ऑनलाइन शॉपिंग के विरोध में 19 को लखनऊ में होगा बड़ा सम्मेलन - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 7 नवंबर 2021

ऑनलाइन शॉपिंग के विरोध में 19 को लखनऊ में होगा बड़ा सम्मेलन

  • करोड़ों लोगों की रोजी-रोटी छीन रहा ऑनलाइन व्यापार: अमित गुप्ता  धंधा चौपट होने से बड़ी संख्या में आत्महत्या कर चुके है हैरान-परेशान खुदरा व्यापारी 
  • सिर्फ वोकल फॉर लोकल का नारा देने से नहीं इसके लिए धरातल पर काम करना होगा तभी लघु कुटीर उद्योगों को लाभ होगा 

protest-against-online-shoping
वाराणसी (सुरेश गांधी) वाराणसी व्यापार मंडल से संबद्ध काशी बिस्कुट कन्फेक्शनरी व्यापार मंडल के तत्वावधान में सिगरा स्थित एक लॉन में दीपावली महोत्सव का आयोजन किया गया। इस मौके पर कार्यक्रम के राष्ट्रीय जन उद्योग संगठन के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित गुप्ता ने कहा कि ऑनलाइन व्यापार से देश के सामने बेरोजगारी का बड़ा संकट खड़ा हुआ है। कई छोटे-छोटे व्यापारियों की दुकानें बंद हो चुकी है। इससे हैरान-परेशान व्यापारी आत्महत्या को विवश है। अगर ऐसे ही सबकुछ चलता रहा तो जल्द ही ऑनलाइन व्यापार के चलते करोड़ों लोग बेरोजगार हो जाएंगे। इस संकट को देखते हुए अपनी मांगों को लेकर 19 को लखनऊ में खुदरा व्यापारी सम्मेलन के जरिए सरकार को घेरेंगे। 


अमित गुप्ता ने कहा कि सिर्फ वोकल फॉर लोकल का नारा देने से समस्याएं खत्म नहीं होंगी, इसके लिए सरकार को वास्तविकता के धरातल पर काम करना होगा। छोटे-छोटे उद्योगों को बढ़ावा देना होगा। क्योंकि विदेशी ऑनलाइन ट्रेडिंग से देश के छोटे व्यापारी खत्म हो रहे हैं या होते नजर आ रहे हैं। परिणाम स्वरूप देश में बेरोजगारी का संकट खड़ा हो सकता है। वर्तमान में देश के लगभग 7 करोड खुदरा व्यापारी है जो 28 करोड़ लोगों को रोजगार देते हैं। लेकिन ऑनलाइन की जडे इतनी गहरी होती जा रही है कि आने वाले दिनों में करोड़ों लोग बेरोजगार हो जायेंगे। उन्होंने कहा कि 2008 में 200 करोड़ का ऑनलाइन कारोबार था, जो अब बढ़कर चार सौ पचास लाख करोड़ तक पहुंच गया है।  अमित गुप्ता ने कहा कि वैसे भी कोरोना महामारी से देश की अर्थव्यवस्था का आधार एमएसएमई सेक्टर धराशाई हो गया है, जिससे बेरोजगारी बढ़ती जा रही है। पिछले वर्ष प्रतिदिन 40 व्यापारियों ने आत्महत्या की। आज के परिवेश में ऑनलाइन व्यापार खुदरा व्यापारियों के लिए स्लो प्वाईजन का काम कर रहा है। साथ ही उन्होंने चेताया कि 2022 में व्यापारी समस्या व उत्पीड़न जल्द समाप्त नहीं हुआ तो इसका खामियाजा सरकार को भुगतना पड़ेगा। इस मौके पर वाराणसी व्यापार मंडल अध्यक्ष अजीत सिंह बग्गा व महामंत्री कविन्द्र जायसवाल ने सभी को दीपावली व छठ की शुभकामनाएं देते हुए कहा कि ऑनलाइन व्यापार से सभी फुटकर एवं खुदरा व्यापारी मूल रूप से अपने व्यापार से टूट रहा है। काशी बिस्कुट कन्फैक्शनरी महामंत्री रमेश निरंकारी ने सरकार से मांग करते हुए बताया कि 1000 से अधिक मूल्य के सामानों को ऑनलाइन बिक्री पर रोक लगानी चाहिए। ब्रांडेड व अनब्रांडेड की रेंज में व्यापारी पिसता जा रहा है। आवाम को भी समझना होगा कि लोकल व्यापारी ही अर्थव्यवस्था को सुदृढ़ करने के साथ वैश्विक कोरोना महामारी में देश में अहम भूमिका निभाते हुए जनमानस का सहयोग किया था।


इस मौके राष्ट्रीय महामंत्री गोविंद टाटा, संरक्षक विजय कपूर, राष्ट्रीय मंत्री राकेश त्रिपाठी, प्रदेश महामंत्री रविंद्र जायसवाल, प्रदेश उपाध्यक्ष रमेश निरंकारी, प्रदेश महामंत्री महिला इशा अग्रवाल द्वारा ई-कॉमर्स, ड्रग लाइसेंस, जीएसटी, खाद्य तेल पर आवश्यक वस्तु अधिनियम, एफएसएसआई द्वारा नए नियम जिसके  अंतर्गत ठेला व्यवसायियों को केमिस्ट्री रखने की अनिवार्यता, निजीकरण, निजी क्षेत्र में आरक्षण आदि औद्योगिक व व्यापारी विषयों पर चर्चा करते हुए सबसे पहले इ कामर्स कम्पनियों पर हमला बोलते हुए कहा कि ऑन लाइन व्यापार कंपनी द्वारा जिस प्रकार फुटकर एवं खुदरा व्यवसायियों को जड़ से समाप्त करने के लिए प्रत्येक तीज त्यौहारो में लुभावने बड़े-बड़े ऑफर अखबारों में विज्ञापन कर जनता को अपनी ओर आकर्षित कर रहे हैं जिसका असर फुटकर एवं खुदरा व्यापारी पर पड़ रहा है। ऑनलाइन व्यापार से सभी फुटकर एवं खुदरा व्यापारी ही नहीं थोक व्यापारी भी परेशान हैं। हमें सबसे पहले अपने घर से ऑनलाइन व्यापार का बहिष्कार करना होगा एवं इनका मुकाबला करने के लिए हमें आपसी प्रतिस्पर्धा को भूलकर अपने आसपास के जनमानस को बढ़िया एवं उत्तम सामान को ऑनलाइन के प्रतिस्पर्धात्मक रेट पर देना होगा। सुविधाओं को बढ़ाना होगा। उन्होंने कहा कि ऑनलाइन व्यापार से जो कमाई होती है वह विदेशों में चली जाती है जिसका फायदा हमारे देश को नहीं हो पाता। अगर हम आपस में व्यापार करेंगे तो जो भी कमाई होगी वह हमारे देश के विकास तथा स्वयं के विकास उसका उपयोग किया जा सकेगा। पूंजीपतियों ने खुदरा व्यवसाय को जड़ से समाप्त करने की कूटनीति को किसी भी प्रकार से कामयाब नहीं होने दिया जाएगा। ऑनलाइन व्यापार कहीं ना कहीं लुभावने ऑफर देकर जनता को ठग रहा है।  


मीडिया अध्यक्ष दीप्तिमान देव गुप्ता एवं मीडिया प्रभारी विकास गुप्ता ने बताया कि प्रदेश सरकार द्वारा ड्रग लाइसेंस को रिन्यू कराने में नए नियम लागू कर व्यापारियों को काफी कठिनाईयों का सामना करना पड़ रहा है। इसमें संशोधन कर समाधान करना चाहिए ताकि व्यापारियों को रिनुअल में दिक्कत ना आए। कार्यक्रम की अध्यक्षता अजीत सिंह बग्गा व का संचालन महामंत्री रमेश निरंकारी ने किया। इस अवसर पर ओम प्रकाश गुप्ता, नूर ऐसान, सुशील लखमणि, मीडिया अध्यक्ष दीप्तिमान देव गुप्ता, गुड़गीत बग्गा, एसएस बहल, विकास गुप्ता, जितेन चौधरी, पिं्रस गुप्ता, विनोद जिंदगी, राजीव वर्मा, अरविंद जायसवाल, राजकुमार शर्मा, रोशन जायसवाल, धर्मेंद्र सिंह, अंबे ईशा अग्रवाल, ज्ञानेश्वर जायसवाल, जितेंद्र गुप्ता, प्रीति जायसवाल, सत्य प्रकाश जायसवाल, जितेश जायसवाल, शाहिद कुरेशी, पवन गुप्ता, गुफरान कुरेशी, असद आफरीन, जयचंद्र शर्मा, गोपाल यादव, शरद गुप्ता, शशांक दवे, रमेश भारद्वाज, मोहम्मद साबिर, नीरज सेठ, सतेंद्र सिंह, सुजीत कुमार वर्मा, आरती शर्मा, मनोज गुप्ता, शीतलाल, आनंद, गौरव निगम, जयप्रकाश जायसवाल, ज्ञान चंद गुप्ता, राकेश कुमार जायसवाल, सचिन मौर्य, विनोद जायसवाल, बृजेश पटेल, अमित मल्होत्रा, सुनीता सोनी, नंदलाल केसवानी, जय प्रकाश, प्रवेश गुप्ता आदि मौजूद रहे। 

कोई टिप्पणी नहीं: