बिहार : राष्ट्रपति जी को हमसब मानते हैं बिहारी : नीतीश कुमार - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 21 अक्तूबर 2021

बिहार : राष्ट्रपति जी को हमसब मानते हैं बिहारी : नीतीश कुमार

we-feel-president-is-bihari-nitish-kumar
पटना : देश के महामहिम राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद तीन दिनों तक पटनाबिहार दौरे पर हैं। वह बिहार की राजधानी पटना में 46 घंटे तक रहेंगे। इस दौरान वह बिहार विधानसभा के शताब्दी समारोह में भी शामिल हुए। जहां उन्होंने बिहार को लेकर कहा कि कोई मुझे बिहारी कहता है तो मैं खुद को गौरवान्वित महसूस करता हूं। भारत के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने कहा कि देश के पहले राष्ट्रपति डॉ राजेंद्र प्रसाद बिहार के ही थे और यह मेरे लिए सौभाग्य की बात है कि मैं राजेंद्र बाबू की विरासत को आगे बढ़ा रहा हूं। इससे अधिक गर्व की बात मेरे लिए कुछ भी नहीं हो सकता है। वहीं, बिहार विधानसभा भवन के शताब्दी समारोह में पहुंचे बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने देश के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद की तारीफ करते हुए कहा कि महामहिम राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद 2 साल तक बिहार के राज्यपाल रहे। वह खुद को एक बिहारी के तौर पर मानते हैं इससे अधिक गर्व की बात क्या हो सकती है?


इसके साथ ही नीतीश कुमार ने कहा कि बिहार के राज्यपाल से सीधे राष्ट्रपति बनें महामहिम रामनाथ कोविंद जी का बिहार से विशेष लगाव रहा है। नीतीश कुमार ने कहा कि राष्ट्रपति पूरे देश के हैं लेकिन हम सब उनको बिहारी ही मानते हैं। नीतीश ने कहा कि महामहिम का जो लगाव बिहार से रहा है इसी कारण वह बिहार आने का कोई मौका छोड़ना नहीं चाहते हैं। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि राष्ट्रपति महोदय बुद्ध स्मृति पार्क में भी कल जा रहे हैं। वह स्मृति पार्क में मेडिटेशन सेंटर का भी निरीक्षण करेंगे यह बेहद खुशी की बात है। इससे पहले देश के महामहिम राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद आज सुबह 10:50 बजे विधानसभा परिसर पहुंचे। उनके मंच पर पहुंचते ही राष्ट्र धुन बजाई गई। इसके बाद उन्होंने 11 बजकर 12 मिनट पर प्रज्जविलत किया और कार्यक्रम की शुरूआत की। जानकारी हो कि,इस कार्यक्रम में 11 बजकर 25 मिनट पर बिहार के नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव का भाषण होना था, लेकिन उन्होंने कार्यक्रम में आने से इंकार कर दिया। बताया जा रहा है तेजस्वी मात्र 3 मिनट का समय देने के कारण नाराज थे,जिस कारण उन्होंने इस कार्यक्रम में शामिल होने से मना कर दिया।

कोई टिप्पणी नहीं: