झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 02 जनवरी - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 2 जनवरी 2022

झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 02 जनवरी

पारा धमोई नलजल योजना के वर्चुअल भुमि पुजन के 12 महिने बाद भी नही हुआ कार्य आरंभ, टेन्डर मन्जुर पर ठेकेदार हुआ गायब


jhabua news
पारा । अनिल श्रीवासत्व । विगत कई वर्षो से पारा नगर वासियो कि धमोई तालाब से जल प्रदाय करने कि मांग चलरही थी। जिसको प्रदेश सरकार ने अमलिजामा पहनाते हुवे योजना का र्वचुअल भुमि पुजन करते हुवे टेन्डर कि प्रक्रिया पुर्ण कर ली हे किन्तु 1वर्ष से अधिक समय बितने के बाद उक्त योजना का कार्य धरातल पर कही दिखाई नही दे रहा हे। जानकारी के अनुसार पारा क्षेत्र वासियो को जल समस्या से छुटकारा दिलाने वाली मध्यप्रदेश शासन की धमोई से पारा नलजल योजना का ई टैन्डर मंन्जुर होगया जिसका  कार्य गुजरात के सुरत कि लक्ष्मी कन्सट्रकशन कम्पनी करेगी।  किन्तु टेन्डर मन्जुर होने के करिब 10 माह बाद भी ठेकेदार द्वारा अभीतक कार्य का आरंभ नही होपाया हे। करिब 9 करोड 14 लाख कि इस महत्वपुर्ण समुह नलजल योजना का लाभ पारा सहीत 17गाव को मिलेगा।  गत वर्ष 14 अक्टुर 2020 को इस समुह नलजल योजना का वर्चुअल भुमि पुजन प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिह चोहान द्वारा क्षेत्रिय सांसद गुमानसिह डामोर कि उपस्थिति मे किया गया था। तब इस नलजल योजना कि लागत 8 करोड 35 लाख रुपए थी व समुह मे मात्र 6 गाव पारा धमोई रातिमाली बाकी झुमका पिथनपुर शामिल थे। योजना के कार्य कि पुर्ण होने कि अवधि दो वर्ष थी। किन्तु पानी का अरक्षण नही होने से मामला धिमी गति स ेचल रहा था। इसी बिच इस धमोई तालाब कि समुह नलजल योजना मे 11 गांव चुडेली बराड सरगीया तेजारीया कलमोडा घावलिया सेमलखेडी जसोदा हिरजी जसोदा खुमजी बावडी दात्याघाटी को ओर शामिल कर लिया गया हे। जिससे उक्त योजना कि लागत अब 9 करोड 18 लाख कि होगई हे। योजना मे तालाग के समिप ही एक बडा इन्टकवेल बनाया जावेगा व वही से पानी को फिल्टर कर ने के बाद सप्लाई किया जावेगा। ज्ञात हे कि घमोई तालाब से पारा को जल प्रदाय करने के लिए नगर के सामाजिक कार्यकर्ता राकेश कटारा ने करिब चार वर्ष पुर्व भाजपा सरकार के तत्कालिन जिले के प्रभारी मंत्री से गुहार लागई थी जिस पर मन्त्री जी ने तत्काल उक्त योजना पर कार्यकरने के निर्देश जारी किए थे। इसी के चलते क्षेत्रीय सांसद गुमानसिह डामोर के भरपुर सहयोग से इस योजना पर प्रदेश सरकार ने अपनी मुहर लगाई।

ये कहना हे इनका - 

पाईप लाईन डालने का कार्य सिघ्र ही आरंभ होने वाला हे ठेकेदार को कार्य आरंभ करने के निर्देश दिए गये हे। बहुत जल्दी क्षेत्र वासीयो कि जल समस्या का हल हो जाएगा । :  एन भिण्डे  ई ई पीएचई झाबुआ

 कार्य कि लेट लतिफि को लेकर मेरे द्वारा सीएम हेल्पलाईन 181 पर शिकायत कि गई हे। जिसका शिघ्र कार्य प्रारम्भ करने का आश्वाश्सन विभाग द्वारा दिया गया हे। : राकेश कटारा सामाजिक कार्यकर्ता पारा


शहर की महाराणा प्रताप बस्ती में निकाला गया पथ संचलन । शक्तिशाली संगठन के द्वारा भारत माता को विष्व गुरु एवं परम वैभव पर स्थापित किया जा सकता है -महेष यादव


jhabua news
झाबुआ । राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ का झाबुआ की महाराणा प्रताप बस्ती के स्वयंसेवकों का पथ संचलन बस्ती सह बुनियादी शाला स्थान पर एकत्रिकरण किया गया शस्त्र पूजन के साथ पूर्ण गणवेशधारी स्वयंसेवकों ने पथ संचलन किया। जगह जगह पर लोगों ने भारत माता की जय जयकार करते हुए स्वंयसेवकों पर पुष्पवर्षा कर संचलन का स्वागत किया। शनिवार सायंकाल स्वयंसेवकों का पथ संचलन में 3-3 स्वयं सेवकों की पंक्तियों में बस्ती के विवेकानंद कालोनी , सिद्धेश्वर कॉलोनी, हाउसिंग बोर्ड कालोनी, लक्ष्मी नगर, जेल के पीछे बस्ती, दिलीप गेट से होता हुआ जैन मंदिर मेघनगर नाका पर समापन किया गया । जिसमें बौद्धिक के लिए महेश यादव प्रचारक प्रांतीय अधिकारी का मार्गदर्शन प्राप्त हुआ । उन्होंने अपने मार्गदर्शन में बस्ती सह पथ संचलन की आवश्यकता पर बल देते हुए कहा कि हिंदू समाज में प्रत्येक घर में स्वयंसेवक तक पहुंचना है और हिंदू समाज का एक मजबूत संगठन खड़ा करना है । शक्तिशाली संगठन के द्वारा भारत माता को विश्व गुरु एवं परम वैभव पर स्थापित किया जा सकता है । शक्तिशाली समाज के निर्माण से ही भव्य राम मंदिर का निर्माण हो रहा है । राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ अपने स्थापना काल से ही उसकी विविध गतिविधि द्वारा स्वदेशी जागरण पर्यावरण क्षेत्र में और सामाजिक समरसता क्षेत्र में काम कर रहा है । झाबुआ नगर को 4 बस्तियों में विभाजित किया गया है । पहली वीर शिवाजी बस्ती, दूसरी चंद्रशेखर आजाद बस्ती, तीसरी महावीर बस्ती एवं चौथी महाराणा प्रताप बस्ती संघ ने अभी तक दो बस्तियों शिवाजी बस्ती एवं महाराणा प्रताप बस्ती में पंथ संचालन निकाला जाचुकी हे वही आगामी 4 जनवरी को महावीर बस्ती एवं 5 जनवरी को चन्द्रशेखर आजाद बस्ती में पथ संचालन का आयोजन होगा । इस तरह नगर  सभी बस्तियों में पथ संचलन निकाले जा रहे हैं । सभी स्वयंसेवकों को लिये कोरोना गाइडलाइन का पालन करते हुए मास्क भी पहनना और कोरोना गाइड लाइन का भी पालन करना अनिवार्य किया गया है । सभी स्वयंसेवक दंड लेकर पूर्ण गणवेश में पथं सचलन में सहभागी हो रहे है ।


कचरा वाहन से नगर का कचरा ट्रेचिंग ग्राउंड पर फैंकने को लेकर हुआ विवाद - नगर परिषद के वाहन के कांच फोड़े


jhabua news
थांदला। नगर परिषद के द्वारा नगर का कचरा थांदला से करीब 3 किमी दूर पेटलावद रोड़ पर फेंका जा रहा था, लेकिन उसके पास केंद्रीय नवोदय विद्यालय बन जाने से लम्बे समय से ट्रेचिंग ग्राउंड विवाद में आकर चर्चा का विषय भी बना। स्वच्छता सर्वेक्षण में जिलें की नम्बर वन नगर परिषद थांदला के पास कचरा डंप करने की कोई सुविधा नही होने से नगर का कचरा डालने पर विवाद होना स्वाभाविक है। हाल ही में जिला कलेक्टर सोमेश मिश्रा ने इस पर कार्यवाही करते हुए ट्रेचिंग ग्राउंड का नया सर्वे करवाते हुए मेघनगर तहसील के व थांदला के निकट ग्राम तलावली के समीप शासकीय भूमि ट्रेचिंग ग्राउंड के रूप में आबंटित की। उक्त भूमि पर नगर परिषद के कचरा वाहन पर करीब 8 वर्षों से कार्यरत कर्मचारी लक्ष्मण वरसिंह डामोर निवासी चौनपुरी, विरेन्द्र पिता विजिया कटारा निवासी तलावली तथा नानुराम पिता पारसिंह भूरिया निवासी नागनवा बडी अपने सहयोगियों के साथ नवीन ट्रेचिंग ग्राउंड पर कचरा डालने गए थे जहाँ इस ट्रेचिंग ग्राउंड से गाँव में उत्पन्न बीमारियों के अंदेशे के कारण इसका विरोध कर रहे तलावली के कलसिंह भूरिया, गणपत कटारा, धर्मेन्द्र ठाकुर, अनिल पंचाल, निकट सुरजी मोगजी के उत्तम नायक, मुकेश नायक व भूरू नायक आदि सात लोगों ने विवाद करते हुए अभद्रता कर मारपीट की वही कचरा वाहन के काँच तक तोड़ दिए। वही वाहन कर्मियों को कचरा डालने पर जान से मारने तक की धमकी दे डाली।  सभी कचरा वाहन कर्मियों ने उक्त घटना नगर परिषद सीएमओ बी एस टांक, एवं स्वच्छता निरीक्षक गौरांक सिंह राठौर को बताते हुए थांदला पुलिस थाने पर एफआईआर दर्ज करवाई। उल्लेखनीय है कि नगर से करीब 2 से 2.5 टन कचरा, कचरा वाहन द्वारा ट्रेचिंग ग्राउंड पर डाला जाता है जिसकी रिसाइक्लिंग प्रक्रिया नही होने से उक्त कचरे की दुर्गंध के साथ विभिन्न बीमारियां फैलने का खतरा ट्रेचिंग ग्राउंड के आसपास बना रहता है यही वजह है कि पेटलावद रोड़ से इसे तलावली के निकट परिवर्तित किया गया लेकिन यदि इस वेस्ट कचरे को समाप्त करने की प्रक्रिया को नगर परिषद नही अपनाता है तो निश्चित आने वाले दिनों में तलावली व आसपास के अन्य जागरूक युवा भी इसे आंदोलन बनाकर सरकार के समक्ष चुनोती प्रस्तुत कर सकते है। इसलिए जिला प्रशासन के साथ स्थानीय नगर परिषद व प्रशासन को कचरा डंप करने का प्रावधान अपनाने पर विचार करना चाहिए। फिलहाल दोपहर तक अनेक स्थानों पर नगर की कचरा वाहन के नही आने पर नगर में अनेक स्थानों पर बाहर कचरें के ढेर लग गए थे जो पड़ोसियों में विवाद के कारण बन सकते है।


जिम्मेदार बोलें - 

ट्रेचिंग ग्राउंड के लिये आबंटित शासकीय भूमि से गाँव बहुत दूर है वही आसपास कोई रिहायशी बस्ती भी नही है फिर ट्रेचिंग ग्राउंड पर ट्रीटमेंट प्लांट लगाए जाने की कार्यवाही जारी है इसलिए यह स्थान उपर्युक्त है ग्रामीणों का आक्रोश गैर वाजिब है। : अनिल भाना (एसडीएम - थांदला)

कचरा वाहन से कचरा जिला प्रशासन द्वारा आबंटित भूमि पर ही फैंका जा रहा है जो नियम अनुसार है इसलिए जिन्होंने उपद्रव मचाया है उनके खिलाफ कार्यवाही होना चाहिए क्योंकि नगर का कचरा फेंकने के लिए भी एक स्थान जरूरी होता है। : बी एस टांक ( सीएमओ - थांदला)

नगर के कर्मचारियों से विवाद करना या उनके साथ मारपीट करना शासकीय कार्य में बाधा पहुँचाने के साथ निम्न स्तर की हरकत है इसलिए अधिकारी को चाहिये की वह अपने अधीनस्थ सभी कर्मचारियों की सुरक्षा का भी ध्यान रखे इसलिए हमने वरिष्ठ के मार्गदर्शन में थांदला पुलिस थाने पर जाकर रिपोर्ट दर्ज करवाते हुए उपद्रवियों को दंड दिलाने की कार्यवाही की है। : गौरांकसिंह राठौर (स्वच्छता निरीक्षक - थांदला)


नशे में बिता 21 अनेक आशाओं के साथ 22 में परिवर्तन की आस, थांदला के दो युवा दुर्घटना में घायल - जीवन के लिए संघर्ष जारी


jhabua news

थांदला । अंग्रेजी कैलेंडर हो या संस्कृति भारतीय सभ्यता पर जब भारी पड़ जाए तो विनाश सामने दिख जाता है। 31 दिसम्बर ओर 1 जनवरी पर जिलें में अनेक घटना दुर्घटनाओं ने स्तब्ध कर दिया। सुरक्षा का जिम्मा जिसके कंधों पर हो वह भी झूमता दिखाई दिया तो सबको जगाने वाला भी सर्द रातों में मदहोशी के आंगन में अठखेलिया करता नजर आया। कुछ जिम्मेदार तो कौन उलझे पियक्कड़ नशेड़ियों से का राग अलाप कर शीत लहर में आराम करते रहे तो कुछ गर्म जोशी से नए साल का स्वागत करने को भी आतुर दिखे। वजह थी बहुत हुआ कोरोना अब तो नया वर्ष नई उम्मीद नई आशा नए सपनो को लेकर आये बस यही चाह यही दुआ। वर्ष परिवर्तन पर हर किसी को कुछ न कुछ नयापन भी चाहिये परन्तु वह होता है स्वयं में बदलाव लाने से पर यह बात वह भूल जाता है। खैर! नशे में भी बीता हो 21 पर 22 से सबको बहुत अपेक्षा है।


थांदला के दो युवा दुर्घटना का शिकार

थांदला के दो युवा विशाल वाघेला व अभिषेक पंचाल अपाचे बाइक से पेटलावद रोड़ पेट्रोल पंप के निकट खड़े ट्रक से टकरा गए। दुर्घटना में वे बुरी तरह घायल हो गए डॉ दुबे ने प्राथमिक उपचार कर उन्हें बाहर रेफर कर दिया। खबर लिखे जाने तक दोनों की हालत स्थिर बनी हुई है व दोनों के ऑपरेशन चल रहे है। आओ हम सब मिलकर उनके शीघ्र आरोग्यता की दुआ करें व सबक ले कि हम तेज गति से चलाने की अपेक्षा वाहन को धीमी व नियंत्रण कर सके इतनी ही गति से चलाएंगे। स्वस्थ्य रहे सुरक्षीत रहे व नए साल में अपने व अपनों के लिए व अपनों के साथ जीने का प्रयास करें।


जीवन में अपने मन केे भावो को हमेशा रखे शुद्ध और पवित्र, राग-द्वेष का त्याग कर मधुरता लाए -ः अभा तेयुप सचिव वैभव कोठारी

  • तेयुप झाबुआ ने अभिनव सामायिक फेस्टिवल का आयोजन किया, एक साथ एक समय एक सामायिक कर विश्व मैत्री का दिया अनूठा संदेश

jhabua news
झाबुआ। अखिल भारतीय तेरापंथ युवक परिषद् के आव्हान पर तेरापंथ युवक परिषद् शाखा झाबुआ ने 2 जनवरी, रविवार को स्थानीय तेरापंथ सभा भवन पर अभिनव सामायिक फेस्टिवल का आयोजन किया। जिसका उद्देश्य एक समय, एक साथ, एक सामायिक,  एक संदेश अर्थातविश्व मैत्री रहा। जानकारी देते हुए तेरापंथ युवक परिषद झाबुआ अध्यक्ष प्रमोद कोठारी ने बताया कि अखिल भारतीय तेरापंथ युवक परिषद द्वारा प्रतिवर्ष पूरे विश्वभर में नववर्ष के उपलक्ष्य में नव वर्ष के प्रथम रविवार को अभिनव सामायिक फेस्टिवल का आयोजन किया जाता है। जिसका समय भी सुबह 9 से 10 बजे निश्चित है तथा 50 मिनट की सामायिक को जाप, ध्यान, गीतिका आदि को क्रमबद्ध तरीके से विभाजित किया गया है। देशभर में संपूर्ण तेयुप परिषदों को इसी निश्चित क्रमबद्ध तरीके में इस सामायिक फेस्टिवल का आयोजन करना है। इसी कड़ी मे तेरापंथ युवक परिषद झाबुआ ने भी अभिनव सामायिक फेस्टिवल का आयोजन स्थानीय लक्ष्मीबाई मार्ग स्थित तेरापंथ सभा भवन पर किया।


ध्यान का प्रयोग किया गया

शहर में तेयुप झाबुआ के सचिव वैभव कोठारी के नेतृत्व में इसका आयोजन हुआ। सर्वप्रथम तेयुप सचिव श्री कोठारी ने उपस्थित समाज के सभी जनों के साथ सामूहिक रूप से सामायिक के पच्चखाण किए। बाद उपस्थित तेरापंथ समाज के सदस्यों ने श्री नमस्कार महामंत्र के विभिन्न ध्यान केंद्रों पर निर्धारित रंग अनुसार अ सि आ उ सा .... के उच्चारण के साथ जाप किया । अगली कड़ी में श्री कोठारी ने ध्यान का प्रयोग कराया, जिसमें गहरी लंबी सांस लेना और छोड़ना बताया। सांस लेते समय पेट फूलना चाहिए और छोड़ते समय सिकुड़ना चाहिए। अगली कड़ी में परमेष्ठी वंदना का संगान किया गयाउसके बाद गीतिका ‘‘चौत्य पुरुष जग जाए’’ का सामूहिक रूप से संगान किया गया। तत्पश्चात श्री नमस्कार महामंत्रजी का जाप किया गया।


जीवन में अपने भावों को रखे शुद्ध

श्री कोठारी ने यह भी बताया कि जीवन में अपने भावों को शुद्ध रखना चाहिए, जिससे कर्मों की निर्जरा हो सके। जिस प्रकार गन्ने में गांठ पड़ जाती है तो उसकी मधुरता का हम सेवन नहीं कर सकते हैं। उसी प्रकार जीवन में भी यदि राग द्वेष की गांठ आ जाती है, तो जीवन की मधुरता का रस हम नहीं ले सकते है। सचिव श्री कोठारी ने सभी से राग द्वेष को छोड़ने की अपील की।


विष्व मैत्री का अनूठा संदेश दिया

अंत में सामूहिक रूप से उपस्थित समाज के सभीजनों ने सामायिक आलोचना पाठ का उच्चारण किया। इस प्रकार संपूर्ण तेरापंथ समाज ने एक समय, एक साथ, एक सामायिक, एक संदेश को चरितार्थ करते हुए विश्व मैत्री का संदेश दिया। अंत में सभी ने सामूहिक रूप से अपनी धारणा अनुसार विभिन्न खाद्य पदार्थों के त्याग किए। उक्त आयोजन में तेरापंथ सभा, महिला मंडल, किशोर मंडल ,कन्या मंडल आदि की भी सहभागिता रहीं।


जैन सोशल ग्रुप ‘मेन’ ने कल्लीपुरा स्थित फार्म हाऊस पर नए वर्ष के उपलक्ष में पंजाबी थीम पर किया रंगारंग कार्यक्रम, शानदार एवं आकर्षक प्रस्तुतियांे के आधार पर विभिन्न पुरस्कार प्रदान किए गए, भोपाल से आई नृत्य टीम ने बांधा समां


jhabua news
झाबुआ। शहर के समीपस्थ ग्राम कल्लीपुरा स्थित फार्म हाउस पर जैन सोशल ग्रुप ‘मैन’ झाबुआ के पदाधिकारी एवं सदस्यों के लिए पंजाबी थीम पर कार्यक्रम का आयोजन नए वर्ष के उपलक्ष में किया गया। जिसमें सभी ने कपल के साथ सहभागिता कर आकर्षक पंजाबी परिधान में साफा, पगड़ी पहन कर बहुत ही आकर्षक एवं एकरूपता में नजर आए। उक्त कार्यक्रम में भोपाल से विशेष रूप से पंजाबी गायक एवं नृत्य टीम द्वारा रंगारंग प्रस्तुति दी गई। इस दौरान जेएसजी के सदस्यों के बीच विभिन्न गेम्स का भी आयोजन किया गया। सभी सदस्यों ने सामूहिक एवं एकल नृत्य कर कार्यक्रम का आनंद लेते हुए आयोजन को गरिमामय रूप से से सफल बनाया। जानकारी देते हुए जैन सोशल ग्रुप झाबुआ की अध्यक्ष सुनीता भूपेंद्र बाबेल ने बताया कि इस अवसर पर विभिन्न गेम्स में जूनियर वर्ग में ‘‘सिंह इज किंग’’ के लिए मोक्ष बाबेल, एलिगेंट क्वीन के लिए पदमा रुनवाल, आउटस्टैंडिंग बॉय के लिए सुहर्ष, बबली गर्ल के लिए वर्षा को पुरस्कार प्रदान किया गया। इसी प्रकार सीनियर वर्ग में पटोला सिंगल फीमेल के लिए अंजू भंडारी, पिंड दा शेर सिंगल मेल के लिए उमेश मेहता, सोनी कुड़ी सिंगल फैमिली ड्रेस अप के लिए अनीता कोठारी, सोना मुंडा में सिंगल मेल ड्रेस अप डांस के लिए मनोज बाबेल , हीर रांझा बेस्ट कपल के लिए अशोक-कल्पना सकलेचा मिस्टर एंड मिसेस बेस्ट कपल डांस प्रदीप-कीर्ति मोगरा, पावर पैक परफार्मर के लिए मनोज दीपमाला कटकानी को विजेता घोषित कर आकर्षक उपहार भेंट किए। समस्त पुरस्कार के प्रयोजक मनोज मीनल बाबेल रहे। जिनके द्वारा सभी को गिफ्ट वितरित किए गए।


इनकी रहीं मुख्य रूप से सहभागिता

उक्त आयोजन में जेएसजी के वरिष्ठजनों में प्रवीण रुनवाल, कैलाशचन्द्र श्रीमाल, पंकज जैन ‘मोगरा’,  अभय रुनवाल, दिपेश बबलू सकलेचा., प्रदीप संघवी आदि भी सहभागिता करते हुए उक्त पंजाबी थीम पर आयोजित प्रोग्राम की सराहना की। हाऊजी गिफ्ट के प्रयोजक रुचि मुकेश जैन, अंजु प्रमोद भंडारी, किरण प्रदीप भंडारी, ज्योति प्रकाश रांका रहे। फूल थीम रेस के विजेता सरोज देवेंद्र सेठिया रहे। कार्यक्रम का पंजाबी थीम में संचालन हंसा कोठारी एवं सुहानी बाबेल ने किया। अंत में जेएसजी ‘मैन’ झाबुआ के सचिव अमित जैन ने सभी का आभार व्यक्त किया।


झाबुआ शहर में तेजी से बढ़ रहीं दो पहिया वाहन चोरी की घटनाएं, शहर में एक महीने के अंतराल में अलग-अलग स्थानों पर 8-10 मोटरसाईकिले चोरी हुई,

  • चोर चुस्त-पुलिस सुस्त, लगातार बढ़ रहीं घटनाओं को लेकर शहरवासियों में तीव्र आक्रोश

jhabua news
झाबुआ। शहर में विगत एक माह में दो पहिया वाहन चोरी की 8-10 घटनाएं हो चुकी है। हॉल ही में शहर के बाबेल चौराहे से लगे बोहरा बाजार में मध्य रात एक प्लसर चोरी कर तीन युवक फरार हो गए। जो सीसीटीव्ही फुटेज में कैद होने के बाद भी पुलिस इनके गैंग को नहीं पकड़ पा रहीं है। लगातार बाईक चोरी की घटनाओं के चलते शहरवासियों में तीव्र आक्रोश है। वहीं बढ़ रहीं घटनाओं से पुलिस की सुरक्षा व्यवस्था भी संदेह के घेरे में आ रहीं है। शहर में बाईक चोर गिरोह लगातार सक्रिय होकर चोरी की घटनाओं को अंजाम दे रहा है। बीते दिनों में हुई घटनाओं पर प्रकाश डाले तो शहर के मालीसेरी गली, हाऊसिंग बोर्ड कॉलोनी, सुभाष मार्ग के बाद ताजा घटनाक्रम शहर के बाबेल चौराहे से लगे बोहरा बाजार में हुआ है। जहां विगत 30 एवं 31 दिसंबर की मध्य रात्रि अज्ञात तीन युवकांे ने मो. अबुजर बोहरा की बजाज प्लसर क्रमांक एमपी-45, एमएल-5860, जो उनके घर एवं दुकान के बाहर खड़ी थी, चोर चुराकर ले गए। चोरो ने बड़े ही शातिराना अंदाज में बाईक का हैंडल लॉक तोड़ा और फिर उसे चलाकर ले गए। बाईक की कीमत करीब 1 लाख रू. थी। इससे पूर्व बोहरा बोहरा में ही आगे जाने पर चौराहे पर एक अन्य बजाज प्लसर एमपी-45, एमजे-3360, अब्दुल रशीद की भी चोरी हुई। उसमें भी आरोपियों ने गाड़ी का हैंडल लॉक तोड़कर चोरी की वारदात को अंजाम दिया। यह घटना विगत 17 दिसंबर की हुई। जिसमें पुलिस थाना झाबुआ पर अब तक फरियादी की एफआईआर दर्ज नहीं की गई है। बाद फरियादी अब्दुल रशीद ने इसकी कंपलेन 181 पर भी की है। उक्त कंपलन किए 10-12 दिन होने के बाद भी कोई रिप्लाय नहीं आया है। मिली जानकारी के अनुसार इससे पूर्व मालीसेरी गली में मनोज शाह नामक व्यक्ति का भी प्लसर वाहन चोरी हुई। चोरो को प्लसर वाहन के लॉक तोड़ने का सिस्टम पता होने से वह लगातार एक ही कंपनी के दो पहिया वाहन को निशाना बना रहे है।


पुलिस की सुरक्षा व्यवस्था पर सवालिया निशान

शहर में लगातार बाईक चोरो की घटनाओं मंे पुलिस की सुरक्षा व्यवस्था पर प्रश्न चिन्ह लग रहे है। हॉल ही विगत 30 एवं 31 दिसंबर की मध्य रात्रि श्री बोहरा का जो प्लसर वाहन चोरी हुआ। उससे सटा हुआ ही बाबेल चौराहा होने से यह पुलिस का रात्रि में पाईंट होने के बाद यहां रातभर गश्त होने के बावजूद पुलिस को चकमा देकर बाईक चोरी होना, रात्रि में तैनात पुलिसकर्मियों की घोर लापरवाही को उजागर करता है। वर्तमान में शहर में जगह-जगह प्रमुख स्थानों और तिराहोै-चौराहों पर पुलिस विभाग द्वारा जो कैमरे लगे हुए है। उनकी समय पर रिपेयरिंग एवं रखरखाव के अभाव में अधिकांशतः धूल खा रहे है, जबकि इन सीसीटीव्ही कैमरों को इसलिए लगाया गया था, ताकि इनके सहारे अपराधियों तक तत्काल पहुंचने में पुलिस को आसानी हो सके और आपराधिक घटनाओं में कमी लाई जा सके।


जिम्मेदारों का कहना

- पुलिस द्वारा लगातार ऐसे चोर गिरोह का पता लगाने का प्रयास किया जा रहा है, जो शहर में दो पहिया वाहन चोरी कर रहे है। : सुरेन्द्रसिंह गाडरिया, थाना प्रभारी, पुलिस थाना झाबुआ।

- मैं इस संबंध में थाना प्रभारी को जांच कर सख्ती से कार्रवाई हेतु निर्देशित करता हूॅ। : आशुतोष गुप्ता, पुलिस अधीक्षक झाबुआ।

- झाबुआ के बीच बाजार में चोरी की घटनाएं लगातार हो रहीं है। इससे पुलिस की निष्क्रीयता उजागर हो रहीं है। बाबेल चौराहे पर पुलिस पाईंट होने के बाद भी बाईक चोरी होना आश्चर्य का विषय है। : मो. अबुजर बोहरा, रहवासी, बोहरा बाजार झाबुआ।

कोई टिप्पणी नहीं: