाएगा।



आबकारी विभाग ने छापामार कार्रवाई कर अवैध मदिरा जप्त की



sehore news

जिले में अवैध मदिरा के विरुद्ध कलेक्टर श्री चन्द्र मोहन ठाकुर के निर्देशन पर आबकारी विभाग द्वारा निरंतर कार्रवाई की जा रही है। आबकारी अमले ने नसरूल्लागंज, गोपालपुर में 08 प्रकरणों में कार्रवाई करते हुए ड्रम, कुप्पों,व भट्टी से कुल 41 हाथ भट्टी कच्ची देशी मदिरा और 250 किलोग्राम महुआ लाहन जप्त किया है। आबकारी अधिकारी कीर्ति दुबे ने बताया कि इन पांच प्रकरणों में कार्रवाई करते हुए मप्र आबकारी अधिनियम 1915 की विभिन्न धाराओं में 08 प्रकरण दर्ज कर 41 हाथ भट्टी कच्ची मदिरा तथा 250 किग्रा महुआ लाहन जप्त किया है। कार्यवाही में सहायक जिला आबकारी अधिकारी श्री अमिताभ जैन, आबकारी आरक्षक श्री वैभव नागवंशी और टीम शामिल थी।

sehore news

युवाओं ने दिया क्लीन इंडिया का संदेश



नेहरु युवा केंद्र तथा राष्ट्रीय सेवा योजना द्वारा अमृत महोत्सव के अंतर्गत क्लीन इंडिया कार्यक्रम का आयोजन शासकीय माध्यमिक शाला शाहपुर कोडिया और शिवपुरी में किया गया। स्वयंसेवकों ने स्वच्छता श्रमदान करके प्लास्टिक कचरे को एकत्रित किया और ग्रामवासियों को प्लास्टिक फ्री इंडिया बनाने का महत्व समझाया। कार्यक्रम में मुख्य रूप से शिवपुरी प्राचार्य श्री सूरज सिंह परमार, वरिष्ठ स्वयंसेवक श्री उमेश पंसारी और एनवायवी श्री पवन पंसारी उपस्थित थे।


31 अक्टूबर को राष्ट्रीय एकता दिवस के रूप में मनाया जाएगा


सरदार वल्लभ भाई पटेल की जन्म-तिथि को "राष्ट्रीय एकता दिवस" के रूप में मनाया जाता है। भोपाल में राज्य स्तरीय कार्यक्रम आयोजित किया जायेगा और निर्वाचन वाले जिलो को छोड़कर सभी जिला मुख्यालय पर 'राष्ट्रीय एकता' की शपथ दिलाई जाएगी। एकता, अखंडता और सुरक्षा की भावना को मजबूती प्रदान करने के लिए राज्य पुलिस, वर्दीधारी बलों और अन्य एजेंसियों द्वारा 31 अक्टूबर को मार्च पास्ट का आयोजन किया जाएगा।  उप सचिव सामान्य प्रशासन विभाग श्री डी.के. नागेंद्र ने बताया कि भोपाल में आयोजित राज्य स्तरीय कार्यक्रम और सभी जिलों के कार्यक्रम में साइकिल और मोटरसाइकिल रैली निकाली जाएगी। कार्यक्रम का प्रसारण वेबकास्ट पर किया जाएगा, जिससे सभी आमजन कार्यक्रम को देख सकेंगे। इससे राष्ट्रीय एकता और 'आजादी का अमृत महोत्सव' के संदेश को पूरे देश में प्रसारित करने में मदद मिलेगी। सामान्य प्रशासन विभाग द्वारा "राष्ट्रीय एकता दिवस" मनाए जाने के संबंध में यह निर्देश संबंधित संभाग आयुक्त और जिलों के कलेक्टर को दिए गए हैं।    

दिव्यांगजनों को कृत्रिम यंत्र - सहायक उपकरण के लिए कामन सर्विस सेंटरों पर पंजीयन अनिवार्य


दिव्यांगजन एवं वरिष्ठ नागरिकों को कृत्रिम अंग एवं अन्य सहायक उपकरण उपलब्ध करवानें हेतु एलिम्कों भारत सरकार द्वारा लघु शिविरों का आयोजन किया जाएगा। जिसके लिए पंजीकरण एलिम्कों रजिस्ट्रेशन स्थानीय जन सेवा केंद्रों पर करवाना अनिवार्य है। जो नि:शुल्क होगा। इस रजिस्ट्रेशन के लिए दिव्यांगता प्रमाण पत्र 40 प्रतिशत या उससे अधिक जिला मेडिकल बोर्ड द्वारा जारी आय प्रमाण पत्र नियोक्ता, संस्थान के मुखिया, ग्राम प्रधान, सरपंच, तहसीलदार या अन्य राजस्व विभाग द्वारा प्रार्थी की आमदनी 15 हजार रूपये मासिक या इससे कम हो, प्रार्थी का एक फोटो, निवास प्रमाण पत्र लगाना अनिवार्य है। वरिष्ठ नागरिकों के रजिस्ट्रेशन के लिए आधार कार्ड, वोटर आई.डी. कार्ड, बीपीएल राशन कार्ड, पेंशन प्रमाण अथवा आय प्रमाण पत्र (ग्राम प्रधान, सरपंच, तहसीलदार या अन्य राजस्व विभाग द्वारा जारी प्रार्थी की आमदनी 15 हजार रूपये मासिक या इससे कम हो,प्रार्थी का एक फोटो लगाना अनिवार्य है।


जल भंडारण क्षमता बढ़ाने के लिए जल संग्रहण संरचनाओं के जीर्णोद्धार और नवीनीकरण पर फोकस

  • ग्रामीण समुदाय की सहभागिता होगी सुनिश्चित


वि‍भिन्न योजनाओं के अंतर्गत निर्मित हुए तालाब, चेकडेम और स्टापडेम जिनका यथोचित रख-रखाव तथा प्रबंधन के अभाव में क्षमता के अनुरूप परिणाम नहीं दे पा रहे हैं, को उपयोगी बनाने के लिए ग्रामीणों की सहभागिता से पुनर्जीवित किया जाएगा।   राज्य शासन के निर्देशानुसार जो जल संरचनाये अनुपयोगी हो गई हैं,ऐसे तालाबों, चेकडेम तथा स्टापडेम के जीर्णोद्धार तथा नवीनीकरण कर इनकी जल भंडारण क्षमता में वृद्धि करने और जल भंडारण क्षमता का उपयोग ग्रामीणों द्वारा सिंचाई, मत्स्य उत्पादन एवं सिंघाड़ा उत्पादन के लिए किया कर आर्थिक लाभ अर्जित करने पर फोकस किया जाएगा। इन जल संग्रहण संरचनाओं की स्थिरता सुनिश्चित करने और ग्रामीण समुदाय की सहभागिता के लिए निर्देश दिए गए है। निर्देश में जीर्णोद्धार और नवीनीकरण के संरचनाओं के चयन, लाभार्थियों का चिन्हांकन और उद्देश्य का निधार्रण करने के लिए ऐसे तालाब, चेकडेम और स्टापडेम का चयन किया जायेग, जिनका जीर्णोद्धार अथवा नवीनीकरण एक वर्ष की अवधि में पूर्ण किया जा सके। जिससे जल भंडारण क्षमता में अपेक्षित वृद्धि हो और उचित लाभ प्राप्त किया जा सके। निर्देश में संरचना का चयन करते समय इससे लाभ लेने वाले संभावित ग्रामीणों से भी विचार- विमर्श किया जायेगा। लाभार्थियों का चिन्हांकन करते समय जल संग्रहण संरचना की क्षमता में वृद्धि होने से कृषि उत्पादन, मत्स्य उत्पादन एवं सिंघाड़ा उत्पादन से होने वाले आर्थिक लाभ से भी उन्हें अवगत कराया जायेगा, जिससे ग्रामीणजन जनभागीदारी एवं योगदान के लिए सहमत हो सकें। ऐसे तालाब, चेकडेम तथा स्टापडेम का जीर्णोद्धार अथवा नवीनीकरण किया जायेगा, जिसमें परिणाम मिलना सुनिश्चित हो। साथ ही संरचना से लाभ लेने वाले ग्रामीण श्रम, सामग्री, मशीन अथवा धनराशि के रूप में योगदान देने के लिए सहमत हो। संरचनाओं के चयन के लिए जीआईएस तकनीक का उपयोग किया जायेगा। जिला परियोजना अधिकारी मनरेगा ग्राम पंचायत वार जीआईएस की KML File उपलब्ध करायेगें। ग्राम पंचायत में मौका स्थल पर जाकर चिन्हित संरचना की मोबाईल ऐप के माध्यम से जीओ टेगिंग की जायेगी। इस अभियान में जल उपयोगकर्ताओं के समूह का गठन, संरचानओं के जीर्णोद्धार अथवा नवीनीकरण के लिए कार्य चयन का विस्तृत डीपीआर तैयार करना, तकनीकी विवरण के अंतर्गत संरचना की मूल ड्राइंग - डिजाइन तथा विश्लेषण, हितग्राहियों तथा परिणामों का विवरण, वित्तीय संसाधनों एवं जनभागीदारी, तकनीकी सलाहकार समिति, तकनीकी प्रशासकीय स्वीकृति, क्रियान्वयन एजेंसी, उपयोगकर्ता समूहों को पानी का वितरण और गुणवत्ता नियंत्रण एवं अनुश्रवण करने की गाइडलाईन जारी की गई है। परिपत्र में एक हेक्टेयर की लिए असिंचित एवं सिंचित गेहूँ की खेती की आर्थिक अनुमानित आय और व्यय के अनुसार असिंचित खेती में 14 हजार 800 और सिंचित खेती में 36 हजार 200 रूपये का लाभ प्राप्त होगा। एक हेक्टेयर जल क्षेत्र के तालाब में सिंघाड़ा उत्पादन में एक लाख 5 हजार और मत्स्य उत्पादन में 5 लाख 50 हजार का लाभ होगा। मनरेगा परिषद् द्वारा समय-समय पर जारी निर्देशों के अनुरूप कार्यवाही की जाये और विशेषकर गुणवत्ता नियंत्रण के लिए विभिन्न स्तर के अधिकारियों और कर्मचारियों द्वारा सतत् मॉनिटरिंग की अनिवार्यता सुनिश्चित की जाये।  


सतर्कता जागरूकता सप्ताह 26 अक्टूबर से 01 नवम्बर तक मनाया जाएगा


केन्द्रीय सतर्कता आयोग के निर्देशानुसार सतर्कता जागरूकता सप्ताह 26 अक्टूबर से एक नवम्बर 2021 तक मनाया जायेगा । इस संबंध में समस्त कार्यालय प्रमुखों को दिशा-निर्देशानुसार आवश्यक कार्यवाही करने हेतु पत्र के माध्यम से सूचित किया गया है। 


प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना के लिए आवेदन 30 अक्टूबर तक आमंत्रित


प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजनान्तर्गत 30 अक्टूबर, 2021 तक आवेदन पत्र आमंत्रित किये जा रहे है। इच्छुक आवेदक कार्यालय सहायक संचालक मत्स्योद्योग में स्वयं की भूमि में तालाब निर्माण, रिसर्कुलेटरी एक्वाकल्चार सिस्टम निर्माण, वायोफ्लॉक, फीड मिल, आईस प्लाण्ट या प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजनान्तर्गत संचालित योजनाओं के डीपीआर आवश्यक दस्तावेजों को संलग्न करते हुए कार्यालय सहायक संचालक मत्स्योद्योग में व्यक्तिगत रूप से उपस्थित होकर प्रस्तुत कर सकते है। इस संबंध में बिचौलियों एवं मध्यस्थों के माध्यम से प्रस्तुत आवेदनों पर विचार नही किया जाएगा। आवेदन पत्र के साथ आवेदक का खुद का मोबाईल नम्बर दिया जाना अनिवार्य है। उन्ही के आवेदन मान्य होगे जो प्रस्तावित भूमि का भूस्वामी होगा या जिसके पास दस वर्षीय रजिस्टर्ड लीज होगी। आवेदन पत्र के साथ भूमि स्वामित्व प्रमाण पत्र एवं आवश्यक अनुमतिया संलग्न करनी अनिवार्य है।


लोकल सामग्री क्रय कर हुनरमंदों के त्यौहार भी करें रोशन : मुख्यमंत्री 
  • चौहान प्रधानमंत्री के "वोकल फॉर लोकल" के सकंल्प को पूरा करने में म.प्र की सतत भागीदारी 

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि देश एवं प्रदेश के विकास और आर्थिक सुदृढ़ीकरण के लिए लोकल उत्पादों को बढ़ावा देना अत्यधिक महत्पूर्ण है। प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के "वोकल फॉर लोकल" के संकल्प को पूरा करने में मध्यप्रदेश अपनी भागीदारी सतत रूप से सुनिश्चित कर रहा है।मुख्यमंत्री श्री चौहान ने प्रदेशवासियों से आव्हान किया है कि त्यौहारों के अवसर पर जरूरी सामान खरीदने के लिए अपने स्थानीय दुकानदार और स्थानीय स्तर पर बने उत्पादों को प्राथमिकता दें। इससे न केवल आपका देश-प्रदेश के विकास में योगदान रहेगा बल्कि स्थानीय लोगों को रोजगार के अवसर भी उपलब्ध होंगे। उन्होंने कहा कि हमारी प्राथमिकता लोकल सामग्री की होना चाहिए। लोकल खरीदेंगे तो हमारे गरीब कारीगर, बुनकर और अन्य स्थानीय सामग्री बनाने वाले भाई-बहनों के त्यौहार भी रोशन होंगे।  मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि आत्म-निर्भर मध्यप्रदेश के रोडमेप में स्थानीय स्तर पर निर्मित होने वाली सामग्रियों को बढ़ावा दिया जा रहा है। इसी क्रम में "एक जिला-एक उत्पाद" योजना भी शुरू की जा चुकी है। प्रदेश के सभी जिलों की विशेषताओं और वहाँ की सामग्रियों को जिले की पहचान बनाने एवं उनकी राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर ब्रांडिंग भी की जा रही है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि हमने प्रदेश में उन हुनरमंद महिलाओं को चिन्हित कर स्व-सहायता समूहों का गठन भी किया है, जो अनेक प्रकार की उपयोगी सामग्री स्थानीय स्तर पर ही तैयार करती हैं। ऐसी सभी महिलाओं को बैंकों के माध्यम से आर्थिक मदद उपलब्ध करवा कर उन्हें प्रोत्साहित भी किया गया है। ग्रामीण क्षेत्रों में महिलाओं द्वारा निर्मित सामग्री की ब्रांडिंग और उन्हें प्रोत्साहित करने के लिए हाल ही में महिला स्व-सहायता समूहों का राज्य स्तरीय सम्मेलन भी आयोजित किया गया। इस सम्मेलन में महिलाओं ने अपने हुनर के साथ स्व-रोजगार की पहल को प्रभावी रूप से प्रस्तुत किया।    

कोई टिप्पणी नहीं: