सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 04 दिसंबर - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 4 दिसंबर 2021

सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 04 दिसंबर

बीएसआई मैदान पर खेली जा रही टी-20 लीग सीजन-2 क्रिकेट प्रतियोगिता, एक तरफा मुकाबले में डीसीए ने इलेवन टाइगर को 42 रन से हराया


sehore news
सीहोर।  शहर के बीएसआई मैदान पर जारी स्वर्गीय मथुरा प्रसाद केसरिया की स्मृति में जिला क्रिकेट एसोसिएशन और बीएसआई हेल्थ एंड स्पोट्र्स के तत्वाधान में टी-20 लीग सीजन-2 क्रिकेट प्रतियोगिता में शनिवार को डीसीए क्रिकेट टीम ने टाइगर इलेवन को 42 रन के अंतर से हराया। शनिवार को खेले गए मैच में पहले बल्लेबाजी करने उतरी डीसीए ने निर्धारित 20 ओवर में नौ विकेट के नुकसान पर 139 रन बनाए थे। इसमें मदन कुशवाहा ने 36 रन, अमित शर्मा ने 16 रन, हितेश केसरिया ने 10 और गौरव खरे ने 13 रन बनाए थे। वहीं टाइगर इलेवन की ओर से गेंदबाजी करते हुए ताहिर ने चार ओवर में 14 रन देकर तीन विकेट हासिल किए। इसके अलावा फेज-हर्षद ने एक-एक विकेट हासिल किया। जवाब में लक्ष्य का पीछा करने उतरी टाइगर इलेवन की पूरी टीम 16 ओवर में ढेर हो गई। इसमें एक मात्र समीर ने 31 रन की संघर्षपूर्ण पारी खेली। इसके अलावा कोई भी बल्लेबाज अधिक समय तक क्रीज पर डीसीए के गेंदबाजों का सामना नहीं कर सका। डीसीए टीम की ओर से मदन कुशवाहा ने दोहरा प्रदर्शन करते हुए गेंदबाजी में भी शानदार बालिंग करते हुए चार विकेट हासिल किए। वहीं अमित शर्मा ने दो विकेट और गौरव खरे ने एक विकेट प्राप्त किया। शनिवार को भाजपा नगर मंडल के अध्यक्ष प्रिंस राठौर, बैंक आफ बडौदा की ओर से आलोक झा, विजय तिवारी, आयोजन समिति की ओर से हेमंत केसरिया, राजेश विलय, सुरेश नाविक, स्वप्रिल भारिया, हितेश केसरिया चेतन मेवाड़ा, मोहनिश त्रिवेदी, अतुल त्रिवेदीआदि ने मेन आफ द मैच का पुरस्कार प्रदान किया। डीसीए के मीडिया प्रभारी प्रियांशु दीक्षित ने बताया कि रविवार की सुबह पहला मैच  डीसीए टीम-पीपीसीए और दूसरा मैच दोपहर एक बजे से इलेवन टाइगर-यंग स्टार के मध्य खेला जाएगा। 


पांच दिवसीय महोत्सव के पहले दिन किया गया भगवान शिव का अभिषेक, शनिश्चरी अमावस्या पर वेद मंत्रों की साथ दी आहुतियां


sehore news
सीहोर। शनिवार को शनिश्चरी अमावस्या को शिव प्रदोष सेवा समिति सहित ग्रामवासियों द्वारा पांच दिवसीय महोत्सव के पहले दिन यहां पर मौजूद श्रद्धालुओं द्वारा ग्राम रोलू खेड़ी स्थित भगवान शिव की मंदिर में भगवान शिव का विशेष प्रकार से अभिषेक किया गया और उसके पश्चात वेद मंत्रों से भगवान शनि की शांति और क्षेत्र की सुख-समुद्धि के साथ हवन-अर्चना की गई। इस मौके पर मुख्य यजमान परमार समाज के विष्णु परमार, राजेश भूरा यादव, मनोज दीक्षित मामा, किशोरी सिंह मेवाड़ा ग्राम कचनारिया आदि ने मंदिर के पुजारी रमेश बैरागी, पंडित कुणाल व्यास आदि के सानिध्य में पूजा अर्चना की। इस संबंध में ग्राम रोलूखेड़ी के श्रद्धालु विष्णु परमार ने बताया कि ग्राम के त्रिवेणी तट के किनारे सैकड़ों वर्ष पुराने भगवान शिव मंदिर में क्षेत्र की सुख-समृद्धि के लिए पांच दिवसीय धार्मिक महोत्सव का आयोजन किया जा रहा है। इस दौरान मंदिर में पार्थिव शिवलिंगों का निर्माण किया जाएगा। इसकी शुरूआत शनिश्चरी अमावस्या से की गई है। पुजारी श्री बैरागी ने कहा कि भगवान शनि देव से हर कोई डरता है लेकिन वो बेहद ही दयालु देवता हैं, अगर कोई भी भक्त सच्चे दिल से उनकी पूजा करता है तो उन्हें शनि देव की कृपा दृष्टि प्राप्त होती है। हिन्दू मान्यताओं के मुताबिक, जिस पर भी भगवान शनि देव की शुभ दृष्टि पड़ती है तो वो रंक से राजा बन जाता है। वहीं अगर उनकी अशुभ दृष्टि पड़े तो राजा भी भिखारी हो जाता है। कहते है कि शनि जिस अवस्था में होगा, उसके अनुरूप फल प्रदान करेंगे इसलिए भक्त शनि के दर जाकर उन्हे प्रसन्न करने की तमाम कोशिशें करते है। उन्होंने कहा कि शनिवार का दिन शनिदेव को समर्पित होता है और तो शनिश्चरी अमावस्या है। इसका अधिक महत्व है। इसके लिए हर शनिवार को शनिदेव की पूजा आराधना करने का विधान है। ऐसी मान्यता है कि शनिवार के दिन शनिदेव की पूजा-उपासना करने से व्यक्ति के सभी, काल, कष्ट, दु:ख और दर्द दूर हो जाते हैं। साथ ही व्यक्ति जीवन में उन्नति की राह पर गतिशील रहता है। इसके अलावा, व्यक्ति अन्य दिनों में भी शनिदेव की पूजा-उपासना कर सकते हैं। धार्मिक ग्रंथों में निहित है कि शनिदेव अच्छे कर्म करने वालों को मनोवांछित फल देते हैं, तो बुरे कर्म करने वालों को दंड देते हैं। इसके लिए उन्हें न्याय का देवता कहा जाता है। मंदिर में आगामी पांच दिनों तक धार्मिक कार्यक्रमों का आयोजन किया जाएगा। वहीं सोमवार को पार्थिव शिवलिंगों का निर्माण भी किया जाएगा। समिति और क्षेत्रवासियों ने श्रद्धालुओं से शामिल होने की अपील की है। अपील करने वालों में सरपंच विष्णु, लाल सिंह सरपंच, दुर्गा प्रसाद, दिनेश, रमेश, देव नारायण विश्वकर्मा, गेंदालाल, किशोर पटेल, अमर पटेल मुंडला, भगवत सिंह मेवाड़ा टीपी, चंदर सिंह, जुझार सिंह, बाला प्रसाद, लाड सिंह पटेल, बने सिंह भाई, मांगीलाल मेवाड़ा आदि शामिल है। 


त्रि-स्तरीय पंचायतों के आम निर्वाचन हेतु कार्यक्रम जारी, आदर्श आचरण संहिता प्रभावशील


राज्य निर्वाचन आयोग के सचिव श्री बीएस जामोद के द्वारा त्रि-स्तरीय पंचायतों के आम निर्वाचन हेतु कार्यक्रम जारी किया गया हैं। तदानुसार आदर्श आचरण संहिता चार दिसम्बर 2021 से 23 फरवरी 2022 तक प्रभावशील रहेंगी। त्रि-स्तरीय पंचायतों के आम निर्वाचन वर्ष 2021-22 हेतु निर्वाचन कार्यक्रम राज्य निर्वाचन अयोग के द्वारा जारी किया गया है। जिसके अनुसार सीहोर जिले में तीन चरणो में त्रि-स्तरीय पंचायत निर्वाचन प्रक्रिया संपादित होगी। राज्य निर्वाचन आयोग द्वारा जारी निर्वाचन कार्यक्रम अनुसार प्रथम चरण का मतदान छह जनवरी को, द्वितीय चरण का मतदान 28 जनवरी को, तृतीय चरण का मतदान 16 फरवरी को सम्पन्न होगा। निर्वाचन आयोग द्वारा जारी कार्यक्रम अनुसार प्रथम चरण के निर्वाचन की सूचना का प्रकाशन तथा नाम निर्देशन पत्र प्राप्त करना एवं स्थानो (सीटो) के आरक्षण के संबंध में सूचना का प्रकाशन तथा मतदान केन्द्रों की सूची का प्रकाशन संबंधी कार्य सोमवार 13 दिसम्बर 2021 की प्रातः साढे दस बजे से शुरू होगा। प्रथम चरण के तहत नाम निर्देशन प्राप्त करने की अंतिम तारीख 20 दिसम्बर 2021 की प्रातः साढे दस बजे से अपरान्ह तीन बजे तक का समय नियत किया गया है। प्राप्त नाम निर्देशन पत्रों की संवीक्षा (जांच) कार्य मंगलवार 21 दिसम्बर की प्रातः साढे दस बजे से, अभ्यर्थिता से नाम वापिस लेने की अंतिम तारीख 23 दिसम्बर की अपरान्ह तीन बजे तक का समय नियत किया गया है। इसी दिन निर्वाचन लड़ने वाले अभ्यर्थियों की सूची तैयार कर निर्वाचन प्रतीको का आवंटन कार्य अभ्यर्थिता से नाम वापसी के ठीक बाद संपादित किया जाएगा। यदि आवश्यक हुआ तो मतदान गुरूवार छह जनवरी 2022 की प्रातः सात बजे से दोपहर तीन बजे तक का समय नियत किया गया है। प्रथम चरण के तहत संपादित मतदान के मतगणना, सारणीकरण तथा निर्वाचन परिणाम की घोषणा के लिए जारी कार्यक्रम अनुसार मतदान केन्द्र पर की जाने वाली मतगणना (केवल पंच, सरपंच पद के लिए), गुरूवार छह जनवरी 2022 को मतदान समाप्ति के तुरंत पश्चात। जनपद पंचायत सदस्य एवं जिला पंचायत सदस्य की विकासखण्ड मुख्यालय पर ईव्हीएम से की जाने वाली मतो की गणना सोमवार दस जनवरी की प्रातः आठ बजे से शुरू होगी। पंच, सरपंच पद की मतदान केन्द्र पर की गई मतगणना का सारणीकरण तथा निर्वाचन परिणाम की घोषणा एवं पंच सरपंच पद की विकासखण्ड मुख्यालय पर की जाने वाली मतगणना, सारणीकरण तथा निर्वाचन परिणाम की घोषणा मंगलवार 11 जनवरी 2022 की प्रातः साढे दस बजे से शुरू होगी। जनपद पंचायत सदस्य पद के लिए सारणीकरण एवं निर्वाचन परिणाम की घोषणा एवं जिला पंचायत सदस्य पद के लिए मतों का विकासखण्ड स्तरीय सारणीकरण कार्य मंगलवार 22 फरवरी 2022 की प्रातः साढे दस बजे से किया जाएगा। प्रथम चरण के तहत जिला पंचायत सदस्य पद के लिए मतो का जिला मुख्यालय पर सारणीकरण तथा निर्वाचन परिणाम की घोषणा बुधवार 23 फरवरी की प्रातः साढे दस बजे से शुरू होगा। राज्य निर्वाचन आयोग द्वारा द्वितीय चरण के लिए जारी निर्वाचन कार्यक्रम तदानुसार निर्वाचन की सूचना का प्रकाशन तथा नाम निर्देशन पत्र प्राप्त करना एवं स्थानो (सीटो) के आरक्षण के संबंध में सूचना का प्रकाशन तथा मतदान केन्द्रों की सूची का प्रकाशन संबंधी कार्य सोमवार 13 दिसम्बर 2021 की प्रातः साढे दस बजे से शुरू होगा। द्वितीय चरण के तहत नाम निर्देशन प्राप्त करने की अंतिम तारीख 20 दिसम्बर 2021 की प्रातः साढे दस बजे से अपरान्ह तीन बजे तक का समय नियत किया गया है। प्राप्त नाम निर्देशन पत्रों की संवीक्षा (जांच) कार्य मंगलवार 21 दिसम्बर की प्रातः साढे दस बजे से,  अभ्यर्थिता से नाम वापिस लेने की अंतिम तारीख 23 दिसम्बर की अपरान्ह तीन बजे तक का समय नियत किया गया है। इसी दिन निर्वाचन लड़ने वाले अभ्यर्थियों की सूची तैयार कर निर्वाचन प्रतीको का आवंटन कार्य अभ्यर्थिता से नाम वापसी के ठीक बाद संपादित किया जाएगा। यदि आवश्यक हुआ तो मतदान शुक्रवार 28 जनवरी 2022 की प्रातः सात बजे से दोपहर तीन बजे तक का समय नियत किया गया है। द्वितीय चरण के तहत संपादित मतदान के मतगणना, सारणीकरण तथा निर्वाचन परिणाम की घोषणा के लिए जारी कार्यक्रम अनुसार मतदान केन्द्र पर की जाने वाली मतगणना (केवल पंच, सरपंच पद के लिए), शुक्रवार 28 जनवरी 2022 को मतदान समाप्ति के तुरंत पश्चात। जनपद पंचायत सदस्य एवं जिला पंचायत सदस्य की विकासखण्ड मुख्यालय पर ईव्हीएम से की जाने वाली मतो की गणना मंगलवार एक फरवरी की प्रातः आठ बजे से शुरू होगी। पंच, सरपंच पद की मतदान केन्द्र पर की गई मतगणना का सारणीकरण तथा निर्वाचन परिणाम की घोषणा एवं पंच सरपंच पद की विकासखण्ड मुख्यालय पर की जाने वाली मतगणना, सारणीकरण तथा निर्वाचन परिणाम की घोषणा बुधवार दो फरवरी 2022 की प्रातः साढे दस बजे से शुरू होगी। जनपद पंचायत सदस्य पद के लिए सारणीकरण एवं निर्वाचन परिणाम की घोषणा एवं जिला पंचायत सदस्य पद के लिए मतों का विकासखण्ड स्तरीय सारणीकरण कार्य मंगलवार 22 फरवरी 2022 की प्रातः साढे दस बजे से किया जाएगा। द्वितीय चरण के तहत जिला पंचायत सदस्य पद के लिए मतो का जिला मुख्यालय पर सारणीकरण तथा निर्वाचन परिणाम की घोषणा बुधवार 23 फरवरी की प्रातः साढे दस बजे से शुरू होगा। राज्य निर्वाचन आयोग द्वारा तृतीय चरण के लिए जारी निर्वाचन कार्यक्रम तदानुसार निर्वाचन की सूचना का प्रकाशन तथा नाम निर्देशन पत्र प्राप्त करना एवं स्थानो (सीटो) के आरक्षण के संबंध में सूचना का प्रकाशन तथा मतदान केन्द्रों की सूची का प्रकाशन संबंधी कार्य गुरूवार 30 दिसम्बर 2021 की प्रातः साढे दस बजे से शुरू होगा। तृतीय चरण तहत नाम निर्देशन प्राप्त करने की अंतिम तारीख गुरूवार छह जनवरी 2022 की प्रातः साढे दस बजे से अपरान्ह तीन बजे तक का समय नियत किया गया है। प्राप्त नाम निर्देशन पत्रों की संवीक्षा (जांच) कार्य शुक्रवार सात जनवरी की प्रातः साढे दस बजे से, अभ्यर्थिता से नाम वापिस लेने की अंतिम तारीख सोमवार दस जनवरी की अपरान्ह तीन बजे तक का समय नियत किया गया है। इसी दिन निर्वाचन लड़ने वाले अभ्यर्थियों की सूची तैयार कर निर्वाचन प्रतीको का आवंटन कार्य अभ्यर्थिता से नाम वापसी के ठीक बाद संपादित किया जाएगा। यदि आवश्यक हुआ तो मतदान बुधवार 16 फरवरी 2022 की प्रातः सात बजे से दोपहर तीन बजे तक का समय नियत किया गया है। तृतीय चरण के तहत संपादित मतदान के मतगणना, सारणीकरण तथा निर्वाचन परिणाम की घोषणा के लिए जारी कार्यक्रम अनुसार मतदान केन्द्र पर की जाने वाली मतगणना (केवल पंच, सरपंच पद के लिए), बुधवार 16 फरवरी 2022 को मतदान समाप्ति के तुरंत पश्चात। जनपद पंचायत सदस्य एवं जिला पंचायत सदस्य की विकासखण्ड मुख्यालय पर ईव्हीएम से की जाने वाली मतो की गणना रविवार 20 फरवरी की प्रातः आठ बजे से शुरू होगी। पंच, सरपंच पद की मतदान केन्द्र पर की गई मतगणना का सारणीकरण तथा निर्वाचन परिणाम की घोषणा एवं पंच सरपंच पद की विकासखण्ड मुख्यालय पर की जाने वाली मतगणना, सारणीकरण तथा निर्वाचन परिणाम की घोषणा सोमवार 21 फरवरी 2022 की प्रातः साढे दस बजे से शुरू होगी। जनपद पंचायत सदस्य पद के लिए सारणीकरण एवं निर्वाचन परिणाम की घोषणा एवं जिला पंचायत सदस्य पद के लिए मतों का विकासखण्ड स्तरीय सारणीकरण कार्य मंगलवार 22 फरवरी 2022 की प्रातः साढे दस बजे से किया जाएगा। तृतीय चरण के तहत जिला पंचायत सदस्य पद के लिए मतो का जिला मुख्यालय पर सारणीकरण तथा निर्वाचन परिणाम की घोषणा बुधवार 23 फरवरी की प्रातः साढे दस बजे से शुरू होगा।


सीहोर जिले में निर्वाचन

मध्यपदेश राज्य निर्वाचन आयोग द्वारा जारी निर्वाचन कार्यक्रम के अनुसार सीहोर जिले में तीनो चरणों में मतदान प्रक्रिया संपादित होगी। प्रथम चरण के तहत सीहोर जिले के सीहोर  विकासखण्ड में,  द्वितीय चरण अंतर्गत नसरूल्लागंज एवं इछावर विकासखण्ड में तथा तृतीय चरण अंतर्गत आष्टा एवं बुधनी विकासखण्ड में त्रि-स्तरीय पंचायत आम निर्वाचन 2021-22 की प्रक्रिया संपादित की जाएगी।


होम क्वारंटाइन व्यक्तियों के लिए कोविड-19 कमांड कॉल सेंटर


जिले में जो व्यक्ति होम क्वारंटाइन में है उनके निवास स्थान से सीधे संवाद के लिए जिला स्तरीय कोविड–19 कमाण्ड कॉल सेंटर स्थापित किया गया है। जिसका संपर्क नंबर -07562-1075 है। जिला स्तर पर जिला कोविड कमांड कंट्रोल सेंटर के मोबाइल नंबर 942540273, 7987652577, 9425400453 पर कॉल सेंटर पर संपर्क किया जा सकता है।  राज्य स्तर पर 104 या 181 नंबर पर कॉल करके भी टेलीनेडिसीन सेवा का लाभ लिया जा सकता है। 24x7 हेल्पलाइन नंबर 104 पर कॉल कर जानकारी ली जा सकती है। होम क्वारंटाइन व्यक्तियों तथा उनके परिजनों के लिए हेल्पलाइन नंबर 18002330175 जारी किया गया है। होम क्वारटाइन व्यक्ति अथवा उनके परिजन इमोशनल वेलनेस तथा साइकोलॉजिकल सपोर्ट एवं अन्य जरूरी परामर्श मानसिक सेवा प्रदाताओं से नि:शुल्क प्राप्त कर सकते हैं। मोबाईल मेडिकल यूनिट द्वारा होम आइसोलेट व्यक्तियों की सतत् निगरानी की जा रही है।


मध्यप्रदेश राज्य रूपंकर कला पुरस्कार आवेदन 15 जनवरी तक जमा हो सकेंगे


उस्ताद अलाउद्दीन संगीत एवं कला अकादमी द्वारा आयोजित मध्यप्रदेश राज्य रूपंकर कला पुरस्कार प्रदर्शनी 2022 के लिये प्रविष्टियाँ आमंत्रित की हैं। पुरस्कार प्रदर्शनी में भाग लेने के लिये कलाकार का मध्यप्रदेश मूल निवासी होना या मध्यप्रदेश में सृजन के क्षेत्र में सक्रियतापूर्वक 10 वर्ष का अनुभव होना आवश्यक है। प्रत्येक पुरस्कार के लिये 51 हजार रूपये सम्मान राशि प्रदान की जाएगी। प्रदर्शनी में 25 से 55 वर्ष तक की आयु वर्ग के कलाकार भाग ले सकेंगे। पुरस्कार प्रदर्शनी में आवेदन करने की अंतिम तिथि 15 जनवरी 2022 है। इच्छुक कलाकार आवेदन के लिये प्रविष्टि-पत्र अकादमी के फेसबुक पेज से प्राप्त कर सकते हैं। पुरस्कार प्रदर्शनी में विशेष रूप से प्रदेश के ललित कलाओं के प्रसिद्ध कलाकारों के नाम से 10 पुरस्कारों का सृजन किया गया है। पुरस्कारों का चयन अकादमी द्वारा मनोनीत किये गये निर्णायक मंडल द्वारा किया जाएगा। प्रदर्शनी के लिये सभी ललित कला के माध्यम में कलाकृतियों को स्वीकार किया जाएगा।


7 दिसंबर को सशस्त्र सेना झण्डा दिवस


जिले में प्रतिवर्ष की भांति इस वर्ष भी 7 दिसम्बर को सशस्त्र सेना झण्डा दिवस मनाया जाएगा। पूरे भारत में झण्डा दिवस भारतीय सेनाओं के भूतपूर्व सैनिकों के कल्याण के लिये निधि एकत्रित करने के लिये मनाया जाता है। यह स्मरणोत्सव देश की जनता की तरफ से भारतीय सैनिकों के प्रति सम्मान व्यक्त करने के अलावा यह विश्वास दिलाता है कि सैनिकों एवं उनके परिवारों की जिम्मेदारी देश की जनता की है। राज्य शासन द्वारा प्रत्येक जिले के लिये इस महत्वपूर्ण कार्य के लिये लक्ष्य राशि निर्धारित की जाती है। सभी नागरिकों से अनुरोध किया गया है कि अधिक से अधिक दान राशि देकर सशस्त्र सेना झण्डा दिवस को सफल बनाएं। दान में दी गई राशि आयकर अधिनियम 1961 की धारा 297 (2) के तहत आयकर से मुक्त है।


कोविड-19 के मृत्यु प्रकरणों के लिये अनुग्रह सहायता राशि, राज्य शासन ने जारी किये नियम


राज्य शासन द्वारा कोविड-19 संक्रमण से मृत्यु होने पर मृतक के वारिस को 50 हजार रुपये की अनुग्रह राशि दिए जाने के संबंध में निर्देश दिए गए हैं। अनुग्रह राशि प्राप्त करने के लिए आवेदन आवश्यक दस्तावेजों के साथ जिला कलेक्टर को प्रस्तुत करना होगा। कलेक्टर की अध्यक्षता में गठित जिला आपदा प्रबंधन प्राधिकरण द्वारा अनुग्रह राशि स्वीकृत की जाएगी। आवेदन का निराकरण 30 दिवस की अवधि में किया जाएगा। प्राधिकरण यह सुनिश्चित करेगा कि दावे के सत्यापन, स्वीकृति एवं अनुग्रह सहायता के भुगतान की सम्पूर्ण प्रक्रिया सुदृढ़, जन-सुलभ एवं सरल हो। अनुग्रह राशि का भुगतान आवेदक के बैंक खाते में किया जाएगा। अनुग्रह राशि के लिये राज्य शासन द्वारा कोविड-19 से मृत्यु की परिभाषा को स्पष्ट किया गया है। ऐसे मृत्यु के प्रकरण, जो निर्धारित मृत्यु परिभाषा की पूर्ति नहीं करते हैं, उनका निराकरण जिला-स्तरीय समिति द्वारा किया जाएगा। कोविड-19 संक्रमण से मृत्यु के लिये दी जाने वाली अनुग्रह राशि के लिये नियत तिथि की गणना देश में कोरोना के पहले प्रकरण के प्रकाश में आने की दिनांक से होगी। संक्रमण महामारी की अधिसूचना रद्द करने अथवा अनुग्रह राशि के संबंध में आगामी आदेश, जो भी पहले हो तक, प्रचलित रहेगी। प्रकरण में मृतक के पति, पत्नी प्रथम हकदार होंगे। पति, पत्नी न होने की स्थिति में अविवाहित विधिक संतान एवं संतान न होने की स्थिति में मृतक के माता-पिता अनुग्रह राशि के हकदार होंगे। कोरोना वायरस से संक्रमित व्यक्ति की मृत्यु यदि जहर से, दुर्घटना से, आत्म-हत्या या मानव हत्या को कोविड-19 से मृत्यु नहीं माना जाएगा। ऐसे व्यक्तियों या शासकीय कर्मियों के वारिसानों को, जिन्हें मुख्यमंत्री कोविड-19 योद्धा कल्याण योजना, मुख्यमंत्री कोविड-19 अनुकम्पा नियुक्ति योजना या मुख्यमंत्री कोविड-19 विशेष अनुग्रह योजना का लाभ दिया गया हो तथा इन योजनाओं से लाभान्वित होने की पात्रता रखते हों, वे अनुग्रह राशि के पात्र नहीं होंगे। साथ ही प्रधानमंत्री गरीब कल्याण पैकेज में लागू बीमा योजना में शामिल शासकीय कर्मी अनुग्रह राशि के लिये पात्र नहीं होंगे।


आरा-मशीनों के लायसेंस 5 साल में होंगे नवीनीकरण


प्रदेश में स्थापित आरा-मशीनों के लिये 05 साल की अवधि में लायसेंस नवीनीकरण कराये जाने का प्रावधान कर दिया गया है। अभी तक 3 साल में नवीनीकरण कराया जाना अनिवार्य था। राज्य शासन के वन विभाग द्वारा मध्यप्रदेश काष्ठ चिरान (विनियमन) नियम-1984 में यह संशोधन किया गया है। लायसेंस नवीनीकरण के लिये 2500 रुपये आवेदन शुल्क निर्धारित है।


बकाया राशि एवं नियमित देयकों का भुगतान तत्काल करें, कनेक्शन कटने की अप्रिय कार्यवाही से बचें


मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी द्वारा बकाया राशि वसूली के लिए सघन प्रयास किये जा रहे हैं। इन प्रयासों के अंतर्गत बकाया राशि वसूली के लिए घर-घर जाकर बिजली कर्मचारी और अधिकारी राजस्व वसूली में लगे हैं। कंपनी के सभी वृत्त कार्यालयों में समीक्षा बैठकें आयोजित कर मैदानी स्तर पर राजस्व वसूली की वृद्धि के प्रयास तेज कर दिये गये हैं। सभी मैदानी अधिकारियों को बकाया राशि वसूली करने,भू-राजस्व संहिता के अंतर्गत सी-फार्म एवं कुर्की करने की कार्यवाही करने के निर्देश दिये गये हैं। मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी ने यह भी निर्देश दिये हैं कि विजीलेंस द्वारा बनाये गये प्रकरणों में बकाया राशि की वसूली भी तेज की जाए। इसके अलावा ऑडिट द्वारा निकाली गई बकाया राशि और अन्य कारणों से बकाया राशि को उपभोक्ता के बिल में जोड़कर राजस्व वसूली की जाए। यह भी निर्देश दिये गये हैं कि काटे गये कनेक्शनों की रात्रि में चेकिंग की जाए ताकि बकायादार उपभोक्ता अवैध रूप से बिजली का उपयोग न करें और यदि कोई उपभोक्ता ऐसा करता पाया जाता है तो उसके विरूद्ध बिजली अधिनियम-2003 की धारा 138 के अंतर्गत प्रकरण बनाया जाए। कंपनी ने अधिकारियों और कर्मचारियों से कहा है कि टीम भावना से कार्य कर लक्ष्य की प्राप्ति करें।


बिजली उपभोक्ताओं से आग्रह - बकाया राशि कंपनी में जमा कराएं

मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी के प्रबंध संचालक श्री गणेश शंकर मिश्रा ने कंपनी कार्यक्षेत्र के बिजली उपभोक्ताओं से अपील की है कि वे बकाया राशि का भुगतान तत्काल करें। मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी ने बकायादार बिजली उपभोक्ताओं से आग्रह किया है कि बिजली कनेक्शन विच्छेदन की अप्रिय कार्यवाही से बचने के लिए विद्युत बिलों का भुगतान तत्काल सुनिश्चित करें। कंपनी के द्वारा बकायादारों के विरूद्ध बड़े स्तर पर बिजली कनेक्शन विच्छेदन की कार्यवाही में “आपरेशन एवं मेंटेनेंस” अमले के साथ-साथ“ विजीलेंस”को भी जोड़ा है। कंपनी के सहायक अभियंता/जूनियर इंजीनियर जो कि तहसीलदार का दायित्व निर्वहन कर रहे हैं,भी राजस्व वसूली के लिए सक्रिय हो गये हैं। बिजली उपभोक्ताओं से अनुरोध है कि बिजली वितरण कंपनी के कर्मिकों द्वारा बिजली बिल के भुगतान की रसीद मांगे जाने पर उन्हें रसीद अवश्य दिखाएं,ताकि बिजली उपभोक्ताओं को अनावश्यक असुविधा न हो।


जिला पंचायत सीईओ ने किया डोडी  में प्लांटेशन का अवलोकन


sehore news
जिला पंचायत सीईओ श्री हर्ष सिंह ने आष्टा के ग्राम डोडी मे प्लांटेशन अवलोकन किया। सीईओ श्री सिंह ने कोविड टीकाकरण के दूसरे डोज से बचे हुए लोगों को टीकाकरण कराने के लिए प्रेरित किया। उन्होंने टीकाकरण दलों से कहा कि वह लोगों के घरों और कार्य स्थलों में जाकर टीकाकरण करें। उन्होंने यह भी सुनिश्चित करने के लिए कहा कि कोई भी व्यक्ति टीकाकरण से वंचित ना रहे।


एसडीएम एवं जनपद सीईओ ने ग्रामीणों को किया टीकाकरण के लिए प्रेरित


sehore news
नसरूल्लागंज तहसील के ग्राम पंचायत रिठवाड में एसडीएम श्री डीएस तोमर और जनपद सीईओ श्री वृंदावन मीणा द्वारा कोविड-19 के दूसरे डोज लगाने के लिए ग्राम वासियों को प्रेरित किया गया। कोविड-19 के दुष्प्रभावों को देखते हुए उन्होंने सभी ग्रामीणों को  टीकाकरण से होने वाले बचाव की जानकारी दी एवं ग्रामीणों को टीकाकरण कराने के लिए प्रेरित किया।


छात्र-छात्राओं ने किया शैक्षणिक भ्रमण


sehore news
शासकीय चंद्रशेखर आजाद अगृणी महाविद्यालय के भूगोल विभाग द्वारा एमए प्रथम सेमेस्टर के छात्र-छात्राओं को शैक्षणिक एवं भौगोलिक भ्रमण के लिए इछावर तहसील के कलियादेव जनपद ले जाया गया। छात्र-छात्राओं ने जनपद के भू-आकृति, अपवाह, भौमिकीय संरचना तथा वनस्पतियों का अवलोकन किया। साथ ही ग्राम पंचायत बोरदा कलां का आर्थिक सामाजिक-सर्वेक्षण भी किया।  महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ. उर्मिला सलूजा के निर्देश पर यह भ्रमण सभी एमए प्रथम सेमेस्टर के छात्र-छात्राओं ने विभागाध्यक्ष डॉ. तृप्ता झा एवं सहायक प्राध्यापक श्री वरुण कुमार सिंह की उपस्थिति में किया।


घर-घर जाकर किया जा रहा टीकाकरण


sehore news
कोविड टीकाकरण महाअभियान के तहत जिले में कोविड टीकाकरण दल द्वारा डोर-टू-डोर जाकर लोगों को कोविड-19 से बचाव के लिए कोविड टीका लगाया जा रहा है। इसके साथ ही वे लोग जो बाहर खेतों में या अन्य निर्माण स्थलों पर कार्य कर रहे हैं और टीकाकरण केंद्र नहीं आ पा रहे हैं उन्हें उनके कार्यस्थल पर ही जाकर टीकाकरण दल द्वारा कोविड का टीका लगाया जा रहा है। टीकाकरण दल की इस अनूठी पहल से कोई  व्यक्ति टीके से वंचित न रहे इसके लिए प्रयास किए जा रहे है।


जिले में आज कोई भी व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव नहीं मिला


पिछले 24 घंटे के दौरान प्राप्त रिपोर्ट में जिले में आज कोई भी व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव नहीं मिला है। सीएमएचओ कार्यालय से प्राप्त जानकारी के अनुसार जिले में अब तक कुल कोरोना पॉजिटिव व्यक्तियों की संख्या 10143 है। वर्तमान में एक्टिव पॉजिटिव शून्य हो गई हैं। कुल रिकवर व्यक्तियों की संख्या10021  हैं। आज 523 सैम्पल लिए गए है। जांच के लिए सीहोर शहरी क्षेत्र से 220, श्यामपुर से 156, नसरूल्लागंज से  70, आष्टा से 02, बुधनी से 65 तथा इछावर से 10 सैंपल लिए गए हैं। अभी तक कुल जांच के लिए भेजे गए सैंपल 306192 हैं। जिनमें से 293681 सैंपलों की रिपोर्ट नेगेटिव आई है।आज 761 सैंपलो की रिपोर्ट नेगेटिव आई है। कुल 2297 सैंपलों की रिपोर्ट आना शेष है। पैथोलॉजी द्वारा कोरोना वायरस सैंपल की रिजेक्ट संख्या कुल 71 है।

कोई टिप्पणी नहीं: