बिहार : पूर्णिया में दलित परिवारों को सीलिंग की जमीन से बेदखल करना बंद करे प्रशासन - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 5 दिसंबर 2021

बिहार : पूर्णिया में दलित परिवारों को सीलिंग की जमीन से बेदखल करना बंद करे प्रशासन

cpi-ml-blame-purnia-administration
पटना, 5 दिसंबर, भाकपा-माले राज्य सचिव कुणाल ने पूर्णिया जिले के बनमनखी अनुमंडल के जानकीनगर थाना के रामपुर तिलक गांव में 1988 से सीलिंग की 36 एकड़ जमीन पर बसे वे खेती कर रहे 55 दलित परिवारों को उजाड़ने की कड़ी निंदा की है. कहा कि नीतीश सरकार कहते हैं कि बिहार में अब मात्र 26 हजार लोग आवासहीन बचे हैं, लेकिन हकीकत यह है कि गरीबों को जमीन देने की बजाए हर जगह से उजाड़ा जा रहा है. इस जमीन पर 2017 तक रसीद कटते रही है. 55 परिवारों में 38 मुसहर, 12 रविदास, 1 दुसाध, 2 धोबी और 2 तेली परिवार आते हैं. कोर्ट से मनमाने ढंग सीलिंग रद्द कर दी गई. पहले पुलिस आई जिसका ग्रामीणों ने प्रतिवाद किया. प्रतिवाद करने के बाद पुलिस चली गई. तब प्रशासन ने कहा कि सभी गरीबों को दूसरी जमीन पर बसाया जाएगा. अब प्रशासन अपने वादे से मुकर गया है और गरीबांे को उजाड़ने पर आमदा है. हम नीतीश सरकार से मांग करते हैं कि वह जिला प्रशासन को गरीबों को उजाड़ने से अविलंब रोके.

कोई टिप्पणी नहीं: