भाजपा सबसे बड़ी परिवारवादी पार्टी : अखिलेश - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 11 नवंबर 2021

भाजपा सबसे बड़ी परिवारवादी पार्टी : अखिलेश

bjp-big-family-party-akhilesh-yadav
लखनऊ, 11 नवंबर, परिवारवाद को लेकर अक्सर भाजपा के निशाने पर आने वाली समाजवादी पार्टी (सपा) के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने पलटवार करते हुए बृहस्पतिवार को भारतीय जनता पार्टी को सबसे बड़ी परिवारवादी पार्टी करार दिया। अखिलेश ने मुजफ्फरनगर के बढ़ाना इलाके में सपा द्वारा आयोजित कश्यप महासम्मेलन में कहा, ‘‘भाजपा सबसे बड़ी परिवारवादी पार्टी है। भाजपा को अपना परिवारवाद नहीं दिखाई देता।’’ अखिलेश ने संपूर्ण सपा को समाजवादी परिवार करार देते हुए कहा, ‘‘समाजवादी पार्टी समाजवादी परिवार हैं। हम सभी समाजवादी परिवार के लोग हैं। समाजवादी पार्टी लगातार लोगों को जोड़ने का काम कर रही है। कई छोटे दलों को भी साथ लिया है।’’


गौरतलब है कि भाजपा परिवारवाद के मुद्दे को लेकर सपा और मुलायम सिंह यादव कुनबे को अक्सर घेरती रही है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अक्सर अपने भाषणों में सपा को एक परिवार की पार्टी कहते रहे हैं। अखिलेश ने कहा कि विधानसभा चुनाव में इंकलाब होगा और 2022 में बदलाव होगा। प्रदेश में समाजवादी पार्टी की सरकार बनने जा रही है। सपा के साथ हर वर्ग का समर्थन है। उन्होंने कहा, ‘‘समाजवादी सरकार बनने पर किसानों का सम्मान होगा। नौजवानों को नौकरी मिलेगी। महंगाई कम होगी। बिजली के बिल से किसानों, बुनकरों को राहत मिलेगी। सिंचाई मुफ्त करेंगे। पढ़ाई का अच्छा इंतजाम किया जायेगा।’’ पूर्व मुख्यमंत्री ने भरोसा दिलाया कि समाजवादी पार्टी की सरकार में कश्यप समाज से लेकर सभी वर्गों का सम्मान होगा। कश्यप समाज की जो 18 सूत्री मांगे हैं उन पर विचार किया जाएगा। किसान, पिछड़े, अगड़े, दलित, अल्पसंख्यकों सहित सभी वर्गों की बड़े पैमाने पर भागीदारी रहेगी। अखिलेश ने कहा कि भाजपा सरकार ने किसानों-नौजवानों-पिछड़ों-दलितों, अगड़ों सभी को धोखा दिया है। ये नफरत फैलाने वाले समाज में खाईं पैदा करने वाले लोग हैं। उन्होंने कहा कि जो सरकार पिछड़ों की गिनती नहीं करा सकती है वह हक और सम्मान नहीं देगी। भाजपा पिछड़ों का आरक्षण छीन रही है। समाजवादी सरकार आने पर पिछड़ों की गिनती कराकर भागीदारी और सम्मान दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि पूर्वांचल के लोगों ने भाजपा के लिए दरवाजा बंद कर दिया है। अब पश्चिमी यूपी के लोग भी उसके लिए दरवाजा बंद कर देंगे। किसान-नौजवान, पिछड़े, अगड़े, दलित, अल्पसंख्यक सभी मिलकर इस बार भाजपा का सफाया कर देंगे।

कोई टिप्पणी नहीं: