सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 06 दिसंबर - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 6 दिसंबर 2021

सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 06 दिसंबर

धर्मं रक्षा निधि संकलन में प्रथम स्थान पर रहा सीहोर जिला विहिप जिलाध्यक्ष, जिलामंत्री,कोषाध्यक्ष को किया सम्मानित


sehore news
सीहोर। विश्वहिन्दु परिषद बजरंग दल के द्वारा देश भर में चलाए जा रहे धर्म रक्षा निधि संकलन अभियान में विहिप बजरंग दल जिला सीहेार टीम ने प्रथम स्थान पा्रप्त किया है। संगठन के द्वारा कार्यक्रम आयोजित कर मध्यभारत प्रांत के 32 जिलों में से 5 जिलों को सम्मानित किया गया है जिसमें राजगढ़ विभाग मैं सीहोर ने नंबर एक स्थान अर्जित किया है। विश्वहिंदू परिषद बजरंग दल सिद्धपुर जिला सीहोर के इकाई एवं खंड प्रखंड एवं जिला समिति के अथक प्रयासों से धर्मं रक्षा निधि के रूप में धर्म कौष के तहत 602852 रु संगठन में जमा कराए गए है जबकी अन्य जिले में धर्मरक्षा निधि संकलन में पीछे रह गए है। इस सराहनीय उपलब्धी पर मध्य भारत प्रांत मंत्री एवं प्रांत संगठन मंत्री सहित प्रांत मंत्री ने जिला अध्यक्ष जगदीश कुशवाह,जिलामंत्री राकेश कुमार विश्वकर्मा और जिला कोषाध्यक्ष महेश मेवाड़ा को स्मृति चिन्ह और अंगवस्त्र प्रश्स्ती पत्र प्रदान कर सम्मानित किया। 


अंतिम छोर के मजदूरों को दिलाएंगे योजनाओं से पूरा लाभ, भारतीय जनता मजदूर संघ युवा मोर्चा की बैठक आयोजित  


sehore news
सीहोर। सोमवार को भारतीय जनता मजदूर संघ के द्वारा हाईवे स्थित विश्राम गृह में जिला स्तरीय बैठक का आयोजन किया गया। कार्यकर्ताओं के द्वारा अंतिम छोर के मजदूरों को सरकारी योजनाओं का पूरा लाभ दिलाने का लक्ष्य रखा गया। मुख्य अतिथि के रुप में भारतीय जनता मजदूर संघ युवा मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष कमल यादव और सौशल मीडिया प्रदेश संयोजक महान कौशल बैठक में सम्मिलित हुए। संघ के जिला पदाधिकारियों एवं कार्यकर्ताओ ने मुख्य अतिथि विशेष अतिथियों का पुष्पहारों से स्वागत किया। पदाधिकारियों एवं कार्यकर्ताओ को श्री यादव ने संबोधित किया। उन्होने कहा की हर मजदूर वर्ग के घर घर जाकर उन्हें योजनाओं की जानकारी कार्यकर्ताओं को देनी है। बैठक में प्रमुख रुप से वैभव पाराशर, हिमालय कौशल, रोहित मालवीय, विकास रजक, अभिषेक सोलंकी, मनीष, आदर्श अभिषेक, आदित्य, कान्हा सहित अन्य कार्यकर्ता मौजूद रहे।


डॉ.अम्बेडकर शासकीय महिला पॉलीटेक्निक कॉलेज में कार्यक्रम आयोजित

  • दलितों के हीं नहीं सर्वसमाज के लिए डॉ अम्बेडकर ने किए उत्थान के अनेक कार्य

sehore news
सीहोर। बाबा साहब केवल दलितों के हीं मसीहा नहीं है उन्होने सर्वसमाज के उत्थान के लिए स्वयं का जीवन समर्पित कर अनेक कार्य किए है इस लिए संविधान निर्माता भारत रत्न डॉ भीमराव अम्बेडकर सभी के लिए सम्मानीय और प्ररेणास्त्रोत है उक्त बात सोमवार को डॉ.आम्बेडकर शासकीय महिला पॉलीटेक्निक कॉलेज में आयोजित बाबा साहब ऑम्बेडकर का महापरिनिर्वाण दिवस कार्यक्रम में उत्कृष्ठ विघालय के प्राचार्य रविंद्र कुमार बांगरे ने छात्र छात्राओं को संबोधित करते हुए कहीं। डॉ.बाबा साहब आम्बेडकर का 65 वां महापरिनिर्वाण दिवस संकल्प दिवस के रूप में आयोजित किया गया। कार्यक्रम में कॉलेज के प्राचार्य डॉक्टर पंकज जैन, पूर्व प्राचार्य तथा विभागाध्यक्ष डीएन वर्मा,अजाक्स के संभागीय अध्यक्ष आरके बांगरे, अजाक्स के जिला अध्यक्ष आयु.एचएस नीमजे,बामसेफ जिला महासचिव आयु.शैलेष कुमार शैल,राष्ट्रीय महिला मूल निवासी संघ की प्रदेश महासचिव आयु.प्रेमलता शैल, क्षेत्रीय पार्षद श्रीमति आरती नरेंद्र खंगराले, विद्यार्थी मोर्चा जिला अध्यक्ष बलराम भदौरिया, महाविद्यालय की छात्रा कुमारी अरूणा रामटेके, केेन्द्रीय विद्यालय की छात्रा कु.रोहिणी, आकांक्षा रामटेके ने बाबा साहब के जीवन मिशन विस्तार से विचार प्रस्तृत किया। भोलाराम तारण बांगरे समाज कल्याण समिति की सचिव आयु.शैलनिधी बांगरे द्वारा व्यक्त किया गया।


दलितों पिछड़े वर्गो के उत्थान के लिए समर्पित किया जीवन.राकेश राय 

  • सेवादल कांग्रेस ने डॉ बाबा साहब अम्बेडकर के महापरिनिर्वाण, दिवस पर उन्हे किया कोटी कोटी नमन

sehore news
सीहोर। जिला कांग्रेस सेवादल के द्वारा सोमवार को अनुनसुचित जाति वार्ड क्रमांक 11 के डॉ अम्बेडकर पार्क में भारतीय संविधान के मुख्य शिल्पकार डॉ भीमराव अम्बेडकर का 65 वां महापरिनिर्वाण दिवस डॉ अम्बेडकर की प्रतिमा के समक्ष कैंडिल जलकार एवं पुष्प अर्पित कर मनाया गया। पूर्व नगर पालिका अध्यक्ष एवं सेवादल कांग्रेस के प्रदेश सचिव राकेश राय के द्वारा पुष्पांजली अर्पित कर कहा की डॉ बाबा साहब अम्बेडकर भारतीय विधिवेता अर्थशास्त्री राजनीतिज्ञ और सामज सुधारक थे उन्होने अपना पूरा जीवन जातिवाद खत्म करने और गरीब दलितों पिछड़े वर्गो के उत्थान के लिए समर्पित किया इस लिए आज के दिन उनकी पूण्य तिथि को महापरिनिर्वाण  दिवस के रूप में मनाया जाता है। कार्यक्रम का संचालन कांग्रेस सेवादल जिलाध्यक्ष नरेंद्र खंगराले के द्वारा किया गया। प्रमुख रूप से राजाराम बड़े भाई, डॉ अनीस खान, सीताराम भारतीय, पवन राठौर, प्रीतम दयाल क्षेत्रीय पार्षद आरती नरेंद्र खंगराले, संतोष सिंह, मुन्नालाल मालवीय, मांगीलाल ठिमरई, फरीद खान, भगवत सिलावट, घनश्याम जाटव,सुरेश सिलावट,  कमल सूर्यवंशी, प्रीमत मालवीय, बालमुकुद ठेकेदार सजन जाटव, मोहन जाटव आदि मौजूद रहे। 


प्रसपा ने महापुरूषों को नमन कर निकाली रैली आमसभा, के बाद एसडीएम को दिया जनसमस्याओं को लेकर ज्ञापन

  • संविधान निर्माता डॉ. बाबा साहेब अम्बेडकर के परिनिर्वाण दिवस पर इछावर में कार्यक्रम आयोजित

sehore news
सीहोर। प्रजातांत्रिक समाधान पार्टी ने संविधान निर्माता डॉ. बाबा साहेब अम्बेडकर के परिनिर्वाण दिवस पर इछावर में कार्यक्रम आयोजित किया। प्रसपा ने महापुरूषों को बस स्टेंड पर आयोजित कार्यक्रम में नमन किया। आमसभा के बाद रैली निकालकर एसडीएम विष्णु प्रसाद यादव को प्रमुख जनसमस्याओं के निराकरण के लिए ज्ञापन दिया। विराट रेली एवं जनसभा में मुख्य अतिथि के रूप में राष्ट्रीय अध्यक्ष प्रसपा कमल सिंह चौहान सम्मिलित हुए। संविधान निर्माता बाबा भीमराव अम्बेडकर,संत कबीर,संत रविदास,महात्मा फुले,शाहूजी महाराज,बिरसा मुण्डा, टंट्या भील के चित्रों पर माल्यार्पण एवं दीप प्रज्जवलित कर कार्यक्रम का शुभारंभ अतिथियों के द्वारा किया गया। आमसभा को मुख्य अतिथि राष्ट्रीय अध्यक्ष प्रसपा कमलसिंह चौहान,विशेष अतिथि प्रदेश उपाध्यक्ष सलीम खान,प्रदेश प्रवक्ता जगदीश द्रविड़, जिलाध्यक्ष रामचरण दवारिया इछावर विधानसभा प्रभारी राजेश मालवीय ने कार्यकर्ताओं को संबोधित किया।   रैली आमसभा ज्ञापन में मोतीसिंह मौलखेड़ी जिला उपाध्यक्ष, मदनालाल भदौरिया जिला महासचिव, रमेश विश्वकमाज़् जिला महासचिव, दशरथसिंह गुणवान जिला महासचिव, शिवनारायण तोमर ब्लाक अध्यक्ष इछावर, जितेन्द्र मालवीय ब्लाक अध्यक्ष सीहोर, महेश वमाज़् ब्लाक अध्यक्ष आष्टा, विक्रम सिंह ब्लाक अध्यक्ष जावर बंशीलाल बाम्बे कायाज़्लय प्रभारी, रामेश्वर मालवीय वरिष्ठ नेता, केशर सिंह मालवीय जनपद सदस्य विसनखेड़ी, बाबूलाल मालवीय सरपंच उमरखाल, रतनलाल उमरखाल, विक्रमसिंह भाँऊखेड़ी, धनराज पचलासिया, देवकरण मालवीय, पदमसिंह मालवीय उझावन आदि प्रमुख रूप से शामिल रहे।


मध्यान्ह भोजन कार्यक्रम अब कहलायेगा पीएम पोषण योजना 

  • 50 प्रतिशत उपस्थिति के साथ खोली गई शालाओं में गरम पका हुआ भोजन वितरण किये जाने के निर्देश जारी 

केन्द्र सरकार के निर्णय अनुसार मध्यान्ह भोजन कार्यक्रम का नाम परिवर्तन कर प्रधानमंत्री पोषण शक्ति निर्माण योजना (पीएम पोषण) किया गया है। भारत शासन द्वारा योजना अंतर्गत, गरम पका हुआ भोजन वितरण किये जाने के निर्देश जारी किये गये है। मध्यप्रदेश शासन स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा 50 प्रतिशत उपस्थिति के साथ खोले जा रहे स्कूलों में वर्तमान परिस्थिति में भोजन प्रदान करने हेतु नए निर्देश जारी किये गये है। प्राप्त निर्देशानुसार शालाओं में कुल दर्ज छात्र संख्या के मान से गणना अनुसार कुल खाद्यान्न का 50 प्रतिशत समस्त दर्ज छात्रों में वितरित किया जावेगा। एवं इसी प्रकार कुल दर्ज छात्र संख्या के मान से भोजन पकाने की लागत राशि का 50 प्रतिशत छात्रों को डीबीटी के माध्यम से वितरित किया जावेगा। शेष 50 प्रतिशत राशि व खाद्यान्न से शालाओं में गर्म पका हुआ भोजन वितरण का कार्य जारी रखा जावेगा। जोकि उपस्थित छात्र संख्या के मान से खाद्यान्न एवं भोजन पकाने की राशि का आंकलन कर संबंधित एजेंसी को प्रदाय किया जावेगा। 


टोकन के साथ सुबह से शाम तक कतार में लगे, रहे सैकड़ों किसान फिर भी नही मिली खाद

  • गौदाम खाद से फुल भरा रहा फिर भी किसानों को नहीं दिया, खाद की काला बाजारी बंद कराए सरकार

sehore news
सीहोर। कृषि उपज मंडी में सैकड़ों किसान खाद लेने के लिए टोकन के साथ कतारों में लगे रहे लेकिन खाद नहीं मिलने पर मायूस हो कर घर लौट गए। जबक की गौदाम में खाद की बोरिया भरी साफ दिखाई देती रही। किसानों की लाख मिन्नते करने के बाद भी खाद नहीं दिया गया। खाद के लिए परेशान  हो रहे किसानों ने कहा की खाद की कालाबाजारी जानबूझकर की जा रही है। बाजार में पर्याप्त खाद मौजूद है पांच सौ रूपये बोरी बेचा जा रहा है। इधर किसानों को पर्याप्त खाद उपलब्ध कराने के सरकार के दावे झूठे हीं साबित हो रहे है। किसानों को महंगे दामों पर खाद खरीदने के लिए विवश किया जा रहा है। इधर वक्त पर खाद नहीं मिलने से फसले खराब होने का अंदेशा भी बना हुआ है। संबंधित विभाग के द्वारा दिए गए टोकल लेकर सोमवार को मुडलाकलां, पाड़ली, जमनी, जमोनिया, पडय़ाला, जानपुरबावडिय़ा, राजू खेड़ी, कचनारिया सहित दो दर्जन गांवों किसान सीहेार स्थित कृषि मंडी में बने सरकारी खाद विक्रय केंद्र पहुंचे थे। किसान जितेंद्र सिंह दांगी, बाबूलाल परमार, धनराज परमार, बाबूलाल ठाकुर, अजीत बागवान, राम सिंह, राकेश वार्म, विजय सिंह, लखन लाल आदि ने जिला प्र्रशासन से जरूरत के मुताबिक पर्याप्त खाद उपलब्ध कराने और काला बाजारी बंद कराने की मांग की है। 


विश्व शाङ्क्षति और कोरोना रोग निवारण के लिए ग्राम रोलूखेड़ी में किया गया पांच दिवसीय धार्मिक कार्यक्रम का आयोजन

  • पार्थिव शिवलिंग पूजा करने पर मिलती है कष्टों से मुक्ति

sehore news
सीहोर। शिव महापुराण के मुताबिक पार्थिव शिव पूजन में धन, आरोग्य और पुत्र की प्राप्ति के योग होते हैं। इतना ही नहीं मानसिक शांति के साथ शारीरिक कष्टों से भी मुक्ति मिलती है। उक्त विचार ग्राम रोलूखेड़ी में जारी पांच दिवसीय धार्मिक कार्यक्रम के आयोजन के अवसर पर प्राचीन शिव मंदिर के पुजारी रमेश बैरागी ने कहे। इस मौके पर आयोजन समिति के पदाधिकारी समाजसेवी विष्णु परमार, मनोज दीक्षित मामा, किशोरी सिंह मेवाड़ा आदि ने पंडित कुणाल व्यास के मार्गदर्शन में बड़ी संख्या में पार्थिव शिवलिंगों का निर्माण आस्था और उत्साह के साथ किया। सोमवार को सुबह त्रिवेणी स्थित भगवान शिव के मंदिर में भगवान शंकर का विशेष रूप से अभिषेक पूजन आदि किया गया। पुजारी श्री बैरागी ने कहा कि पार्थिव पूजन से अकाल मृत्यु का भय समाप्त होता है। शिवजी की अराधना के लिए पार्थिव पूजन सभी लोग कर सकते हैं, फिर चाहे वह पुरुष हो या फिर महिला। यह सभी जानते हैं कि शिव कल्याणकारी हैं। शिवपुराण में लिखा है कि पार्थिव पूजन सभी दुखों को दूर करके सभी मनोकामनाएं पूर्ण करता है। यदि प्रति दिन पार्थिव पूजन किया जाए तो इस लोक तथा परलोक में भी अखंड शिव भक्ति मिलती है। पार्थिव शिवलिंग का निर्माण कर अभिषेक कर विसर्जन करने से कुंडली के काल सर्प योग से छुटकारा मिल जाता है। उन्होंने कहा कि अनेक प्रकार की कामनाओं की पूर्ति के लिए भगवान शिव का अनेक प्रकार की औषधि वस्तुओं से अभिषेक किया जाता है। संतान प्राप्ति के लिए दूध, स्नेह के लिए दही, मैत्री दांपत्य सुख के लिए गोघृत, शहद, व्यापार वृद्धि गन्ने का रस, मधुर संबंधों के लिए मधु शहद, धन प्राप्ति के लिए गन्ने का रस, शत्रु भय निवृत्ति के लिए सरसों के तेल, रोग नाश के लिए गिलोय रस, मानसिक शांति, क्रोध शांति के लिए कुशोदक, चंदन से अभिषेक करने पर कामनाओं की पूर्ति होती है।


आठ नवंबर को किया जाएगा पांच दिवसीय महोत्सव का समापन

ग्राम रोलूखेड़ी में जारी पांच दिवसीय कार्यक्रम का समापन सीहोर के छावनी लाल मस्जिद के समीपस्थ प्राचीन जगदीश मंदिर में किया जाएगा। इस मौके पर अनेक धार्मिक कार्यक्रमों का आयोजन भी किया जाएगा। इस संबंध में जानकारी देते हुए श्री परमार ने बताया कि कार्यक्रमों की तैयारियों को लेकर मंगलवार को दोपहर बारह बजे एक विशेष बैठक का आयोजन जगदीश मंदिर में किया गया है। श्रद्धालुओं ने जगदीश मंदिर में दोपहर बारह बजे आने की अपील की है। 


अमेरिकन इंडिया फाउण्डेशन द्वारा निर्मित पोर्टेबल हेल्थ केयर यूनिट का मुख्यमंत्री श्री चौहान ने वर्चुअल लोकार्पण किया


sehore news
जिला अस्पताल सीहोर में अमेरिकन इंडिया फाउण्डेशन द्वारा निर्मित 50 बिस्तरीय पोर्टेबल हेल्थ केयर यूनिट का मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने वर्चुअल लोकार्पण किया। औपचारिक लोकार्पण सीहोर विधायक श्री सुदेश राय ने किया। लोकार्पण समारोह में मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चैहान ने कहा कि भारत दुनिया का सबसे बड़ा लोकतांत्रिक देश है। वैश्विक आपदा के दौरान कोविड की पहली तथा दूसरी लहर के दौरान अमेरिकन इंडिया फाउंडेशन का जनसेवाओं के लिए विशेष योगदान रहा है। उन्होने कहा कि संभावित तीसरी लहर के दृष्टिगत रखते हुए स्वास्थ्य सुविधाओं के व्यापक प्रबंध किए गए है। जिला चिकित्सालय सीहोर में 50 बिस्तरीय पोर्टेबल हेल्थ केयर यूनिट इसी का हिस्सा है। उन्होंने कहा दुखियों की सेवा ही भगवान की सेवा है।  इस अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में कलेक्टर श्री चन्द्र मोहन ठाकुर, श्री सीताराम यादव, श्री राजेश राठौर सहित अनेक जनप्रतिनिधि एवं चिकित्सक उपस्थित थे।


जरूरतमंद बच्चों के आपातकालीन पालन-पोषण देखरेख के लिए आवेदन


जिले के महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा बालकों की देखरेख और संरक्षण अधिनियम 2015 के तहत मध्यप्रदेश पालन पोषण देखरेख दिशा-निर्देशों के तहत ऐसे बच्चे जिन्हें एक रात या कुछ दिनो के लिए अस्थायी रूप से पालन-पोषण की जरूरत होती है उन्हें आपातकालीन पालन पोषण देखरेख के अंतर्गत रखा जाता है। इन दिशा-निर्देशो के तहत तीन परिवारों का चिन्हाकन किया जाना है। ऐसे चिन्हित व्यक्तियों को उपयुक्त व्यक्ति के रूप में बाल कल्याण समिति द्वारा नियमानुसार घोषित किया जाएगा। इसके लिए आवेदन इस समाचार के प्रकाशन के दस दिवस की अवधि में महिला एवं बाल विकास कक्ष क्रमांक-147 में उपस्थित होकर तथा  ईमेल wedseh@nic.in के माध्यम से प्रेषित कर सकते है। 


डिजीटल हेल्थ कार्ड बनना हुए प्रारंभ, प्रथम चरण में शासकीय अधिकारियों एवं कर्मचारियों के बनेंगे डिजिटल हैल्थ कार्ड


आयुष्मान भारत डिजिटल हैल्थ मिशन के तहत डिजिटल हैल्थ आईडी का निर्माण प्रारंभ कर दिया गया है। प्रथम चरण में शासकीय अधिकारियों, कर्मचारियों एवं उनके परिजनों के डिजिटल हैल्थ आईडी का निर्माण किया जा रहा है, साथ ही जिले के शासकीय अस्पतालों की एनसीडी ओपीडी में भी अस्पताल में पहुंच रहे मरीजों के लिए डिजिटल हैल्थ आईडी बनाया जा रहा है। डिजिटल हेल्थ आईडी निर्माण के लिए आधार कार्ड तथा आधार से लिंक मोबाईल नंबर जरूरी है। प्रथम चरण में सीहोर शहर एवं नगर के शासकीय अधिकारियों एवं कर्मचारियों के लिए डिजिटल हैल्थ कार्ड का निर्माण कलेक्टर कार्यालय के ई-दक्ष केन्द्र में 07, 08 एवं 09 दिसंबर को शासकीय समय में किया जाएगा।


मध्यान्ह भोजन कार्यक्रम अब कहलायेगा पीएम पोषण योजना


मध्यान्ह भोजन कार्यक्रम का नाम परिवर्तन कर प्रधानमंत्री पोषण शक्ति निर्माण योजना (पीएम पोषण) किया गया है। केन्द्र सरकार के निर्णय एवं भारत शासन द्वारा योजना अंतर्गत, गरम पका हुआ भोजन वितरण किये जाने के निर्देश जारी किये गये है। मध्यप्रदेश शासन स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा 50 प्रतिशत उपस्थिति के साथ खोले जा रहे स्कूलों में वर्तमान परिस्थिति में भोजन प्रदान करने हेतु नए निर्देश जारी किये गये है। प्राप्त निर्देशानुसार शालाओं में कुल दर्ज छात्र संख्या के मान से गणना अनुसार कुल खाद्यान्न का 50 प्रतिशत समस्त दर्ज छात्रों में वितरित किया जावेगा। एवं इसी प्रकार कुल दर्ज छात्र संख्या के मान से भोजन पकाने की लागत राशि का 50 प्रतिशत छात्रों को डीबीटी के माध्यम से वितरित किया जावेगा। शेष 50 प्रतिशत राशि व खाद्यान्न से शालाओं में गर्म पका हुआ भोजन वितरण का कार्य जारी रखा जावेगा। जोकि उपस्थित छात्र संख्या के मान से खाद्यान्न एवं भोजन पकाने की राशि का आंकलन कर संबंधित एजेंसी को प्रदाय किया जावेगा।   


जिला पंचायत के अध्यक्ष पदों का आरक्षण


मध्यप्रदेश पंचायत राज एवं ग्राम स्वराज अधिनियम 1993 की धारा 32 एवं मध्यप्रदेश पंचायत (उप सरपंच, अध्यक्ष एवं उपाध्यक्ष) निर्वाचन नियम 1995 के तहत जिला पंचायत के अध्यक्ष पदों पर आरक्षण की कार्यवाही 14 दिसम्बर को निर्धारित की गई है। यह कार्यवाही जल एवं भूमि प्रबंध संस्थान (वाल्मी संस्थान) भोपाल के ऑडिटोरियम में प्रातः 12 बजे से प्रारंभ होगी। जिला पंचायत के अध्यक्ष पदों पर आरक्षण की कार्यवाही के कार्यक्रम की सूचना संचालक पंचायत राज संचालनायल, समस्त कलेक्टर कार्यालयों, समस्त जिला पंचायत कार्यालयों में 14 दिसम्बर 2021 से सात दिन पूर्व चस्पा की जाएगी।


आरक्षण लॉट निकालकर किया जाएगा


मध्यप्रदेश पंचायत राज एवं ग्रामस्वराज अधिनियम 1993 की धारा 32 एवं मध्यप्रदेश पंचायत (उप सरपंच, अध्यक्ष एवं उपाध्यक्ष) निर्वाचन नियम 1995 के तहत अध्यक्ष पद के लिए अनूसूचित जाति, अनूसूचित जनजाति, अन्य पिछड़ा वर्ग तथा सभी संवर्गो में महिलाओं के लिए आरक्षण लॉट द्वारा निकालकर किया जाएगा। आरक्षण से संबंधित संपूर्ण कार्यवाही 14 दिसम्बर 2021 को  दोपहर 12 बजे से जल एवं भूमि प्रबंधन संस्थान (वाल्मी) कलियासोत डेम के पास भोपाल के ऑडिटोरियम में संपादित की जाएगी।


जिले में आज कोई भी व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव नहीं मिला


पिछले 24 घंटे के दौरान प्राप्त रिपोर्ट में जिले में आज कोई भी व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव नहीं मिला है। सीएमएचओ कार्यालय से प्राप्त जानकारी के अनुसार जिले में अब तक कुल कोरोना पॉजिटिव व्यक्तियों की संख्या 10143 है। वर्तमान में एक्टिव पॉजिटिव शून्य हो गई हैं। कुल रिकवर व्यक्तियों की संख्या 10021  हैं। आज 324 सैम्पल लिए गए है। जांच के लिए सीहोर शहरी क्षेत्र से 146, श्यामपुर से 65, नसरूल्लागंज 30, आष्टा से 66 तथा बुधनी से 17 सैंपल लिए गए हैं। अभी तक कुल जांच के लिए भेजे गए सैंपल 307192 हैं। जिनमें से 294543 सैंपलों की रिपोर्ट नेगेटिव आई है। आज 764 सैंपलो की रिपोर्ट नेगेटिव आई है। कुल 2435 सैंपलों की रिपोर्ट आना शेष है। पैथोलॉजी द्वारा कोरोना वायरस सेंपल की रिजेक्ट संख्या कुल 71 है।  


कलेक्ट्रेट में मनाया गया सशस्त्र सेना झण्डा दिवस


sehore news
कलेक्ट्रेट के सभाकक्ष में आज झण्डा दिवस मनाया गया। जिला पंचायत सीईओ श्री हर्ष सिंह और अपर कलेक्टर श्रीमती गुंचा सनोबर को सशस्त्र सेना झण्डा दिवस पर सैनिक कल्याण जिला संयोजक एवं भूतपूर्व सैनिक श्री संजय कुलकर्णी ने लैपल पिन और फ्लैग लगाकर सहयोग राशि प्राप्त की। इस मौके पर श्री नाजीर परमार, श्री केएम शर्मा, श्री मोहन चन्द्रा ने समस्त जिला अधिकारियों को लैपल पिन लगाई एवं उन सभी से सहयोग राशि प्राप्त की।


त्रि-स्तरीय पंचायत चुनाव में आदर्श आचरण संहिता का  हो पूरी तरह से पालन - जिला पंचायत सीईओ श्री सिंह


राज्य निर्वाचन आयोग ने त्रि-स्तरीय पंचायत निर्वाचन कार्यक्रम की घोषणा कर दी है। घोषणा के साथ ही जिले के ग्रामीण क्षेत्रों में आदर्श आचरण संहिता लागू हो गई है। जिला पंचायत सीईओ श्री हर्ष सिंह ने टीएल बैठक के दौरान सभी अधिकारी एवं कर्मचारियों को इस आदर्श आचरण संहिता का पूरी तरह से पालन कराने के निर्देश दिए हैं, जिससे जिले में त्रि-स्तरीय पंचायत चुनाव स्वतंत्र, निष्पक्ष एवं शांतिपूर्ण तरीके से सम्पन्न कराया जा सके। उन्होंने सभी अधिकारियों से उन्हें चुनाव से संबंधित सौंपे गये दायित्वों का पूरी गंभीरता से निर्वहन करने के लिए कहा। इसके लिये सभी अधिकारियों एवं कर्मचारियों को जिम्मेदारी सौपी गई है। साथ ही उन्होंने पूरी चुनाव प्रक्रिया के दौरान  कोविड गाइडलाइन का पालन करने के लिए कहा। सीईओ श्री सिंह ने मतदान केन्द्रों में सभी आवश्यक व्यवस्थाएं समय से पूर्व सुनिश्चित करने के अधिकारियों को निर्देश दिए। मतदाता सूची का प्रकाशन के साथ ही नामांकन और मतगणना के लिए सभी आवश्यक व्यवस्थाएं सुनिश्चित कराने के निर्देश दिए। श्री सिंह ने उपार्जन की जानकारी लेते हुए किसानों को कोई परेशानी न हो इसके लिए उपार्जन के केन्द्रों में सभी जरूरी इंतजाम के निर्देश दिए। उन्होंने सभी विभागों की लंबित शिकायतों की समीक्षा करते हुए समय सीमा में निराकरण के निर्देश दिए। बैठक में अपर कलेक्टर श्रीमती गुंचा सनोबर सहित जिला अधिकारी उपस्थित थे।


महाविद्यालय के दो एनसीसी कैडेट्स  ने ऑल इंडिया ट्रेकिंग केम्प में प्रतिनिधित्व किया


sehore news
चन्द्रशेखर आजाद शासकीय स्नातकोत्तर अग्रणी महाविद्यालय की एनसीसी यूनिट की सार्जेन्ट निकिता वर्मा ने ऑलइंडिया दार्जलिंग ट्रेकिंग केम्प और सार्जेंन्ट देवेंद्र कुमार वर्मा ने सरदार पटेल ट्रेकिंग कैम्प गुजरात में मध्यप्रप्रदेश का प्रतिनिधित्व किया। महाविद्यालय के एनसीसी अधिकारी डॉ. उदय डोलस ने बताया कि पश्चिम बंगाल में दार्जलिंग के पहाड़ी इलाके ‘नामची’ में 16 नवम्बर से 22 नवम्बर 2021 तक आयोजित इस ‘‘ऑलइंडिया दार्जलिंग ट्रेकिंग केम्प’’ में भागीदारी करने वाली निकिता वर्मा ने "फिट इंडिया फ्रीडम फन" (2 अक्टूबर 2021) के तहत सीहोर से भोपाल दौड़ का नेतृत्व किया था। इसी प्रकार गुजरात में बड़ौदा के राजपिपला के नजदीक नर्मदा ट्रेक पर 26 नबम्बर से 03 दिसम्बर 2021 तक आयोजित ‘‘सरदार पटेल नर्मदा ट्रेकिंग केम्प’’ में चयनित देवेन्द्र कुमार वर्मा ने प्रतिनिधित्व किया। महाविद्यालय की प्राचार्या डॉ. उर्मिला सलुजा ने इन दोनों एनसीसी कैडेट्स की इस सफलता पर उन्हें शुभकामनाएं देते हुए अन्य कैडेट्स एवं विद्यार्थियों को आव्हान किया कि इन दोनों कैडेट्स ने यह साबित कर दिया कि जीवन मे कुछ कर गुजरने की इच्छा शक्ति हो, तो हर मुश्किल आसान हो जाती है।


बच्चों के लिए आयोग ने "संवेदना" नाम से टोल फ्री टेली काउंसलिंग शुरू की


कोरोना संक्रमण के चलते मानसिक रूप से प्रभावित हो रहे बच्चों के लिए बाल अधिकार संरक्षण आयोग ने नई पहल की है। आयोग ने "संवेदना" नाम से टोल फ्री टेली काउंसलिंग शुरू की है। इसके लिए टोल फ्री नम्बर 1800-1212-830 जारी किया गया है, जिस पर बच्चे कॉल कर विशेषज्ञों से बात कर अपनी समस्या का समाधान पा सकते हैं।  कोविड-19 के दौरान 18 वर्ष से कम उम्र के बच्चों के मानसिक स्वास्थ्य पर गहरा असर पड़ा है। ऐसे बच्चे टोल फ्री नम्बर पर सुबह 10 से 1 बजे तक और दोपहर 3 से रात्रि 8 बजे तक सोमवार से शनिवार तक अपनी समस्याओं पर विषय विशेषज्ञों, काउंसलर से बात कर सकते हैं।


नए वैरिएंट से बचाव के लिए अनुकूल उपाय


कोरोना संक्रमण के नए वैरिएंट से बचाव के लिए लोगों को आम जीवन में  अनुकूल व्यवहारों को अपनाना जरूरी है। कोरोना से बचाव के लिए विशेषज्ञों ने अनुकूल व्यवहार का पालन करने की आम लोगों को सलाह दी है। इन व्यवहारों को अपनाने की सलाह देते हुए लोगों से कहा है कि अभिवादन के लिए आपस में उचित दूरी रखते हुए एक दूसरे का अभिवादन करें, एक दूसरे से उचित दूरी बनाकर रखें, घर पर बना पुनः उपयोग होने वाला फेस कवर-मास्क हर समय पहनें, अपनी आँख, नाक या मुँह को छूने से बचें, अपनी श्वास स्वच्छता बनाएं रखें, अपने हाथों को नियमित रूप से और अच्छे से धोएं, अक्सर छुए जाने वाली सतहों को नियमित रूप से साफ और कीटाणु रहित करें।   इसके अतिरिक्त तंबाकू उत्पादों का ना सेवन करें, ना सार्वजनिक स्थानों पर थूकें, अनावश्यक यात्रा ना करें, किसी के साथ भेदभाव ना करें, भीड़-भाड़ से बचें, सुरक्षित रहें, असत्यापित और नकारात्मक जानकारी को सोशल मीडिया पर प्रसारित ना करें, कोविड के बारे में विश्वसनीय स्त्रोतों से जानकारी लें, कोविड से संबंधित किसी भी तरह की जानकारी के लिए केन्द्रीय टोल फ्री हेल्पलाइन नम्बर 1075 या राज्यों के हेल्पलाइन नम्बरों पर कॉल करें तथा किसी भी तरह के मानसिक तनाव या परेशानी होने पर मनोसामाजिक सहायता सेवाओं का सहयोग लें।


अल्पसंख्यक छात्रवृत्ति आधार सीडेड बैंक खाते में ऑनलाइन हस्तांतरित की जाएगी, छात्रवृत्ति पोर्टल पुन 15 जनवरी 2022 तक खोला


अल्पसंख्यक छात्रवृत्ति योजना वर्ष 2021-22 के लिये विद्यार्थियों की स्वीकृत छात्रवृत्ति की राशि का भुगतान सीधे विद्यार्थियों के केवल आधार सीडेड बैंक खाते में ऑनलाइन हस्तांतरित की जाएगी। विद्यार्थी ने अपने ऑनलाइन आवेदन में अन्य बैंक खाते की जानकारी क्यों न भरी हो। विद्यार्थी का आधार सीडेड बैंक खाता सक्रिय मोड में होना अनिवार्य है ताकि छात्रवृत्ति का भुगतान विफल न हो।  पिछड़ा वर्ग तथा अल्पसंख्यक कल्याण, विभाग ने बताया कि जिन विद्यार्थियों द्वारा अपने आवेदनों को भारत सरकार के छात्रवृत्ति पोर्टल पर बिना आधार के रजिस्टर कर ऑनलाइन आवेदन भरा गया है ऐसे प्रकरणों में नवीन छात्रवृत्ति अंतर्गत केवल आधार पंजीयन हेतु छात्रवृत्ति पोर्टल पुनः 31 दिसम्बर 2021 तथा नवीनीकरण छात्रवृत्ति अंतर्गत केबल आधार पंजीयन हेतु छात्रवृत्ति पोर्टल पुन 15 जनवरी 2022 तक खोला जाएगा। भारत सरकार द्वारा विद्यार्थियों को पोर्टल पर दर्ज किये गये मोबाइल नम्बर पर एसएमएस के माध्यम से सूचना दी जाएगी। उपरोक्त के संबंध में व्यापक प्रचार - प्रसार किया जाकर जिले में मान्यता प्राप्त समस्त शैक्षणिक संस्थाओं को सूचित किया जाये साथ ही शैक्षणिक संस्था के एल-1 के लिए अधिकृत नोडल अधिकारी से व्यक्तिगत अथवा दूरभाष पर संपर्क कर संस्था में अध्ययनरत विद्यार्थियों से वांछित कार्यवाही पूर्ण कराई जाना सुनिश्चित की जाएगी।


ई-ऑफिस एप्लिकेशन की सुरक्षा के बिन्दु निर्धारित


ई-ऑफिस एप्लीकेशन की सुरक्षा को दृष्टिगत शासन स्तर से जारी किये जाने वाले निर्देशों का प्रारूप (ड्राफ्ट) के लिये बिन्दु निर्धारित किये गये है।  जारी बिन्दु अनुसार इलेक्ट्रॉनिक फाइलों पर डिजिटल सिग्नेचर टोकन (DSC) या e-Sign का उपयोग किया जाये, गोपनीय एवं अति गोपनीय दस्तावेजों को केवल भौतिक रूप से ही प्रस्तुत किया जाना चाहिये, SSO(Single Sign On) आधारित प्रमाणीकरण का उपयोग किया जाये, केवल सुरक्षित नेटवर्क जैसे एनआईसी नेट, स्वान, एनकेएन के माध्यम से ही ई-ऑफिस वेब एप्लिकेशन का उपयोग किया जाना चाहिये। प्राईवेट नेटवर्क पर ई-आफिस वेब एप्लिकेशन तक पहुंचने हेतु व्हीपीएन, वर्चुअल प्राइवेट नेटवर्क का उपयोग किया जाये।   


प्री-मैट्रिक, पोस्ट मैट्रिक एवं टॉप क्लास छात्रवृत्ति के ऑनलाईन आवेदन 15 दिसम्बर तक


राष्ट्रीय छात्रवृत्ति पोर्टल scholarship.gov.in पर शैक्षणिक सत्र 2021-22 के लिए दिव्यांगजन सशक्तिकरण विभाग भारत सरकार द्वारा दिव्यांग विद्यार्थियों के लिए संचालित प्री-मैट्रिक, पोस्ट मैट्रिक एवं टॉप क्लास छात्रवृत्ति के ऑनलाईन आवेदन करने की समय-समय में वृद्धि की गई है। आवेदक द्वारा आवेदन करने एवं संबंधित शैक्षणिक संस्थाओं द्वारा आवेदनों को ऑनलाईन सत्यापित करने हेतु निम्नानुसार तिथियां निर्धारित की गयी है। प्री-मैट्रिक कक्षा 9 वीं एवं 10 वीं, पोस्ट मैट्रिक कक्षा 11 वीं से स्नातकोत्तर तक एवं टॉप क्लास हेतु भारत सरकार द्वारा चिन्हित संस्था अध्ययनरत् दिव्यांग विद्यार्थी 15 दिसम्बर, 2021 आवेदन कर सकेंगें तथा संस्था द्वारा ऑनलाईन सत्यापन की अंतिम तिथि 31 दिसम्बर, 2021 निर्धारित की गई 


समितियों का पंजीयन अब केवल ऑनलाइन


सहकारिता विभाग ने बताया है कि जिले में सहकारी समितियों का पंजीयन अब केवल ऑनलाइन प्रक्रिया द्वारा किया जाएगा। ऑनलाइन प्रक्रिया से समितियों का पंजीयन करवाने हेतु संबंधित व्यक्तियों को कार्यालय आने की आवश्यकता नहीं है। सहकारिता विभाग ने बताया कि समितियों के पंजीयन हेतु विभागीय ऑनलाईन पोर्टल http:icmis.mp.gov.in पर जाकर 21 व्यक्ति मिलकर सहकारी समिति का गठन कर सकते हैं। पोर्टल पर नवीन संस्था का आवेदन करने हेतु आवेदक उल्लेखित लिंक पर जाकर स्वयं एमपी ऑनलाईन नागरिक सुविधा केन्द्र के माध्यम से आवेदन कर सकता है। आवेदक को पोर्टल पर अपना लॉग इन क्रिएट करना होगा। लॉग इन क्रिएट करने हेतु आधार से लिंक मोबाईल नंबर प्रविष्ट कर ओटीपी सत्यापन होगा। प्रस्तावित संस्था की जानकारी एवं प्रथम आवेदन की जानकारी भरकर पासवर्ड निर्मित करेगा। तत्पश्चात आवेदक का लॉगिन निर्मित हो जायेगा। अंश पूंजी का मूल्य दर्ज करके प्रस्तावित सदस्यों के फोटो एवं हस्ताक्षर अपलोड कर तदर्थ कमेटी नामांकित कर दस्तावेज  अपलोड कर अंशों का मूल्य एवं सदस्यता प्रवेश शुल्क का ऑनलाईन भुगतान करेगा। आधार नंबर से वर्चुअल आईडी जनरेट होगा और आवेदक का ई-साईन कर आवेदन ऑनलाईन जमा करना होगा। सहकारिता विभाग द्वारा आवेदन प्राप्त होने पर अधिकतम 45 दिवस के भीतर आवेदन पर कार्यवाही की जायेगी। कुछ कमियां होने पर पोर्टल पर दर्ज किया जायेगा। जिसकी सूचना एसएमएस से दी जायेगी। पंजीयन पोर्टल पर आवेदन मान्य होने पर पोर्टल से ही पंजीयन प्रमाण-पत्र जनरेट होगा। जिसमें डिजिटल हस्ताक्षर रहेंगे।


दिव्यांगजनों को कृत्रिम यंत्र-सहायक उपकरण हेतु कॉमन सर्विस सेंटरों पर पंजीयन अनिवार्य


दिव्यांगजन एवं वरिष्ठ नागरिकों को कृत्रिम अंग एवं अन्य सहायक उपकरण उपलब्ध करवानें हेतु एलिम्को भारत सरकार द्वारा लघु शिविरों का आयोजन किया जाएगा। जिसके लिए पंजीकरण एलिम्को रजिस्ट्रेशन स्थानीय जन सेवा केंद्रों पर करवाना अनिवार्य है। जो नि:शुल्क होगा। इस रजिस्ट्रेशन के लिए दिव्यांगता प्रमाण पत्र (40 प्रतिशत या उससे अधिक) जिला मेडिकल बोर्ड द्वारा जारी आय प्रमाण पत्र नियोक्ता, संस्थान के मुखिया, ग्राम प्रधान, सरपंच, तहसीलदार या अन्य राजस्व विभाग द्वारा प्रार्थी की आमदनी 15000/- रूपये मासिक या इससे कम हो, प्रार्थी का एक फोटो, निवास प्रमाण पत्र लगाना अनिवार्य है। वरिष्ठ नागरिकों के रजिस्ट्रेशन के लिए आधार कार्ड, वोटर आई.डी. कार्ड, बीपीएल राशन कार्ड, पेंशन प्रमाण अथवा आय प्रमाण पत्र (ग्राम प्रधान, सरपंच, तहसीलदार या अन्य राजस्व विभाग द्वारा जारी प्रार्थी की आमदनी 15000/-  रूपये मासिक या इससे कम हो),प्रार्थी का एक फोटो लगाना अनिवार्य है।


मिलावट की सूचना ऑनलाईन देने की अपील


उपभोक्ताओं से खाद्यान्न वस्तुओं में मिलावट की सूचना ऑनलाईन देने की अपील की गई है। अभिहित अधिकारी खाद्य सुरक्षा प्रशासन ने बताया कि खाद्य सुरक्षा एवं मानक अधिनियम के अन्तर्गत किये जाने वाले विविध कार्यो को समग्र पोर्टल पर लाने के उद्देश्य से खाद्य सुरक्षा एम.आई.एस. शिकायत पोर्टल (पोषण) प्रारंभ किया गया है। जिस पर खाद्य सुरक्षा एवं मानक अधिनियम 2006 विनियम 2011 के प्रावधान, नियम का खाद्य कारोबार कर्ता द्वारा पालन न किये जाने एव पदाथों में मिलावट अथवा अनियमितता संबंधी आम नागरिकों द्वारा गोपनीय तरीके से करने की सुविधा उपलब्ध कराई गई इस हेतु आम नागरिक विभागीय वैब एड्रेस -mpfdamis.in  पर जाकर शिकायत दर्ज करवा सकते हैं।     खाद्य सुरक्षा एवं मानक अधिनियम 2006 की धारा 31 के अन्तर्गत समस्त खाद्य कारोबार कर्ताओं को खाद्य लायसेंस, पंजीयन लेना अनिवार्य है। खाद्य लायसेंस, पंजीयन संबंधी मार्गदर्शन हेतु कार्यालय आयुक्त खाद्य सुरक्षा प्रशासन ईदगाह हिल्स भोपाल में खाद्य सुरक्षा हेल्प डेस्क स्थापित किया गया है जिसका टेलीफोन 0755-2665036 या ई-मेल आई.डी. foodsafetyhelpdeskmp@gmail.com है जिस पर मार्गदर्शन प्राप्त किया जा सकता है।


उद्यमिता विकास कार्यक्रम में 15 दिसम्बर तक कर सकते आवेदन


पशुपालन एवं डेयरी विभाग द्वारा केन्द्र प्रवर्तित योजना - राष्ट्रीय पशुधन मिशन के तहत उद्यमिता विकास कार्यक्रमों में आवेदन की अंतिम तिथि 30 नवम्बर 2021 से बढ़ाकर 15 दिसम्बर 2021 कर दी गयी है। पात्र इच्छुक उद्यमी एवं हितग्राही योजना के पोर्टल www.nlmudyamimitra.in/ के माध्यम से आवेदन कर सकते हैं।


सस्ते लोन देने वाली गैर-वित्तीय संस्थाओं के प्रति सावधान और सचेत रहने की सलाह


नागरिकों से असामान्य रूप से रिटर्न या सस्ते लोन देने वाली गैर-वित्तीय संस्थाओं के प्रति सावधान और सचेत रहने का आग्रह किया  है। आम नागरिकों से ऐसी संस्थाओं के पंजीयन के प्रति जागरूक रहने एवं उनकी प्रामाणिकता के संबंध में पहले जाँच पड़ताल करने की अपील की गयी है। ऐसी संस्थाओं के जमाकर्ताओं के लिये जागरूकता अभियान  भी चलाया जायेगा। गैर-वित्तीय संस्थाओं, कंपनियों के जमाकर्ताओं को संभावित आर्थिक धोखाधड़ी से बचाने के लिये जागरूकता अभियान शुरू किया जायेगा।    सभी अनुविभागीय अधिकारियों को निर्देश दिये गये हैं कि वे समय-समय पर ऐसी संस्थाओं में  जमाकर्ताओं के हितों का संरक्षण अधिनियम और अनियमित जमा प्रतिबंध अधिनियम के प्रावधानों का सख्ती से पालन सुनिश्चित करें। जमाकर्ताओं और आम जनता और सरकार के बीच परस्पर विश्वास बनाने रखने के लिये दोषी संस्थाओं पर सख्ती बरतते हुए कार्रवाई जारी रखने के निर्देश दिये गये हैं।  


मुख्यमंत्री श्री चौहान ने वैक्सीन के 9 करोड़ डोज़ पूरे होने पर दी बधाई


मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने मध्यप्रदेश में कोविड-19 रोधी टीके के 9 करोड़ से ज्यादा डोज़ पूरे होने पर प्रदेशवासियों को हार्दिक बधाई दी है। उन्होंने  इस पुनीत कार्य में सक्रियता से जुटे समाज-सेवियों, स्वयं-सेवी संस्थाओं, क्राइसिस मैनेजमेंट समिति के सदस्य, स्वास्थ्य कर्मियों और जनप्रतिनिधियों का ह्रदय से आभार माना है। उन्होंने ने कहा है कि कोरोना के नए वेरिएंट और तीसरी लहर को प्रदेश में आने से रोकने के लिए टीकाकरण अत्यंत आवश्यक है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने अपील की है कि जिन्होंने अब तक टीके का पहला या दूसरा डोज़ नहीं लगवाया है, वे पात्र नागरिक अपनी जिम्मेदारी निभाते हुए टीकाकरण कराएं और आने वाले संभावित संकट को टालने में अपनी सहभागिता सुनिश्चित करें। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने हर संकट में हम सब का बेहतरीन नेतृत्व किया है। उन्होंने सीधे जनता के बीच क्या-क्या सावधानी रखना चाहिए, ये मैसेज दिया है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा है कि पिछले दिनों भोपाल, इंदौर सहित प्रदेश के कई जिलों में लगातार पॉजिटिव केस आ रहे हैं। पिछले दिनों इनकी संख्या में बढ़ोत्तरी हुई है। यह हमें आगाह करने के लिए काफी है। जितने भी लक्षण दिखाई दे रहे हैं वो आने वाले संकट की आहट के प्रतीक हैं। जरूरी है कि हम प्राण-प्रण से पूरी सावधानी रखें। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि सभी को वैक्सीन का दूसरा डोज़ लगवाना जरूरी है, ये हमारी सबसे बड़ी प्राथमिकता है। सभी आवश्यक व्यवस्थाएँ पुख्ता रखें, कोरोना की तीसरी लहर न आने दें, ये चुनौती है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि जन-प्रतिनिधि और क्राइसिस मैनेजमेंट कमेटी के सदस्य नागरिकों को बतायें कि फेस मास्क जरूरी है और घर-घर दस्तक देकर वैक्सीन का दूसरा डोज लगवाने के लिए प्रेरित करें। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि कोरोना संक्रमण के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन का सामना जन-भागीदारी मॉडल के आधार पर किया जाए। प्रदेश में ऑक्सीजन प्लांट, वेंटीलेटर की उपलब्धता तथा अन्य सभी आपातकालीन आवश्यक व्यवस्थाएँ उपलब्ध हैं। हमारा प्रयास होगा कि इनकी आवश्यकता ही न पड़े। वर्तमान में मास्क, सोशल डिस्टेंसिंग और अन्य सावधानियों का कड़ाई से पालन करने के लिए वातावरण निर्माण की प्रक्रिया को गति दी जा रही है।



देश की सर्वाधिक गौ-शालाएँ हैं मध्यप्रदेश में

      
वर्तमान में मध्यप्रदेश देश का सर्वाधिक गौवंश और गौशालाओं वाला प्रदेश है। यहाँ गौवंश के विकास, गौ-पालन, गौ-संरक्षण, गौ-संवर्धन और गौ आधारित उत्पादों के संवर्धन के लिये सार्थक प्रयास किये जा रहे हैं। मुख्यमंत्री गौ-सेवा योजना और अशासकीय स्वयंसेवी संस्थाओं द्वारा संचालित 1768 गौ-शालाओं में ढाई लाख से ज्यादा गौ-वंश की देखभाल की जा रही है। शासन द्वारा प्रति गौवंश प्रति दिवस के मान से 20 रुपये का अनुदान दिया जाता है। मुख्यमंत्री गौ-सेवा योजना में अब तक पूर्ण 1141 गौ-शालाओं में 76 हजार 941 गौ-वंश का पालन किया जा रहा है। स्वयंसेवी संस्थाओं की पंजीकृत 627 गौ-शालाओं में भी करीब एक लाख 74 हजार गौ-वंश की देखभाल की जा रही है।                             

                        
विकसित होंगे गौवंश वन्य विहार

गौ-वंश को जंगल से आहार और वन को गोबर से खाद मिलने की व्यवस्था प्राकृतिक है। गौपालन एवं पशुधन संवर्धन बोर्ड द्वारा जंगलों के पास गौ-वंश वन्य विहार विकसित किये जा रहे हैं। रीवा जिले के बसावन मामा क्षेत्र में 51 एकड़ क्षेत्र में गौ-वंश वन्य विहार विकसित किया गया है, जिसमें 4 हजार गौ-वंश हैं। जबलपुर जिले के गंगईवीर में 10 हजार और दमोह जिले में 4 हजार गौ-वंश की क्षमता वाला वन्य विहार विकसित किया जा रहा है। आगर-मालवा के सुसनेर में 400 एकड़ में कामधेनु अभयारण्य विकसित किया गया है, जिसमें वर्तमान में 3400 बेसहारा, वृद्ध और बीमार गायों की देखभाल की जा रही है। इसी माह सागर विश्वविद्यालय में कामधेनु पीठ की स्थापना भी की गई है।  

                        
मध्यप्रदेश में गौ हत्या संज्ञेय अपराध

मध्यप्रदेश में गौ हत्या संज्ञेय अपराध है। यहाँ आरोप सिद्ध होने पर सजा का प्रावधान है। मध्यप्रदेश में चार प्रजाति का देशी गौ-वंश पाया जाता है, जिनका दूध गिर गाय की तरह ही स्वर्णयुक्त एवं उच्च गुणवत्ता वाला है। देशी गाय के दूध में मानव स्वास्थ्य के लिये आवश्यक सभी पोषक तत्व पाये जाते हैं।

                  
प्रतिदिन 9.13 लाख किलो लीटर दूध का संकलन

प्रदेश में लगभग सवा 7 हजार दुग्ध सहकारी समितियाँ कार्यरत हैं, जिनके माध्यम से पिछले वित्त वर्ष में प्रतिदिन औसतन 9 लाख 13 हजार किलो लीटर दुग्ध संकलन और औसत 6 लाख 38 हजार लीटर पैकेट दुग्ध विक्रय हुआ है। लॉकडाउन के दौरान दुग्ध संघों द्वारा 2 करोड़ 54 लाख लीटर दूध अतिरिक्त रूप से खरीदा गया। उल्लेखनीय यह भी है कि कोरोना लॉकडाउन के कारण जहाँ कई व्यवसाइयों को आर्थिक तंगी से गुजरना पड़ा, वहीं दुग्ध उत्पादक किसानों को 94 करोड़ रुपये राशि का अतिरिक्त भुगतान किया गया।

                  
आइसक्रीम, पनीर आदि संयंत्रों का निर्माण

पिछले एक साल में इंदौर में 4 करोड़ रुपये की लागत से आइसक्रीम संयंत्र और खण्डवा में 25 हजार लीटर क्षमता के संयंत्र निर्माण का कार्य पूरा हुआ। जबलपुर में पौने 10 करोड़ रुपये की लागत से 10 मीट्रिक टन प्रतिदिन क्षमता के स्वचलित पनीर निर्माण संयंत्र की स्थापना का काम भी पूरा हो चुका है। सागर में भी एक लाख लीटर क्षमता के संयंत्र की स्थापना की गई।

                        
सौर ऊर्जा को बढ़ावा

दुग्ध संयंत्रों को ऊर्जा में आत्म-निर्भर बनाने के लिये सौर ऊर्जा संयंत्र स्थापना की कार्यवाही को प्रोत्साहित किया जा रहा है। प्रदेश के 5 संयंत्रों में 4 करोड़ 13 लाख रुपये की लागत से सौर ऊर्जा आधारित गर्म पानी के संयंत्रों की स्थापना की जा रही है।

                   
अतिरिक्त दूध का उपयोग मिल्क पावडर बनाने में

दुग्ध संघों द्वारा वितरण से बचे हुए दूध का मिल्क पावडर बनाकर महिला-बाल विकास विभाग की "टेक होम राशन" योजना के लिये प्रदाय किया जाता है। आँगनवाड़ियों के लिये सुगंधित मीठा दुग्ध चूर्ण भी पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग के माध्यम से प्रदाय किया जा रहा है।

                  
देश की दूसरी सीमन प्रयोगशाला भोपाल में

केन्द्रीय वीर्य संस्थान द्वारा साढ़े 47 करोड़ रुपये की लागत से देश की दूसरी सेक्स सार्टेड सीमन प्रयोगशाला भोपाल में स्थापित की गई है। प्रयोगशाला में अब तक 21 हजार 580 सीमन का उत्पादन किया जा चुका है। सागर जिले के रतौना में राष्ट्रीय गोकुल मिशन में गोकुल ग्राम और कृत्रिम गर्भाधान प्रशिक्षण संस्थान की स्थापना की गई है। बुंदेलखंड क्षेत्र विकास योजना में दतिया जिले के नौनेर में आत्म-निर्भर मध्यप्रदेश के तहत प्रदेश का दूसरा वीर्य उत्पादन संस्थान स्थापित किया गया है। पिछले साल राष्ट्रीय कृषि विकास योजना में 1500 और गोकुल मिशन में 850 मैत्री को प्रशिक्षण दिया गया।

                        
स्वास्थ्य सुरक्षा के लिये टीकाकरण

प्रदेश के सभी गौ-भैंस वंशीय पशुओं को नेशनल एनीमल डिजीज कंट्रोल प्रोग्राम में एफएमडी और ब्रूसेल्ला का टीका लगाया गया। समस्त पशुओं को यूआईडी टेग लगाकर इनाफ पोर्टल पर दर्ज किया जा रहा है। राष्ट्रीय पशु रोग नियंत्रण कार्यक्रम में ढाई करोड़ से अधिक पशुओं का एफएमडी रोग के विरुद्ध टीकाकरण किया गया है। उद्देश्य वर्ष 2025 तक मुँहपका, खुरपका (एफएमडी) और ब्रूसेल्ला रोग पर नियंत्रण पाना और वर्ष 2030 तक इनका उन्मूलन करना है। दुधारु पशुओं के निरोगी होने से दूध, पशुधन और उत्पादों में वृद्धि होगी। परिणाम स्वरूप किसानों और पशुपालकों की आय में वृद्धि सुनिश्चित होगी। टीकाकरण का प्रथम चरण 31 जनवरी, 2021 को पूरा हो चुका है।

                        
राष्ट्रव्यापी कृत्रिम गर्भाधान कार्यक्रम

कार्यक्रम के प्रथम चरण में 7 लाख 65 हजार गौ-भैंस वंशीय पशुओं का कृत्रिम गर्भाधान, 5 लाख 91 हजार गर्भधारण परीक्षण और एक लाख 62 हजार वत्सोत्पादन किया गया। द्वितीय चरण में 19 लाख 15 हजार गौ-भैंस वंशीय पशुओं का कृत्रिम गर्भाधान, 9 लाख 29 हजार का गर्भधारण परीक्षण और 38 हजार 365 वत्सोत्पादन हुआ। तीसरा चरण एक अगस्त, 2021 से प्रारंभ होकर 31 मई, 2022 तक चलेगा। इसमें अब तक डेढ़ लाख कृत्रिम गर्भाधान और 3 हजार से अधिक गर्भ परीक्षण किये जा चुके हैं। इनकी प्रविष्टि भी इनाफ पोर्टल पर की जा रही है।

                              
बकरी दूध विक्रय आरंभ

जनजातीय गौरव दिवस 15 नवम्बर से प्रदेश में ग्राहकों को बकरी का दूध भी मिलना आरंभ हो गया है। बकरी दूध विक्रय की शुरूआत जनजातीय बहुल जिलों सिवनी, बालाघाट और धार, झाबुआ और बड़वानी जिलों में उत्पादित 50 से 70 रूपये प्रतिकिलो की दर से खरीदे गये दूध से की गई है। उच्च गुणवत्ता वाला पौष्टिक बकरी का दूध फिलहाल जबलपुर और इंदौर संघ के पार्लर पर उपलब्ध है।

कोई टिप्पणी नहीं: