मेरी नजर में हम इंग्लैंड के खिलाफ श्रृंखला 2-1 से जीते : रोहित शर्मा - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 4 अक्तूबर 2021

मेरी नजर में हम इंग्लैंड के खिलाफ श्रृंखला 2-1 से जीते : रोहित शर्मा

we-won-test-series-2-1-rohit-sharma
नयी दिल्ली, चार अक्टूबर, इंग्लैंड के खिलाफ हाल में संपन्न टेस्ट श्रृंखला का पांचवां और अंतिम टेस्ट कोविड-19 से जुड़े मामलों के कारण रद्द होने के बाद भले ही श्रृंखला के आधिकारिक नतीजे को लेकर अभी भ्रम बना हो लेकिन स्टार सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा का कहना है कि उनकी नजर में भारत ने पांच मैचों की श्रृंखला 2-1 से जीत ली है। इंग्लैंड दौरे के दौरान भारत के मुख्य कोच रवि शास्त्री कोविड-19 पॉजिटिव पाए गए थे जिसके बाद उन्हें और उनके करीबी संपर्क माने गए मुख्य फिजियो नितिन पटेल, गेंदबाजी कोच भरत अरूण और क्षेत्ररक्षण कोच आर श्रीधर को पृथकवास पर भेजा गया। पटेल की गैरमौजूदगी में सहायक फिजियो योगेश परमार ने टीम की जिम्मेदारी संभाली लेकिन बाद में वह भी कोविड-19 पॉजिटिव पाए गए जिसके बाद मैनचेस्टर में होने वाले पांचवें और अंतिम टेस्ट को रद्द कर दिया गया। मैच जब रद्द हुआ तब भारत श्रृंखला में 2-1 से आगे चल रहा था। इंग्लैंड एवं वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) से आग्रह किया है कि इस मैच को भारत द्वारा गंवाया हुआ घोषित किया जाए और श्रृंखला का नतीजा 2-2 से बराबर हो। भारत हालांकि इस मैच को अगले साल के इंग्लैंड दौरे के दौरान खेलने को तैयार है। रोहित ने जब इस श्रृंखला के बारे में पूछा गया तो उन्होंने यहां खेल सामग्री बनाने वाली कंपनी ‘एडीडास’ की आनलाइन प्रेस कांफ्रेंस के दौरान कहा, ‘‘मुझे नहीं पता कि आधिकारिक रूप से क्या फैसला रहेगा लेकिन हमने अच्छा प्रदर्शन किया और मेरी नजर में हमने 2-1 से श्रृंखला जीती है।’’ रोहित के लिए वह दौरा सफल रहा था और वह इंग्लैंड के कप्तान जो रूट के बाद श्रृंखला में दूसरे सबसे सफल बल्लेबाज रहे। उन्होंने चार मैचों में 52.57 के औसत के 368 रन बनाए और सलामी बल्लेबाज के रूप में विदेशी सरजमीं पर अपना पहला शतक जड़ा। उन्होंने इसके अलावा दो और अर्धशतक लगाये। रोहित ने इंग्लैंड दौरे पर प्रदर्शन के संदर्भ में कहा, ‘‘निजी तौर पर यह दौरा मेरे लिए अच्छा रहा और मैं इस दौरे से मिले आत्मविश्वास को भविष्य के दौरों पर भी जारी रखना चाहता हूं।’’

कोई टिप्पणी नहीं: