बिहार : पंजाब सरकार को भंग कर राष्ट्रपति शासन लगाया जाना चाहिए : मोर्चा - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

गुरुवार, 6 जनवरी 2022

बिहार : पंजाब सरकार को भंग कर राष्ट्रपति शासन लगाया जाना चाहिए : मोर्चा

demand-president-rule-in-punjab-morcha
पटना 6 जनवरी, राष्ट्रीय सामाजिक न्याय मोर्चा के अध्यक्ष उपेन्द्र चौहान, प्रधान महासचिव नरेश महतो, महासचिव बीनू सिंह एव राष्ट्रीय प्रवक्ता नीलमणि पटेल ने एक बयान जारी कर देश के लोकप्रिय नेता व प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र भाई मोदी जी के सुरक्षा मे हुई चुक पर  पंजाब सरकार को अविलंब भंग करने की मांग की है। राष्ट्रीय सामाजिक न्याय मोर्चा के इन नेताओं ने प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र भाई मोदी की सुरक्षा में हुई चूक के लिए पूरी तरह से राज्य सरकार और वहां के मुख्यमंत्री को जिम्मेदार मानता है,इसकी उच्चस्तरीय जांच होनी चाहिए और जांच के बाद कठोर कार्रवाई होनी चाहिए। यह अति सम्वेदनशील व गंभीर मामला है। इस पुरे प्रकरण की जांच करवाते हुये पंजाब सरकार को बर्खास्त करने की मांग की गयी है।

कोई टिप्पणी नहीं: