यूपी प्लस योगी, बहुत है उपयोगी : मोदी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 18 दिसंबर 2021

यूपी प्लस योगी, बहुत है उपयोगी : मोदी

up-plus-yogi-said-modi
शाहजहांपुर 18 दिसंबर, उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर में “गंगा एक्सप्रेस वे” का शिलांयास करने शनिवार को पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र दामोदरदास मोदी ने मुख्यमंत्री योगी के कुशल नेतृत्व में यूपी में जबरदस्त विकास, कानून व्यवस्था को सुधारने के प्रभावी प्रयास और जनहित में बन रही नीतियों के कुशल कार्यान्वयन के लिए हो रहे प्रभावी काम की ओर उपस्थित जनसमूह का ध्यानाकर्षित कराते हुए कहा कि यूपी प्लस योगी, बहुत है उपयोगी। यहां 36 हजार 230 करोड़ रुपये की अनुमानित लागत से बनने जा रहे सूबे से सबसे लंबे एक्सप्रेस वे , 594 किलोमीटर लंबे गंगा एक्सप्रेस वे का शिलांयास करने के बाद प्रधानमंत्री ने जनसभा को सर्वप्रथम कन्नौजी बोली में संंबोधित करते हुए वीर क्रांति की भूमि और काकोरी कांड के अमर शहीदों राम प्रसाद बिस्मिल और अशफाक उल्लाह खां के साथ साथ ठाकुर रोशन सिंह को नमन किया। मोदी ने अपने भाषण में जहां एक ओर केंद्र सरकार के सहयोग से प्रदेश की योगी सरकार के कार्यकाल में किये गये विकास और जनहित कार्यों का बखान किया तो दूसरी ओर विपक्षी दलों पर भी जमकर निशाना साधा । उन्होने कहा कि योगी जी के नेतृत्व में प्रदेश का चहुंमुखी विकास हुआ है। हमारी सरकार दिन रात गरीबों के लिए काम करती है। आजादी के बाद पहली बार गरीब का दर्द समझने वाली ,उनके लिए काम करने वाली सरकार बनी है। बुनियादी सुविधाओं को इस सरकार में इतनी प्राथमिकता दी जा रही है। प्रदेश के विकास के लिए और कानून व्यवस्था को सुधारने के लिए जो काम योगी सरकार ने किया है उसको देखकर यूपी की जनता कहा रही है “ योगी बहुत जरूरी है यूपी प्लस योगी बहुत है उपयोगी”। यह नारा देते हुए प्रधानमंत्री ने उपस्थित जनसमूह से यह नारा भी लगवाया । यह आपका प्यार और आर्शीवाद हमें दिन रात काम करने की प्रेरणा देता है। प्रधानमंत्री ने कहा “ आज शाहजहांपुर में एक ऐतिहासिक अवसर है जहां प्रदेश के सबसे बड़े गंगा एक्सप्रेस वे का काम शुरू हो रहा है। मां गंगा जिस तरह सारी उन्नति प्रगति की स्रोत है मां गंगा सारे सुख देती है और सारी पीड़ा हर लेती है। ठीक इसी तरह गंगा एक्सप्रेस वे यूपी के प्रगति के नये द्वार खोलेगा। मैं इस रास्ते से जुड़ने वाले सभी जिलों के लोगों को बधाई देता हूं । इस एक्सप्रेस वे पर 36 हजार करोड़ रूपये से अधिक खर्च किया जायेगा। यह एक्सप्रेस वे क्षेत्र में नये उद्योग, अनेक रोजगार, हजारों नौजवानों के लिए नये अवसर लायेगा। ” “ उत्तर प्रदेश आबादी के साथ क्षेत्रफल में भी उतना ही बड़ा है और इतने बड़े क्षेत्र को चलाने के लिए जिस दमखम की जरूरत है जिस दमदार काम की जरूरत है वह डबल इंजन की सरकार करके दिखा रही है। वह दिन दूर नहीं जब यूपी की पहचान नेक्स्ट जेनेरेशन इंफ्रास्ट्रक्चर वाले सबसे आधुनिक राज्य के रूप में होगी। यूपी में जो नये एक्सप्रेस वेज़ का जाल बिछ रहा है, नये एयरपोर्ट बनाये जा रहे हैं, नये रेलवे रूट बन रहे हैं। यह प्रदेश के लोगों के लिए समय की बचत, सहूलियत में बढ़ोतरी, प्रदेश के संसाधनों का सही व उत्तम उपयोग, प्रदेश के सार्मथ्य में वृद्धि और प्रदेश के चहुंमुखी समृद्धि जैसे वरदान लेकर आ रहे हैं।यह एक्सप्रेस वे न केवल पूर्वी और पश्चिमी यूपी को पास लायेगा बल्कि दिल्ली से बिहार आने जाने का समय भी कम कर देगा। ” यह एक्सप्रेस वे नौजावानों के साथ किसानों के लिए भी अनंत संभावनाओं का एक्सप्रेस वे बनेगा। प्रदेश में जो आधुनिक इंफ्रास्टक्चर तैयार किया जा रहा है वह दिखाता है कि जनता के पैसे का सही इस्तेेमाल किस तरह किया जाता है। पहले की सरकारों में आपके पैसे का कैसे कैसे इस्तेमाल होेता था यह आपको याद होगा। पहले ऐसी परियोजनाए सिर्फ़ काग़ज़ पर शुरू होती थी ताकि पिछली सरकारों को चलाने वाले लोग अपनी तिजोरी भर सकें। अब यूपी में भेदभाव नहीं होता, सबका विकास होता है। ग़रीब कल्याण के लिए पहले चिंता नहीं होती थी। प्रदेश में विकास तीव्रता के साथ आगे बढ़ रहा है। यह राजमार्ग आने वाली पीढ़ियों के जीवन में भी व्यापक परिवर्तन का कारक बनेगा और विकास की इस प्रक्रिया में सबका सहभाग सुनिश्चित करेगा।


उन्होंने कहा कि आज़ादी के बाद पहली बार ग़रीब कल्याण के काम करने वाली सरकार बनी है। हम पूरी ईमानदारी से और जीजान से प्रदेश के विकास में लगे हैं। हमारी सरकार ने यूपी में 30 लाख से अधिक लोगों को पक्के मकान बनाकर दिये हैं और अभी जिन लोगों को पीएम आवास नहीं मिले हैं उनके लिए भी तेजी से प्रयास किया जा रहा है। प्रधानमंत्री ने लोगों से पूछा कि आप के लिए जीजान से काम करने वाली सरकार को आपका आर्शीवाद मिलेगा कि नहीं। इस आर्शीवाद से हमें ताकत मिलेगी या नही , उस ताकत से हम आपकी और ज्यादा जीजान लगाकर काम करेंगे या नहीं। अकेले शहाजहांपुर में 50 हजार लोगों को पक्के मकान मिले हैं। सभी को पक्के मकान मिले इसके लिए योगी और मोदी दिन रात काम करते हैं और आगे भी करते रहेंगे। गरीबों के पक्के मकानों के लिए दो लाख करोड़ रूपयें स्वीकृत किये गये हैं। यह खजाना आपका, आपके लिए और आपके बच्चों के उज्जवल भविष्य के लिए है। हम आपके लिए ही काम करते हैं। सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव का नाम लिए बिना मोदी ने कहा कि कुछ लोगों को देश की विरासत से और विकास दोनो से दिक्कत है। इन लोगों को काशी में विश्वनाथ धाम बनने और अयोध्या में राम मंदिर बनने से दिक्कत है, गंगा के सफाई अभियान से दिक्कत है, आतंकवादियों के खिलाफ सेना के अभियान पर यह सवाल उठाते हैं, कोंराेना के खिलाफ देसी वैक्सीन को बनाने वाले वैज्ञानिकों को कटघरे में खड़ा करते हैं। सरकार जब सही नीयत से काम करती है तो क्या परिणाम आते हैं यह यूपी ने अनुभव किया है। योगी जी के नेतृत्व में सरकार बनने से पहले पश्चिमी यूपी में कानून व्यवस्था की स्थिति से आप खुद परिचित है। पहले आपके क्षेत्र में कहा जाता था “ दिया बरे तो घर लौट आओ ” यह कहा जाता था क्योकि सूरज डूबने के साथ कट्टा लहराने वाले सड़कों पर घूमते थे लेकिन अब योगी राज में वह कट्टा गया कि नहीं। पहले प्रदेश में बेटियों की सुरक्षा पर आये दिन सवाल उठते थे, व्यापारी कारोबारी जब घर से निकलता था तो परिवार को चिंता होती थी घर से बाहर काम पर जाने पर वालों को अपनी संपत्ति पर अवैध कब्जे की चिंता सताती थी। प्रदेश में कब कहां दंगा हो जाएं कहां आगजनी हो जाए कोइ नहीं कह सकता था। आप जानते हैं कि इस स्थिति के चलते कई गांवाें से पलायन की खबरें आती थी लेकिन बीते साढे चार साल में योगी सरकार ने स्थिति को सुधारने के लिए बहुत परिश्रम किया है। आज जब उस माफिया पर बुलडोजर चलता है, बुलडोजर तो अवैध बिल्डिंग पर चलता था लेकिन दर्द उसको पालने पोसने वालों को होता है। तभी आज पूरे यूपी की जनता कह रही है यूपी प्लस योगी बहुत है उपयोगी।


प्रधानमंत्री ने प्रदेश की कानून व्यवस्था की पिछली सरकारों में स्थिति का एक उदाहरण करते हुए मेरठ में सोतीगंज नाम के एक बाजार का जिक्र किया जो चोरी की गाड़ियों की कटाई का हब था। दशकों से वहां ऐसा ही चला आ रहा था। इन चोरी की गाड़ी की कटाई करने वालों पर कार्रवाई का काम योगी सरकार और स्थानीय प्रशासन ने किया है। सोतीगंज का कालाबाजारी का बाजार बंद कर दिया गया है। जिन्हे माफिया पसंद वह उसी के जयकार बालेंगे। हम उनकी जयकार करेंगे जिन्हाेंने अपने तप से देश को बनााया है। उन्होंने कहा कि देश के लिए बलिदान करने वालों को उचित सम्मान दिलाना हमारा कर्तव्य। इसी क्रम में यहां शहीद संग्रहालय बनाया जा रहा है, नयी पीढ़ी को देश के प्रति समर्पण की ऊर्जा मिलती रहेगी। आपके आर्शीवाद से प्रदेश के कोने कोने का विकसित करने का काम जारी रहेगा। इससे पहले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि कहा कि पूरे राज्य में विश्वस्तरीय सड़कों का जाल विकास की गति को शीर्ष स्तर पर ले जाएगा गंगा एक्सप्रेस वे सिर्फ़ तमाम इलाक़ों की भौतिक दूरी को कम ही नहीं करेगा बल्कि दिलों की दूरी भी मिटाएगा। राज्य सरकार ने पिछले साल 26 नवंबर को गंगा एक्सप्रेस वे परियोजना की स्वीकृति दी थी। पर्यावरण संरक्षण के लिए एक्सप्रेस वे के किनारे करीब 18,55,000 पौधे लगाए जाएंगे। साथ ही परियोजना में अधिग्रहित भूमि पर सौर ऊर्जा का उत्पादन होगा, जिससे परियोजना के संचालन के लिए आवश्यक ऊर्जा की पूर्ति होगी। गंगा एक्सप्रेस वे पश्चिमी उप्र के मेरठ, हापुड़, बुलंदशहर, अमरोहा, सम्भल, बदायूं और शाहजहांपुर जिले सहित 12 जिलों से गुजरते हुए प्रयागराज तक जाएगा। इस एक्सप्रेस वे पर आपात स्थिति में सैन्य विमानों की लैंडिंग और टेक ऑफ के लिए शाहजहांपुर जिले में एक हवाई पट्टी भी बनाई जायेगी। साथ ही लोगों की सुविधाओं के लिए नौ जनसुविधा केंद्र, सात रेलवे ओवर ब्रिज, 14 दीर्घ सेतु, 126 लघु सेतु और 381 अण्डरपास बनाये जायेंगे।

कोई टिप्पणी नहीं: