झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 14 जनवरी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 14 जनवरी 2022

झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 14 जनवरी

‘जादू नहीं विज्ञान’’ कार्यक्रम में किए गए हिन्दू संस्कृति के अपमान को लेकर अभाविप ने जिला शिक्षा कार्यालय पर दिया धरना, प्रदेश के मुख्यमंत्री के नाम जिला षिक्षा अधिकारी को सौंपा ज्ञापन

  • ऐसे कार्यक्रमों पर लगे रोक, नहीं तो संगठन करेगा उग्र आंदोलन

jhabua news
झाबुआ। अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद् की जिला इकाई द्वारा हाल ही में जिले के स्कूलों में आयोजित किए गए कार्यक्रम ‘‘जादू नहीं विज्ञान है’’ का तीव्र विरोध किया है। अभाविप के अनुसार उक्त कार्यक्रम एवं इसके नाम पर आयोजित  प्रतियोगिताओं में प्रस्तुत दृश्यों में हिन्दू संस्कृति और धर्म का अपमान हुआ है, जो समस्तहिन्दू संप्रदाय को आघात पहुंचाने वाला है। जिसको लेकर अभाविप के जिला सह-संयोजक दर्शन कहार, नगर मंत्री वैभव जैन, आंशु पंवार, पवन परमार, निलेश गणावा आदि सहित अन्य पदाधिकारी एवं कार्यकर्ताओं ने 14 जनवरी, शुक्रवार को दोपहर करीब 1 बजे इस संबंध मंे स्थानीय ब्लॉक कॉलोनी स्थित जिला शिक्षा कार्यालय पर धरना देकर जिला शिक्षा अधिकारी के खिलाफ नारेबाजी की। चूंकि यह कार्यक्रम जिला शिक्षा अधिकारी के निर्देश पर एवं उनकी उपस्थिति में विद्यालयों में संपन्न हुए। जिसमें विभिन्न दृश्य हिन्दू संप्रदाय की संस्कृति और धार्मिक भावनाओं ठेस पहुंचाने वाले है। अभाविप ने करीब आधा घंटे तक यहां धरना प्रदर्शन कर जमकर नारेबाजी भी की।


हिन्दू संस्कृति एवं धर्म का अपमान नहीं सहन करेगा संगठन

बाद जिला शिक्षा अधिकारी ओपी बनड़े के आने के बाद उन्हें इस मामले से अवगत करवाया। तत्पश्चात् उन्हें मप्र के मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन भी प्रेषित किया। जिसमें उल्लेख किया गया कि अभाविप विद्यार्थियों का सबसे सक्रिय छात्र संगठन है। हाल ही में विद्यालयों में जो ‘‘जादू नहीं विज्ञान’’ कार्यक्रम आयोजित किया गया। जिसमें संस्कृति को अंधविश्वास के रूप में दिखाया गया है। जिसमें शिवजी के प्रतीक ओम को जलाने, पिलीया का ईलाज माला के माध्यम से संभव होने के बावजूद, उसे ढोंग बताने सहित धर्म का भी मजाक उड़ाने के दृश्यों को बढ़ा-चढ़ाकर दिखाना सरासर गलत है। ज्ञापन में मांग की गई कि इस प्रकार के कार्यक्रमों को तत्काल ही बंद किया जाए एवं भविष्य में होने वाले ऐसे कार्यक्रमों में शिक्षा विभाग के उच्च अधिकारी निगरानी रखे। ऐसो नहीं होने पर उग्र आंदोलन की भी चेतावनी दी गई।


मप्र शासन को पत्र के माध्यम से करवाएंगे अवगत

- अभाविप द्वारा इस मामले में दिए गए ज्ञापन पर पत्र के माध्यम मप्र शासन को इसे अवगत करवाया जाएगा, ताकि इस तरह के आपत्तिजनक दृश्यों पर उक्त आयोजित होने वाले कार्यक्रमों में भविष्य में रोक लग सके। : ओपी बनड़े, जिला शिक्षा अधिकारी, जिला शिक्षा कार्यालय झाबुआ।


शासकीय उत्कृष्ट उमा विद्य़ालय झाबुआ में राष्ट्रीय शिक्षा नीति के क्रियान्वयन हेतु कार्यशाला का हुआ आयोजन, ‘‘जादू नहीं विज्ञान है’’ प्रतियोगिता में अलग-अलग विकासखंडांे के विद्यार्थियों ने दी प्रस्तुतियां

  • प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय विकासखंड का हुआ चयन

jhabua news
झाबुआ। शासकीय उत्कृष्ट उमा विद्यालय झाबुआ में राष्ट्रीय शिक्षा नीति के क्रियान्वयन संबध्ंाी कार्यशाला का आयोजन एवं जिला स्तरीय ‘‘जादू नहीं विज्ञान है’’ प्रतियोगिता का आयोजन हुआ। दोनो अवसरों पर कार्यक्रम में जिला शिक्षा अधिकारी ओपी बनड़े एवं एडीपीसी जीपी ओझा ने मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित रहकर मार्गदर्शन प्रदान किया। जानकारी देते हुए संस्था प्राचार्य महेन्द्रकुमार खुराना ने बताया कि राष्ट्रीय शिक्षा नीति कार्यशाला में विविध विषयों पर उत्कृष्ट विद्यालय, बुनियादी हाईस्कूल एवं कन्या शिक्षा परिसर के शिक्षक-शिक्षिकाओं ने अपने विचार एवं सुझाव पटल पर रखे। इन प्राप्त सुझावांे को जिला शिक्षा अधिकारी के माध्यम से क्रियान्वयन समिति तक पहुंचाया गया। दूसरे कार्यक्रम ‘‘जादू नहीं विज्ञान है’’ में जिले के सभी विकासखंडों की टीमों ने बेहद ही रोचक तरीके से नाटक विद्या द्वारा मनोरंजन तरीके से ‘‘जादू-टोना और झांड़-फूंक को केवल अंधविश्वास साबित कर इसके पीछे के विज्ञान के तथ्यों को समझाकर उपस्थित छात्र-छात्राओं की जमकर तालियां बटोरी।


विजेताआंे की घोषणा की गई

समन्वयक संस्था के प्राचार्य श्री खुराना ने आगे बताया कि प्रतियोगिता में झाबुआ विकासखंड की टीम ने प्रथम स्थान प्राप्त वहीं किया। वहीं द्वितीय स्थान पर रानापुर विकासखंड तथा तृतीय स्थान थांदला विकासखंड ने टीम ने हासिल किया। कार्यक्रम की जिला नोडल अधिकारी श्रीमती अमीना खान थी। वहीं संस्था के मुस्तफा खान एवं लक्की सिसौदिया ने प्रस्तुतियों में मार्गदर्शन प्रदान किया। संचालन उच्च श्रेणी शिक्षक राकेश परमार ने किया। संस्था प्राचार्य महेन्द्रकुमार खुराना ने दोनो कार्यक्रमांे में आभार व्यक्त कर इनके उद्देश्य पर प्रकाश डाला।


मतदाता जागरूकता अभियान के अंतर्गत कॉलेज में निबंध प्रतियोगिता आयोजित की गई। 


झाबुआ ।  शहीद चंद्रशेखर आजाद शासकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय झाबुआ में मतदाता जागरूकता अभियान के अंतर्गत आजाद हाल में मतदान की अनिवार्यता शीर्षक पर निबंध प्रतियोगिता आयोजित हुई । प्रभारी प्राचार्य डॉ.जे.सी. सिन्हा एवं प्रशासनिक अधिकारी डॉ. रविंद्र सिंह ने प्रतियोगिता का अवलोकन किया स साथ ही रसायन विभगा ध्यक्ष प्रो. के.सी. कोठरी एवं डॉ. कुंवरसिंह चौहान भी उपस्थित रहे द्य इस प्रतियोगिता में अधिकांश छात्र एवं छात्राओं ने भाग लिया। निबंध लेखन में प्रथम स्थान बी.ए. तृतीय वर्ष की छात्रा कुसुम बबेरिया, द्वितीय स्थान बी.एस.सी. तृतीय वर्ष (वनस्पति शास्त्र )के छात्र मनीष रमसु गणावा एवं तृतीय स्थान पर  बी.कॉम प्रथम वर्ष के छात्र तनिष्क नवीन अरोरा रहे। निबंध प्रतियोगिता में मतदाता जागरूकता अभियान के संयोजक प्रो.जैमाल डामोर एवम् सदस्य डॉ. पुलकिता आनंद, डॉ. अमित कुमार गोवरी सहित अन्य स्टाफ उपस्थित था।


मकर सक्रांति पर्व 14 एवं 15 जनवरी को, तिथि अनुसार 14 को एवं ज्योतिष अनुसार 15 जनवरी को मनाया जाएगा

  • दिनभर चलेगा पतंग छगाने और गिल्ली-डंडे खेलने का दौर, तिल-पपड़ी के व्यंजनों का उठाया जाएगा लुत्फ

jhabua news
झाबुआ। मकर सक्रांति पर्व तिथि अनुसार 14 जनवरी, शुक्रवार एवं ज्योतिषियों के अनुसार 15 जनवरी, शनिवार को मनाया जाएगा। जिसके चलते मकर सक्रांति का उत्साह दो दिन तक शहर में रहेगा। इस दिन युवाओं द्वारा जहां सुबह से ही अपने घरों की छतों और खुले मैदानों पर जाकर पतंग छगाने का आनंद लिया जाएगा। वहीं महिला वर्ग इस दिन गली-मौहल्लों और कॉलोनियों मंे गिल्ली-डंडे खेलने का आनंद लेगी। पर्व को लेकर सुबह से ही शहर में उत्साह देखने को मिलेगा। दिनभर ‘वो चले काटी होए .... चलते बने ... की आवाज बच्चों और युवाओं के मुख से एक-दूसरे की पतंग काटने पर सुनने को मिलेगी। पतंग कटने के साथ उसे लूटने के लिए भी बच्चों में होड़ मचेगी। बाजारों में पतंग-डोरो की दुकानों पर भीड़ देखने को मिल रहीं है। इस दिन लोगों द्वारा विशेष व्यंजनों में तिल-पपड़ी से बने व्यंजनों का लुत्फ उठाया जाएगा।


पर्व की क्या है मान्यता .... ?

पं. प्रदीप भट्ट के अनुसार इस दिन दान पुण्य का विशेष महत्व रहता है। इसलिए लोग विशेषकर गौ-माताओं को हरी सब्जियां एवं पोष्टीक आहार करवाते है। गौ-माता की पूजन-आरती की जाती है। इस दिन से सूर्य की दिशा बदलती है, अर्थात सूर्य देवता धनु राशि से मकर राशि में प्रवेश करते है। इसके साथ ही धीरे-धीरे ठंड का प्रकोप कम होकर गर्मी बढ़ती है। पर्व का उत्साह दिनभर शहर में बना रहेगा।


स्वर्णकार समाज महिला मंडल ने मनाया हल्दी-कुमकुम उत्सव, सुहागिन महिलाओं ने एक-दूसरे को हल्दी एवं तिलक लगाकर मकर सक्रांति पर्व की शुभकामनाएं प्रेषित की

  • 1 मिनिट प्रतियोगिता आयोजित कर विजेताआंे को प्रदान किए गए पुरस्कार

jhabua news
झाबुआ। स्वर्णकार समाज महिला मंडल ने प्रतिवर्षानुसार इस वर्ष भी मकर सक्रांति के पुनित पर्व पर स्थानीय राधाकृष्ण मार्ग स्थित श्री मेढ़ क्षत्रिय स्वर्णकार मंदिर में हल्दी-कुमकुम उत्सव मनाया। जिसमें सोनी समाज की महिलाओं ने एक-दूसरे को तिलक लगाकर लोहड़ी, मकर सक्रांति आदि त्यौहारों की शुभकामनाएं प्रेषित की। जानकारी देते हुए स्वर्णकार समाज महिला मंडल की वरिष्ठ श्रीमती कुंता सोनी ने बताया कि इस दिन महिलाएं एक जैसे वस्त्रों में संज-संवरकर मंदिर पहुंची। बाद एक-दूसरे को कुमकुम से तिलक लगाकर एवं सुहागिन महिलाआंे ने मांग मंे ंिसंदूर भरकर अपने पति की लंबी उम्र के लिए कामना की। इस अवसर पर समाज की महिलाआंे के बीच एक मिनिट प्रतियोगिता का भी आयोजन रखा गया। जिसमें प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय रहने वाली महिलाओं को पुरूस्कृत भी किया गया। उक्त कार्यक्रम करीब एक से डेढ़ घंटे तक चला। उक्त कार्यक्रम में श्रीमती कुंता सोनी के साथ विमला सोनी, माधुरी सोनी, पिंकी सोनी, मोनिका सोनी, मीना सोनी, माधवी, रूक्मणी, हंसा, महिमा, मोना, नीता सोनी, ममता, वर्षा, पमिता, लाली सोनी, संगीता, ज्योति सोनी, दीपा सोनी सहित अन्य महिलाएं उपस्थित थी।


माननीय प्रभारी मंत्रीजी की अध्यक्षता में जिला आपदा प्रबंधन समिति की बैठक आयोजित

  • बैठक में जनप्रतिनिधि, सामाजिक संगठन के प्रतिनिधि की उपस्थित रहें
  • कोरोना संकट की घड़ी में हम एकजूट होकर सामना करेंगे- माननीय मंत्री श्री इन्दरसिंह परमार

jhabua news
झाबुआ। जिला आपदा प्रबंधन समिति की बैठक कलेक्टर कार्यालय सभा कक्ष में माननीय प्रभारी मंत्री श्री इन्दरसिंह परमार, राज्यमंत्री, स्कूल शिक्षा (स्वतंत्र प्रभार) एवं सामान्य प्रशासन विभाग मध्यप्रदेश शासन, की अध्यक्षता में आयोजित की गई। बैठक में कलेक्टर श्री सोमेश मिश्रा, पुलिस अधीक्षक श्री आशुतोष गुप्ता, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री सिद्धार्थ जैन, अपर कलेक्टर श्री जे.एस.बघेल, माननीय सांसद श्री गुमानसिंह जी डामोर, भाजपा जिलाध्यक्ष श्री लक्ष्मणसिंह जी नायक, पूर्व विधायक माननीय श्री शांतिलाल बिलवाल, भाजपा जिला महामंत्री श्री सोमसिंह सोलंकी, पूर्व भाजपा जिलाध्यक्ष श्री ओम प्रकाश शर्मा, अध्यक्ष प्रदेश युवा मोर्चा भाजपा श्री भानु भूरिया, व्यापारी संघ के अध्यक्ष श्री संजय काठी, रोटरी क्लब के नगर कार्यकारिणी अध्यक्ष श्री मनोज अरोरा, कांग्रेस पदाधिकारी श्री प्रकाश राका, सामाजिक महासंघ के अध्यक्ष श्री निरज राठौर, कांग्रेस पदाधिकारी श्री साबिर फिटवेल एवं सभी समिति के सदस्य उपस्थित थे। माननीय प्रभारी मंत्री महोदय द्वारा अपने उद्बोधन में कहा कि पहले हम लोगों को समझाईश दे की वे कोरोना गाइड लाईन का पालन करें। मास्क अपनी दिनचर्या में लाए। इस संकट की घडी में हम एकजूट होकर कोरोना महामारी को हराने का संकल्प लेगें। बाहर से जो श्रमिक आ रहे है। उनकी टेस्टिंग के लिए सजग रहें। जुर्माने आदि की व्यवस्था भी सुनिश्चित की जावे, इसके पूर्व चेताया भी जावे। व्यापारी संघ का यह प्रस्ताव भी ठीक है कि मास्क नहीं तो सामान नहीं, मास्क नहीं तो बात नहीं, किसी का भी व्यापार प्रभावित न हो ऐसी व्यवस्था सुनिश्चित की जावे। दुकानों में मास्क, सेनेटाईजर अनिवार्य रूप से हो इससे व्यापार प्रभावित नहीं होगा। जीवन भी चलता रहेगा और हम सावधानी भी बरतते रहे। अभी 90 प्रतिशत वैक्सीनेशन पूर्व हो चुका है। हम अभी सुरक्षा के घेरे में तो है। बच्चों के लिए जो 15 से 18 तक के है वैक्सीनेशन शत प्रतिशत हो बच्चों की सुरक्षा के लिए सभी आवश्यक कदम उठाए। हाट बाजार में भी लोग आते है उनकी दुकाने दूर-दूर पर हो यह सुनिश्चित करें। किसी भी स्थिति में रोजगार बन्द नहीं होना चाहिए। शादी समारोह, दाह संस्कार आदि के लिए कोरोना प्रोटोकाल के निर्देश जारी कर दिए गए हैं। समाज में भी जनजागृति अभियान चलाया जाना चाहिए। अस्पतालों में, दुकानों में दवाईया की कमी न हो ऐसे अभी से व्यवस्था सुनिश्चित कर ले। अब तीसरी लहर के लिए शासन द्वारा बेहतर व्यवस्था सुनिश्चित की है। बच्चे शहरी हो या ग्रामीण हो इसका आकलन कर वैक्सीनेशन सुनिश्चित करें। जहां तक परीक्षा का प्रश्न है वह बाद में भी हो सकेगी। प्रथम बच्चों की सुरक्षा महत्वपूर्ण है। पूर्व में बच्चों की पढ़ाई प्रभावित हुई है। आनलाइन पढ़ाई में ग्रामीण बच्चों को परेशानी हुई है। अब हम ग्रामीण स्तर पर भी शिक्षा का स्तर कम नहीं होने देंगे। पूर्व कोरोना में जहां पर एक तरफ लोग घर में बैठे थे और दूसरी तरफ लोग मदद के लिए आगे आए थे। इस बार हमें पूनः तीसरी लहर के बचाव के लिए एकजूट होकर सामना करना है। कलेक्टर श्री सोमेश मिश्रा ने पीपीटी के माध्यम से आपदा प्रबंधन के संबंध में की जाने वाली कार्यवाही को सदन में प्रस्तुत किया। जिसमें कोरोना से सुरक्षा के लिए जिले के सभी अस्पतालों में सभी आवश्यक व्यवस्थाए जैसे दवाईया, ऑक्सीजन, आईसीयू रूम, पर्याप्त रूप से बैड की व्यवस्था, डॉक्टर्स की व्यवस्था, कोविड सेंटर की व्यवस्था, निजी चिकित्सालयों से एग्रीमेंट, यहां पर सभी व्यवस्था के आकलन के लिए अधिकारी की नियुक्ति, सतत टीकाकरण बच्चों को वैक्सीनेशन की व्यवस्था, जिला स्तर, जनपद स्तर पर कन्ट्रोल रूम की व्यवस्था, कोविड सेंटर पर पर्याप्त ऑक्सीजन कन्सटेटर, बैड की व्यवस्था, मनोरंजन की व्यवस्था, सेनेटाईजर की व्यवस्था, मास्क की व्यवस्था, मरीजों को खाने पीने की व्यवस्था उपलब्ध हो चुकी है। इसकी सतत मानिटरिंग भी  की जा रही है। पेटलावद, थांदला एवं झाबुआ में ऑक्सीजन प्लाट प्रारम्भ हो चुका है। जिले में सीटी स्कैन मशीन का भी उद्घाटन हो चुका है। पुलिस अधीक्षक श्री आशुतोष गुप्ता ने अपने उद्बोधन में कहा कि इस संकठ की घडी में पुलिस को जो आप लोगो से सहयोग मिला है एवं हमारी पुलिस चौराहो पर तैनात है। पिछली लहर में पुलिस ने बहुत ही संयम से काम लिया है। चाहे मास्क की व्यवस्था हो या अन्य कोई सुविधा हो इसके लिए तत्पर रही थी। आवश्यक होने पर ही कठोर कदम उठाने पडते है। जो गलत काम करे उसका हम सपोट भी हम नहीं करे।  माननीय सांसद श्री गुमानसिंह जी डामोर ने अपने उद्बोधन में कहा कि हमारे सभी सामाजिक संगठन पार्टी के साथ मिलकर लोगों को कोरोना के प्रति जागरूकता लाने के प्रयास करेंगे। मास्क अनिवार्य रूप से लगाए इसके लिए मास्क उपलब्ध करवाने में भी हम सब मदद करें। व्यापारी संघ का यह अभियान की मास्क नहीं तो सामान नहीं के अलावा जो व्यापारी या ग्राहक बगेर मास्क के हो उनकी दुकाने भी सील की जाए एवं ग्राहकों पर जुर्माना भी हो सभी की सुरक्षा हमारा प्रथम दायित्व है। सामाजिक महासंघ के अध्यक्ष ने बताया कि व्यापारी संघ द्वारा मास्क नहीं तो सामान नहीं, मास्क नहीं तो बात नहीं यह एक बहुत अच्छा प्रयास है। कांग्रेस पदाधिकारी श्री प्रकाश राका ने कहा कि स्कूल बच्चों के लिए कोविड गाइड लाइन का पालन करते हुए स्कूल खुले रखे जाना चाहिए। व्यापारी संघ के अध्यक्ष श्री संजय काठी द्वारा बताया कि सभी व्यापारी सकारात्मक रूप से कोविड प्रोटोकाल का पालन करने के लिए दृढ़ संकल्पित है यदि किसी ग्राहक के पास मास्क नहीं है तो उन्हें मास्क देने की व्यवस्था भी सुनिश्चित की गई है। लोगों की सुरक्षा महत्वपूर्ण है। इसका विशेष पालन सुनिश्चित किया गया है। कांग्रेस पदाधिकारी एवं पार्षद श्री साबिर फिटवेल द्वारा शादी, शमसान, कर्बस्थान में लोगो के लिए संख्या का निर्धारण किया जाए एवं कोविड अनुदान की राशि का वितरण तत्काल किया जावे।


प्रभारी मंत्रीजी द्वारा जिला आपदा प्रबंधन समिति की बैठक में हैलों फ्रेेंडस का विमोचन किया


jhabua news
झाबुआ,। जिला आपदा प्रबंधन समिति की बैठक कलेक्टर कार्यालय सभा कक्ष में माननीय प्रभारी मंत्री श्री इन्दरसिंह परमार, राज्यमंत्री, स्कूल शिक्षा (स्वतंत्र प्रभार) एवं सामान्य प्रशासन विभाग मध्यप्रदेश शासन, की अध्यक्षता में आयोजित की गई थी। इस बैठक में  माननीय प्रभारी मंत्री जी द्वारा जनजातीय कार्यविभाग जिला झाबुआ द्वारा हैलो फ्रेंडस ‘‘समाधान-बस एक कॉल दूर ‘‘ का विमोचन किया। जिसमें झाबुआ जिले के विद्यार्थियों/हितग्राहियों की समस्याओं त्वरित निराकरण करने हेतु जनजातीय कार्य विभाग द्वारा एक नई पहल की शुरूवात की गई है। जिसमें छात्रावास संबंधित समस्या हेतु हेल्पलाइन नंबर 6261545389, पोस्ट मेट्रिक छात्रवृत्ति एवं आवास सहायता संबंधी समस्या हेतु हेल्पलाइन नंबर 7223913199, विभाग द्वारा संचालित अन्य योजना संबंधी समस्या हेतु हेल्पलाइन नंबर 6266805431 रखा गया है। इस हेल्प डेक्स में पिछडा वर्ग तथा अल्प संख्यक कल्याण विभाग द्वारा संचालित छात्रवृत्ति, छात्रावास एवं समस्त योजना संबंधित समस्या हेतु हेल्पलाइन नंबर 9406689543 रखा गया है। जिले में 161 छात्रावास/आश्रम शाला/परिसर है। जिसमें कुल 12 हजार 665 सीट है। निवासरत छात्र/छात्राओं की संख्या 6 हजार 113 है। हेल्प डेस्क में पोस्ट मेट्रिक छात्रवृत्ति एवं आवास सहायता योजना, विभाग द्वारा संचालित योजना जिसमें सिविल सेवा प्रोत्साहन योजना, वन अधिकार अधिनियम, अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति (अत्याचार निवारण) अधिनियम 1989, मध्यप्रदेश अस्पर्शता निवारणार्थ अंतर जातीय विवाह प्रोत्साहन योजना एवं पिछडा वर्ग तथा अल्पसंख्यक कल्याण विभाग द्वारा छात्रवृत्ति व अन्य योजना को शामिल किया गया है। प्रत्येक हेल्पलाइन हेतु एक नोडल व एक सहायक नोडल रहेगा। जो समस्याओं को सुनेगा एवं रिकार्ड संधारण करते हुए त्वरित निराकरण करवाएगा। हेल्पलाइन नंबर पर शिकायत दर्ज कराने हेतु समय प्रातः 10.30 से सांय 6 बजे तक रहेगा। अभियान के सकुशल संचालन के लिए जिला स्तर से भी एक नोडल की नियुक्ति की जाएगी।


युवाओं को यूपीएससी, एमपीपीएससी की निःशुल्क कोचिंग की सुविधा, प्रभारी मंत्री द्वारा किया गया संकल्प योजना का शुभारंभ


 झाबुआ,। राष्ट्रीय युवा दिवस के अवसर पर शासकीय आदर्श महाविद्यालय झाबुआ में संकल्प योजना के अंतर्गत सिविल सेवा केरियर गाइडेंस के लिए  यू.पी.एस.सी, एम.पी.पीएससी और अन्य प्रतियोगी परीक्षा के लिए निःशुल्क कोचिंग का शुभारंभ जिले के माननीय प्रभारी मंत्री श्री इन्दरसिंह परमार, राज्यमंत्री, स्कूल शिक्षा (स्वतंत्र प्रभार) एवं सामान्य प्रशासन विभाग मध्यप्रदेश शासन, के द्वारा किया गया। आदिवासी अंचल के लिए इस प्रकार संकल्प योजना का शुभारंभ किया जाना बड़े गौरव की बात है और यह विद्यार्थियों को लाभान्वित करेगा। इस अवसर पर माननीय श्री कलसिंह भाबर जी, माननीय श्री शांतिलाल बिलवाल जी अन्य अतिथि भी उपस्थित रहे। संकल्प योजना निःशुल्क कोचिंग का शुभारंभ करने में जिले के जिलाधीश माननीय श्री सोमेश मिश्रा जी के मार्गदर्शन में किया गया उन्होंने बताया कि कोचिंग के मार्गदर्शन के लिए बाहर से भी एक्सपर्ट को बुलाया जाएगा और लेक्चर का आयोजन किया जाएगा और विद्यार्थियों को इस से जुड़ी हर सुविधाओं संसाधन उपलब्ध कराने का प्रयास किया जाएगा कार्यक्रम का संचालन व्याख्याता लोकेन्द्रसिंह चौहान द्वारा किया गया इस अवसर पर जिले के एसपी आशुतोष गुप्ता जी, सीईओ जिला पंचायत सिद्धार्थ जैन, पेटलावद एसडीएम श्री शिशिर गेमावत के साथ अग्रणी महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ जे सी सिन्हा ने स्वागत भाषण दिया गया और आदर्श महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ. एस सी. जैन आभार प्रकट किया गया, इस अवसर पर महाविद्यालय प्रशासनिक अधिकारी डॉ दिनेश कुमार पाटीदार, महाविद्यालय के सहायक प्राध्यापक डॉ राकेश बघेल, डॉ दिलीप परसेडिया, डॉ शिल्पी वर्मा, प्रो. प्रगति मिमरोट, डॉ ब्रह्म प्रकाश डा. राज चंदेलकर  प्रो. धूल सिंह खरत प्रो. मुकेश बघेल प्रो. प्रो केवल सिंह ठाकुर आदि आदि उपस्थित थे।


जिला रेडक्रास शाखा झाबुआ का निर्वाचन कार्यक्रम-

       

झाबुआ।कलेक्टर एवं अध्यक्ष रेडक्रॉस का सोसाइटी श्री सोमेश मिश्रा के द्वारा अनुमोदित जिसमें जिला रेडक्रास शाखा झाबुआ का निर्वाचन कार्यक्रम निर्धारित किया गया है, जिसमें जिला शाखा की मतदाता सूची का प्रारंभिक प्रकाशन एवं दावा आपत्ति प्रस्तुत करने की दिनांक है 11 /1/ 2022 से 13 /1/ 2022 तक दोपहर 3ः00 बजे तक! जिला शाखा में मतदाता सूची का अंतिम प्रकाशन दिनांक 14 जनवरी, 2022। वार्षिक साधारण सभा राज्य शाखा हेतु प्रतिनिधि के निर्वाचन की सूचना अनुसूचित2,( नियम 11) धारा 4 (क)(ख)(ग) के अंतर्गत जारी करना दिनांक 17 जनवरी, 2022। वार्षिक साधारण सभा/जिला शाखा में मतदान का दिनांक 20 /1/ 2022। जिला शाखा की मतगणना दिनांक 20/1/ 2022। जिला शाखा का परिणाम घोषित करना दिनांक 20 जनवरी, 2022  (मतगणना के तत्काल बाद ) जिला शाखा का परिणाम राज्य मुख्यालय को भेजना (अनुसूची 4) (नियम 13 )धारा 1 (क) (ख )(ग) के अंतर्गत जारी करना 20 जनवरी 2022।


नव निर्मित अर्द्धशहरी थाना भवन रायपुरिया का लोकार्पण माननीय प्रभारी मंत्री जी के द्वारा किया गया


झाबुआ। जिले के माननीय प्रभारी मंत्री श्री इन्दरसिंह परमार, राज्यमंत्री, स्कूल शिक्षा (स्वतंत्र प्रभार) एवं सामान्य प्रशासन विभाग मध्यप्रदेश शासन, के कर कमलांे द्वारा मध्यप्रदेश पुलिस आवास एवं अधोसंरचना विकास निगम से नव निर्मित अर्द्धशहरी थाना भवन रायपुरिया जिला झाबुआ का लोकार्पण किया गया। इस अवसर पर कलेक्टर श्री सोमेश मिश्रा, पुलिस अधीक्षक श्री आशुतोष गुप्ता, एसडीएम पेटलावद श्री शिशिर गेमावत, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्री आनंद श्री वास्कले, एसडीओपी सुश्री सोनू डावर, थाना प्रभारी श्री एल.एन.राठौर, अनुसूचित जनजाति के प्रदेश अध्यक्ष श्री कलसिंह जी भाबर, भाजपा जिलाध्यक्ष श्री लक्ष्मणसिंह जी नायक, जिला महामंत्री श्री सोमसिंह जी सोलंकी, अनुसूचित जनजाति जिलाध्यक्ष श्री अजमेर सिंह भूरिया, मण्डल अध्यक्ष श्री शांतिलाल मुणिया आदि जनप्रतिनिधि भी उपस्थित थे। माननीय प्रभारी मंत्री जी द्वारा नव निर्मित थाना भवन में हवन कर इस भवन का लोकार्पण किया एवं सभी कक्षों का जायजा लिया और मुक्तकंठ से इसकी तारिफ की एवं यहां पर वृक्षारोपण करने के लिए भी आव्हान किया। पुलिस अधीक्षक महोदय द्वारा इस लोकार्पण समारोह में नव निर्मित भवन के निर्माण एवं व्यवस्था के बारे में सभी को अवगत कराया। जिले के लिए एक बडी सौगात के रूप में यह थाना है। यहां पर बडी संख्या में प्रिन्ट एवं इलेक्ट्रानिक मीडिया के प्रतिनिधि भी उपस्थित थे।


फेडरेशन आफ इंडियन एक्सपोर्ट ऑर्गेनाइजेशन द्वारा कार्यशाला का आयोजन किया गया


झाबुआ,। जिला विकास प्रबंधक नाबार्ड श्री नितिन अलोने ने बताया कि 13 जनवरी 2022 को फेडरेशन आफ इंडियन एक्सपोर्ट ऑर्गेनाइजेशन द्वारा कार्यशाला का आयोजन किया गया। इस कार्यशाला को माननीय सांसद श्री गुमानसिंह डामोर द्वारा कार्यशाला को संबोधित किया। कार्यशाला को उद्योग विभाग, कृषि विभाग, पशुपालन विभाग, मालवा चैंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री, डैडम् क्मअमसवचउमदज प्देजपजनजम और नाबार्ड के अधिकारियों ने मार्गदर्शन किया। झाबुआ जिले में एक जिला एक उत्पाद के तहत चयनित कड़कनाथ और टमाटर के निर्यात की संभावनाएं और कार्ययोजना पर चर्चा की गई। आयत निर्यात पंजीकर की विस्तृत जानकारी प्रदान की गई। निम्न कार्य बिंदुओं पर संयुक्त रूप से कार्य करने की आवश्कता दर्शाई गई।1. इन उत्पादों के बड़े पैमाने पर उत्पादन और निर्यात हेतु संभावनाओं का अध्ययन फेडरेशन द्वारा किया जाए। 2 वर्तमान में जिले में निर्यात ऋण निरंक है। जिले के पांच निर्यातक जो फेडरेशन के साथ पंजीकृत है उनकी जानकारी उपलब्ध कराई जाए। इन निर्यातकों से चर्चा की जाए। 3 कड़कनाथ किसान उत्पादक कंपनी का पंजीयन निर्यात हेतु किया जाए 4 पोल्ट्री फीड इकाई हेतु उद्यमियों की पहचान और प्रोत्साहन दिया जाए 5 कड़कनाथ रिसर्च पिदकपदहे को अंतरराष्ट्रीय पत्रिका में प्रकाशित किया जाए जिससे निर्यातकों को सुविधा हो सके। इस व्यय हेतु आवश्यक राशि जुटाई जाए। 6 फेडरेशन की वेब साइट पर कड़कनाथ किसान कम्पनी द्वारा पंजीकरण किया जाए। 7 नेशनल लाइवस्टॉक मिशन के अनुशंसित प्रकारों में बैंक ऋण उपलब्ध कराया जाए। इस योजना में 50 प्रतिशत अनुदान उपल्ब्ध है। 8 जिले में कार्यरत कड़कनाथ उत्पादकों को नियमित रूप से चूजों की आपूर्ति, नरेगा से पोल्ट्री शेड, कृषि विज्ञान केन्द्र से प्रशिक्षण, बाजार में दवाई और फीड की उपलब्धता तथा बैंकों से ऋण सुविधा प्रदान की जाए।


मतदाता जागरूकता अभियान के अंतर्गत कॉलेज में निबंध प्रतियोगिता आयोजित की गई


झाबुआ,। शहीद चंद्रशेखर आजाद शासकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय झाबुआ में मतदाता जागरूकता अभियान के अंतर्गत आजाद हाल में मतदान की अनिवार्यता शीर्षक पर निबंध प्रतियोगिता आयोजित हुई। प्रभारी प्राचार्य डॉ.जे.सी. सिन्हा एवं प्रशासनिक अधिकारी डॉ. रविंद्र सिंह ने प्रतियोगिता का अवलोकन किया। साथ ही रसायन विभगा ध्यक्ष प्रो. के.सी. कोठरी एवं डॉ. कुंवरसिंह चौहान भी उपस्थित रहे द्य इस प्रतियोगिता में अधिकांश छात्र एवं छात्राओं ने भाग लिया। निबंध लेखन में प्रथम स्थान बी.ए.तृतीय वर्ष की छात्रा कुसुम बबेरिया, द्वितीय स्थान बी.एस.सी. तृतीय वर्ष (वनस्पति शास्त्र )के छात्र मनीष रमसु गणावा एवं तृतीय स्थान पर  बी.कॉम प्रथम वर्ष के छात्र तनिष्क नवीन अरोरा रहे। निबंध प्रतियोगिता में मतदाता जागरूकता अभियान के संयोजक प्रो.जैमाल डामोर एवम् सदस्य डॉ. पुलकिता आनंद, डॉ. अमित कुमार गोवरी स्टाफ सहित उपस्थित था।


”पंच-ज“ जल, जंगल, जमीन, जन और जानवर के संतुलित पर्यावरणीय विकास की अवधारणा हेतु विधिक जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया गया


झाबुआ,।माननीय प्रधान जिला न्यायाधीश/अध्यक्ष जिला विधिक सेवा प्राधिकरण झाबुआ श्रीमान मोहम्मद सैय्यदुल अबरार जी के निर्देशानुसार एवं अपर जिला न्यायाधीश/सचिव श्री लीलाधर सोलंकी जी की उपस्थिति में आज दिनांक 14.01.2022 मकर संक्रंाति के अवसर पर स्थानीय सद्गुरू गौशाला झाबुआ में ”पंच-ज“ जल, जंगल, जमीन, जन और जानवर के संतुलित पर्यावरणीय विकास की अवधारणा हेतु विधिक जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया गया। शिविर में अपर जिला न्यायाधीश/सचिव श्री लीलाधर सोलंकी जी एवं न्यायिक मजिस्टेªट श्री हर्ष ठाकुर एवं श्रीमति तनवी माहेश्वरी ठाकुर के द्वारा गायों को चारा, फल, रोटी खिलाये तथा गौशाला के पशु पालक गौ सेवकों को पशुओं की उचित देखभाल, उपचार पशुओं को समय-समय पर चारा, दाना, पानी की व्यवस्था करने के लिए सलाह एवं समझाईस दी गई। पशुपालन विभाग द्वारा मंुह पका, खुर पका रोग निदान हेतु टीकारण करने एवं पशुओं की पहचान हेतु उनके कान पर 12 अंकों का टेग लगवाये आदि के प्रबंध करने बाबत् जागरूकता संदेश दिया गया। शिविर से लगभग 37 लोग लाभांवित हुये।शिविर में क्रूरता निवारण अधिनियम-1960 गौवंश प्रतिषेध अधिनियम-2004 पशु यातायात नियम 1978 आदि विधिक प्रावधानों की पशु पालकों को जानकारी दी गई।उक्त शिविर में अपर जिला न्यायाधीश/सचिव श्री लीलाधर सोलंकी, न्यायिक मजिस्टेªट श्री हर्ष ठाकुर, श्रीमति तनवी माहेश्वरी ठाकुर, पशुपालक श्री मनीष एवं गौशाला सेवक उपस्थित रहे।

कोई टिप्पणी नहीं: