विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 25 अक्टूबर - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 25 अक्तूबर 2021

विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 25 अक्टूबर

किसानो को जबरिया जैविक खाद देने की जांच हो-शषांक भार्गव

  • किसान बचाओ - किसान जगाओ पद यात्रा का हुआ समापन 

vidisha news
विदिषाः मोदी सरकार द्वारा लाए गए कृषि कानूनों के विरोध में एवं दिल्ली की बार्डर पर आंदोलनरत किसानों के समर्थन में निकाली जा रही किसान बचाओ किसान जगाओ पद यात्रा आज जिला मुख्यालय विदिषा पहंुची। गुरूवार को ग्यारसपुर से प्रारंभ हुई पद यात्रा गुलाबगंज, ठर्र, अहमदपुर सहित लगभग 68 गॉवों से होते हुए लगभग 86 कि.मी. का सफर तय किया।  आज 12 बजे स्थानीय महाराणा प्रताप चौराहा दुर्गानगर पर विधायक शषांक भार्गव व कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने पद यात्रा के संयोजक विनीत दांगी का स्वागत किया। पद यात्रा के मुद्दो का समर्थन करते हुए विधायक शषांक भार्गव व कांग्रेस कार्यकर्ता सिविल लाईन मार्ग से जोरसौर नारेबाजी करते हुए एस.डी.एम. कार्यालय तक पहंुचकर राष्ट्रपति के नाम काले कानून निरस्त करने का मांग पत्र सौंपते हुए यात्रा का समापन किया गया।  इसी दौरान विधायक शषांक भार्गव के नेतृत्व में जिले में खाद की पर्याप्त आपूर्ति सुनिष्चित कराने एवं किसानों को डी.ए.पी. के साथ टैगिंग कर गुणवतता विहीन जैविक खाद जबरिया दिए जाने की जांच की मांग का ज्ञापन सौंपा।  इस दौरान विधायक भार्गव ने कहा कि प्रदेष सरकार द्वारा खाद वितरण में भेदभाव किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि डी.एपी. यूरिया के साथ जैविक खाद वितरित करने के निर्देष शासन स्तर से जारी नहीं किए गए हैं तो इस बात की जांच की जाना चाहिए सोसायटीयों से किस अधिकारी के निर्देष पर किसानों को जबरिया गुणवत्ता विहीन जैविक खाद वितरित किया जा रहा हैै। साथ ही सोसायटीयों में उपलब्ध जैविक खाद की सैम्पलिंग कर गुणवत्ता की जांच लेबोरटरी में होना चाहिए। किसानों की बोनी का समय चल रहा है पर्याप्त मात्रा में डीएपी, यूरिया की आपूर्ति अगले 3 दिनों में सुनिष्चित की जाए।  इस दौरान मुख्य रूप से महेन्द यादव, जिनेष जैन, अजय कटारे, दीवान किरार, प्रियंका किरार, वैभव भारद्वाज, ब्रजेन्द्र वर्मा, जितेन्द्र तिवारी, षिवराज पिपरौदिया, रामराज दांगी, अरूण अवस्थी, कोमल जाटव, जावेद मंसूरी, ओ.पी. सोनी, नवीन कोठारी, दषन सक्सैना, अरूण शर्मा, मनोज कुषवाह, संजय अग्रवाल, संजीव प्रजापति, मुआज कामिल, घनष्याम शर्मा, संतोष गौड़ हर्ष शर्मा, ओ.पी. शर्मा, शैलेन्द्र रघुवंषी, खिलानसिंह शाक्य, दषरथ सेन, अनिल जैन, विनोद राजपूत, राहुल रघुवंषी, गोलू शर्मा, दीपक दुबे, टीटू जाटव, मनीष विष्वकर्मा सहित सैकडों की संख्या में कांग्रेस कार्यकर्ता व किसान उपस्थित रहे। 


स्वस्थ भारत मिशन कार्यक्रम से जुडा विदिशा


vidisha news
प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने आज उत्तरप्रदेश के वाराणसी से प्रधानमंत्री आत्म निर्भर स्वच्छ भारत योजना (पीएमएएसबीवाय) योजना का शुभांरभ किया। विदिशा के मेडिकल कॉलेज परिसर में आयोजित वर्चुअल लिंक के माध्यम से लाइव प्रसारण जनप्रतिनिधियों के अलावा अधिकारियों, गणमान्य नागरिकों ने एक साथ देखा है। प्रधानमंत्री आत्म निर्भर स्वच्छ भारत योजना (पीएमएएसबीवाय) योजना का उद्धेश्य शहरी और ग्रामीण दोनो क्षेत्रों के स्वास्थ्य संस्थागत ढांचे सर्विलेंस और स्वास्थ्य अनुसंधान अंतर्गत कमियों को पूरा करना है ताकि समुदाय किसी भी तरह की महामारी, स्वास्थ्य संकट के प्रबंधन में आत्म निर्भर हो सकें। अटल बिहारी वाजपेयी शासकीय चिकित्सा महाविद्यालय परिसर में आयोजित जिला स्तरीय कार्यक्रम में विदिशा नगरपालिका के पूर्व अध्यक्ष श्री मुकेश टण्डन, भाजपा जिलाध्यक्ष डॉ राकेश जादौन के अलावा श्री अनिल सोनकर, श्री संदीप सिंह डोंगर तथा मेडिकल कॉलेज के डीन डॉ सुनील नंदेश्वर, अधीक्षक डॉ डीडी परमहंस, सीएमएचओ डॉ एपी सिंह के अलावा डॉक्टर वैभव जैन, डॉ भूपेन्द्र सिंह चौहान, डॉ शोऐब खॉन, डॉ राकेश पंथी के अलावा श्री हेमंत कुलश्रेष्ठ, श्री हरिओम वर्मा, श्री बीएस दांगी, श्री राजेश अहिरवार, श्री जीवन लाल चंदेल, श्री सुरेश पटेल तथा शहरी आशा व अधिकारी, कर्मचारी एवं अन्य जनप्रतिनिधि मौजूद रहें। 


सीएम हेल्पलाइन की नॉनअटैंडेन शिकायतों शिकायतों पर कार्यवाही करने के निर्देश


vidisha news
कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव ने आज सीएम हेल्पलाईन के आवेदनों की समीक्षा की। उन्होंने एल वन स्तर पर शिकायतों का जबाव दाखिल नहीं करने वालों के खिलाफ सख्त कार्यवाही करने के निर्देश दिए हैं। कलेक्टर श्री भार्गव ने सभी को प्रथम दृष्टतया में शोकॉज नोटिस जारी करने के निर्देश देते हुए कहा कि संबंधित विभागों के अधिकारियों को भी सीएम हेल्पलाईन के आवेदनों पर सतत नजर रखनी होगी। कलेक्टर श्री भार्गव ने सभी विभागों के अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि प्रत्येक कार्यालय में पदस्थ अधिकारी या कर्मचारी को सहायक नोडल का दायित्व सौंपे ताकि सीएम हेल्पलाईन से संबंधित प्राप्त होने वाले आवेदनों पर वे नजर रखें और वरिष्ठ अधिकारी के संज्ञान में अबिलंव लाएं।


लंबित आवेदनों की समीक्षा


कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव ने सोमवार को विभिन्न विभागो में लंबित आवेदनों के निराकरण परिपेक्ष्य में सम्पन्न कार्यवाही की समीक्षा की है। उन्होंने कहा कि टीएल में जिन आवेदनों को शामिल किया जाता है उनका निराकरण समयावधि में करना सुनिश्चित करें। ऐसे मामले जिनका निराकरण स्थानीय स्तर पर संभव नही है। उन कारणो को रेखांकित करते हुए जबाव दाखिल किया जाए। कलेक्टर श्री भार्गव ने जिले में खाद  आपूर्ति के लिए किए गए प्रबंधो की गहन समीक्षा की। उन्होंने वरिष्ठ अधिकारियों से सीधा संवाद कर जिले में यूरिया एवं वैकल्पिक खाद आपूर्ति के लिए किए गए प्रबंधों से अवगत कराया है। किसान कल्याण तथा कृषि विकास विभाग के उप संचालक श्री पीके चौकसे ने बताया कि जिले में एनपीके की रेक प्राप्त हुई है जिसका पुर्नवंटन किया गया है। निजी विक्रेताओं को आवंटन का तीस प्रतिशत उपलब्ध कराया गया है ताकि ऐेसे डिफाल्टर कृषकों को समय पर खाद की उपलब्धता सुनिश्चित कराई जा सकें। कलेक्टर श्री भार्गव ने जिले में खाद आवंटन उपरांत विक्रय की समुचित कार्यवाही ऑन लाइन प्रदर्शित हो  इसके लिए पीएस मशीन सिस्टम के माध्यम से ही खाद का विक्रय किया जाए। उन्होंने वन विकास निगम को उपलब्ध कराए गए खाद का रिकार्ड अब तक ऑन लाइन प्रदर्शित नही होने पर वन विभाग के एसडीओ को ततसंबंध में आवश्यक कार्यवाही कर अवगत कराने हेतु निर्देशित किया है। कलेक्टर श्री भार्गव को जिला पंचायत सीईओ डॉ योगेश भरसट ने ग्रामीण विकास विभाग के तहत लंबित आवेदनों पर की गई कार्यवाही से अवगत कराया। इसी प्रकार शिक्षा, स्वास्थ्य, सड़क, खाद्य, कॉ-आपरेटिव, ऊर्जा, पीएचई, जिला पंजीयक, जिला योजना, गर्ल्स कॉलेज, मार्कफेड, सामाजिक न्याय विभाग, सम्राट अशोक सागर, लोक निर्माण विभाग, जल संसाधन के अलावा आरईएस विभाग में लंबित आवेदनों पर की गई कार्यवाही से संबंधित विभागीय अधिकारी के द्वारा अवगत कराया गया है। नवीन कलेक्ट्रेट के बेतवा सभागार कक्ष में सम्पन्न हुई इस बैठक में अपर कलेक्टर श्री वृदांवन सिंह, जिला पंचायत सीईओ डॉ योगेश भरसट, डिप्टी कलेक्टर सुश्री अनुभा जैन, श्रीमती अमृता गर्ग, श्री विजय राय के अलावा विभिन्न विभागो के जिलाधिकारी मौजूद थे।


सिंचाई हेतु नहरो से पानी छोड़ा जाएगा


कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव ने सोमवार को लंबित आवेदनों की समीक्षा बैठक के दौरान सिंचाई के लिए किए गए प्रबंधो के अलावा सम्राट अशोक सागर (हलाली) एवं अन्य डेमो से कब-कब पानी छोडा जाएगा के संबंध में क्या तैयारियां की गई है कि भी जानकारी प्राप्त की है। कलेक्टर श्री भार्गव ने कहा कि जिले मेंं विगत दिनों हुई वर्षा से अब डेमों से पानी छोड़ने के संबंध में नई तिथि निर्धारित की जाए ततसंबंध में हलाली डेम के एसडीओ श्री राजीव जैन ने बताया कि किसानो द्वारा आवेदन देकर दस अक्टूबर के बाद नहरे चालू करने हेतु उल्लेख किया गया है इसी प्रकार अन्य बांधो से 15 अक्टूबर के बाद छोडे जाने की सहमति किसानो के द्वारा व्यक्त की गई है। कलेक्टर श्री भार्गव ने कहा कि किसानो की मंशा के अनुरूप हलाली एवं अन्य बांधो से सिंचाई हेतु पानी छोडने का सिस्टम क्रियान्वित किया जाए। उन्होंने नहरी क्षेत्रीय ग्रामो के कृषकों से जीवंत सम्पर्क बनाए रखने के निर्देश राजस्व एवं जल संसाधन विभाग के अधिकारियों को दिए हैं इस दौरान नहरो की मरम्मत संबंधी किए गए कार्यो से भी जल संसाधन विभाग के अधिकारियों द्वारा अवगत कराया गया है। 


कुपोषण से 352 बच्चे विमुक्त हुए


कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव ने महिला एवं बाल विकास विभाग के कार्यो की भी समीक्षा की। जिले में क्रियान्वित कुपोषण विमुक्ति अभियान के तहत संपादित कार्यो की बिन्दुवार जानकारी महिला एवं बाल विकास विभाग के जिला कार्यक्रम अधिकारी श्री बृजेश शिवहरे ने प्रस्तुत की है। उन्होंने बताया कि जिले में कुल 763 बच्चे सेम एवं मेम श्रेणी में शामिल थे। जिसमें से 352 बच्चे कुपोषण से विमुक्त हुए है शेष बच्चे विमुक्ति के पैरामीटर पर है। उक्त बच्चें अधिकतम एक सप्ताह में सामान्य श्रेणी में आ जाएंगे ऐसी पूरी संभावना है। कलेक्टर श्री भार्गव ने महिला एवं बाल विकास विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए है कि सेम एवं मेम चिन्हित बच्चें पुनः कुपोषण की श्रेणी में शामिल ना हो पाए वहीं नवीन बच्चें भी कुपोषित ना हो इसके लिए विभाग के ग्राम स्तरीय अमला अपने-अपने कार्य क्षेत्रों में भ्रमण कर बच्चों पर सतत नजर रखें यदि कहीं किसी भी बच्चे में कुपोषण से संबंधित जरा भी लक्षण दिखते है तो अविलम्ब उसें एनआरसी में भर्ती कराया जाना सुनिश्चित हो।


स्वेच्छानिधि प्रस्ताव में शीघ्र स्वीकृति जारी करें


विधायको द्वारा स्वीकृत किए गए कार्यो में स्वेच्छानिधि की राशि अविलम्ब जारी करने के निर्देश कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव ने आज जिला योजना अधिकारी श्री महेन्द्र कुमार नवैया को दिए। उन्होंने कहा कि जिन कार्यो की स्वीकृति जारी की जाती है उसकी जानकारी संबंधित विधायक को भी अवगत कराएं जिसमें निर्माण ऐजेन्सी की भी जानकारी अंकित हो। इस दौरान डीपीओ श्री नवैया ने बताया कि सांसदनिधि से स्वीकृत होने वाले विकास कार्यो, स्वेच्छानिधि के कार्यो में रायसेन एवं सागर जिले के डीपीओ द्वारा जारी की जाती है। उनके द्वारा उपलब्ध कराई गई प्रतियां संबंधित कार्य क्षेत्र के विधायक को भी प्रेषित की जा रही है।


निर्वाचन आयोग के निर्देशो से भलीभांति अवगत हों


vidisha news
कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव ने आज त्रि-स्तरीय पंचायतों की निर्वाचन प्रक्रिया हेतु  पूर्व में किए जाने वाले प्रबंधो की समीक्षा की है। निर्वाचन संबंधी कार्यो को आयोग की मंशा के अनुसार सुव्यवस्थित रूप से पूर्ण पारदर्शिता का पालन करते हुए सम्पन्न हो इसके लिए कलेक्टर द्वारा नोडल, सहायक नोडल, आरओ, एआरओ के अलावा विभिन्न प्रकोष्ठो का गठन आदेश जारी कर दिया हैं। कलेक्टर श्री भार्गव ने आज जोनल एवं आरो, एआरओ नियुक्त अधिकारियों की संयुक्त बैठक आयोजित कर त्रि-स्तरीय पंचायतों के लिए निर्धारित गाइड लाइन की बिन्दुवार जानकारी से अवगत करवाया है। कलेक्टर श्री भार्गव ने कहा कि राज्य निर्वाचन आयोग द्वारा समय-समय पर जो दिशा निर्देश जारी किए जाते है उनका भलीभांति अध्ययन कर क्रियान्वयन कराना सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि निर्वाचन प्रक्रिया के संबंध में जो संशोधित आदेश जारी किए जाते है के अनुसार ही कार्यो का संपादन कराया जाना होता हैं अतः पूर्व के अनुभवों से अति आत्म विश्वासी ना हो, निर्वाचन प्रक्रिया खासकर त्रि-स्तरीय पंचायत निष्पक्ष रहकर संपादित कराएं सिर्फ निर्वाचन आयोग के प्रति ही निष्ठा प्रदर्शित होना चाहिए। अपर कलेक्टर श्री वृदांवन सिंह ने बताया कि पंच और सरपंच पद हेतु मतदान मतपत्र से होगा वहीं जनपद और जिला पंचायत सदस्य के लिए मतदान ईव्हीएम मशीन का उपयोग किया जाएगा। उन्होंने बताया कि पंच सरपंच की मतगणना कार्य संबंधित मतदान केन्द्र पर ही सम्पन्न होगी। अपर कलेक्टर के द्वारा त्रि-स्तरीय पंचायतों के निर्वाचन हेतु मतदाता सूची, मतदान केन्द्रो का सत्यापन, रिटर्निंग आफीसर एवं सहायक रिटर्निंग आफीसरों के दायित्व, आरक्षण की ऑन लाइन प्रविष्टियां, सेक्टर तथा जोनल अधिकारी के दायित्व, संवेदनशील, अति संवेदनशील मतदान केन्द्रो का चिन्हांकन, आईटी क्षेत्र के अंतर्गत नाम निर्देशन पत्रों के साथ आवश्यक दस्तावेंज, ऑन लाइन स्वीकृति, मतदान कर्मियों की जानकारी, ईव्हीएम प्रबंधन, सामग्री प्रबंधन तथा जिला स्तरीय मास्टर ट्रेनर्सो का प्रशिक्षण, इसके पश्चात इनके द्वारा जिला एवं विकासखण्ड स्तर पर आवश्यकता के अनुसार प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित करने के संबंध में विस्तारपूर्वक जानकारी से अवगत कराया है। 


त्रि-स्तरीय पंचायत निर्वाचन प्रक्रिया में सात लाख 99 हजार 637 मतदाता मतों का प्रयोग करेंगे


vidisha news
कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव के द्वारा आयोजित जोनल, नोडल एवं आरो, एआरओ अधिकारियों के द्वारा कौन-कौन से दायित्वों का निर्वहन किया जाएगा कि विस्तृत जानकारी पावर प्रेजेन्टेशन के माध्यम से दी गई हैं इस दौरान बताया गया कि जिले में कुल सात लाख 99 हजार 637 मतदाता त्रि-स्तरीय पंचायत निर्वाचन प्रक्रिया में अपने मतो का प्रयोग करेंगें। हरेक मतदाता पंच-सरपंच हेतु मतपत्र से तथा जनपद एवं जिला पंचायत सदस्य के लिए ईव्हीएम से मतदान करेंगे अर्थात हर मतदाता चार-चार मत पूर्व उल्लेखित निर्वाचन पदो हेतु देगा। अपर कलेक्टर श्री वृदांवन सिंह ने बताया कि जिले की कुल 577 पंचायतों में से जनपद सदस्य हेतु 163 तथा जिला पंचायत सदस्य हेतु 22 वार्डो हेतु निर्वाचन प्रक्रिया सम्पन्न होगी। जिले में कुल 1536 मतदान केन्द्रो पर सात लाख 99 हजार 637 मतो का प्रयोग करेंगे।


बीज किटों का वितरण खण्ड मुख्यालय पर जनप्रतिनिधियो से कराएं


किसान कल्याण तथा कृषि विकास विभाग द्वारा बीज प्रदर्शन योजना के तहत किसानो को प्रदाय किए जाने वाले निःशुल्क बीज किटो का वितरण विकास खण्ड मुख्यालय पर जनप्रतिनिधियों की उपस्थिति में कराया जाना सुनिश्चित हो के निर्देश सोमवार को कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव ने लंबित आवेदनों की समीक्षा बैठक के दौरान किसान कल्याण तथा कृषि विकास विभाग के उप संचालक श्री पीके चौकसे को दिए हैं। कलेक्टर श्री भार्गव ने जिले को अब तक मसूर, चना व गेंहू के बीज प्रदर्शन संबंधी कुल कितने किट प्राप्त हुए है और अब तक किन-किन विकासखण्डो में वितरण किया गया है कि जानकारी प्राप्त की है।


मिनी किट वितरण हेतु कार्यक्रम जारी


रबी वर्ष 2021-22 में राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा मिशन तहत फसलीय बीजो के मिनी किट वितरण हेतु विकासखण्डो पर आयोजित होने वाले कार्यक्रमों की तिथियां व स्थल संबंधी जानकारियां जारी की गई है किसान कल्याण तथा कृषि विकास विभाग के द्वारा ततसंबंध में बताया गया कि राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा मिशन तहत दलहन, गेंहू, बीज योजना एवं मसूर मिनी किट बीज वितरण हेतु तिथिवार जिन विकासखण्डो पर कार्यक्रमों का आयोजन किया जाएगा। किटो का वितरण तदानुसार 26 अक्टूबर को वरिष्ठ कृषि विस्तार अधिकारी कार्यालय विकासखण्ड लटेरी में तथा 27 अक्टूबर को विदिशा, ग्यारसपुर एवं सिरोंज में उपरोक्त किटो का वितरण किया जाएगा। विदिशा के कृषि ज्ञान केन्द्र करैयाखेडा रोड पर तथा ग्यारसपुर में तहसील परिसर में तथा सिरोंज में वरिष्ठ कृषि विस्तार अधिकारी, तहसील कार्यालय में वितरण कार्यक्रम आयोजित किए गए है। 28 अक्टूबर को बासौदा के कालाबाग में एवं कुरवाई में गोडाउन परिसर कार्यालय में व कृषि वरिष्ठ अधिकारी कार्यालय से, 29 को वरिष्ठ कृषि विस्तार अधिकारी कार्यालय नटेरन में किटो का वितरण कार्यक्रम आयोजित किया गया है। 


शिविर आज


प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत विदिशा निकाय क्षेत्र अंतर्गत आमजनों की समस्याओं के निराकरण हेतु मंगलवार 26 अक्टूबर को दोपहर 12.30 बजे से शिविर आयोजित किया गया है। मुख्य नगरपालिका अधिकारी श्री सुधीर सिंह ने बताया कि नगरपालिका प्रागंण में सभी 39 वार्डो के आमजनों की प्रधानमंत्री आवास योजना संबंधी शिकायतो को निराकरण किया जाएगा।

कोई टिप्पणी नहीं: