विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 22 नवम्बर - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 22 नवंबर 2021

विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 22 नवम्बर

लंबित आवेदनों की समीक्षा, चार अधिकारियों का शोकॉज नोटिस जारी करने के निर्देश


vidisha news
कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव ने सोमवार को विभिन्न विभागों में लंबित आवेदनों की समीक्षा की। उन्होंने सीएम हेल्पलाइन के तहत दर्ज आवेदनों के निराकरण में आशातीत उपलब्धि हासिल नही करने पर चार अधिकारियों को शोकॉज नोटिस जारी करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि नवम्बर माह के आवेदनों का निराकरण करने से निर्धारित पैरामीटर के अनुसार अंको की प्राप्ति होगी। कलेक्टर श्री भार्गव ने सी और डी श्रेणी में शामिल विभागों के अधिकारियों के खिलाफ सख्त कार्यवाही करने के निर्देश दिए है। उन्होंने इन विभागो के अधिकारियों से कहा कि वे सीएम हेल्पलाइन के आवेदनों को स्वंय गंभीरता से लें और ऐसा ही संकेत निचले स्तर पर दें। सीएम हेल्पलाइन की रैकिंग निर्धारण के पैरामीटर से भी इस दौरान अवगत कराया गया है। कलेक्टर श्री भार्गव ने आदिम जाति कल्याण विभाग के जिला संयोजक श्री नरेन्द्र अवस्थी तथा किसान कल्याण तथा कृषि विकास विभाग के सहायक संचालक श्री महेन्द्र सिंह ठाकुर का वेतन रोकने के निर्देश जिला कोषालय अधिकारी को दिए हैं इसके अलावा इन अधिकारियों के साथ-साथ सिरोंज एवं लटेरी तहसीलदार को शोकॉज नोटिस भी जारी किए गए है। कलेक्टर श्री भार्गव ने स्वास्थ्य विभाग में लंबित आवेदनों के निराकरण पर विशेष बल देते हुए उन्होंने जिला चिकित्सालय में पृथक से प्रकोष्ठ गठित करने के निर्देश दिए है। उक्त प्रकोष्ठ के द्वारा विभिन्न स्तरों पर लंबित आवेदनों के निराकरण की पहल की जाएगी। कलेक्टर श्री भार्गव के द्वारा आहूत लंबित आवेदनों की समीक्षा बैठक में जिन विभागों के अधिकारियों द्वारा निराकरण हेतु की गई पहल से अवगत कराया गया है उनमें कृषि, शिक्षा, स्वास्थ्य, सड़क, खाद्य, कॉ-आपरेटिव, ऊर्जा, पीएचई, जिला पंजीयक, जिला योजना, गर्ल्स कॉलेज, मार्कफेड, सामाजिक न्याय विभाग, सम्राट अशोक सागर, लोक निर्माण विभाग, जल संसाधन, उद्यानिकी, पशु चिकित्सा, श्रम विभाग, के अलावा आरईएस विभाग में लंबित आवेदनों पर की गई कार्यवाही से संबंधित विभागीय अधिकारी के द्वारा अवगत कराया गया है। नवीन कलेक्ट्रेट के बेतवा सभागार कक्ष में सम्पन्न हुई इस बैठक में जिला पंचायत सीईओ डॉ योगेश भरसट, डिप्टी कलेक्टर सुश्री अनुभा जैन, श्रीमती अमृता गर्ग के अलावा विभिन्न विभागो के जिलाधिकारी मौजूद थे। 


जानकारियों से अधिकारी अपडेट रहें-कलेक्टर


कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव ने सोमवार को लंबित आवेदनों की समीक्षा बैठक के दौरान विभिन्न विभागों के अधिकारियों को सख्त हिदायत देते हुए उन्हें विभागीय योजनाओं एवं कार्यक्रमों की जानकारियों से अपडेट रहने की चेतावनी दी हैं। कलेक्टर श्री भार्गव ने कहा कि जिलाधिकारी को विभागीय कार्यक्रम के लक्ष्य और उपलब्धियों की जानकारियां टिप्स पर होना चाहिए। इसी प्रकार विभिन्न स्तर के लंबित आवेदनों पर निराकरण हेतु क्या पहल की गई है से भी भलीभांति अवगत रहें। उन्होंने कहा कि पूछताछ के दौरान चेहरे पर आत्मविश्वास स्पष्ट रूप से झलकना चाहिए और जानकारियों की प्रस्तुति के दौरान पेजो को कदापि ना पलटें। 


निराकरण संबंधी जानकारियां अंकित करने का प्रशिक्षण आज


सीएम हेल्पलाइन के तहत दर्ज आवेदनों के निराकरण हेतु ऑन लाइन अंकित किए जाने वाले जबाव को कैसे भरे से अवगत कराने हेतु सी और डी ग्रेड में शामिल विभागो के सीएम हेल्पलाइन के नोडल अधिकारी व संबंधित लिपिक के लिए एक दिवसीय प्रशिक्षण मंगलवार 23 नवम्बर को आयोजित किया गया है। कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव ने संबंधित विभागों के जिलाधिकारियों को निर्देश दिए है कि उक्त प्रशिक्षण में एल-वन स्तर के अधिकारी व जबाव दर्ज करने वाले लिपिक अनिवार्य रूप से उपस्थित हो। मंगलवार को आयोजित होने वाला यह प्रशिक्षण नवीन कलेक्ट्रेट के आरसीबीसी कक्ष में प्रातः 11 बजे से शुरू होगा। मास्टर ट्रेनर्स व लोक सेवा के जिला प्रबंधक श्री अमित अग्रवाल के द्वारा प्रशिक्षित किया जाएगा। मास्टर ट्रेनर श्री अग्रवाल ने बताया कि कुल 52 विभागो के पूर्व उल्लेखितों को उपस्थित होने के निर्देश प्रसारित किए गए है। 


मिलावट से मुक्ति अभियान का सघन क्रियान्वयन करें


कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव ने जिले में मिलावट से मुक्ति अभियान के तहत सघन निरीक्षण कर कार्यवाही करने के निर्देश दिए है। उन्होंने आबकारी, स्वास्थ्य, खाद्य विभाग के अधिकारियों को ततसंबंध में आवश्यक निर्देश दिए है। उन्होंने जिला आबकारी अधिकारी को सख्त हिदायत दी है कि जिले में कही भी अवैध शराब का क्रय विक्रय और परिवहन कदापि ना हो इसके लिए अधीनस्थ अधिकारियों एवं अमले को सघन निरीक्षण करते रहने की कार्यवाही सम्पादित कराए इसके अलावा गुप्त सूचनाएं प्राप्ति हेतु अपने स्तर पर माइक्रोप्लान तैयार करें। इसी प्रकार उचित मूल्य दुकानो से किसी भी प्रकार की मिलावट खाद्यान्न का वितरण ना हो इसके लिए उचित मूल्य दुकानो के साथ-साथ सहकारी समितियों का निरीक्षण करने के निर्देश दिए है। 


माफिया पर कार्यवाही


कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव ने आज लंबित आवेदनों की समीक्षा बैठक के दौरान खनिज विभाग के अधिकारी को निर्देश दिए है कि जिले में कही भी अवैध खनिज का उत्खनन और परिवहन ना हो। इसके लिए आवश्यक प्रबंध सुनिश्चित किए जाएं। उन्होंने पंचायत स्तर पर ततसंबंध में सूचनाएं प्राप्ति त्वरित हो के लिए सूचना तंत्र उन्नत करने के निर्देश दिए है। कलेक्टर श्री भार्गव ने वन विभाग के अधिकारी को भी इसी प्रकार के निर्देश देते हुए वन भूमि पर किसी भी प्रकार के माफिया का कब्जा ना हो के लिए सघन भ्रमण कर जांच कार्यवाही करने के निर्देश दिए है। उन्होंने मुरवास में घटित घटना को रेखांकित करते हुए कहा कि कब्जों से मुक्त कराई गई भूमि पर पुनः अतिक्रमण ना हो कहीं भी कानून व्यवस्था बनाए रखने में किसी भी प्रकार के अवरोध उत्पन्न ना हो को ध्यानगत रखते हुए वन विभाग के अधिकारी पूर्व में ही कार्यवाहियां सुनिश्चित करें।


सभी शासकीय भवनों में नल-जल योजना का कनेक्शन करें


कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव ने सोमवार को लंबित आवेदनो की समीक्षा बैठक के दौरान जल मिशन के कार्यो की भी समीक्षा की। उन्होंने लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के कार्यपालन यंत्री श्री एसके सालवे को निर्देश दिए हैं कि जल मिशन का क्रियान्वयन जिले के जिन विकासखण्डों, तहसीलों में किया जा रहा है। उन क्षेत्रों के सभी शासकीय कार्यालयों में नल-जल योजना के कनेक्शन अनिवार्य रूप से किए जाएं। कलेक्टर श्री भार्गव ने खासकर स्वास्थ्य विभाग के खण्ड स्तरीय और ग्रामों में संचालित औषधालय में अनिवार्य रूप से किए जाएं। की गई कार्यवाही का पालन प्रतिवेदन हर माह प्रस्तुत करें। कलेक्टर श्री भार्गव ने जल मिशन के तहत घरों में नलों के कनेक्शन हेतु बिछाई जाने वाली पाइप लाइन व मुख्य पाइप लाइन के विस्तारीकरण कार्य में इस बात का विशेष ध्यान रखा जाए कि सीसी रोड को किसी भी प्रकार से क्षति न पहुंचे। उन्होंने सड़क के दोनों किनारों तरफ से ही पाइप लाइन ले जाने के निर्देश दिए हैं। 


डीएलसीसी की बैठक 26 को


कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव की अध्यक्षता में डीएलसीसी की बैठक शुक्रवार 26 नवम्बर को आयोजित की गई है। यह बैठक नवीन कलेक्ट्रेट के बेतवा सभागार कक्ष में दोपहर 3 बजे से शुरू होगी। लीड बैंक आफिसर ने बताया कि उक्त बैठक में विभिन्न योजनाओं के तहत स्वीकृत प्रकरणों में वित्त पोषण के अलावा बैंकर्स द्वारा क्रियान्वित अन्य कार्यों की समीक्षा बैंकवार की जाएगी।


तकनीकी समूह की बैठक संपन्न, स्केल आफ फायनेंस वित्तीय वर्ष हेतु निर्धारण


vidisha news
जिले में परंपरागत तरीकों से उपजाई जाने वाली मुख्य फसलों की प्रति हेक्टेयर उत्पादन लागत के आधार पर खरीफ फसलों हेतु प्रति हेक्टेयर नगद राशि एवं वस्तु ऋण के मान का निर्धारण आज कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव की अध्यक्षता में आयोजित तकनीकी समूह की बैठक में किया गया है। कलेक्टर श्री भार्गव ने किसानों को किसी भी प्रकार की असुविधा न हो को ध्यानगत रखते हुए तकनीकी समूह में विचारणीय विषयों के अनुमोदन पर सहमति व्यक्त की गई है। उक्त बैठक में कृषि, उद्यानिकी, औषधीय फसलों के अलावा पशुपालन व्यवसाय, कृषि यंत्रों, सिंचाई तथा पानी के स्त्रोतो के उन्नयन हेतु हितग्राहियों को आगामी वित्तीय वर्ष हेतु निर्धारण किया गया है। जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक मर्यादित के सीईओ श्री विनय प्रकाश सिंह के द्वारा तकनीकी समूह की बैठक में कृषकों को पशु-पालन एवं मतस्य व्यवसाय हेतु कुल लागत एवं उत्पादन क्षमता के आधार पर साख सीमा की स्वीकृति तथा मध्यकालीन दीर्घकालीन ऋणों के लिए मापदण्ड एवं शर्तों का निर्धारण अल्प अवधि ऋण वितरण की तिथि का निर्धारण एवं ऋण देय तिथि के निर्धारण से अवगत कराया है। जिले में किसानों को अल्पकालीन फसल ऋण वितरण दस प्रतिशत पर ऋण उपलब्ध कराया जा रहा है। पात्रता अनुसार निर्धारित ऋण मान व अदायगी क्षमता के आधार पर नगद व वस्तु का अनुपात 75ः25 निर्धारित किया गया है। कृषि विभाग से प्राप्त आंकड़ों के आधार पर धान सिंचित असिंचित सोयाबीन, ज्वार (उन्नतशील, संकर) मक्का, मूंगफली, मूंग उडद़ अरहर के औसत उत्पादन प्रति हेक्टेयर, औसत भाव प्रति कि्ंवटल तथा उत्पादन लागत प्रति कि्ंवटल हेतु राशि की फसलवार जानकारी प्रस्तुत की है। गतवर्ष निर्धारित उपरोक्त में किसी भी प्रकार की वृद्धि इस वर्ष नही की गई है। सीसीव्ही के सीईओ श्री विनय प्रकाश सिंह ने बताया कि अल्प अवधि खरीफ एवं रबी ऋण वितरण के लिए अवधि निर्धारित की गई है जिसके अनुसार अल्प खरीफ वितरण हेतु समय अवधि एक अपै्रल से 30 सितम्बर तक, रबी हेतु एक अक्टूबर से 31 मार्च तक रखते हुए नगद हेतु 15 मई से 31 मार्च तक एवं वस्तु हेतु 15 जुलाई से 31 मार्च तक प्रस्तावित की गई है। खरीफ एवं रबी फसलों हेतु समिति द्वारा सदस्यों को ऋण वितरण की समयावधि की भी जानकारी प्रस्तुत की है। उक्त बैठक में कृषि, उद्यानिकी, पशु चिकित्सा सेवा, मत्स्य एवं डेयरी विभाग के अधिकारी मौजूद रहें।


टीकाकरण में जिला पिछडे ना, विशेष अभियान का संचालन हर रोज करें


vidisha news
कोविड वैक्सीनेशन टीकाकरण का विशेष अभियान हर रोज संचालित करें। टीकाकरण के मामले में जिला पिछडे ना इसके लिए विभिन्न विभागो को आवश्यक जबावदेंही कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव ने आज वैक्सीनेशन कार्यो की समीक्षा बैठक में सौंपी है। कलेक्टर श्री भार्गव ने कहा कि जिस प्रकार प्रथम डोज के टीकाकरण कार्यो में उपलब्धियां हासिल की गई है ठीक वैसे ही द्धितीय डोज के टीकाकरण कार्यो का संपादन हों। उन्होंने कहा कि प्रत्येक एसडीएम स्थानीय स्तर पर टीकाकरण कार्यो के लिए अलग-अलग प्लानिंग तैयार करें। हर रोज टीकाकरण के लक्ष्य की जानकारी ग्रामवार चयनित कर उन विभागो के अधिकारियों को सौपी जाए जिनके द्वारा टीकाकरण कार्यो को अंजाम दिया जाना हैं। कलेक्टर श्री भार्गव ने कहा कि आवश्यकता पड़ने पर डोर टू डोर टीकाकरण कार्य का क्रियान्वयन जिले में किया जाएगा। टीकाकरण की महत्वता से अवगत कराने हेतु जनजागरूकता कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। कलेक्टर श्री भार्गव ने कहा कि टीकाकरण जैसे महत्वपूर्ण कार्य में अन्य विभागो की भी सहभागिता आवश्यक है। उन्होंने समस्त उचित मूल्य दुकानो, सेवा सहकारी समितियों, शराब दुकानो पर फ्लैक्स के माध्यम से इस बात का संकेत दिया जाए कि टीकाकरण कराना अतिआवश्यक है। उन्होंने प्रत्येक स्व-सहायता समूह के सदस्यों, शासकीय विभागो में पदस्थ अधिकारी, कर्मचारी एवं उनके पारिवारिक सदस्यों का भी टीकाकरण अति आवश्यक है यदि किसी विभाग के अधिकारी, कर्मचारी के द्वारा कोविड वैक्सीनेशन का टीकाकरण नही कराया गया है तो संबंधितों का वेतन रोकने की कार्यवाही क्रियान्वित की जाए। कलेक्टर श्री भार्गव ने टीकाकरण के प्रति पूर्वानुसार सापेक्षित माहौल परलिक्षित करने के लिए दुकानो पर स्टीकर व फ्लैक्स लगाने के भी निर्देश दिए है। उन्होंनें कहा कि टीकाकरण के कार्य में किसी भी प्रकार की कोताही ना बरती जाए। दुकानदार ही जागरूकता संबंधी संदेश ग्राहको तक अनिवार्य रूप से पहुंचाएं। कलेक्टर श्री भार्गव ने समस्त एसडीएमों को निर्देश दिए है कि नाम दर्ज ड्यूटी लगाई जाए, बीएमओ और महिला बाल विकास के परियोजना अधिकारी मिलकर टीकाकरण कार्य की खण्ड स्तर पर सतत मानिटरिंग करें। इस कार्य में आवश्यकतानुसार पंचायतों के सचिव, जेआरएस, पटवारी, आंगनबाडी कार्यकर्ता, स्वास्थ्य कार्यकर्ता की सेवाएं भी ली जाएं। उन्होंनें कहा कि हम सबका मुख्य उद्धेश्य टीकाकरण से कोई भी वंचित ना रहें। जहां सख्ती करने की आवश्यकता परलिक्षित होती है तो इस कार्य में भी पीछे ना रहें। नवीन कलेक्ट्रेट के बेतवा सभागार कक्ष में सम्पन्न हुई इस बैठक में जिला पंचायत सीईओ डॉ योगेश भरसट ने ग्रामीण क्षेत्रों में टीकाकरण के कार्यो पर विशेष जोर देने हेतु पंचायत एवं ग्रामीण विकास के अमले के अलावा स्व-सहायता समूहो के सदस्यो को ताकिद किया गया है। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ एपी सिंह ने बताया कि जिले में दो सो टीमो के द्वारा हर रोज टीकाकरण किया जा रहा है इसके अलावा पचास स्थायी स्थलों पर हर रोज वैक्सीनेशन कार्यो का संपादन पृथक दलो के द्वारा किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि जिले में अब तक दो लाख 80 हजार नागरिक सैकेण्ड डोज की ड्यू डेट नही लगवाया गया है। इन सबकी सूची विकासखण्डों के ग्रामवार व निकायवार संधारित की गई है ताकि डोर-टू-डोर संपर्क कर टीकाकरण कार्य को अंजाम दिया जा सकें।


रोजगार मेलो का आयोजन करने के निर्देश, जिला कौशल समिति की बैठक सम्पन्न


vidisha news
कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव की अध्यक्षता में आज जिला कौशल समिति की बैठक आयोजित की गई थी। नवीन कलेक्ट्रेट के सभागार कक्ष में सम्पन्न हुई इस बैठक में जिला पंचायत सीईओ डॉ योगेश भरसट के अलावा आईटीआई व कौशल उन्नयन विकास के प्रतिनिधि मौजूद रहें। कलेक्टर श्री भार्गव ने समिति के समक्ष संबंधितों को स्पष्ट निर्देश दिए कि जिले में अधिक से अधिक रोजगार मेलो का आयोजन किया जाए ताकि शिक्षित युवक-युवतियों को निजी कंपनियों में रोजगार के अवसर प्राप्त हो सकें। उन्होंने जिले के आदिवासी बाहुल्य क्षेत्रों के युवक-युवतियों को रोजगार मुहैया कराने की विशेष पहल करने पर बल दिया है। बैठक में महात्मा गांधी, नेशनल फ्लोशिप समिति की सदस्य कुमारी शिवानी तोमर के द्वारा जिले में संचालित कौशल प्रशिक्षण केन्द्रो का रिसर्च फालो द्वारा निरीक्षण के उपरांत सुझावों से अवगत कराया गया वहीं कैरियर काउंसलिंग कार्यक्रम की कार्ययोजना, कौशल मेला का आयोजन काउंसलर पैनल में विभिन्न विषयों के विशेषज्ञो को शामिल करने हेतु सूचनाएं संप्रेषित करने तथा शिक्षित युवक -युवतियों को कैरियर मार्गदर्शन के लिए विशेष शिविर आयोजित करने हेतु प्रबंध सुनिश्चित करने तथा उपरोक्त कार्यो के संपादन के लिए स्थानीय स्तर पर कार्यक्रमों के आयोजनों की रूपरेखा से अवगत कराया है। 


पंचायत सचिव निलंबित


जिला पंचायत सीईओ डॉ योगेश भरसट ने शासकीय कार्यो में लापरवाही बरतने पर ग्राम पंचायत मोहम्मदगढ के सचिव श्री नर्वदा प्रसाद श्रीवास्तव को तत्काल प्रभाव से निलंबित करने का आदेश जारी कर दिया है। जिपं सीईओ श्री भरसट के द्वारा जारी आदेश में उल्लेख है कि जनपद पंचायत ग्यारसपुर में ग्राम पंचायत मोहम्मदगढ के सचिव श्री श्रीवास्तव के द्वारा वित्तीय वर्ष 2020-21 में आयोजित समवर्ती सामाजिक अंकेक्षण के दौरान ग्राम पंचायत में सत्यापन दौरान मनरेगा योजना अंतर्गत खेत तालाब योजना से लाभांवित हितग्राही श्री घनश्याम का कार्य मौके पर नही पाया गया और राशि 63 हजार चार सौ रूपए व्यय बतलाई गई। ततसंबंध में सुनवाई का अवसर पर राशि जमा कराने हेतु संबंधितों को निर्देशित किया गया था किन्तु उल्लेखित ग्राम सचिव द्वारा राशि जमा नही की गई और ना ही मौके पर कार्य होना स्वीकारा है। इस कारण से निलंबन की कार्यवाही की गई है।

कोई टिप्पणी नहीं: