विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 03 अक्टूबर - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 3 अक्तूबर 2021

विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 03 अक्टूबर

सेम एवं मेम बच्चों को सूचीबद्ध कर बाल दिवस तक सामान्य श्रेणी में लाने के निर्देश


कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव ने अपर मुख्य सचिव के द्वारा जारी पत्र का हवाला देते हुए बताया कि जिले में चिन्हित सेम एवं मेम बच्चों को सूचीबद्ध कर 14 नवम्बर (बाल दिवस) तक सामान्य श्रेणी में लाने के निर्देश प्रसारित किए गए है। ततसंबंध में जिले में विशेष अभियान संचालित किया जाना है ताकि वर्तमान स्थिति अनुसार महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा कुपोषित बच्चों का चिन्हांकन कर पोषण मित्र, पोषण पालको का चिन्हांकन किया गया है। कुपोषित बच्चों की श्रेणी में सुधार एक निश्चित समय सीमा मेंं संभव हो इसके लिए गहन लक्षित प्रयास किए जाने की आवश्यकता है। कलेक्टर श्री भार्गव ने बताया कि जिले में संचालित विशेष अभियान की निहित बिन्दुओं आवश्यक मार्गदर्शन तथा स्थानीय परिस्थितियों के अनुरूप आवश्यक सुझावों से अवगत होने हेतु विशेष पहल की जा रही है। उपरोक्त व्यवस्था का जायजा संभागायुक्त द्वारा स्वंय मंगलवार पांच अक्टूबर को परियोजना क्षेत्रों का भ्रमण कर जायजा लिया जाएगा।  


संभागायुक्त द्वारा परियोजना क्षेत्रो का भ्रमण पांच को


भोपाल संभागायुक्त श्री कवीन्द्र कियावत पांच अक्टूबर को विदिशा जिले की परियोजनाओं का निरीक्षण कर सेम एवं मेम बच्चों के उन्नयन हेतु संचालित कार्यक्रमों के अलावा आंगनबाडी केन्द्रो के माध्यम से प्रदाय सेवाओं का जायजा लेंगे। संभागायुक्त श्री कियावत के परियोजना क्षेत्रों हेतु जारी भ्रमण कार्यक्रम की जानकारी देते हुए कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव ने बताया कि मंगलवार की प्रातः आठ बजे से सायं पांच बजे तक जिले की सभी नौ परियोजना क्षेत्रों का भ्रमण संभागायुक्त द्वारा किया जाएगा। संभागायुक्त श्री कियावत का जारी भ्रमण समयानुसार मंगलवार की प्रातः आठ बजे विदिशा शहरी क्षेत्र परियोजना की आंगनबाडी केन्द्रो का इसी प्रकार प्रातः 9.30 बजे विदिशा ग्रामीण क्षेत्रों की तथा प्रातः 10.30 बजे ग्यारसपुर विकासखण्ड की आंगनबाडी केन्द्रो का जायजा लेंगे। संभागायुक्त श्री कियावत बासौदा विकासखण्ड में प्रातः 10.30 बजे बासौदो दो (त्योंदा), बासौदा एक दोपहर एक बजें, कुरवाई विकासखण्ड में दोपहर दो बजें, सिरोंज विकासखण्ड में दोपहर तीन बजें, लटेरी विकासखण्ड में सांय 4.30 बजे तथा नटेरन विकासखण्ड की परियोजना अंतर्गत आंगनबाडी केन्द्रो का जायजा सायं पांच बजे भ्रमण कर लेंगे। कलेक्टर श्री भार्गव ने संभागायुक्त के जारी भ्रमण कार्यक्रम अनुसार आयोतन स्थलों पर पोषण मित्रों, पालक उपस्थित रहेंगे। संभाग स्तर से निर्मित पोषण मित्र टेलीग्राम ग्रुप से जोड़ा जाएगा। कुपोषित बच्चों के अभिभावको की स्थिति मजबूत करने हेतु आवश्यक विभिन्न आर्थिक गतिविधियों तथा स्वरोजगारमूलक योजनाओं से लाभांवित कराने के प्रयास किए जाएंगे ताकि बच्चों को पोषण संबंधी आवश्यकताओं की पूर्ति हेतु अतिरिक्त संसाधन जुटा सकेंगे।


सफलता की कहानी : आटो चालक  के जीवन में लाड़ली ने दी खुशियों की दस्तक


jhabua news
आटो चालक अभिषेक खरे के पारिवारिक जीवन में लाड़ली ने खुशियों की दस्तक दी है। बालिका गौरी का जन्म होने से पहले पत्नि रानी खरे के स्वास्थ्य संबंधी सभी सुविधाएं निःशुल्क प्राप्त हुई है आटो चलाकर अपने परिवार का भरण पोषण करने वाले अभिषेक का कहना है मैं अपने माता-पिता को साथ रखा हूॅ जैसे तैसे आमदनी कर जीवनयापन हो रहा है पर जैसे ही लाड़ली गौरी बिटिया के जनम लेते ही मुझे शासन की योजना के तहत नवीन आटो मिल गया। गर्भवती पत्नि को गर्भ अवस्था के दौरान मिलने वाली सहूलियते जिसमें प्रधानमंत्री मातृ वंदना का भी लाभ मिला है। जिला पंचायत के सभागार कक्ष में शनिवार को आयोजित कार्यक्रम में सवारलाइन निवासी आंगनबाडी केन्द्र क्रमांक 35/76 में दाखिला लेने वाली बालिका गौरी खरे को मुख्यमंत्री लाड़ली लक्ष्मी योजना का स्वीकृति पत्र प्रधान जिला एवं सत्र न्यायाधीश एवं कलेक्टर ने संयुक्त रूप से रानी खरे को प्रदाय किया है। बिटिया के भविष्य के लिए चिंतित रहने वाले अभिषेक व रानी की चिन्ताएं दूर हुई है। उनकी कहना है कि शिक्षा-दीक्षा, विवाह और स्वास्थ्य योजनाओं का लाभ बिटिया को भी मिलेगा। बिटिया स्कूल जाएंगी तो उसे किसी भी चीज की चिंता नही रहेगी। एक योजना ने बिटिया होने की खुशियों में चार चांद लगा दिए है।


सफलता की कहानी : प्रधानमंत्री उज्जवला योजना के गैस कनेक्शन ने ईंधन की पीडा से मुक्ति दिलाई


vidisha news
प्रधानमंत्री उज्जवला योजना ने गैस कनेक्शन से लाभांवित होने वाली हितग्राही शीतल बाई यादव का कहना है कि ईंधन की हर रोज की झंझट से मुक्ति मिली है कई बार गीली लकडिया हो जाने से घर में धुंआ ऐसे फैल जाता था जिसकी कोई कल्पना नही कर सकते थे। धुंए से हर रोज व चूल्हे पर खाना बनाने से बर्तनो में काले हो जाया करते थे। दूसरो के घरो में गैस कनेक्शन को देखकर मुझे भी बहुत इच्छा होती थी पर घर की स्थिति ऐसी नही थी कि नगद राशि सें हम गैस कनेक्शन ले सकें। इस मनोकामना को योजना ने पूरा किया है। विदिशा के पूरनपुरा में निवासरत शीतलबाई को जिला पंचायत में शनिवार को सम्पन्न हुए शिविर मेला में अन्य हितग्राही जिनमें टीलाखेडी की गीता मालवीय, रीना बाई के साथ निःशुल्क गैस कनेक्शन प्रधानमंत्री उज्जवला योजना के तहत प्राप्त हुआ है। हितग्राही शीतल बाई का कहना है कि हर घर में गैस होना बहुत जरूरी है गैस  होने से समय व धन दोनो की बचत होती है। वही शारीरिक रूप से भी अनेक प्रकार की दिक्कते होने में कमी आती है।


महिला सरपंच ने स्वच्छता की नई इबादत लिखी, जिले का प्रथम ओडीएफ प्लस घोषित हुआ ग्राम पंचायत बरखेडा जागीर


जिले की ग्राम पंचायतो में स्वच्छता के मापदण्डो का क्रियान्वयन शत प्रतिशत हो इसके लिए कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव द्वारा विशेष रणनीति तय की गई है। वे स्वंय ग्राम पंचायतो के कार्यो की सतत समीक्षा कर जायजा ले रहे है। कलेक्टर द्वारा प्रति सप्ताह वीडियो कांफ्रेसिंग के माध्यम से जनपदीय कार्यो का भी आंकलन किया जा रहा है। नटेरन विकासखण्ड की ग्राम पंचायत की बरखेडा जागीर की महिला सरपंच श्रीमती पुष्पा बाई पति ठाकुर सिंह जादौन ने जिले में नया इतिहास गढा है। यहां नगरीय निकायो की तर्ज पर स्वच्छता के कार्यो को अंजाम दिया गया है जिसके परिणामस्वरूप जिले का प्रथम ओडीएफ प्लस होने का गौरव ग्राम पंचायत बरखेडाजागीर को गांधी जयंती के पावन पर्व पर प्राप्त हुआ है। ग्राम पंचायत बरखेडा जागीर ने जो मिसाल पेश कर औरो को इस ओर अग्रसर बढने की सीख दी है। सरपंच का कहना है कि ग्रामीणों के सहयोग से इस काम में सफलता हासिल हुई है। उनका गांव पूर्ण स्वच्छ साफ हो। इसके लिए हर घर में शौचालय बनाए गए जिसका उपयोग रहवासी लोग कर रहे है। वही कचरा निष्पादन के लिए उमदा प्रबंध सुनिश्चित किए गए है। ग्राम में कचरा संग्रह के लिए तीन कर्मचारी नियुक्त किए गए है यदि गांव का कोई व्यक्ति अन्यत्र कचरा फैलाता है तो ग्राम पंचायत द्वारा स्वच्छता की अवहेलना करने वाले पर सौ रूपए अर्थदण्ड का प्रस्ताव पारित किया गया है। गांव का कचरा संग्रह के उपरांत नियत स्थल पर हर रोज डाला जा रहा हैं गांव में गौ-वंश के लिए दो गौ-शालाएं संचालित हो रही है जिसके गोबर का उपयोग गैस प्लांट में कर छह परिवारों को कनेक्शन दिया गया है। ग्राम पंचायत में पेयजल आपूर्ति, नलजल कनेक्शन से हो रही है अभी तक 627 घरो में कनेक्शन दिया गया है और 157 घरो से जलकर की राशि वसूली जा रही है। स्वच्छता के आयामो को पूरा करने के लिए बस स्टेण्ड के पास सामुदायिक स्वच्छता  परिसर का भी निर्माण कराया गया है जिसका आमजन यात्रीगण समय-समय पर उपयोग करते है।


मापदण्ड

स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण अंतर्गत वर्ष 2021-22 में चिन्हित ग्रामो को ओडीएफ प्लस घोषित किए जाने के लिए जो मापदण्ड निर्धारित किए गए थे उन सबका ग्राम पंचायत बरखेडा जागीर के द्वारा पूरा किया गया है उनमें ग्राम के समस्त घरो में व्यक्तिगत, पारिवारिक शौचालय की उपलब्धता व उपयोग सौ से अधिक घरो वाले ग्राम में आवश्यकतानुसार सामुदायिक स्वच्छता परिसर की उपलब्धता ग्राम में स्थित विद्यालयों, आंगनबाडी एवं ग्राम पंचायत भवन में उपयोगी शौचालय की उपलब्धता निकटतम सामुदायिक शौचालय अन्य संस्थागत शौचालय, व्यक्तिगत शौचालय की सुविधाएं बहाल की गई है। ग्राम पंचायत बरखेडाजागीर में जैविक कचरे एवं ग्रेवाटर के प्रबंध हेतु आवश्यक अधोसंरचनाओं की उपलब्धता सुनिश्चित की गई है वहीं ग्राम में ठोस अपशिष्ट के प्रबंधन की क्रियाशील प्रणाली समस्त सार्वजनिक स्थलों पर दृश्य स्वच्छता सुनिश्चित की गई हैं। उपरोक्त मापदण्डो का शत प्रतिशत क्रियान्वयन कर आजादी का अमृत महोत्सव, स्वच्छता संकल्प एवं हस्ताक्षर अभियान से परलिक्षित कार्यो की क्रास मानिटरिंग उपरांत ओडीएफ प्लस होने का गौरव हासिल हुआ है।  


अप्रेन्टिसशिप मेला आज


vidisha news
विदिशा की शासकीय आईटीआई प्रशिक्षण संस्थान में चार अक्टूबर की प्रातः दस बजे से अप्रेन्टिसशिप मेला का आयोजन किया गया है कि जानकारी देते हुए संस्था के प्राचार्य श्री एपी श्रीवास्तव ने बताया कि अप्रेन्टिसशिप मेला में आदित्य बिरला ग्रासिम गुजरात एवं बालाजी वेफर्स इंदौर निजी कंपनियां सम्मिलित होंगी। पूर्व उल्लेखित कंपनियों के द्वारा आईटीआई फीटर एवं इलेक्ट्रिशियन, उत्तीर्ण पुरूष जिनकी आयु 27 वर्ष तक है शामिल हो सकेंगे। चयनितों के लिए प्रतिमाह 9500 रूपए की स्टाइपेन्ड एवं अन्य सुविधाएं प्राप्त होगी। अप्रेन्टिसशिप मेले में शामिल होने वाले प्रतिभागियों को यात्रा भत्ता देय नहीं होगी। क्रमांक 21/अहरवाल

कोई टिप्पणी नहीं: