विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 31 अक्टूबर - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 31 अक्तूबर 2021

विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 31 अक्टूबर

कांग्रेस सेवादल ने इंदिरा गांधी, सरदार वल्लभभाई पटेल के योगदान का स्मरण किया


vidisha news
विदिशा। पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की पुण्यतिथी एवं पूर्व गृहमंत्री लोह पुरूष सरदार वल्लभ भाई पटेल की जन्मजयंती के अवसर पर जिला कांग्रेस सेवादल द्वारा इंदिरा माधव उद्यान में श्रद्धांजली सभा का आयोजन किया। इस अवसर पर उपस्थित कांग्रेस नेताओं ने इंदिरा गांधी एवं सरदार वल्लभभाई पटेल के चित्र पर पुष्प अर्पित कर दोनों महान नेताओं के राष्ट्र निर्माण में योगदान का स्मरण किया।  इस अवसर पर पूर्व सांसद प्रतापभानू शर्मा ने पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरागांधी के साथ सांसद के रूप में बिताए कार्यकाल के संस्मरण सुनाएं। उन्होंने कहा इंदिरा जी दूर दृष्टा नेता थी। उनके प्रधानमंत्री कार्यकाल में पाकिस्तान के दो टुकड़े हुए, बैंकों का राष्ट्रीयकरण हुआ, राजा-महाराजाओं का प्रिवीपर्स बंद हुआ। सही मायनों में पंडित नेहरू जी के सपनों को साकार करते हुए इंदिरा जी ने गौरवशाली राष्ट्र का निर्माण किया था।  विधायक शशांक भार्गव ने सरदार पटेल के योगदान को स्मरण करते हुए कहा कि सरदार पटेल और पंडित जवाहरलाल नेहरू की जोड़ी ने मिलकर अपनी सूझबूझ से 562 रियासतों का विलय कर राष्ट्र के नक्शे का निर्माण किया था। सरदार पटेल के नेतृत्व में बाराड़ोली किसान आंदोलन हुआ था, जिसके आगे ब्रिटिश हुकूमत को झुकना पड़ा था। आज के प्रधानमंत्री सरदार पटेल की प्रतिमा तो बनवा रहे हैं लेकिन उनके विचारों को कुचलने का प्रयास कर रहे हैं।  पूर्व जिला कांग्रेस अध्यक्ष कमल सिलाकारी ने कहा कि महात्मा गांधी, पंडित जवाहर लाल नेहरू, सरदार वल्लभ भाई पटेल, इंदिरा गांधी जैसे दूरदर्शी नेताओं के योगदान को देश कभी नहीं भूल सकता। ब्रिटिश हुकूमत से मिले जर्जर भारत को आत्मनिर्भर भारत इन्हीं महान नेताओं ने बनाया है।  पूर्व विधायक डॉ. मेहताब सिंह यादव, जनपद अध्यक्ष प्रतिनिधि रणधीर सिंह ठाकुर, डॉ. शैलेन्द्र कटारिया, प्रियंका किरार ने भी अपने विचार व्यक्त किए। कार्यक्रम का संचालन जिनेश जैन, आभार प्रदर्शन जिला सेवादल अध्यक्ष गोविंद भार्गव ने किया।  श्रद्धांजली सभा के बाद सभी कांग्रेसजन वृद्वाश्रम पहुंचे। जहां जिला युवा कांग्रेस द्वारा वृद्धजनों को भोजन कराया गया। जिला युवा कांग्रेस अध्यक्ष वैभव भारद्धाज ने कहा सेवा ही कांग्रेस पार्टी का मूल सिद्धांत है।  इस अवसर पर कार्यकारी जिलाध्यक्ष मोहित रघुवंशी, नंदकिशोर शर्मा, महेन्द्र यादव, मजीद मंसूरी, सुरेश मोतियानी, वीरेन्द्र पीतलिया, करतार सिंह, अजय कटारे, दीवान किरार, जिनेश जैन, गोविंद भार्गव, दीपक कपूर, सुरेश बाबू पाठक, वैभव भारद्धाज अवधेश दुबे, सुजीत देवलिया, वीर सिंह रघुवंशी, अंशुज शर्मा, गोविंद राजपूत, सचिन जैन, मानव ताम्रकार, अरूण अवस्थी, आशीष माहेश्वरी, प्रशांत शर्मा, राजकुमार डिडोत, विवेक ठाकुर, शिवेन्द्र प्रताप सिंह, रामराज दांगी, विनीत दांगी, जितेन्द्र तिवारी, शिवराज पिपरोदिया, नवीन कोठारी, विजयकांत रैकवार, डॉ. राजेन्द्र दांगी, विप्पे रघुवंशी, मुआज कामिल, सोनू यादव, अरविंद मिश्रा, ब्र्रजेन्द्र वर्मा, सुभाष मीणा, दिनेश विश्वकर्मा, जवाहर कुशवाह, अवधेश प्रतापसिंह, जावेद मंसूरी, डीके रैकवार, धन्नाला कुशवाह, नूर भाई, दशरथ सेन, कोमल जाटव, संतोष गौड़, अनिल जैन, शहजाद खां, नारायण प्रसाद भार्गव, बंटी महाराज, अभिनंदन जोशी, दीपक दुबे, गोलू शर्मा, राहुल रघुवंशी, मिक्की भार्गव, अनिकेत सेन, रामभरोसे लोधी, नवीन श्रीवास्तव, धर्मेन्द्र ढिमोले सहित बड़ी संख्या में कांग्रेस कार्यकर्ता उपस्थित रहे।


सरदार वल्लभ भाई पटेल की जयंती पर विविध कार्यक्रमों का आयोजन, कलेक्टर ने शपथ दिलाई


vidisha news
सरदार वल्लभ भाई पटेल की जयंती को राष्ट्रीय एकता दिवस के रूप में मनाया गया है। आज विदिशा जिले में विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन किया गया था। इन कार्यक्रमों में जनप्रतिनिधियों, सामाजिक संगठनों, स्वंयसेवी संस्थाओं के अलावा पुलिस, एनसीसी, स्काउट सहित अधिकारी, कर्मचारी और गणमान्य नागरिकों ने सहभागिता निभाई है।


साइकिल रैली

सरदार वल्लभ भाई पटेल की जयंती को राष्ट्रीय एकता दिवस के रूप में प्रथम आयोजन साइकिल रैली का किया गया था। प्रातः आठ बजे बडजात्या स्कूल से शुरू हुई इस साइकिल रैली को विधायक श्री शशांक भार्गव, पूर्व नगरपालिका अध्यक्ष श्री मुकेश टण्डन ने संयुक्त रूप से हरी झंडी दिखाई। कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव, पुलिस अधीक्षक डॉ मोनिका शुक्ला, एसडीएम श्री गोपाल सिंह वर्मा और श्री मनोज कटारे की उपस्थिति में रैली रवाना हुई। साइकिल रैली पुरानी जिला चिकित्सालय से होते हुए माधवगंज कांच मंदिर पर सम्पन्न हुई है। उक्त रैली में स्कूली विधार्थियों के अलावा सामाजिक संगठनों, स्वंयसेवी संस्थाओं के पदाधिकारी, युवा खिलाडी शामिल हुए। साइकिल रैली का आयोजन जिला खेल अधिकारी श्रीमती पूजा कुरील के नेतृत्व में सम्पन्न हुआ है।

               

मार्च पास्ट

सरदार वल्लभ भाई पटेल की जयंती पर मार्चपास्ट का भी आयोजन किया गया था। मार्चपास्ट को छत्रपति शिवाजी महाराज तिराहा पर जिला पंचायत अध्यक्ष श्री तोरनिंसह दांगी ने हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। मार्चपास्ट में पुलिस, एनसीसी, स्काउट दल के सदस्यों ने सहभागिता निभाई। मार्चपास्ट में शामिल दल के सदस्य विवेकानंद चौराहा होते हुए नवीन कलेक्ट्रेट पहुंचे।


शपथ

सरदार वल्लभ भाई पटेल की जयंती पर कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव ने राष्ट्रीय एकता की शपथ का वाचन किया जिसें मौके पर मौजूद सभी जनप्रतिनिधियों, अधिकारियों, कर्मचारियों, छात्र-छात्राओं, स्काउट, एनसीसी दलों के सदस्यों और गणमान्य नागरिकों ने दोहराया है। नवीन कलेक्ट्रेट के गार्डन में आयोजित शपथ कार्यक्रम को जिला पंचायत अध्यक्ष श्री तोरण सिंह दांगी, विदिशा नगरपालिका के पूर्व अध्यक्ष श्री मुकेश टण्डन, जिला क्राईसेस मैनेजमेंट समिति के सदस्य डॉ राकेश जादौन, जिला शिक्षा अधिकारी श्री अतुल मुद्गल तथा सेन्टमेरी पीजी कॉलेज के लेफ्टिनेंट रामानंद मिश्रा ने सम्बोधित किया। इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक डॉ मोनिका शुक्ला, जिला पंचायत सीईओ डॉ योगेश भरसट, सहायक कलेक्टर श्री अनिल कुमार राठौर, अपर कलेक्टर श्री वृदांवन सिंह, एसडीएम श्री प्रवीण प्रजापति, डिप्टी कलेक्टर द्वय श्रीमती अमृता गर्ग, सुश्री अनुभा जैन के अलावा श्री संदीप सिंह डोंगर सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी, कर्मचारी, गणमान्य व जनप्रतिनिधि मौजूद रहें। 


राज्य स्थापना दिवस समारोह का आयोजन आज प्रभारी मंत्री श्री सारंग ध्वजारोहण करेंगे


राज्य स्थापना दिवस समारोह एक नवम्बर को विदिशा जिले में भी आयोजित किया जाएगा। जिला मुख्यालय पर आयोजित कार्यक्रम के मुख्य अतिथि प्रदेश के चिकित्सा, शिक्षा, भोपाल गैस त्रासदी राहत एवं पुर्नवास विभाग तथा जिले के प्रभारी मंत्री श्री विश्वास कैलाश सारंग ध्वजारोहण करेंगे। कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव ने बताया कि मध्यप्रदेश राज्य स्थापना दिवस समारोह पुलिस परेड ग्राउण्ड पर आयोजित किया गया है। उपरोक्त जिला स्तरीय कार्यक्रम के मुख्य अतिथि एवं प्रभारी मंत्री जी द्वारा प्रातः 10.30 बजे ध्वजारोहण किया जाएगा। मुख्य समारोह में मुख्य अतिथि द्वारा ध्वजारोहण, राष्ट्रगान इसके पश्चात् मुख्यमंत्री जी के संदेश का वाचन, संकल्प, हर्ष फायर, मध्यप्रदेश गान, देशभक्ति पर आधारित दो सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन उपरांत कार्यक्रम के अंत में वंदे मातरम से कार्यक्रम का समापन होगा।


उपस्थिति के निर्देश

कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव ने सभी अधिकारियों, कर्मचारियों को निर्देशित किया है कि जिला मुख्यालय पर आयोजित होने वाले मुख्य समारोह स्थल पर सभी विभागों के जिलाधिकारी अनिवार्य रूप से उपस्थित हो।


रोशनी के निर्देश


कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव ने राज्य स्थापना दिवस एक नवम्बर को सभी शासकीय स्मारको, कार्यालयों प्रकाश (रोशनी) की जाएगी। इसके लिए झालर लगाने का कार्य 31 अक्टूबर की रात्रि तक पूरा कर लिया जाए। ताकि एक नवम्बर की रात्रि से रोशनी कार्यालयों में की जा सकें। 


राज्य स्थापना दिवस पर जिलेवासियों  को शुभकामनाएं दी कलेक्टर ने


मध्यप्रदेश के 66वें स्थापना दिवस पर कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव ने जिले के समस्त रहवासियों को हार्दिक शुभकामनाएं दी है। कलेक्टर श्री भार्गव ने अपने शुभकामनाई संदेश में अभिव्यक्त किया है कि आप सभी के प्रयास और परिश्रम के कारण मध्यप्रदेश तेजी से प्रगति कर रहा है। हम अपने राज्य के सर्वागीण विकास के निश्चय को ओर सुदृढ करें। राज्य मजबूत होगा तभी देश मजबूत बनेगा। हमें अपने संघीय ढांचे को मजबूत बनाना चाहिए कि शुभकामनाएं सभी नागरिकों को प्रेषित की है। 


दिव्यांग सौरभ की ट्रायसाइकिल पर व्यवसाय करने की मंशा शीघ्र पूरी होगी


vidisha news
कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव ने नवीन कलेक्ट्रेट परिसर में वाकर लेकर खडे दिव्यांग सौरभ मालवीय की ओर नजर पड़ने पर उनके पास पहुंचकर संवाद किया। दिव्यांग सौरभ मालवीय ने अपनी आप बीती सुनाते हुए ट्रायसाइकिल पर व्यवसाय संचालन करने की मंशा से अवगत कराया। इसके लिए ट्रायसाइकिल के ऊपर हुड एवं सामग्री रखने के लिए बाक्स तथा सामग्री दिलाए जाने का आग्रह किया। कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव ने तमाम व्यवस्थाओं की पूर्ति कराते हुए दिव्यांग सौरभ मालवीय के लिए दिव्यांगता पेंशन राशि मिलें के भी प्रबंध सुनिश्चित कराने के निर्देश मौके पर मौजूद सामाजिक न्याय विभाग के  उप संचालक डॉ पीके मिश्रा को दिए है। दिव्यांग सौरभ मालवीय ने बताया कि इधर उधर घूमकर जीवनयापन कर रहा हूं। विवेकानंद चौराहे पर चाय की दुकान पर रात्रि विश्राम करता हू। उनकी मंशा है कि मदद मिलने के बाद ट्रायसाइकिल से ही अपना व्यवसाय संचालन करूं।

कोई टिप्पणी नहीं: