बेतिया : किसानों के हित के लिये कार्य करें चीनी मिल प्रबंधन : डीएम - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 12 नवंबर 2021

बेतिया : किसानों के हित के लिये कार्य करें चीनी मिल प्रबंधन : डीएम

  • * घटतौली होने की स्थिति में दर्ज होगी एफआईआर
  • * कैलेंडरिंग प्रॉपर तरीके से कराने का निर्देश

dm-duideline-for-suger-mill-betiya
बेतिया। प.चम्पारण के जिलाधिकारी, श्री कुंदन कुमार ने कहा कि जिले के चीनी मिल प्रबंधन किसानों के हित के लिए बेहतर तरीके से कार्य करें ताकि किसानों की आमदनी बढ़ सके, वे खुशहाल रहें, उन्हें परेशानियों का सामना नहीं करना पड़े। इसके लिए सभी प्रभेदों के गन्ना की मांग, अच्छे तरीके से गन्ना का तौल आदि कराना सुनिश्चित करें। साथ ही विभागीय दिशा-निर्देशों के अनुरूप दी जाने वाली सुविधाएं गन्ना किसानों को अवश्य दें ताकि किसी भी प्रकार की शिकायत जिला प्रशासन को नहीं मिले। जिलाधिकारी ने कहा कि किसी भी सूरत में घटतौली नहीं होनी चाहिए। ऐसी सूचना मिलने पर तुरंत जांच करायी जायेगी, जांचोपरांत घटतौली की सत्यतता सामने आने पर तत्काल एफआईआर दर्ज कराते हुए अग्रतर कार्रवाई की जायेगी। इसके साथ ही कैलेंडरिंग प्रॉपर तरीके से करायें ताकि किसानों को परेशानियों का सामना नहीं करना पड़े।समीक्षा के क्रम में चीनी मिल प्रबंधन द्वारा बताया गया कि गन्ना प्रभेदों की बुआई करते समय किसान मात्र 4 इंच ही खुदाई करते हैं, जिससे वाटर लॉगिंग की स्थिति में फसल खराब हो जाती है। गन्ना किसानों को कम से कम 6-8 इंच की खुदाई करने के उपरांत ही गन्ना की बुआई की जानी चाहिए ताकि वॉटर लॉगिंग की स्थिति में फसल को नुकसान होने से बचाया जा सके।

कोई टिप्पणी नहीं: