मधुबनी : कोरोना के बढ़ते खतरे को देखते हुए टीके लगवाने की अपील - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

शुक्रवार, 3 दिसंबर 2021

मधुबनी : कोरोना के बढ़ते खतरे को देखते हुए टीके लगवाने की अपील

madhubai-dm-apeal-take-vaccin
मधुबनी, आज दिनांक 03 दिसंबर 2021 को श्री अमित कुमार, भा. प्र. से. जिला पदाधिकारी, मधुबनी द्वारा कोरोना के नए वेरीएंट ओमिक्रोन के बढ़ते वैश्विक हलचल को देखते हुए सुरक्षा एवं वैक्सिनेशन के मुद्दे पर समाहरणालय सभाकक्ष में प्रेस वार्ता की गई। उपस्थित सभी पत्रकारों एवं मीडिया कर्मियों को संबोधित करते हुए जिलाधिकारी ने कहा कि जिले में 68% से अधिक लोगों ने कोरोना से बचाव के लिए प्रतिरक्षण टीका ले लिया है। परन्तु, अभी हमे अपने सम्पूर्ण लक्ष्य तक पंहुचना है। पत्रकारों के सवाल के जवाब में जिलाधिकारी महोदय ने कहा कि आंकड़े बताते हैं कि जिले के लगभग 18% टीका ले सकने वाले लोग अभी जिले से बाहर  रह रहे हैं। इसके बावजूद हमें अभी एक बड़ा फासला तय करना है। उन्होंने इस परिप्रेक्ष्य में स्वास्थ्य कर्मियों के प्रयासों की सराहना की और आगे की रणनीति पर चर्चा की। उन्होंने बताया कि टीके का पहला डोज ले चुके लोगों में से 73% लोगों ने ही टीके का दूसरा डोज लिया है। ऐसे में हमें प्रथम टीका ले चुके लोगों को दूसरा टीका लगाने के लिए प्रेरित करना होगा। उन्होंने कहा कि वर्तमान में जिले में टीकाकरण के लिए व्यापक स्तर पर प्रयास किए जा रहे हैं। स्वास्थ्य कर्मी प्रत्येक गांव और कस्बों में हर घर दस्तक कार्यक्रम के अंतर्गत घर घर जाकर लोगों को टीका लगाने का काम कर रहे हैं। अतः इस पुनीत कार्य में मीडिया के सभी बंधुओं और समाज के प्रबुद्ध नागरिकों से अपेक्षा है कि वे टीकाकरण अभियान को सफल बनाने में अपना भरपूर सहयोग प्रदान करेंगे। मीडिया कर्मी द्वारा पूछे गए प्रश्नों के उत्तर देते हुए जिलाधिकारी ने कहा कि टीकाकरण और टेस्टिंग दोनों जिला प्रशासन, मधुबनी की प्राथमिकता में है। इसके साथ ही दो गज की दूरी और मास्क पहनने के नियम का अनुपालन भी लोगों को करना चाहिए। खबरें बता रही हैं कि ओमिक्रॉन नाम से कोरोना का नया वेरिएंट दिखाई देने लगा है। इस परिस्थिति में हमें सजग होकर टीकाकरण के शत प्रतिशत लक्ष्य को हासिल करना होगा, ताकि लोगों के जीवन की रक्षा हो सके। उन्होंने कहा कि कोरोना की पहली लहर के बाद कुछ लोगों ने कहा था कि अब कोई दूसरी लहर नहीं आयेगी, परंतु हम सभी जानते हैं कि दूसरी लहर ने लोगों की जिंदगियों को कितनी बुरी तरह प्रभावित किया। इसलिए समय रहते सभी लोगों को टीका ले लेना अतिआवश्यक है।


जिलाधिकारी ने बताया कि रामपट्टी में डी सी एच सी और कोविड केयर सेंटर दोनों संचालित हैं। वर्तमान में जिले में कोरोना का कोई भी एक्टिव केस नहीं है। परंतु, गत वर्ष की परेशानियों को देखते हुए जनहित में यहीं पर अब आर टी पी सी आर, लैब की स्थापना भी की गई है।  अब मरीजों को इससे संबंधित जांच के लिए अन्यत्र नहीं जाना होगा। इससे अब जांच की राशि का अतिरिक्त व्यय भी रुकेगा और समय की बचत भी होगी ।  ऑक्सीजन प्लांट के बारे में जानकारी देते हुए उन्होंने कहा कि वर्तमान में सदर अस्पताल, मधुबनी और फुलपरास अनुमंडल अस्पताल में ऑक्सीजन प्लांट ने कार्य प्रारंभ कर दिया है। वहीं, झंझारपुर और जयनगर अनुमंडल के अंतर्गत इसका निर्माण अंतिम चरण में है, जिसे शीघ्र पूरा कर लिया जाएगा। उन्होंने बताया कि अररिया संग्राम में भी शीघ्र ही ट्रॉमा सेंटर चालू कर दिया जाएगा। टीकाकरण पर अपनी बात रखते हुए जिलाधिकारी ने बताया कि कोविशिल्ड एक से दूसरे डोज के बीच 84 दिनों का अंतराल केंद्र सरकार द्वारा निर्धारित है। यदि किसी नागरिक को शिक्षा प्राप्त करने हेतु या इलाज हेतु विदेश जाना है तो ऐसी स्थिति में समय की अवधि घटाई भी जा सकती है। उन्होंने जानकारी देते हुए कहा कि जिले में किसी भी योग्य व्यक्ति को टीका लेने में किसी प्रकार की कठिनाई हो रही हो तो वो 9470003454 पर जिले में संपर्क कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि पूर्व के अनुभव के आधार पर सरकार के दिशा निर्देश के आलोक में कोरोना के किसी भी संभावित खतरे से निपटने के लिए जिला प्रशासन मुस्तैद है। परंतु, जब तक जिले के 18 आयुवर्ष से ऊपर के सभी लोग टीका नहीं ले लेते, उनके लिए संक्रमित होने का खतरा बना हुआ है।  जिलाधिकारी ने जिले में पूर्ण टीकाकरण के लक्ष्य को शत प्रतिशत हासिल करने के लिए समाज के सभी लोगों से आगे आने की अपील की । विशेषकर मीडिया कर्मियों को संबोधित करते हुए उन्होंने इसके व्यापक प्रचार प्रसार के लिए सहयोग प्रदान करने की अपेक्षा की। उक्त प्रेस कांफ्रेंस में श्री सुनील कुमार झा, सिविल सर्जन, मधुबनी, श्री आर के सिंह, अपर मुख्य चिकित्सा पदाधिकारी, मधुबनी, श्री शैलेंद्र कुमार विश्वकर्मा, जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी, मधुबनी, श्री दयानिधि पाण्डेय, जिला कार्यक्रम प्रबंधक, मधुबनी एवं जिले के सभी प्रिंट एवं इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के प्रतिनिधि शामिल थे।

कोई टिप्पणी नहीं: