झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 10 दिसंबर - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 10 दिसंबर 2021

झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 10 दिसंबर

झाबुआ के चेतन्य मार्ग (उदयपुरिया) में कच्चे मकान बनाकर किए गए अवैध अतिक्रमण को प्रशासन और पुलिस ने सख्ती से तुड़वाया, नाले के ऊपर बना दिए थे मकान, जेसीबी मशीन से नाले पर किए गए अतिक्रमण को तुड़वाया गया


jhabua news
झाबुआ। शहर के चेतन्य मार्ग पर (उदयपुरिया क्षेत्र) मंे कुछ लोगों द्वारा कच्चे मकान बनाकर अवैध रूप से अतिक्रमण कर लिया गया था। जिसे नगरपालिका, राजस्व शाखा एवं पुलिस विभाग की टीम ने पहुंचकर मकान के पिछले हिस्से में नाले पर किया गया समस्त अतिक्रमण हटवाकर नाले को व्यवस्थित किया गया। उधर लोगों ने इस दौरान यह भी आपत्ति ली कि पूरे शहर में ही स्थायी के साथ अस्थायी अतिक्रमण लगातार बढ़ता जा रहा है, लेकिन प्रशासन और पुलिस केवल कागजी खानापूर्ति के लिए चुनिंदा स्थानों पर ही गरीबों के आशियानों पर बुलडोजर चलाकर अपने कर्तव्य की इतिश्री कर लेती है। चेतन्य मार्ग पर उदयपुरिया क्षेत्र में 10 दिसंबर, शुक्रवार को दोपहर आकस्मिक रूप से प्रशासनिक अमला पहुंचा और यहां कुछ लोगों द्वारा नाले पर निर्माण कार्य करने से नाले के हिस्से की जमीन पर किया पूरा अतिक्रमण तोड़कर पूरे नाले की सफाई भी करवाई गई। प्रशासनिक अमले में तहसीलदार झाबुआ आशीष राठौर, नगरपालिका सीएमओ एलएस डोडिया, राजस्व शाखा प्रभारी अयूब खान, थाना प्रभारी झाबुआ सुरेन्द्रसिंह गाडरिया, शहर पटवारी नानूराम मेरावत, एसआई नीलमसिंह सहित राजस्व, नगरपालिका और पुलिस विभाग का पूरा अमला मौजूद रहा।


बिना पूर्व नोटिस दिए की गई कार्रवाई को लेकर विरोध

ज्ञातव्य रहे कि इसी स्थान पर पिछले कुछ वर्षों भी प्रशासन की टीम ने अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई की थी, लेकिन अतिक्रमणकारियों द्वारा पुनः कब्जा जमाए जाने से इस बार प्रशासनिक अमले ने सख्ती बरती। प्रशासनिक अमले की यह कार्रवाई यहां करीब 3-4 घंटे तक चली। इस दौरान अतिक्रमणकारियों ने प्रशासन द्वारा कार्रवाई से पूर्व नोटिस नहीं जारी करने एवं ताबड़तोड़ कार्रवाई को लेकर भी अपना आक्रोश व्यक्त किया गया।


एजीटी एवं कलेक्टर महोदय के निर्देशों का किया गया पालन

- नेशनल ग्रीन ट्रीब्यनूलएवं जिला कलेक्टर महोदय के आदेश पर यह कार्रवाई की गई है। आगामी दिनों में संपूर्ण शहर में भी अभियान चलाकर स्थायी के अस्थायी सभी प्रकार का अतिक्रमण सख्ती से हटवाया जाएगा। : आशीष राठौर, तहसीलदार, झाबुआ।


झाबुआ के मारूति नगर में अवैध अतिक्रमण हटाने पहुंचा प्रशासन और पुलिस बल, एक पक्षीय कार्रवाई को लेकर विरोध के स्वर हुए बुलंद, 24 घंटे का अल्टीमेटम देकर प्रषासन और पुलिस लौटी निरंक


jhabua news
झाबुआ। शहर के मारूति नगर में 9 दिसंबर, गुरूवार को शिकायत पर प्रशासन एवं पुलिस का अमला यहां कार्रवाई करने पहुंचा, लेकिन इस दौरान एक पक्षीय कार्रवाई को लेकर विरोध के स्वरं बुलंद होने से काफी देर तक बहसबाजी का दौर चलने के बाद अंततः 24 घंटे में निराकरण करने का अल्टीमेटम देकर प्रशासनिक अमला वापस लौट गया। पूरा मामला इस प्रकार है कि शहर के मारूति नगर में एक सांची पार्लर के संचालक सलीम खान द्वारा पिछले दिनों सीएम हैल्प लाईन 181 एवं मंगलवारीय जनसुनवाई सहित तहसील न्यायालय में भी आवेदन करने के बाद यहां एक विधवा महिला द्वारा किए गए अतिक्रमण को हटाने के लिए तहसीलदार झाबुआ आशीष राठौर, नगरपालिका सीएमओ एलएस डोडिया, नपा के राजस्व शाखा प्रभारी अयूब खान, थाना प्रभारी सुरेन्द्रसिंह गाडरिया, शहर पटवारी नानूराम मेरावत आदि दल-बल के साथ पहुंचे। इस दौरान अतिक्रमण हटाने हेतु जेसीबी मशीन को भी लाया गया।


विवाद के बाद प्रशासन ने रोकी कार्रवाई

इस बीच प्रशासन एवं पुलिस अमले द्वारा केवल एक ही व्यक्ति की अतिक्रमण हटाए जाने से विरोध के स्वरं बुलंद हो गए। उनके द्वारा प्रशासन तथा पुलिस की कार्रवाई को रोकने का प्रयास किया गया। इस दौरान मुस्लिम समाज के वरिष्ठजनों द्वारा दोनो पक्षों की समझाईश देने एवं यह मामला मुस्लिम पंचायत तक पहुंचने के बाद दोनो पक्ष मुस्लिम पंचायत में आपसी सुलह-समझौत के आधार पर निराकरण करवाने हेतु राजी हुए। जिसके बाद प्रशासनिक अमला यहां से 24 घंटे के अल्टीमेटम देने के बाद यहां से रवाना हुआ।


गुड मार्निग क्लब ने वीर जांबाज सीडीएस बिपिन रावत  सहित समस्त पुण्य आत्माओं को दी श्रद्धांजलि

  • जनरल रावत अप्रिय होने का जोखिम उठाकर भी कड़े फैसले लेने के लिए जाने जाते थे- प्रोफेसर रवीन्द्रसिंह

jhabua news
झाबुआ । सीडीएस श्री विपिन जी रावत के असामयिक निधन को लेकर गुड मार्निग क्लब के सदस्यों ने उन्हे शुक्रवार को भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की । तमिलनाडु में 8 दिसंबर बुधवार को एक बेहद दुर्भाग्यपूर्ण हेलीकॉप्टर दुर्घटना में चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ जनरल बिपिन रावत, उनकी पत्नी और 11 अन्य सशस्त्र बलों के जवानों के आकस्मिक निधन से गहरा दुख हुआ। जनरल रावत ने असाधारण साहस और लगन से देश की सेवा की थी। पहले चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ के रूप में उन्होंने हमारे सशस्त्र बलों की संयुक्तता की योजना तैयार की थी। इस हादसे में अपनों को खोने वालों के परिवारों के प्रति हमारी संवेदना है.साथ ही ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह के शीघ्र स्वस्थ होने की प्रार्थना करते हैं। जिनका वर्तमान में सैन्य अस्पताल, वेलिंगटन में इलाज चल रहा है। दुश्मनों के छक्के छुड़ाने वाले सीडीएस बिपिन रावत जी का कहना था कि पहली गोली हमारी नहीं होगी पर उसके बाद हम गोलियों की गिनती भी नहीं करेंगे । उक्त उदबोधन गुड मोर्निग क्लब के अध्यक्ष महेन्द्र शर्मा ने शुक्रवार कोे प्रातः गुडमोर्निग क्लब को आयोजित श्रद्धाजलि कार्यक्रम में संबोधित करते हुए कहीं । इस अवसर पर स्नातकोत्तर महाविद्यालय के प्रो. रवीन्द्रसिंह ने भी अपने उदगार व्यक्त करते हुए कहा किदेश के पहले सीडीएस के रूप में उन्होंने भारतीय सेना के आधुनिकीकरण और एकीकरण (थिएटराइजेशन) की भी प्रक्रिया शुरू करवाई। हालांकि ये दोनों कार्य आसान नहीं थे, इनमें कई सारी जटिलताएं थीं। इसलिए ये प्रक्रिया तेजी से नहीं आगे बढ़ पा रही थी, लेकिन अपनी प्रकृति के अनुरूप जनरल रावत एक-एक कर के सभी मुश्किलें दूर करने में लगे हुए थे। उन्होंने ठान रखा था कि बतौर सीडीएस कार्यकाल पूरा होने तक इन दोनों प्रक्रियाओं को एक मुकाम तक जरूर पहुंचा देंगे। जनरल रावत अप्रिय होने का जोखिम उठाकर भी कड़े फैसले लेने के लिए जाने जाते थे। वह खुलकर अपनी बात रखने में यकीन रखते थे। उनका इस तरह अचानक चले जाना देश के लिये एक राष्ट्रीय क्षति है।  सभी सदस्यों ने दो मिनिट का मौन रख कर मृतात्माओं की आत्मीय शांति एवं उनके परिजनों को इस वजा्रघात को सहन करने की शक्ति प्रदान करने की कामना की तथा पूरे देश पर हुए वजा्रघात पर शोक व्यक्त किया । इस अवसर पर सीएसडी स्वर्गीय श्री विपिन रावत एवं समस्त पुण्य आत्माओं को श्रद्धांजलि अर्पित की गई । मार्निंग क्लब के सीताराम डामोर, अखिलेश मुलेवा,राजेन्द्र सोनी, कमलेश शर्मा, कांतिलाल भूरिया, पर्वतसिंह राठौर, प्रमोद सोनी, राजेश भावसार, कमलेश पटेल,विजय चौधरी,सरदारसिंह, योगेन्द्रसिंह,आशीष सोलंकी,नीतिन जैन, सुशील सिसोदिया, वीरेन्द्र सिसौदिया, योगेन्द्र चौहान, राजवीरसिंह, महेश शाह,भव्य जेैन ,महेन्द्र शर्मा,गोपाल नीमा, कमलेश शर्मा, मुकेश नीमा, कान्तिलाल,रेमसिग डामोर,राजवीर चौेधरी,रामसिग सोलंकी,प्रितेश जेैन,सुनिल,सहित बडी संख्या में उपस्थित क्रिडा प्रेमियों आदि ने श्रद्धा सुमन अर्पित पर भावभीनी श्रद्धांजलि दी।


सीडीएस बिपिन रावत का शहीद होना संपूर्ण भारत के लिए शोक का विषय -ः वरिष्ठ इतिहासकार डॉ. केके त्रिवेदी

  • तमिलनाडू के कून्नूर जिले में हुई घटना पूरे देश को झकझोर कर देने वाली -ः नीरजसिंह राठौर, जिलाध्यक्ष, सामाजिक महासंघ
  • सामाजिक महासंघ के बेनर तले जिले की सर्व संस्थाओं, सर्व धर्म और सर्व समाज ने पैलेस गार्डन पर दी भावभीनी श्रद्धांजलि

jhabua news
झाबुआ। भारत के तमिलनाडू के कून्नूर जिले में हैलीकाप्टर क्रेश की हुई घटना ने पूरे देश को शोक स्तब्ध किया है एवं झकझोर कर रख दिया है। इस घटना में शहीद हुए वीर जांबाज जनरल ब्रिगेडियर चीफ ऑफ डिफेंस स्टॉफ बिपिन रावत एवं उनकी धर्मपत्ति श्रीमती मधुलिका रावत सहित अन्य सभी मृतात्माओं को भावभीनी श्रद्धांजलि देने एवं शोक प्रकट करने के लिए सामाजिक महासंघ जिला झाबुआ के बेनर पैलेस गार्डन पर सर्व संस्थाओं और सर्व समाज-धर्मों के प्रतिनिधि एकत्रित हुए। सभी ने नम आंखों से मोमबत्तीयां प्रज्जवलित कर एवं भारत माता और शहीदों का गुणगान करते हुए अंत में दो मिनिट का मौन भी रखा। झाबुआ के पैलेस गार्डन पर 9 दिसंबर, गुरूवार संध्याकाल 7 बजे सामाजिक महासंघ के आव्हान पर सकल व्यापारी संघ, रोटरी क्लब ‘मेन’ एवं रोटरी क्लब ‘आजाद’, रोटरेक्ट क्लब, इनरव्हील क्लब ‘मेन’ और इनरव्हील क्लब ऑफ झाबुआ शक्ति, संकल्प गु्रप, सांत्वना ग्रुप, संस्कार भारती, आसरा पारमार्थिक ट्रस्ट, गायत्री परिवार कॉलेज मार्ग एवं बसंत कॉलोनी, श्री नवदुर्गा धाम महिला मंडल की समस्त मातृ शक्तियों, श्री सकंट मोचन हनुमान मंदिर सेवा समिति, बचपन बचाओ आंदोलन, जिला बाल अधिकार मंच, अंर्तराष्ट्रीय मानव अधिकार काउंसिल, बाल अधिकार मंच, परहित जन सेवा संस्था, आदिवासी चेतना शिक्षण सेवा समिति जिला महिला पतंजलि योग समिति, जिला पंेशनर्स एसोसिएशन, जैन सोशयल ग्रुप ‘मेन; एवं मैत्री,युवा साई सेवा समिति, युवा आजाद ग्रुप, जिला आजाद साहित्य परिषद्, जिला टेंट एवं लाईट एसोसिएशन, अखिल भारतीय साहित्य परिषद्, माहिष्मति कला मंच, राष्ट्रीय कवि संगम, गुड मार्निंग क्लब, मार्निंग क्लब हाथीपावा, समाजजनों में सकल जैन समाज, नीमा समाज, सोनी समाज, अरोरा समाज, सिंधी समाज, राजपूत समाज, रजक समाज, राजनैतिक पार्टियों में भाजपा-कांग्रेस के पदाधिकारीगण, समस्त युवाओं, सहित सर्व हिन्दू संप्रदाय के अतिरिक्त मुस्लिम समाज, बोहरा समाज, इसाई समुदाय से भी समाज प्रमुखों अथवा प्रतिनिधियों ने भागीदारी की।


जब शहीद के घर मातम होता है, तो पूरा देश रोता है

प्रारंभ में भूतपूर्व सैनिक श्यामसुंदर शर्मा ने सभी शहीदों को सलामी दी। इस दौरान अपने संक्षिप्त उद्बोधन सामाजिक महासंघ के वरिष्ठ संरक्षक एवं सेवानिवृत्त प्राचार्य डॉ. केके त्रिवेदी ने कहा कि जिस दिन अपनी जान की परहवाह किए बगैर बोर्डर पर तैनात रहने वाले जवानों, आर्मी सैनिकों और उनका नेतृत्व करने वाले आर्मी चीफ, जनरल, बिग्रेडियर, आर्मी विभाग के प्रमुख या कोई भी सैनिक शहीद होता है, तो उस दिन ना केवल शहीद के परिवार के घर मातम छाता है, बल्कि सारे राष्ट्र में मातम और घोर सन्नाटा होता है। सीडीएस बिपिन रावत ने देश पर आक्रमण करने वाली विदैशी ताकतो को मुंह तोड़ जवाब देते हुए कहा था कि पहली गोली जरूर तुम्हारी होगी, लेकिन उसके बाद हम गोलियांे की गिनती भी नहीं करंगेे। ऐसे राष्ट्र प्रेमी और महान सपूत बिपिन रावत का आकस्मिक घटना में शहीद हो जाना, संपूर्ण देश के लिए एक अपूरणीय क्षति है, इसकी कभी भरपाई नहीं की जा सकती है।


देश को झकझोर कर रख दिया

सामाजिक महासंघ के जिलाध्यक्ष नीरजसिंह राठौर ने गहरा दुख व्यक्त करते हुए कहा कि हैलीकॉप्टर क्रेश में भारत के महान सपूत बिपिन रावत एवं उनकी धर्मपत्नि, जो मप्र के शहडोल जिले से होकर उनका भी घटना में दिवगंत हो जाना। इसके साथ ही हैलीकॉप्टर में सवार भारत की माटी के अन्य लालो का भी चले जाने से पूरा देश स्तब्ध और गमगीन है। आज ना केवल झाबुआ जिला, मप्र अपितु पूरा राष्ट्र इन रणबांकुरों को भावभीनी श्रद्धांजलि देता है। यह घटना दुख स्वरूप भारत के इतिहास में जरूर दर्ज होगी। श्री राठौर ने संपूर्ण जिलेवासियों की ओर से मृतात्माओं की आत्म शांति के लिए प्रार्थना की।


नम आंखों से मोमबत्तीयां प्रज्जवलित की

बाद एक-एक कर सभी ने नमो आंखों से जनरल, ब्रिगेडियर बिपिन रावत एवं सभी शहीदांे के लिए बनाए गए चित्रों के सम्मुख हाथ जोड़कर एवं मोमबत्तीयां प्रज्जवलित कर गहरा शोक प्रकट किया। सभी के मुख पर भारत माता और शहीदों के प्रति आत्मीय भावना इस दौरान साफ तौर पर देखने को मिली। अंत में सभी ने दो मिनिट का मौन भी रखा। श्रद्धांजलि सभा का संचालन सकल व्यापारी संघ के सचिव हिमांशु त्रिवेदी ने किया।


शहीद डॉ. बिपिन रावत भारत के प्रत्येक नागरिकों के दिलों में हमेशा बसे रहेंगे -ः मांगीलाल भूरिया, भाजयुमो जिला उपाध्यक्ष

  • भारत के तमिलनाडू में हुई घटना मेें सभी शहीद एवं दिवंगतों को भाजयुमो द्वारा शहर के मध्य राजवाड़ा पर दी गई भावभीनी श्रद्धांजलि

jhabua news
झाबुआ। भारत के तमिलनाडू के कून्नूर में हुई हैलीकॉप्टर क्रेश घटना में शहीद हुए सीडीएस प्रमुख बिपिन रावत एवं उनकी धर्मपत्नि मधुलिका रावत सहित सभी दिवंगत आत्माओं को श्रद्धांजलि देने हेतु भारतीय जनता युवा मोर्चा जिला इकाई की ओर से शहर के मध्य राजवाड़ा के मंच पर 10 दिसंबर, शुक्रवार को दोपहर श्रद्धांजलि कार्यक्रम रखा गया। जिसमें सभी ने जनरल ब्रिगेडियर बिपिन रावत सहित समस्त दिवगंतांे के चित्र के सम्मुख पुष्पांजलि देते हुए समापन पर दो मिनिट का मौन भी रखा। इस दौरान भाजयुमो जिला उपाध्यक्ष मांगीलाल भूरिया ने कहा कि जब-जब कोई सैनिक या आर्मी चीफ भारत में शहीद होता है, तब-तब पूरा देश रोता है। तमिलनाडू के कून्नूर में हुई घटना अत्यंत ह्रदय विदारक घटना है। जिससे आज पूरा भारत शोक स्तब्ध है। भाजयुमो जिला इकाई सभी शहीदो एवं दिवगंतों को अश्रुपूरित श्रद्धांजलि अर्पित करती है। भाजपा जिला मंत्री लालाभाई गुंडिया ने कहा कि सैनिक भले इस दुनिया से चला जाता है, लेकिन लोगों के जहन (दिलों) में हमेशा जिंदा रहता है। इस घटना को देश कभी भूला नहीं पाएगा। अंत में सभी को मौन रहकर मृतात्माओं की शांति के लिए ईश्वर से कामना की।


यह रहे उपस्थित

श्रद्धांजलि कार्यक्रम का संचालन भाजयुमो जिला महामंत्री संजय भाबर ने किया। इस दौरान भाजपा जिला मंत्री लालाभाई गुंडिया, भाजपा देवझिरी मंडल अध्यक्ष सुरभानसिंह गुंडिया, मंडल महामंत्री शरमा भूरिया, भाजपा अजजा मोर्चा पदाधिकारी एवं सरंपच ग्राम पंचायत भोयरा वरमा कटारा, भाजयुमो के अन्य जिला पदाधिकारियों में कुलदीप चौहान, प्रमोद भडारी, अभय वाखला, उमंग जैन, शक्तिसिंह देवड़ा सहित अन्य पदाधिकारी एवं कार्यकर्ता बड़ी संख्या में उपस्थित रहे।


नेहरू युवा केंद्र जिला झाबुआ द्वारा एक दिवसीय ‘‘स्वच्छ गांव-हरा गांव’’ विषय पर युवाओं के लिए प्रशिक्षण कार्यक्रम का हुआ आयोजन, कोविड से रोकथाम हेतु वैक्सीन का दूसरा डोज लगवाने के लिए भी प्रेरित किया


jhabua news
झाबुआ। नेहरू युवा केंद्र जिला झाबुआ द्वारा एक दिवसीय ‘‘स्वच्छ गांव, हरा गांव’’ विषय पर युवा प्रशिक्षण राणापुर में आयोजित किया गया। यह प्रशिक्षण कार्यक्रम जिला युवा अधिकारी प्रीति पंघाल के मार्गदर्शन में एवं स्वयं सेवक पारसिंह चंगौड़ तथा अल्केश सिंगार के विशेष सहयोग से आयोजित हुआ। जिसमें अतिथि के रूप में बीआरसी दिलीप टॉक, नगर परिषद् सीएमओ कमलेश टोले, बीएमओ जेएस चौहान, प्रदीप परमार विनीता बारिया, प्राचार्य माध्यमिक विद्यालय आदि उपस्थित रहे। इस दौरान आस-पास साफ सफाई, स्वच्छता एवं हाथ धोने के महत्त्व पर प्रकाश डालते हुए कोविड के नियमों के पालन के लिए भी युवाओं को प्रेरित किया गया। साथ ही रोको रोको अभियान के अंतर्गत लोगो को वैक्सीनेशन का दूसरा डोज लगवाने के लिए समझाईश दी गई। इसके अतिरिक्त खुले में शौच के विषय पर युवाओं से चर्चा की गई एवं कहा की शौचालय का प्रयोग करे।


स्वच्छता हेतु शपथ दिलवाई गई

दिलीप टॉक ने युवाओं को पेड़ पौधों से मिलने वाले लाभ एवं ऑक्सीजन के महत्व की जानकारी देते हुए युवाओं को अपने घर के आस-पास पेड़ लगाने का आव्हान किया। कमलेश गोले ने 3 तरह के कचरे के बारे में बताया। अंत में जिला युवा अधिकारी प्रीति पंघाल ने सभी को स्वच्छता की शपथ दिलवाई। कार्यक्रम में राणापुर विकासखंड के युवा मंडलों ने भी भाग लिया। उक्त आयोजन को सफल बनाने में राष्ट्रीय युवा स्वयं सेवक परमसिंह, सीता, विजय मेड़ा, भावना डामोर आदि का विशेष सहयोग रहा।


फ्री मेडिकल चौकप कैम्प 12 दिसम्बर को थांदला में


थांदला। रोटरी क्लब संजीवनी थांदला के तत्वावधान में गुजरात के एसएच साजी ऑर्थोपेडिक हॉस्पिटल द्वारा वृहद रूप से फ्री मेडिकल चौकप का आयोजन 12 दिसम्बर, रविवार को थांदला के होटल महाराजा में किया जा रहा है। जिसमें रीढ़ की हड्डी का टेड़ा होना, कमर व गर्दन, शोल्डर व घुटने आदि जोड़ो के दर्द, टूटी हड्डियों का इलाज, घुटना ध् कूल्हा ध् कंधा प्रत्यारोपण, दूरबीन के माध्यम से जोड़ों की जाँच, फ्रैक्चर , ऑस्टियोपोरोसिस, खेल से हुई चोट आदि अनेक प्रकार की हड्डी एवम स्पाईन रोग की निःशुल्क चिकित्सा कर दवाई दी जाएगी। उक्त शिविर में गुजरात के मशहूर हड्डी एवं स्पाईन रोग विशेषज्ञ डॉ . महंमद अकरम ए. साजी ड.ठ.ठ.ै. (ड.ै. व्तजीव) अपनी सेवाएं देंगे। शिविर प्रातः 10 बजे से 1 बजे तक आयोजित किया जाएगा इसलिए सभी जरुरतमन्द दर्दी नियत समय पर शिविर स्थल होटल महाराजा पर आकर लाभ ले सकते है अथवा शिविर के पूर्व अपना निःशुल्क पंजीयन रो. नीरज सोलंकी 9425486197, रो . विश्वाश सोनी 9425101278, रो. कमलेश दायजी 8319001941, रो. श्रेणिक जी गादिया 9425413241, रो. उमेश बृजवासी 9977907143, रो. पवन नाहर 9424567444, रो. हुसैनी नाकेदार 7869996650, रो. पंकज जी चोरड़िया 9406872857 अथवा अन्य रोटेरियन साथियों के पास दर्ज करवा सकते है।


विश्व मानवाधिकार दिवस पर दी महिलाओं को सुरक्षा की जानकारी


jhabua news
थांदला । राष्ट्रीय मानवाधिकार एवं महिला बाल विकास आयोग तथा वन स्टॉप सेंटर ने विश्व मानव अधिकार दिवस पर झाबुआ जिलें के कल्याणपुरा ग्राम के बरखेड़ा में महिलाओं को जागरूक करते हुए उन्हें उनके अधिकार एवं कर्तव्य बतायें। इस अवसर पर वन स्टॉप सेंटर प्रशासक लीला परमार ने वन स्टॉप सेंटर की जानकारी देते हुए कहा कि आज महिलाएं प्रगति कर देश और समाज के विकास में पुरुषों के साथ बराबरी का काम करते हुए घर परिवार व बच्चों के लालन पालन की जिम्मेदारी भी बखूबी निभाती है। लेकिन फिर भी कन्या भ्रूण हत्या, घरेलू हिंसा, यौन शोषण, बलात्कार, छेड़छाड़, दहेज व आत्महत्या जैसी अमानवीय घटनाओं से उसे रोज गुजरना पड़ता हैं। उन्होंने कहा कि ऐसी अमानवीय घटनाओं से लड़ने के लिए वन स्टॉप सेंटर भारत सरकार द्वारा खोला गया वह उपक्रम है जहाँ महिलाओं के अधिकारों की सुरक्षा के साथ उन्हें पूरा न्याय दिलाया जाता हैं। इसका लाभ हर पीड़ित महिलाएं सीधे झाबुआ कार्यालय आकर ले सकती है या  टोल फ्री नम्बर 181 पर अपनी शिकायत दर्ज कराकर ले सकती है। परामर्शदाता रानू राठौर ने बताया कि महिलाओं के घर परिवार में सामंजस्य स्थापित करने के लिए वह मध्यस्थता करते है वही नारी सम्मान के लिए हर कारगर उपाय किये जाते है। इस अवसर पर राष्ट्रीय मानवाधिकार एवं महिला बाल विकास आयोग के प्रतिनिधि प्रदेशाध्यक्ष पवन नाहर ने बताया कि उनकी संस्था हर निराश्रित बेसहारा बच्चों व महिलाओं को आश्रय देने का काम कर रही है वही उनके भरण पोषण के लिए शासन प्रशासन से मदद दिलाने के प्रयास भी करती है। इस अवसर पर संगठन के प्रदेश महासचिव मोहनलाल पाटिदार, गोपाल चोयल, समकित तलेरा, अलीअसगर बोहरा, केस वर्कर गोरती डामोर, प्रियंका वर्मा आदि संगठन व संस्था के सदस्य उपस्थित थे।


सड़क सुरक्षा समिति की उपसमिति की बैठक आयोजित

  • माननीय उच्चय न्यायालय मध्यप्रदेश के निर्देशानुसार अवैध संचालित ऑटो रिक्शा की चैकिंग कर कार्यवाही की जाएगी

झाबुआ,। सड़क सुरक्षा समिति की उपसमिति की बैठक जिसमें कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी झाबुआ श्री सोमेश मिश्रा जो इस समिति के अध्यक्ष है एवं पुलिस अधीक्षक जिला झाबुआ श्री आशुतोष गुप्ता जो इस समिति के उपाध्यक्ष है के द्वारा सड़क सुरक्षा समिति की उपसमिति की बैठक आयोजित की गई। यह बैठक कलेक्टर कार्यालय के सभा कक्ष में 11.30 बजे आयोजित की गई थी। इस बैठक में अनुविभागीय अधिकारी राजस्व झाबुआ श्री एल.एन.गर्ग एवं समिति के सदस्य मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. श्री जे.पी.एस.ठाकुर, परियोजना अधिकारी शहरी विकास श्री एल.एस.डोडिया, एसडीओपी श्री इडला मौर्य, जिला परिवहन अधिकारी श्रीमती कृतिका मोहटा, बस एसोसिएशन के जिलाध्यक्ष श्री हाजी लाला पठान, श्री सैयद सोनू अली, श्री विजेन्द्र मुजाल्दा, यातायात प्रभारी श्री तेजमल पंवार, थाना प्रभारी झाबुआ श्री सुरेन्द्र सिंह गाडरिया, श्री इकबाल चांदा, श्री नरेन्द्र डामोर, आटो एसोसिएशन के अध्यक्ष आदि उपस्थित थे। बैठक की अध्यक्षता करते हुए कलेक्टर श्री मिश्रा ने बताया कि यह बैठक मुख्य रूप से वाहन दुर्घटना में कमी लाने एवं यातायात व्यवस्था के सम्बन्ध में चर्चा हेतु बुलाई गई है। मुख्य रूप से यह सुनिश्चित किया जाए की स्कूल के आसपास की सड़कों पर स्पीड ब्रेकर एवं अन्य सुरक्षा उपायों का कडाई से पालन किया जाना सुनिश्चित किया जाए। आज की बैठक में जिसमें केन्द्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय ;डव्त्ज्भ्द्ध के मापदण्डानुसार नवीन ब्लैक स्पॉट केा चिन्हांकित कर उनके सुधार के उपाय जिससे कि दुर्घटनाओं में कमी लायी जा सके। बिना परमिट के संचालित ऑटो पर मोटरयान अधिनियम एवं दाण्डिक विधियों के अनुसार कार्यवाही एवं ऐसे ऑटो/टेक्सी एवं अन्य यान संचालनों पर पूर्णतः प्रतिबंध लगाया जाए। जिले में बिना हेलमेट दो पहिया वाहन चलाने, शराब पीकर वाहन चलाने, वाहन चलाते समय मोबाईल का उपयोग करने, पीक ऑवर्स में यातायात व्यवस्था में सुधार किए जाने के निर्देश दिए है एवं सड़को पर आवारा पशुओं के बैठने से हो रही दुर्घटनाओं की रोकथाम की व्यवस्था पर चर्चा। शहर की पार्किंग व्यवस्था पर चर्चा पार्किंग हेतु उपयुक्त स्थानों का चयन जिससे यातायात सुचारू रूप से संचालित हो सके। जिले में यातायात व्यवस्था को अधिक सुगम बनाने पर चर्चा की गई जिसमें अवैध निर्माण, सार्वजनिक भूमि पर बने धार्मिक स्थल एवं शासकीय भूमि पर कब्जा हटाने की कार्ययोजना पर चर्चा व्यस्ततम चौराहे एवं मुख्य मार्गो पर टेªफिक सिग्नल, सीसीटीव्ही कैमरा एवं कंट्रोल रूप स्थापना पर चर्चा की गई एवं संबंधित अधिकारियों को आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश दिए गए। कलेक्टर महोदय द्वारा निर्देश दिए गए की जिले की सभी नगरपालिका, नगर परिषद में प्रस्ताव लाकर तत्काल सीसी कैमरे लगाए जाए। रोड के आसपास सभी अतिक्रमण तत्काल हटाए जाए एवं बस स्टैशन पर एक बड़ा फ्लेक्स लगाया जाए जहां पर बसों के आने-जाने का समय निर्धारित हो कोई भी इसका निरीक्षण करें तो इसका पालन के अनुसार कार्यवाही सुनिश्चित की जा सके। पुलिस अधीक्षक महोदय द्वारा निर्देश दिए की वाहन के संबंध में सभी निर्देशों का कड़ाई से पालन सुनिश्चित किया जावे। ऑटो रिक्शा का चालान काटने पर केवल शमन शुल्क ही वसूल कर नहीं छोडा जाएगा। माननीय न्यायालय के निर्देशों के पालन में यह प्रकरण माननीय न्यायालय को प्रस्तुत किया जाएगा। इस बैठक में जिला परिवहन अधिकारी श्रीमती कृतिका मोहटा के द्वारा शासन के दिए गए निर्देशों को एजेंडा रूप में प्रस्तुति दी गई। बैठक में लिए गए निर्णय से सभी के द्वारा सहमति दी गई। बैठक में यातायात के संबंध में निर्देशों का फ्लेक्स लगाकर व्यापक प्रचार-प्रसार किए जाने के निर्देश दिए गए।


त्रिस्तरीय पंचायतों के आम चुनाव वर्ष 2021-22 के लिये जिला स्तरीय कम्युनिकेशन दल का गठन


jhabua news
झाबुआ,। कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी (स्थानीय निर्वाचन) जिला झाबुआ श्री सोमेश मिश्रा के आदेशानुसार त्रिस्तरीय पंचायतों के आम चुनाव वर्ष 2021-22 के लिये जिला स्तरीय कम्युनिकेशन दल का गठन किया गया है। कम्युनिकेशन दल त्रिस्तरीय पंचायत आम चुनाव कम्युनिकेशन दायित्वों संबधी समस्त कार्य उप जिला निर्वाचन अधिकारी (स्थानीय निर्वाचन) तथा जिला स्तरीय कम्युनिकेशन प्लॉन नोडल अधिकारी श्री जी.एस.त्रिवेदी, परियोजना संचालक ‘‘आत्मा‘‘ कृषि विभाग, जिला झाबुआ जिनका मोबाईल नंबर 9826213800 के मार्गदर्शन में तत्परता से निर्वहन करेंगे एवं समय-समय पर समुचित जानकारी एवं प्रगति से अधोहस्ताक्षरकर्ता को अवगत कराएगें। इस दल में श्री एस.एस.मोर्य कृषि विभाग झाबुआ जिनका मोबाईल नंबर 9893671952 है को दल प्रभारी एवं श्री एच.एस.चौहान कृषि विभाग झाबुआ जिनका मोबाईल नंबर 9407404866 है, श्री एस.एस.रावत कृषि विभाग झाबुआ जिनका मोबाईल नंबर 9893330538 है, श्री अमित ब्रिजवारी म.प्र. डे राज्य ग्रामीण आजिविका मि. झाबुआ जिनका मोबाईल नंबर 8349901100 को दल का सदस्य एवं श्री डी.आर.चौहान कृषि विज्ञान केन्द्र, झाबुआ जिनका मोबाईल नंबर 9752476879 है, श्री ब्रजेश गोठवाल कृषि विभाग झाबुआ जिनका मोबाईल नंबर 9926487906 है, श्री संजय जोशी कृषि विभाग झाबुआ जिनका मोबाईल नंबर 9425033598 है, श्री समय यादव कृषि विभाग झाबुआ जिनका मोबाईल नंबर 9993141866 है, श्री बी.एस.हटिला कृषि विभाग झाबुआ जिनका मोबाईल नंबर 8224916632 है, श्री मयंक चावडा कृषि विभाग झाबुआ जिनका मोबाईल नंबर 8965065187 है को दल का सदस्य नियुक्त किया गया है। यह आदेश तत्काल प्रभाव से प्रभावशील होगा।


मध्यप्रदेश, अनुसूचित जनजाति साहूकार विनियम-1972 एवं इसके अधीन म.प्र. अनुसूचित जनजाति साहूकार नियम-1980 के तहत प्रतिबंधात्मक आदेश जारी


झाबुआ। कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी श्री सोमेश मिश्रा के आदेशानुसार मध्यप्रदेश, अनुसूचित जनजाति साहूकार विनियम-1972 एवं इसके अधीन म.प्र. अनुसूचित जनजाति साहूकार नियम-1980 जिसे आगे अधिनियम कहा जावेगा के तहत जिले के अनुभाग झाबुआ/थांदला/मेघनगर/पेटलावद के अनुविभागीय अधिकारी एवं प्राधिकृत अधिकारियों द्वारा उक्त अधिनियम के तहत कपिपय व्यक्तियों को साहूकारी कारोबार हेतु (01 वर्ष की अवधि) लायसेंस जारी किए गए थे। मध्यप्रदेश, अनुसूचित जनजाति साहूकार विनियम-1972 एवं इसके अधीन म.प्र. अनुसूचित जनजाति साहूकार नियम-1980 के तहत शर्ते इस प्रकार है। साहूकार द्वारा विहित प्रारूप में लेखाओं का संधारण नहीं किया जाना। साहूकार द्वारा ऋणी को निधारित प्रारूप में प्रत्येक भुगतान की (ऋणी द्वारा साहूकार को) रसीद नही दी जाना। ऋणी द्वारा साहूकार के पक्ष में निष्पादित किए गए दस्तावेज विहित प्राधिकारी द्वारा/माध्यम से साक्ष्यांकित नहीं करवाई जाना। साहूकार द्वारा ऋणी को विहित प्रारूप में पासबुक जारी नहीं की जाना। साहूकार द्वारा धारा 10 की उपधारा (1) के तहत निर्धारित लेखों के विवरण की प्रतिलिपि विहित की गई तारीख को विहित प्राधिकारी को प्रस्तुत नहीं की जाना। साहूकार द्वारा ऋणी को उधार दिए जाने की सूचना तीस दिवसों के भीतर निरीक्षक (तहसीलदार) को नहीं दी जाना। ऋणी द्वारा किए गए भुगतानों को साहूकार द्वारा धारा 9 के प्रावधानों के अनुरूप जमा नहीं किया जाना। निर्धारित समयावधि में जारी लायसेंस का नवीनीकरण नहीं करवाया जाना। किन्तु लायसेंसधारियों द्वारा जारी शर्तो का पालन नहीं किये जाने के फलस्वरूप उक्त अधिनियम के तहत जारी लायसेंस निष्फल एवं शून्य हो गए। लायसेंसधारियों द्वारा उक्त अधिनियम की कतिपय शर्तो का स्पष्ट रूप से उल्लंघन किए जाने के फलस्वरूप लायसेंस निष्फल एवं शुन्य है। ऐसी स्थिति में जिले में वर्तमान में कोई भी व्यक्ति साहूकारी कारोबार करने के लिए न तो पंजीकृत है और न ही अधिकृत है। झाबुआ जिले के विभिन्न क्षेत्रों में विशेष कर आदिवासी बाहूल्य ग्रामों में साहूकारों द्वारा अधिक ब्याज दरों पर साहूकारी का कारोबार किया जा रहा है तथा इस संबंध में समय-समय पर विभिन्न प्रकार की शिकायते प्राप्त हुई है जिससे यह स्पष्ट होता है कि साहूकारों द्वारा अनियंत्रित एवं अनाधिकृत रूप से ग्रामीण आदिवासी एवं अशिक्षित लोगों से अधिक ब्याज दरों पर ऋण देकर बदले में उनकी मुल्वान वस्तुए जैसे गहने या भूमि गिरवी रखी जा रही है, इस प्रकार अनेक ग्रामीण परिवार साहूकार के कर्ज के बोझ में लम्बे समय से चले जा रहे है, जिससे न केवल उन्हें आर्थिक क्षति पहुंच रही है, बल्कि उनका सर्वांगीण विकास भी अवरूद्ध हो रहा है। इसलिए यह आवश्यक है कि उक्त अधिनियम के प्रावधानों का पूर्ण रूप से पालन किया जाना सुनिश्चित किया जाए। चुंकि झाबुआ जिले की समस्त अनुभाग/तहसीलों में कोई भी साहूकार विधिमान्य रूप से साहूकारी कारोबार करने के लिए रजिस्ट्रीकरण प्रमाण पत्र धारण नहीं करता है। इसलिए ऐसा कोई भी साहूकार यदि किसी व्यक्ति को ऋण देने के लिए बाध्य करता है तो वह व्यक्ति उक्त अधिनियम के उपबन्धों के अनुसार 2 वर्ष तक के कारावास से या जुर्माने से जो 10 हजार रूपए का हो सकेगा या दोनो से दण्ड का भागी होगा। यह आदेश झाबुआ जिले के सम्पूर्ण क्षेत्र के लिए लागू होगा। जन सामान्य की जानकारी हेतु उक्त अधिनियम के प्रावधानों के तहत जिले में जनहित में शक्ति से लागू किए जाने के उद्देश्य से आदेश जारी किया गया है। इस आशय की सूचना अनुविभागीय अधिकारी राजस्व अपने-अपने अनुभाग में डोंडी पीटवाकर एवं अनुभाग स्तर के कार्यालयों पर चिपका कर प्रचार-प्रसार सुनिश्चित करेंगे तथा इससे संबंधित शिकायत प्राप्त होने पर संबंधित व्यक्तियों के विरूद्ध अधिनियम के तहत प्रकरण पंजीबद्ध कर दण्डात्मक कार्यवाही भी सुनिश्चित करेंगे।


अंतराष्ट्रीय मानवाधिकार दिवस मनाया गया


jhabua news
झाबुआ,। इंसानी अधिकारों को पहचान देने और वजूद को अस्तित्व में लाने के लिए, अधिकारों के लिए जारी हर लड़ाई को ताकत देने के लिए हर साल 10 दिसम्बर को अंतराष्ट्रीय मानवाधिकार दिवस यानी यूनिवर्सल हूमन राइट्स डे मनाया जाता है। यह बात शासकीय आदर्श महाविद्यालय झाबुआ में मानव अधिकार दिवस के अवसर पर आयोजित विधिक साक्षरता शिविर में अपर जिला न्यायाधीश/सचिव श्री लीलाधर सोलंकी जी ने कही। माननीय प्रधान जिला न्यायाधीश/अध्यक्ष जिला विधिक सेवा प्राधिकरण झाबुआ श्रीमान मोहम्मद सैय्यदुल अबरार जी के मार्गदर्शन में मानव अधिकार दिवस के अवसर पर शासकीय आदर्श महाविद्यालय झाबुआ में विधिक साक्षरता शिविर का आयोजन किया गया। कार्यक्रम का शुभारंभ अपर जिला न्यायाधीश/सचिव श्री लीलाधर सोलंकी, महाविद्यालय प्राचार्य डॉ. एस.सी. जैन  एवं स्टॉफ गण के द्वारा सरस्वती मां के चित्र पर माल्यार्पण एवं दीप प्रज्जवलित कर किया गया। शिविर को संबोधित कर श्री सोलंकी जी ने उपस्थित छात्र/छात्राओं को बताया कि मानवाधिकार दिवस मनाने का मकसद लोगों को उनके अधिकारों के प्रति जागरूक करना है। मानवााधिकार में स्वास्थ्य, आर्थिक सामाजिक और शिक्षा का अधिकार भी शामिल है। मानवाधिकार वे मूलभूत अधिकार है जिनमें मनुष्य को नस्ल, जाति, राष्ट्रीयता, धर्म लिंग आदि के आधार पर प्रताड़ित नहीं किया जा सकता और उन्हें देने से वंचित नहीं किया जा सकता। उन्होंने कहा कि किसी भी इंसान की जिंदगी, आजादी, बराबरी और सम्मान का अधिकार है मानवाधिकार। भारतीय संविधान इस अधिकार की न सिर्फ गारंटी देता है बल्कि इसे तोड़ने वाले को अदालत सजा देती है। शिविर में श्री सोलंकी जी मोटरयान अधिनियम की भी विस्तार से जानकारी दी। कार्यक्रम में न्यायिक मजिस्टेªट श्री अमन सुलिया ने मौलिक अधिकार, कर्तव्य, शिक्षा का अधिकार, निःशुल्क विधिक सहायता एवं सलाह योजना, जिला विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा चलाई जा रही योजनाओं की जानकारी प्रदान की। शासकीय आदर्श महाविद्यालय झाबुआ सहायक प्राध्यापक श्रीमती ऋतु विश्वकर्मा ने अपने संबोधन में कहा कि कहा कि हर वर्ष 10 दिसम्बर को दुनिया में अंतराष्ट्रीय मानवाधिकार दिवस मनाया जाता है सबसे पहले 10 दिसम्बर-1948 में पहली बार संयुक्त राष्ट्र ने मानवाधिकारों को अपनाने की घोषणा की। उन्होेंने कहा कि इस साल मानवाधिकार दिवस-2021 की थीम है ”असमानताओं को कम करना, मानवाधिकारों को आगे बढ़ाना“। प्राचार्य डॉ. एस.सी. जैन द्वारा भी मानव अधिकार दिवस के अवसर पर अपने विचार प्रकट किये। कार्यक्रम का संचालन सहायक प्राध्यापक डॉ. दिनेश कुमार पाटीदार द्वारा किया गया एवं आभार सहायक प्राध्यापक श्रीमती प्रगति मिमरोट ने माना। कार्यक्रम में डॉ. ब्रम्ह प्रकाश, प्रो. श्री धुलसिंह खरत, श्री शंकर लाल खखाडिया, डॉ. राकेश बघेल, डॉ कपिला बाफना एवं महाविद्यालय स्टॉफ उपस्थित रहें।


जनगणना 2021 के लिए जनगणना अधिकारी के रूप में नियुक्त किया गया


झाबुआ। कलेक्टर एवं प्रमुख जिला जनगणना अधिकारी जिला झाबुआ मध्यप्रदेश के आदेशानुसार जनगणना 2021 के 2 चरणों यथा मकान सूचीकरण एवं मकानों की गणना तथा जनसंख्या की गणना हेतु निदेशक, जनगणना कार्य निदेशालय भोपाल के परिपत्र में दिए गए निर्देशों एवं नियुक्ति संबंधी अधिसूचना मध्यप्रदेश राज्य पत्र में प्रकाशित के परिपालन में जनगणना अधिनियम 1948 की धारा 4 की उपधारा 3 के अंतर्गत अनुसूची में दर्शाए अनुसार अधिकारियों को क्षेत्राधिकार के अंतर्गत जनगणना 2021 के लिए जनगणना अधिकारी के रूप में नियुक्त किया गया है। मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत झाबुआ अतिरिक्त प्रमुख जनगणना अधिकारी, उप-जिलाध्यक्ष (डिप्टी कलेक्टर) जिला जनगणना अधिकारी, जिला योजना अधिकारी, अतिरिक्त जिला जनगणना अधिकारी सम्पूर्ण जिला क्षेत्रान्तर्गत, जिला सूचना-विज्ञान अधिकारी अतिरिक्त जिला जनगणना अधिकारी तकनिकी रूप से जिला क्षेत्रान्तर्गत कार्य हेतु, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व अनुभाग झाबुआ/थांदला/पेटलावद/मेघनगर अनुविभागीय जनगणना अधिकारी अनुभाग क्षेत्रान्तर्गत, तहसीलदार झाबुआ/रानापुर/रामा/थांदला/पेटलावद/मेघनगर चार्ज जनगणना अधिकारी तहसील क्षेत्रान्तर्गत (नगरीय निकायों एवं छावनी बोर्ड के भीतर के क्षेत्र को छोड़कर), मुख्य नगरपालिका अधिकारी, नगरपालिका/नगर परिषद-झाबुआ/रानापुर/थांदला/पेटलावद/मेघनगर, चार्ज जनगणना अधिकारी, नगरीय क्षेत्रान्तर्गत (नगर/ओद्योगिक टाउनशीप की सीमा एवं ब्राहय वृद्धि क्षेत्र के अन्तर्गत)


जिला स्तरीय स्टेण्डिग कमेटी की बैठक 11 दिसम्बर को


झाबुआ। मध्य प्रदेश राज्य निर्वाचन आयोग भोपाल के निर्देशानुसार त्रि-स्तरीय पंचायतों आम निर्वाचन 2021 हेतु जिला निर्वाचन अधिकारी श्री सोमेश मिश्रा की अध्यक्षता में गठित जिला स्तरीय स्टेणिं्डग कमेटी की बैठक 11 दिसम्बर को सांय 4.45 बजे कलेक्टर कार्यालय सभाकक्ष में आयोजित की गई है। बैठक में पुलिस अधीक्षक महोदय जिला झाबुआ, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत झाबुआ, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व झाबुआ, तहसीलदार झाबुआ, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक जिला झाबुआ, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत समस्त, मान्यता प्राप्त राष्ट्रीय दल के अध्यक्ष बैठक में उपस्थित रहेंगे।


त्रि-स्तरीय पंचायत निर्वाचन 2021-22 हेतु विकासखण्ड झाबुआ/रानापुर/मेघनगर/थांदला/पेटलावद, मे मास्टर टेªनर्स द्वारा प्रशिक्षण दिया जाएगा


झाबुअ।मध्यप्रदेश राज्य निर्वाचन आयोग की अधिसूचना क्रमांक-एफ-37-पी.एन.01.2021-तीन-682 भोपाल दिनांक 4.12.2021 द्वारा त्रि-स्तरीय पंचायत निर्वाचन 2021-22 में विकासखण्ड झाबुआ/रानापुर/मेघनगर/थांदला/पेटलावद के चुनाव की घोषणा की गई है। कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी जिला झाबुआ द्वारा आदेश क्रमांक 7717/स्था.निर्वा./2021 झाबुआ, दिनांक 4.12.2021 द्वारा चुनाव कार्य में संलग्न अधिकारियों/कर्मचारियों को चुनाव संबंधी विषयों पर प्रशिक्षण देने हेतु जिला स्तरीय/विकासखण्ड स्तरीय मास्टर टेªनर्स को नियुक्त किया गया है। म.प्र.राज्य निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार मास्टर टेªनर्स द्वारा करवाया जाना है जिसमें डॉ. श्री रवीन्द्र सिंह प्राध्यापक दिनांक 10.12.2021 प्रातः 9 से 12 बजे तक प्रशिक्षण का स्थान जनपद भवन मेघनगर, श्री लोकेन्द्रसिंह चौहान व्याख्यता 10.12.2021 दोपहर 1 से 4 बजे तक जनपद भवन थांदला, श्री हरीश कुण्डल उच्च माध्यमिक शिक्षक 11.12.2021 प्रातः 11 से 2 बजे तक जपद भवन पेटलावद द्वारा प्रशिक्षण दिया जाएगा। रिटर्निंग अधिकारियों /सहायक रिटर्निंग अधिकारी उनके दलों के साथ प्रशिक्षण प्राप्त करगे तथा सेक्टर अधिकारियों का प्रशिक्षण भी दिनांक 11.12.2021 को दोपहर 2 बजे के पश्चात जनपद भवन पेटलावद में होगा।

कोई टिप्पणी नहीं: