सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 06 जनवरी - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 6 जनवरी 2022

सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 06 जनवरी

यह प्रधानमंत्री की सुरक्षा में चूक नहीं,कांग्रेस नेतृत्व के इशारे पर प्रधानमंत्री के खिलाफ रचा षडयंत्र है-रवि मालवीय


सीहोर । पंजाब के हुसैनीवाला में प्रधानमंत्री जी के रास्ते में प्रदर्शनकारियों का आ जाना कोई सुरक्षा में हुई मामूली चूक नहीं है, बल्कि यह कांग्रेस नेतृत्व के इशारे पर देश और दुनिया के सबसे लोकप्रिय नेता प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ पंजाब सरकार द्वारा रचा गया सुनियोजित षडयंत्र है। इस घटना से साबित हो गया है कि पंजाब की कांग्रेस सरकार देश के संवैधानिक संघीय ढांचे और सुरक्षा के लिए खतरा बन गई है। इसलिए पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीतसिंह चन्नी को देश की जनता से माफी मांगते हुए तत्काल अपने पद से इस्तीफा दे देना चाहिए। यह बात भारतीय जनता पार्टी सीहोर जिले के अध्यक्ष श्री रवि मालवीय ने पंजाब यात्रा के दौरान प्रधानमंत्री जी के रास्ते को अनुचित रूप से रोके जाने पर आक्रोश व्यक्त करते हुए कही।  जिला भाजपा अध्यक्ष श्री रवि मालवीय ने कहा कि प्रधानमंत्री के दौरे की विधिवत जानकारी पंजाब सरकार को दी गई थी। मौसम खराब होने के कारण प्रधानमंत्री जी के सड़क मार्ग से यात्रा करने का निर्णय भी पंजाब के डीजीपी की स्वीकृति और सहमति के बाद लिया गया था। इसके बावजूद प्रधानमंत्री के काफिले को रोका जाना पंजाब सरकार की सहमति के बिना संभव नहीं है। श्री मालवीय ने कहा कि देश के संविधान और संवैधानिक संस्थाओं को चोट पहुंचाना कांग्रेस की पुरानी आदत रही है और आज पंजाब की सरकार ने जो किया है, वह देश के संवैधानिक संघीय ढांचे पर गंभीर प्रहार है। श्री मालवीय ने कहा कि पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदरसिंह ने नवजोतसिंह सिद्धू को देश की सुरक्षा के लिए खतरा बताया था, लेकिन अब तो पंजाब की सरकार ही देश की सुरक्षा और संघीय ढांचे के लिए खतरा बन गई है। ऐसी स्थिति में पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीतसिंह चन्नी को एक क्षण भी पद पर बने रहने का अधिकार नहीं है, उन्हें तत्काल इस्तीफा दे देना चाहिए।  श्री मालवीय ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री मोदी की सरकार द्वारा पंजाब में हजारों करोड़ रुपयों की विकास योजनाएं चलाई जा रही हैं। प्रधानमंत्री श्री मोदी की यात्रा के दौरान भी ऐसी ही अनेक परियोजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास किया जाना था,जो पंजाब में खुशहाली और विकास का रास्ता प्रशस्त करतीं। लेकिन कांग्रेस के नेतृत्व और पंजाब सरकार को केंद्र सरकार द्वारा किए जा रहे इन विकास कार्यों से अपनी जमीन डोलती हुई नजर आ रही है। इन विकास कार्यों से कांग्रेस बुरी तरह घबरा गई है। इसीलिए प्रधानमंत्री की यात्रा में बाधा पहुंचाने का षडयंत्र कांग्रेस नेतृत्व के इशारे पर रचा गया। श्री मालवीय ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी की केंद्र सरकार पंजाब के विकास के लिए संकल्पित है और एक राजनीतिक दल या उसकी प्रदेश सरकार के न चाहने से पंजाब के विकास की यह यात्रा रुकेगी नहीं।


विद्युत वितरण कंपनी की मनमानी खिलाफ एसडीएम को सौंपा ज्ञापन


sehore news
सीहोर। इन दिनों ग्रामीण क्षेत्रों में विद्युत वितरण कंपनी की मनमानी के कारण क्षेत्र के ग्रामीण परेशान है। इसकों लेकर जनहित मोर्चा के दोराहा ब्लाक के उपाध्यक्ष खुमान सिंह के नेतृत्व में एक ज्ञापन एसडीएम को भेजा गया है। जिसमें शिकायत की गई है कि आगामी दिनों में विद्युत कंपनी की कार्यशैली में सुधार नहीं हुआ तो जनआंदोलन किया जाएगा। दोराहा ब्लाक के उपाध्यक्ष खुमान सिंह ने इस संबंध में बताया कि क्षेत्र के ग्राम बाजार बरखेड़ा में घनश्याम धौलपुरे के घर पर विद्युत कंपनी के ठेकेदार ने डीपी लगवा दी है। जिसके कारण करंट की चपेट में आने से भैंस मृत हो गई। इस संबंध में चार साल पहले डीपी लगाए जाने का विरोध भी किया गया था, लेकिन इस ओर ध्यान नहीं दिया गया और मनमानी पूर्ण तरीके से डीपी लगा दी गई है। जिसके कारण क्षेत्र का धौलपुरे परिवार दहशत में रहता है। डीपी हमेशा आवासीय क्षेत्र से दूर लगाई जाती है, लेकिन कंपनी के ठेकेदार ने तानाशाही पूर्वक तरीके से उनके घर के पास डीपी लगवा दी है। इसके अलावा दोराहा, अहमदपुर, श्यामपुर सहित अन्य ग्रामीण क्षेत्रों में मकानों के ऊपर से गुजर रही उच्च क्षमता की बिजली लाइन से खतरा हो रहा है। ग्रामीणों ने संबंधित विभाग के उच्चाधिकारियों व जनप्रतिनिधियों तक लाइन को हटवाने की मांग की, लेकिन जनप्रतिनिधि व अधिकारी बदलते रहे और समस्या जस की तस रह गई। इस लाइन के कई बार 11 केवी तार टूटकर छतों पर गिर गए है। इसके बाद भी ध्यान नहीं दिया जा रहा है। उन्होंने बताया कि श्यामपुर के गांव मुख्तयार नगर में खेत पर रखी नई डीपी की लाइन जोड़ते समय अचानक बिजली आने से हेल्पर की मौत हो गई। यह पहला मामला नहीं है जब इस तरह से हेल्पर की मौत हुई है। पूर्व भी इसी तरह की लापरवाही से बरखेड़ी दोराहा में भी एक हेल्पर की मौत हो गई। बिजली कंपनी की लापरवाही से आक्रोशित लोगों ने घटनास्थल को घेर लिया। इसके बाद भी इस ओर ध्यान नहीं दिया जा रहा है। 


कन्हैया माखन खाएं और घंटी नहीं बजे यह हो नहीं सकता, कथा में भगवान की बाल लीलाएं सुन हर्षित हुए श्रद्धालुजन


सीहोर। यशोधा के घर दूध दही माखन की कमी नहीं है। नटघट कन्हैया माखन चोरी की लीला करते है। गोपालों की मंडली बना लेते है। माखन को बचाने के लिए गोपियां अनेक जतन करती है। एक गोपी माखन मटकी के पास हीं घंटी बांध देती है जिस से की कन्हैया की टोली को रंगे हाथ पकड़ लिया जाए भगवान घंटी को आदेश देते है की बजना नहीं, कन्हैया सभी गोपालों को माखन खिला देते है घंटी बजती नहीें है लेकिन जैसी भगवान माखन मुंह में रखते है घंटी बजने लगती है भगवान कहते है की घंटी मेने तुमसे  मना किया था की बजना नहीं लेकिन तुमने आदेश का पालन नहीं किया। घंटी रूपी गोपी ने कहा जग का पालनहार कन्हैया प्रभू भोग लगाए और में ना बजू यह नहीं हो सकता है। भोपाल नाका स्थित कॉलोनी मेंं महिला मंडल के द्वारा आयोजित श्रीमद भागवत कथा में गुरूवार को पंडित मनोज कुष्ण आचार्य ने श्रद्धालुओं को श्रीकृष्ण लाला, श्री गोवर्धन पूजा, की कथाएं सुनाई। उन्होने कहा की गांव का दूध दही माखन कंस के महल जाता था। नटघट कन्हैया गांव गाय और गोपी गोपालों के प्रिय थे कन्हैया कंस मामा के इस आदेश से क्रोधित थे इस लिए माखन चोरी करने और कंस के महल तक दूध दही माखन नहीं जाए लीला रचते थे।÷ 


महाविद्याल में किया गया जिला स्तरीय युवा उत्सव का आयोजन


sehore news
सीहोर। शहर के सम्राट अशोक कॉलेज ऑफ प्रोफेशनल स्टडीज में जिला स्तरीय युवा उत्सव कार्यक्रम का आयोजन किया गया, जिसमें क्ले माडलिंग (मूर्तिकला) एवं स्पॉट पैंटिंग (स्थल चित्रण) की प्रतियोगिता सम्पन्न हुई। जिसमें सीहोर जिले के विभिन्न कॉलेजों से आये विद्यार्थियों नें भाग लिया तथा आकर्षक मूर्तियों एवं पैंटिंगों के द्वारा अपनी कला का प्रदर्शन किया। प्रतियोगिता में क्ले माडलिंग में जजों द्वारा कार्तिक सिंह सिसोदिया को प्रथम, जितेन्द्र सोनी द्वितीय एवं रानू साहू को तृतीय स्थान प्रदान किया गया। स्थल चित्रण में जजों की सर्वसम्मति से सृष्टि सिंह को प्रथम, अंशिका पांचाल को द्वितीय एवं महिमा पांडे को तृतीय स्थान प्रदान किया गया। प्रतियोगिता के समापन पर सम्राट अशोक कॉलेज के संचालक हिमांशु राय द्वारा जजों की समिति को स्मृति चिन्ह प्रदान कर उनका स्वागत किया एवं सफल छात्रों को बधाई देते हुए उनके उज्जवल भविष्य की कामना की। अंत में युवा उत्सव की प्रभारी शकुंतला मालवीय द्वारा सभी छात्रों को उनकी सफलता पर बधाई देते हुए कार्यक्रम में आयु हुए अतिथियों का आभार व्यक्त किया गया। कार्यक्रम में कॉलेज के राकेश यादव, श्रीमति निखलेश गुर्जर,  मंजूबाला सक्सेना, पूर्णिमा बगवैया, वर्षा रावत, आकांक्षा यादव, प्रियंका दांगी, दीक्षा यादव, राकेश यादव, प्रवीण त्यागी, अर्जुन कलेसरिया, राजेश गोयल, किरण समद, आकांक्षा तोमर, नीलम दुबे आदि मुख्य रूप से उपस्थित रहे एवं कार्यक्रम के संचालन में अपना योगदान दिया। 


श्रद्धालुओं ने की गोरवर्धन वर्तन की पूजा अर्चना, भगवान को पाने के लिए मीरा जैसे भक्ति करनी होगी-शुक्ला

  • संजय कॉलोनी मंडी में जारी है श्रीमदभागवत

sehore news
सीहोर। मीरा जैसी प्रतिक्षा सहन शक्ति और भक्ति भगवान को प्राप्त करने के लिए जरूरी है। सरलता से भगवान मिलते नहीं है क्योंकी भगवान केवल भाव के भूखे है अगर भक्त का भाव सहीं नहीं है तो भागवत की प्राप्ती संभव नहीं है और भाव भक्ति सहीं है तो कण कण में हर स्थान पर भगवान के दर्शन होने लगते है उक्त विचार गुरूवार को गल्लामंडी वार्ड 23 संजय कॉलोनी में आयोजित श्रीमदभागवत  कथा के दौरान श्रद्धालुओं के मध्य गोरवर्धन पर्वत कथा श्रवण कराते हुए पंडित राजेश शुक्ला ने व्यक्त किए। नागरिकों के  द्वारा श्रीमद भागवात कथा का आयोजन कराया जा रहा है। श्रीराम मंदिर के पुजारी बाबूलाल वैष्णव के सानिध्य में पंडित राजेश शुक्ला के द्वारा सात दिवसीय संगीतमय श्रीमद भागवत कथा का वाचन किया जा रहा है। आयोजन समिति के ओम प्रकाश रायकवार, राधेश्याम भारती, अशोक राठौर, कमल मालवीय, संतोष यादव, शुभव रैकवार, महेश सेन सत्यम राय, प्रशांत मीणा, नन्नूलाल भारती, रवि, हर्ष सोनू, मुकेश, संजय, भूरा, भईयालाल, प्रेम पाटिदार, प्रदीप, अजय, महेश, आकाश , संतोष, रोहित, हरिप्रसाद, रतन, ललित, नेतराम, रूप सिंह, हजारीलाल, रमेश, कैलाश, कपिल, अमित  विशाल, रोहन, मनोहर, राजेंद्र, गोपाल, प्रताप, कमल, लालाराम, रामकुंवर, चिंता बाई, लीला बाई, धापू बाई, सविता बाई, सुशीला बाई, भगवती बाई, मनू बाई, शीला बाई आदि ने कार्यक्रम में पहुंचने की अपील श्रद्धालुओं से की है।


कलेक्टर-एसपी ने बिना मास्क के घूम रहे नागरिकों को लगाए फेस मास्क, कलेक्टर-एसपी ने सभी से फेस मास्क लगाने की अपील की


कलेक्टर श्री चंद्र मोहन ठाकुर एवं पुलिस अधीक्षक श्री मयंक अवस्थी ने नगर के कोतवाली चौराहे से तहसील चौराहे तक रोको-टोको के तहत बिना मास्क के घूम रहे लोगो को मास्क वितरित किए। बिना मास्क के बाजार में घूम रहे लोगो एवं दुकानदारों द्वारा मास्क नही लगाए जाने पर नगर पालिका अमले द्वारा जुर्माने की कार्यवाही की गई। इस कार्यवाही में अमले द्वारा 16 लोगो पर कार्यवाही कर 3300 रूपये का जुर्माना लगाया गया। कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए उन्होंने आम नागरिकों को घर से बाहर निकलते समय मास्क का प्रयोग अनिवार्य रूप से करने की समझाइश दी। इसके साथ ही कोरोना गाइडलाइन का पालन करने नागरिको से अपील भी की। कलेक्टर श्री ठाकुर ने सभी से अपील करते हुए कहा कि आवश्यक होने पर ही घर से निकले, जिससे कि संक्रमण को फैलने से रोका जा सके। संक्रमण से बचाव के लिए सभी नागरिक नियमित रूप से बार-बार हाथों को सैनिटाइज करें एवं सोशल डिस्टेंसिग का पालन करे। भ्रमण के दौरान अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्री समीर यादव, एसडीएम श्री बृजेश सक्सेना, प्रशासन एवं पुलिस का अमला उपस्थित था।


कोरोना संक्रमण को दृष्टिगत रखते हुए कलेक्टर ने सभी अधिकारियो को कोविड गाइडलाइन का पालन कराने दिए निर्देश


कलेक्टर श्री चंद्र मोहन ठाकुर ने राजस्व, पुलिस एवं सभी संबंधित अधिकारियों की बैठक आयेाजित कर कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए प्रभावी कदम उठाने के निर्देश दिए। उन्होंने मेले तथा बड़े आयोजन पर प्रतिबंध लगाने के साथ ही सोशल डिस्टेसिंग एवं कोविड गाइडलाइन का पालन सुनिश्चित कराने के निर्देश दिए। कलेक्टर श्री ठाकुर ने कहा कि सभी प्रकार के मेले, जिनमें जनसमूह एकत्रित होता है, को प्रतिबंधित किया जाएं। उन्होंने विवाह आयोजनों में दोनों पक्षों के मिलाकर अधिकतम 250 लोगों की उपस्थिति के निर्देश दिए। उन्होंने अंतिम संस्कार, उठावना में अधिकतम 50 लोगो की अनुमति के निर्देश दिए। आयोजन के दौरान उन्होंने मास्क, सोशल डिस्टेसिंग एवं सैनेटाईजर के इस्तेमाल सुनिश्चित कराने के निर्देश दिए। कलेक्टर श्री ठाकुर ने गृह विभाग द्वारा जारी गाइडलाइन का कड़ाई से पालन कराने के निर्देश दिए है। एसपी श्री मयंक अवस्थी ने सभी पुलिस अधिकारियों से कहा कि वे राजस्व अधिकारियों के साथ मिलकर संयुक्त रूप से कोरोना संक्रमण को रोकने की कार्यवाही करे। कार्यवाही के दौरान आमजन से शिष्टतापूर्ण व्यवहार करने के निर्देश दिए। कलेक्टर श्री ठाकुर ने मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को निर्देश दिए कि ऑक्सीजन प्लांटो को नियमित तौर पर चलाकर देख ले। किसी तरह की कोई कमी होती है तो उसे समय रहते ठीक करें। उन्होंने कहा कि दवाईयों की किट का स्टॉक में कमी न हो। सभी तरह की दवाईयों की उपलब्धता बनाए रखें। उन्होंने कहा कि कोरोना जांच के लिए सैंपलो की संख्या बढ़ाई जाएं एवं रिपोर्ट आने तक मरीज को आइसोलेट करे। जिससे कोरोना संक्रमण को फैलने से रोका जा सके। बैठक में जिला पंचायत सीईओ श्री हर्ष सिंह, अपर कलेक्टर श्रीमती गुंचा सनोवर, एएसपी श्री समीर यादव, एसडीएम श्री बृजेश सक्सेना सहित अन्य अधिकारी कर्मचारी उपस्थित थे।


जिले में आज कोई भी व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव नहीं मिला


पिछले  24 घंटे के दौरान प्राप्त रिपोर्ट में जिले में आज कोई भी व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव नहीं मिला है। सीएमएचओ कार्यालय से प्राप्त जानकारी के अनुसार जिले में अब तक कुल कोरोना पॉजिटिव व्यक्तियों की संख्या 10144 है। वर्तमान में एक्टिव पॉजिटिव 01 हो गई हैं। कुल रिकवर व्यक्तियों की संख्या 10021  हैं। आज 946 सैम्पल लिए गए है। जांच के लिए सीहोर शहरी क्षेत्र से 284, श्यामपुर से 205, नसरूल्लागंज से 90, आष्टा से 166 बुधनी से  107, तथा इछावर से 94 सैंपल लिए गए हैं। अभी तक कुल जांच के लिए भेजे गए सैंपल 329347 हैं। जिनमें से 317790 सैंपलों की रिपोर्ट नेगेटिव आई है। आज 853 सेंपलो की रिपोर्ट निगेटिव आई है। कुल 1342 सैंपलों की रिपोर्ट आना शेष है। पैथोलॉजी द्वारा कोरोना वायरस सेंपल की रिजेक्ट संख्या कुल 71 है।


कोविड-19 संक्रमण से बचाव एवं लोक शांति बनाए रखने कलेक्टर ने जारी किए दिशा-निर्देश


कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी श्री चंद्र मोहन ठाकुर ने जिले में कोविड-19 संक्रमण से बचाव, जन सामान्य के स्वास्थ्य हित एवं लोक शांति बनाए रखने आम नागरिकों के लिए आवश्यक दिशा-निर्देश दिए है। कलेक्टर श्री ठाकुर द्वारा जारी दिशा-निर्देशों में सभी प्रकार के मेले, जिनमें जनसमूह एकत्रित होता है, प्रतिबंधित किया गया है। विवाह आयोजनों में दोनों पक्षों के मिलाकर अधिकतम 250 लोगों की उपस्थिति की अनुमति दी गई है। आयोजन के दौरान मास्क, सोशल डिस्टेसिंग एवं सैनेटाईजर के इस्तेमाल का पालन किया जाना अनिवार्य होगा। अंतिम संस्कार, उठावना में अधिकतम 50 लोगो को ही अनुमति दी जा सकेगी तथा मास्क एवं सोशल डिस्टेसिंग का पालन किया जाना अनिवार्य होगा। कलेक्टर श्री ठाकुर द्वारा जिले के सभी संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए गए है कि ऐसे क्षेत्रों को, जहां संक्रमण को रोकने के लिए आवश्यक हो, कन्टेंनमेंट जोन घोषित कर आवश्यक प्रतिबंधात्मक कार्यवाही करें। इसके साथ ही अपने क्षेत्राधिकार में पुलिस एवं स्थानीय निकाय के अमले के साथ आम नागरिकों से सार्वजनिक स्थलों पर मास्क का उपयोग एवं कोविड उपयुक्त व्यवहार का पालन किया जाना सुनिश्चित करें। उन्होंने मास्क नहीं लगाने वाले लोगों पर नियमानुसार जुर्माना लगाने के निर्देश भी दिए।


समस्त अधिकारी वार्षिक अचल सम्पत्ति विवरण पत्रक 31 जनवरी तक ऑनलाइन भरे


राज्य शासन द्वारा मध्यप्रदेश सिविल सेवा नियम 1965 के नियम-19 के तहत राज्य प्रशासनिक सेवा संवर्ग के अंतर्गत कार्यरत प्रत्येक अधिकारी को अचल सम्पत्ति विवरण पत्रक ऑनलाइन जमा करने के संबंध में दिशा-निर्देश दिए गए है। वार्षिक अचल सम्पत्ति विवरण पत्रक समस्त अधिकारी निर्धारित समय अवधि 01 जनवरी से 31 जनवरी के अंदर ऑनलाइन https://mpsparrow-gov-in/SPARROW/Login  के माध्यम से प्रस्तुत करें। ऐसे अधिकारी जो प्रतिनियुक्ति पर पदस्थ है, उन्हें भी अपना अचल सम्पत्ति विवरण पत्रक ऑनलाइन ही भरना है। निर्धारित अवधि में वार्षिक अचल सम्पत्ति विवरण पत्रक प्रस्तुत करना अनिवार्य है। किसी भी स्थिति में वार्षिक अचल सम्पत्ति विवरण पत्रक मैन्युअली स्वीकार नहीं किया जाएगा। वार्षिक अचल सम्पत्ति विवरण पत्रक की ई-फाइलिंग के लिए समस्त अनिवार्य औपचारिकताऐं दिनांक 31 जनवरी 2022 तक अनिवार्यतः पूर्ण कर नियत समय-सीमा में वार्षिक अचल सम्पत्ति विवरण पत्रक ऑनलाइन भरना सुनिश्चित करें।


आईयूसीडी सेवाओं को बेहतर बनाने दिया गया विशेष प्रशिक्षण


जिला चिकित्सालय के पीपीओटी प्रशिक्षण केन्द्र में पोस्ट अबॉर्शन केयर का एक दिवसीय मेंटरिंग प्रशिक्षण आयोजित किया गया। जिले की विभिन्न संस्थाओं में पदस्थ स्टॉफ नर्सेस तथा एएनएम को रिफ्रेशर ट्रेनिंग मास्टर प्रशिक्षक स्त्री रोग विशेषज्ञ डॉ. सुजाता परमार एवं सहायक मास्टर प्रशिक्षक श्रीमती इशरत नेहा खान तथा रीना वर्मा द्वारा प्रदान किया गया। परिवार कल्याण की अस्थायी सेवाओं को गुणवत्ता पूर्ण बनाने के लिए पूर्व में प्रशिक्षित नर्सिंग ऑफिसर्स की मेंटरशिप को मिशन संचालक के निर्देश पर आयोजित किया गया था।


12 जनवरी को आयोजित स्वरोजगार सम्मेलन के लिए अधिकारियों की ड्यूटी


रोजगार दिवस 12 जनवरी को टाउन हाल में आयोजित किया जा रहा है। कलेक्टर श्री चन्द्र मोहन ठाकुर ने रोजगार दिवस के सफल क्रियान्वयन के लिए अनेक जिला अधिकारियों की ड्यूटी लगाई है। कलेक्टर श्री ठाकुर द्वारा जारी आदेश के अनुसार जिला पंचायत सीईओ श्री हर्ष सिंह को सम्पूर्ण कार्यक्रम का नोडल अधिकारी बनाया गया है। इसी प्रकार महाप्रबंधक जिला व्यापार एवं उद्योग केन्द्र तथा जिला रोजगार अधिकारी को सहायक नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है। इसी प्रकार अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक को कोविड-19 महामारी उपचार संबंधी केन्द्र एवं राज्य शासन की गाइडलाइन का पालन कराने एवं सुरक्षा व्यवस्था का दायित्व सौंपा गया है। जिला जनसम्पर्क के सहायक संचालक को सम्पूर्ण कार्यक्रम के प्रचार-प्रसार का कार्य सौंपा गया है। इसके अलावा मुख्य चिकित्सा अधिकारी को कोविड गाइड लाइन अनुसार मेडिकल दल, जांच एवं आकस्मिक चिकित्सा व्यवस्था का कार्य सौंपा गया है। नगर पालिका अधिकारी, प्रबंधक जिला अग्रणी बैंक ऑफ इण्डिया, अधीक्षक आईटीआई, प्राचार्य पॉलिटेक्निक कॉलेज, प्रबंधक ई-गवर्नेंस और स्वरोजगार, रोजगार योजना संचालित करने वाले समस्त विभाग प्रमुखों को भी विभिन्न दायित्व सौपे गए है।

कोई टिप्पणी नहीं: