अमेठी में मोदी-योगी पर जमकर बरसे राहुल-प्रियंका - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 18 दिसंबर 2021

अमेठी में मोदी-योगी पर जमकर बरसे राहुल-प्रियंका

rahul-priyanka-in-amethi
अमेठी 18 दिसंबर, उत्तर प्रदेश में कांग्रेस की खोयी जमीन तलाशने में जुटी कांग्रेस की महासचिव और कांग्रेसी नेता राहुल गांधी ने अपने गढ अमेठी में शनिवार को आयोजित पदयात्रा में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर तीखे प्रहार करते हुए कहा कि यह लोग झूठ का जाल फैला रहे हैं इसलिए यह सरकार बदल डालिए। यहां जगदीशपुर के रामलीला ग्राउंड से छह किलोमीटर की पदयात्रा करके हरिमऊ पहुंची कांग्रेस महासचिव ने लोगों के साथ अपने परिवार के पुराने संबंधों की दुहाई देते हुए संबोधन की शुरूआत की और कहा कि मैं 13 साल की थी, पिता के साथ आई थी जीप में बैठकर जाती थी आपसे बात करती थी। अब कुछ ही दिनों में 50 साल क़ी होने वाली हूं। आपनें भी रिश्ता निभाया और मैंने भी। अमेठी से कांग्रेस की दरकी ज़मीन पर किसी से कोई शिकवा न होने की बात कहते हुए प्रियंका ने कहा कि परिस्थितियां ही कुछ ऐसी बनी कि आपने भी सीखा और हमने भी। पिछले चुनाव में यहां एक झूठ का जाल फैलाया गया, किसने फैलाया? उन्होंनें ही जो साढ़े सात सालों से फैला रहे थे। इसके बाद मुख्यमंत्री योगी पर तंज कसते हुए कहा कि ढ़ाई सालों में क्या हुआ? सबसे पहले कोरोना की पहली लहर आई। अमेठी के लोग प्रदेश में फंसे थे, अमेठी रायबरेली के लोगों के फोन आते थे। तब लोग रोकर कहते थे घर पहुंचा दें। अमेठी की सांसद स्मृति ईरानी को भी आड़े हाथों लेते हुए सवाल किया कि उस समय कहां गयी थीं आपकी सांसद और कहां गयी थी भाजपा। प्रियंका ने कहा “ कोरोना काल में हमने लोगों की जितनी भी मदद करनी चाही इस सरकार ने बिना किसी कारण बस यूं ही ठुकरा दिया। । दूसरी लहर आई, हम ऑक्सीजन भेजने को तैयार थे ट्रक हमारा आने नहीं दिया। क्यों? किसी को मालूम ना हो कांग्रेस भेज रही। बड़ी मुश्किल से रायबरेली में हमारे सिलेंडर लिए गए। कोरोना के बाद किसान परेशान है। मैं ललितपुर गई वहां लाइन में खड़े लोग मर रहे। सरकारी दुकानों में खाद नहीं मिल रही थी प्राइवेट में खाद मिल रही थी।


उन्होंने पूछा लखीमपुर में किसान को किसने मारा? आपमें विवेक है और बहुत है। ऐसी सरकार ऐसा प्रधानमंत्री चाहिए? जो जहाज में उड़कर वाराणसी में नौटंकी करने आ सकते हैं आपको महंगाई से निजात नहीं दे सकते? आज संघर्ष कौन कर रहा। मोदी के दोस्त नही कर रहे। बड़ी बड़ी कंपनी जो कांग्रेस ने लगाई वो मोदी के बडे दोस्तों को बेचा जा रहा, बदल डालिए यह सरकार। पदयात्रा के समापन पर राहुल गांधी ने भी योगी और माेदी पर जमकर हमले किये । राहुल ने कहा “ हिंदुत्ववादी गंगा में अकेले स्नान करता है, हिंदू करोड़ो लोगों के साथ करता है स्नान। महात्मा गांधी हिंदू थे और नाथू राम गोडसे हिंदूवादी था, उसे किसी ने महात्मा नहीं कहा इसलिए कि उसने सच बोलने वाले हिंदू की छाती में तीन गोली मारी थी।राहुल के भाषण में खास बात यह रही कि उन्होंने अमेठी से सांसद स्मृति ईरानी को एक बार भी टारगेट नहीं किया, हां पूरे समय तक पीएम मोदी उनके निशाने पर रहे। उन्होंने कहा “ आजकल हिंदू की बात होती है । हिंदू क्या होता है? क्या हिंदू झूठा होता है? मैं बताता हूं, वो व्यक्ति जो सच्चाई के सामनें पूरा जीवन जीता है वो हिंदू है। जिसमें नफरत, क्रोध, हिंसा न हो वो हिंदू है। प्रधानमंत्री मोदी पर तंज कसते हुए कहा हिंदूवादी ने केवल अकेले गंगा में स्नान किया, योगी को भी हटा दिया,राजनाथ सिंह को भी फेंक दिया। महात्मा गांधी हिंदू थे जबकि गोडसे हिंदूवादी था वो कायर था इसलिए उसने एक हिंदू के सीने में तीन गोली मार दी। राहुल ने भी अमेठी के साथ अपने पारिवारिक संबंधों की दुहाई देते हुए कहा “ हमारा आपका यह रिश्ता झूठ का नहीं सच्चाई का रिश्ता है। हम पिता के साथ यहां आते थे, लेकिन पहले यहां बारिश में पानी में होकर पापा के साथ जाते थे लेकिन बाद में कांग्रेस ने यहां सड़कों का जाल बिछाया। यहां जब मैं एमपी था जबरदस्त विकास किया, पूरे हिंदुस्तान में सबसे ज्यादा नेशनल हाईवे अमेठी से निकलते हैं। एचएल ट्रिपल आईटी यह सब हमने करके दिया। पीएम यहां आए और आपसे झूठे वादे किए कि एके 203 की फैक्ट्री दिया, झूठ कह गए। आप भी जानते हैं कांग्रेस ने दिया।”

कोई टिप्पणी नहीं: