तूफानी तेजी से 59 हजार के पार हुआ सेंसेक्स - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 5 अक्तूबर 2021

तूफानी तेजी से 59 हजार के पार हुआ सेंसेक्स

sensex-reach-59-thousand
मुंबई 04 अक्टूबर, वैश्विक स्तर से मिले मिश्रित संकेतों के बीच घरेलू स्तर पर दिग्गज कंपनियों में हुयी लिवाली के बल पर शेयर बाजार चार सत्रों की गिरावट से उबरते हुये सोमवार को तूफानी तेजी से बढ़ने में सफल रहा। इस दौरान बीएसई का सेंसेक्स 59500 हजार अंक के स्तर को पार किया और एनएसई का निफ्टी भी 17750 अंक के स्तर को पार कर गया। दिग्गज कंपनियों की तुलना में छोटी और मझौली कंपनियों में अधिक लिवाली दिखी बाजार को तेजी से आगे बढ़ने में मदद मिली। बीएसई का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 378 अंकों की बढ़त के साथ 59 हजार अंक के पार 59143 अंक पर खुला। हालांकि शुरूआती कारोबार में यह 59 हजार अंक से नीचे 58952.11 अंक के निचले स्तर तक फिसला लेकिन इसके बाद हुयी लिवाली के बल पर यह 59548.82 अंक के स्तर तक चढ़ा। अंत में यह पिछले दिवस के 58765.58 अंक की तुलना में 533.74 अंक अर्थात 0.91 प्रतिशत बढ़कर 59299.32 अंक पर रहा। सेंसेक्स में शामिल कंपनियों में से 24 बढ़त में जबकि छह गिरावट में रही। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का निफ्टी 83 अंकों की बढ़त के साथ 17615.55 अंक पर खुला। सत्र के दौरान यह 17581.35 अंक के निचले और 17750.90 अंक के उच्चतम स्तर के बीच रहा। अंत में पिछले दिवस के 17532.05 अंक की तुलना में 0.91 प्रतिशत अर्थात 159.20 अंकों की बढ़त लेकर 17691.25 अंक पर रहा। निफ्टी में शामिल 50 कंपनियों में से 36 हरे निशान में और 14 गिरावट में रहे।


बीएसई में दिग्गज कंपनियों की तुलना में मझौली और छोटी कंपनियों में अधिक लिवाली रही जिससे बीएसई का मिडकैप 1.51 प्रतिशत बढ़कर 25603.88 अंक पर और स्मॉलकैप 1.71 प्रतिशत उठकर 28696.72 अंक पर रहा। बीएसई में शामिल समूहों में से सीडी में 0.10 प्रतिशत की गिरावट को छोड़कर शेष सभी समूह बढ़त में रहे जिसमें धातु में सबसे अधिक 2.66 प्रतिशत की और एफएमसीजी में सबसे कम 0.25 प्रतिशत की बढ़त दर्ज की गयी। वैश्विक स्तर पर मिलाजुला रूख रहा। चीन का शंघाई कंपोजिट 0.90 प्रतिशत और ब्रिटेन का एफटीएसई 0.11 प्रतिशत की बढ़त में रहा जबकि हांगकांग का हैंगसेंग 2.19 प्रतिशत, जापान का निक्केई 1.12 प्रतिशत और जर्मनी का डैक्स 0.01 प्रतिशत की गिरावट में रहा। सेंसेक्स में शामिल कंपिनयों में से बढ़त में रहने वालों में एनटीपीसी 4.08 प्रतिशत, बजाज फिनसर्व 3.58 प्रतिशत, स्टेट बैंक 2.50 प्रतिशत, बजाज फाइनेंस 2.29 प्रतिशत, टेक महिंद्रा 2.0 प्रतिशत, टाटा स्टील 1.99 प्रतिशत, डॉ़ रेड्डीज 1.83 प्रतिशत, महिंद्रा 1.64 प्रतिशत, इंड्स्इंड बैंक 1.50 प्रतिशत, टीसीएस 1.36 प्रतिशत, एक्सिस बैंक 1.32 प्रतिशत, रिलायंस 1.31 प्रतिशत, एयरटेल 1.22 प्रतिशत, आईसीआईसीआई बैंक 1.14 प्रतिशत, एल टी 1.08 प्रतिशत, इंफोसिस 0.85 प्रतिशत, एशियन पेंंट्स 0.71 प्रतिशत, सन फार्मा 0.65प्रतिशत, एचडीएफसी 0.47 प्रतिशत, एचसीएलटेक 0.42 प्रतिशत, आईटीसी 0.40 प्रतिशत, अल्ट्राटेक सीमेंट 0.36 प्रतिशत, मारूति 0.27 प्रतिशत और एचडीएफसी बैंक 0.17 प्रतिशत शामिल है। गिरावट में रहने वालों में बजाज ऑटो 0.75 प्रतिशत, हिन्दुस्तान यूनिलीवर 0.59 प्रतिशत, टाईटन 0.42 प्रतिशत, नेस्ले इंडिया 0.32 प्रतिशत, कोटक बैैंक 0.24 प्रतिशत और पावरग्रिड 0.13 प्रतिशत शामिल है। 

कोई टिप्पणी नहीं: