दरभंगा : एमएल एकेडमी का चयन जिले के मॉडल स्कूल के रूप में - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 2 जनवरी 2022

दरभंगा : एमएल एकेडमी का चयन जिले के मॉडल स्कूल के रूप में

ml-academy-model-school
दरभंगा। शहर के लहेरियासराय में अवस्थित एमएल एकेडमी का चयन जिले के मॉडल स्कूल के रूप में किया गया है। मॉडल स्कूल के लिए जिले से एकमात्र इस स्कूल का चयन किया गया है। इसके साथ ही परिसर में नए भवन का निर्माण शुरू हो गया है। बिहार आधारभूत संरचना निगम की ओर से इसका निर्माण कराया जा रहा है। सूत्रों के अनुसार इस विद्यालय के मॉडल स्कूल के रूप में चयनित होने में राज्य के पूर्व मुख्य सचिव दीपक कुमार का महत्वपूर्ण योगदान है। बिहार आधारभूत संरचना निगम के सहायक अभियंता मुकेश कुमार सिंह से मिली जानकारी के अनुसार तीनमंजिला इस भवन में तीनों मंजिलों को मिलाकर 31 वर्ग कक्ष का निर्माण किया गया है। अलग-अलग बायोलॉजी एवं केमिस्ट्री के लिए प्रयोगशाला का भी निर्माण हुआ है। ग्राउंड फ्लोर में सात कक्षाओं के लिए सात कमरे, दो प्रयोगशाला व दोनों ओर से दो सीढ़ियां बनायी गयी हैं। पहली मंजिल में विभिन्न कक्षाओं के लिए आठ कमरे, एक बायोलॉजी तथा दो केमिस्ट्री प्रयोगशाला व एक लाउंज बन रहा है। दूसरी मंजिल पर कुल नौ कमरे तथा एक पुस्तकालय का निर्माण हुआ है। तीसरी मंजिल पर सात कमरे, एक योगा कक्ष, एक नृत्य कक्ष तथा एक बहुद्देशीय हॉल बनाया गया है। इसमें विभिन्न तरह के कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। सभी मंजिलों पर छात्र-छात्राओं के लिए अलग-अलग आधुनिक शौचालय की व्यवस्था की गई है। सहायक अभियंता श्री सिंह ने बताया कि बहुत ही गुणवत्तापूर्ण ढंग से आधारभूत संरचना निगम की ओर से इस भवन का निर्माण किया जा रहा है, ताकि भविष्य में यहां के छात्र-छात्राओं को किसी तरह की कठिनाई महसूस नहीं हो। बता दें कि गत वर्ष एमएल एकेडमी परिसर में पूर्ववर्ती छात्र मिलन समारोह हुआ था। उसमें प्रदेश के तत्कालीन मुख्य सचिव दीपक कुमार, आर.पी.एफ डीजी अरुण कुमार,गुजरात के डीजीपी मोहन झा एवं अन्य महत्वपूर्ण उपलब्धियां हासिल कर चुके छात्र शामिल हुए थे। उसी दौरान इस विद्यालय को विकसित करने की बात उठी थी। सभी पूर्ववर्ती छात्रों ने स्कूल के विकास के लिए योगदान देने की बात कही थी।

कोई टिप्पणी नहीं: