विदिशा (मध्य प्रदेश) की खबर 22 जनवरी - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 22 जनवरी 2022

विदिशा (मध्य प्रदेश) की खबर 22 जनवरी

खाद्यान्न प्राप्ति की सूचना एसएमएस से


vidisha news
सार्वजनिक वितरण प्रणाली के तहत राशनकार्डधारियों को विभिन्न योजनाओं का शासकीय उचित मूल्य दुकानो के माध्यम से प्रदाय खाद्यान्न उपरांत एसएमएस के माध्यम से संबंधित कार्डधारक के द्वारा दर्ज कराए गए मोबाइल नम्बर पर यह सूचना संप्रेषित की जाएगी कि आपको किस-किस योजना के तहत कितना खाद्यान्न प्रदाय किया गया है। प्रत्येक राशन कार्डधारक को उचित मूल्य दुकान का कोड, माह का एनएफएस के अंतर्गत प्रदाय गेंहू, चावल, नमक, शक्कर एवं केरोसिन कितने लीटर निर्धारित दर प्रदाय किया गया है कि जानकारी के अलावा पीएमजीकेएवाय का गेंहू,चावल निःशुल्क प्रदाय कितनी मात्रा में किया गया है कि सामग्री प्राप्ति उपरांत दर्ज मोबाइल नम्बर पर एसएमएस संप्रेषित करने की व्यवस्थाएं सुनिश्चित की गई है जिले के सभी राशनकार्डधारकों से आग्रह किया गया है कि निर्धारित मात्रा से कम राशन प्राप्त होने पर सीएम हेल्पलाइन नम्बर 181 पर शिकायत अनिवार्य रूप से दर्ज कराएं ताकि वितरण व्यवस्था में पूर्ण पारदर्शिता का अनुपालन संबंधित शासकीय उचित मूल्य दुकान के वितरक द्वारा सुनिश्चित किया गया है कि नहीं कि क्रास मानिटरिंग संभव हो सकें। कलेक्टर ने जिले के सभी राशन कार्डधारकों से ततसंबंध में आग्रह किया गया है कि जनवरी एवं फरवरी अर्थात दो माह का पूर्व उल्लेखित योजनाओं के अंतर्गत राशन प्रदाय कराने की व्यवस्थाएं सुनिश्चित की गई है यदि कोई शासकीय उचित मूल्य दुकान के विक्रेता द्वारा दो माह के दोनो योजनाओं का खाद्यान्न निर्धारित मात्रा में देने में आनाकानी की जाती है अथवा कम दिया जाता है तो अविलम्ब 181 पर अपनी शिकायत दर्ज कराएं साथ ही खाद्य विभाग के अधिकारियों को सूचित करें।

302 पॉजिटिव सेम्पल प्राप्त हुए


मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ अखण्ड प्रताप सिंह ने बताया कि विदिशा जिले में सांय चार बजे तक प्राप्त सेम्पलों की रिपोर्ट अनुसार 1695 सेम्पलों की रिपोर्ट प्राप्त हुई है जिसमें 302 सेम्पल पाजिटिव प्राप्त हुए है।    


राष्ट्रीय मतदाता दिवस का आयोजन मंगलवार को


राष्ट्रीय मतदाता दिवस का आयोजन मंगलवार 25 जनवरी को विदिशा जिला मुख्यालय के एसएटीआई के कैलाश सत्यार्थी सभाग्रह में किया गया है की जानकारी देते हुए उप जिला निर्वाचन अधिकारी श्रीमति अमृता गर्ग ने बताया कि उपरोक्त आयोजन प्रातः 10.15 बजे से शुरू होगा। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि प्रधान जिला सत्र एवं न्यायाधीश होंगे। उनके द्वारा आयोजन स्थल पर प्रातः 11 बजे से मतदाताओं को शपथ दिलाई जाएगी। इसके अलावा नवीन मतदाताओं को इपिक कार्ड प्रदाय के साथ-साथ मतदाताओं को जागरूक करने के उद्देश्य से आयोजित होने वाली गतिविधियों को संपादन होगा।


रोशनी के निर्देश


गणतंत्र दिवस 26 जनवरी की सायंकाल को जिले के सभी सार्वजनिक भवनों एवं राष्ट्रीय महत्व की इमारतों पर प्रकाश की व्यवस्था करने के निर्देश सामान्य प्रशासन विभाग के द्वारा ततसंबंध में प्रदेश के सभी कलेक्टरों को निर्देश जारी कर पालन सुनिश्चित कराने हेतु ताकिद किया गया है।


घर बैठे पाए आयुष चिकित्सा का लाभ आयुष क्योर एप पर


मध्यप्रदेश शासन आयुष विभाग ने कोरोना की तीसरी लहर की रोकथाम के लिए जन सामान्य को आयुष स्वास्थ्य सेवा घर पर ही सुलभ कराने के उद्देश्य से यह टेलीमेडिसिन एप लांच किया है। इस “आयुष क्योर“ एप का उपयोग रोगी तथा चिकित्सक दोनों कर सकेंगे। इसके द्वारा रोगी सीधे वीडियो काल के माध्यम से चिकित्सक से परामर्श प्राप्त कर सकेंगे। “आयुष क्योर“ एक एंड्रायड आधारित ऐप है। यह गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड किया जा सकेगा। रजिस्ट्रेशन के बाद आप अपनी पसंद की आयुष चिकित्सा पद्धति (आयुर्वेद, होम्योपैथी और यूनानी) के विशेषज्ञ चिकित्सक से अपनी सुविधा अनुसार अपाइंटमेंट बुक कर सकेंगे। चुने गए चिकित्सक द्वारा निर्धारित समय अनुसार ही ऐप के माध्यम से वीडियो काल कर चिकित्सा परामर्श दिया जाएगा। आयुष चिकित्सा पद्धति को घर-घर तक पहुंचाने के लिए एवं जो रोगी चिकित्सालय में पहुंच पाने में असमर्थ है, उनके लिए यह सुविधा अच्छी साबित होगी। 


शासकीय ज्ञानोदय आवासीय विद्यालयों में प्रवेश की प्रक्रिया जारी


अनुसूचित जाति विकास विभाग द्वारा संचालित शासकीय ज्ञानोदय आवासीय विद्यालयों में प्रवेश की प्रक्रिया प्रारंभ हो गई है। इन विद्यालयों की कक्षा छठवीं में प्रवेश दिया जाएगा। प्रवेश पत्र ऑनलाइन जमा करने की अंतिम तिथि 5 फरवरी है। प्रवेश परीक्षा 27 फरवरी को होगी। यह परीक्षाएं समस्त जिला मुख्यालयों पर आयोजित की जाएंगी। कक्षा पांचवी में अध्ययनरत विद्यार्थी विभागीय वेबसाइट www.tribal.mp.gov.in/mptsac  के माध्यम से ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। कक्षा छठवीं में प्रवेश हेतु आयोजित परीक्षा में सम्मिलित होने वाले विद्यार्थियों से किसी भी प्रकार का कोई आवेदन शुल्क अथवा परीक्षा शुल्क नहीं लिया जायेगा। प्रवेश के संबंध में विस्तृत जानकारी विभाग की वेबसाइट www.tribal.mp.gov.in से प्राप्त की जा सकती है। शासकीय ज्ञानोदय आवासीय विद्यालयों में शिक्षण एवं आवासीय सुविधाएं निःशुल्क है। 


गणतंत्र दिवस पर भारत पर्व का आयोजन


गणतंत्र दिवस की संध्या पर भारत पर्व का आयोजन किया जाएगा, जिसमें स्थानीय कलाकारों द्वारा अपनी कलाओं का प्रदर्शन सांस्कृतिक, देशभक्ति गीतों के माध्यम से किया जाएगा। आयोजन स्थल पर जनसम्पर्क विभाग के द्वारा छाया प्रदर्शनी लगाई जाएगी। प्रदर्शनी में जिलों में हुई प्रगति और विकास कार्यों को छाया चित्रों के माध्यम से प्रदर्शित किया जायेगा। 


भू-अभिलेखों की डिजिटल उपलब्धता


आम जनता के लिये भू-अभिलेखों की डिजिटल उपलब्धता बड़ी सफलता है। जनता को घर बैठे आनलाइन आवेदन, लोकसेवा केन्द्र, एमपी ऑनलाइन कियोस्क से आवेदन, तहसील कार्यालय के आईटी सेंटर में आवेदन एवं सीएम हेल्पलाइन काल-सेंटर 181 पर काल करने पर भू-अभिलेखों की डिजिटल उपलब्धता हो जाती है। पहले पाँच दिवस में राजस्व अभिलेख जनता को मिलते थे, अब रियल टाइम उपलब्धता हो गई है। 


शासन द्वारा ऑनलाइन कर दी गई है भूमि बंधक प्रक्रिया


शासन द्वारा द्वारा भूमि बंधक की प्रक्रिया को पूरी तरह आनलाइन कर दिया गया है। किसान को किसान क्रेडिट कार्ड एवं अन्य किसानी ऋण लेने के लिये बैंक में आनलाइन आवेदन आवेदन करना होता है, बैंक द्वारा पोर्टल से भूमि के ब्यौरे का एवं आधार डेटा से किसान का सत्यापन किया जाएगा। बैंक द्वारा बंधक आवेदन पोर्टल पर ऑनलाइन प्रेषित किया जाता है। इसका सत्यापन पोर्टल पर ही पटवारी द्वारा किया जाएगा। तहसीलदार द्वारा ऑनलाइन स्वीकृति दी जाती है।


वर्ष की प्रथम नेशनल लोक अदालत 12 मार्च को


राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण नई दिल्ली द्वारा वर्ष 2022 में आयोजित की जाने वाली नेशनल लोक अदालत का कैलेण्डर अनुमोदित किया गया है। जिसके अनुसार वर्ष की प्रथम नेशनल लोक अदालत 12 मार्च को, द्वितीय 14 मई को, तृतीय 13 अगस्त, को तथा अंतिम 12 नवंबर 2022 को संपूर्ण देश के तहसील न्यायालय से लेकर उच्च न्यायालय तक आयोजित की जाएगी। नेशनल लोक अदालत में आपराधिक शमनीय मामलें, परक्राम्य अधिनियम की धारा 138 के अंतर्गत प्रकरण, बैंक रिकवरी संबंधी मामलें, एम.ए.सी.टी. प्रकरण (मोटर दुर्घटना क्षतिपूर्ति दावा प्रकरण), वैवाहिक प्रकरण, श्रम विवाद प्रकरण, भूमि अधिग्रहण के प्रकरण, विद्युत एवं जलकर बिल संबंधी प्रकरण (चोरी के मामलों को छोडकर), सेवा मामलें, सेवा निवृत्ति संबंधी लाभों से संबंधित प्रकरणों का निराकरण किया जायेगा। राजस्व प्रकरण (न्यायालय में लंबित प्रकरण), दिवानी मामलें तथा अन्य समस्त प्रकार के राजीनामा योग्य, प्रीलिटिगेशन (मुकदमा पूर्व) के प्रकरणों का निराकरण आपसी सुलह समझौते के आधार पर किया जाएगा। 


मृतक कृषक रामचरण के ऊपर किसी भी प्रकार का बैंक लोन नहीं, परिजनों के नाम से समिति से खाद का उठाव किया


ग्यारसपुर तहसील के ग्राम पुरागोसाई निवासी मृतक कृषक रामचरण पुत्र अमर सिंह यादव के ऊपर किसी भी बैंक का लोन नहीं है। मृतक कृषक के पिता अमर सिंह के नाम पर 18 बीघा जमीन पुरागोसाई में है। कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव के संज्ञान में आने पर उन्होंने अविलम्ब ग्यारसपुर एसडीएम सहित अन्य को मौके पर पहुंचकर पूरी हकीकत से बाकिफ होकर अवगत कराने के निर्देश दिए थे। कलेक्टर श्री भार्गव ने बताया कि स्थानीय ग्रामवासियों के कथनो के अनुसार मृतक कृषक रामचरण की फसल बिल्कुल भी खराब नहीं हुई है बल्कि मावठा के कारण फसल बहुत अच्छी स्थिति में है। मृतक कृषक रामचरण के पिता अमर सिंह यादव द्वारा प्राथमिक कृषि साख सहकारी समिति सियासी के पूर्व डिफाल्टर है। इसी समिति का वर्ष 2021 में मृतक रामचरण सदस्य बनें। इनके द्वारा समिति से कोई भी ऋण नहीं लिया गया है के प्रमाण समिति में उपलब्ध है। गौरतलब हो कि मृतक कृषक रामचरण के पिता अमर सिंह जो पूर्व में डिफाल्टर थे इस कारण से प्राथमिक कृषि साख सहकारी समिति सियासी से रूप सिंह पुत्र कन्हैया, विनोद पुत्र दरयाब सिंह, दरयाब पुत्र परसराम इन तीनो लोगो के नाम से खाद का उठाव किया गया है। ग्यारसपुर तहसीलदार द्वारा उपलब्ध कराए गए पालन प्रतिवेदन अनुसार मृतक कृषक के परिवारजनों ने भी अवगत कराया कि उन्हें किसी भी प्रकार का नोटिस प्राप्त नहीं हुआ है। मृतक रामचरण पीएम किसान सम्माननिधि एवं सीएम किसान कल्याण योजना का भी लाभ प्राप्त कर रहा है। वर्तमान में मृतक द्वारा अपनी भूमि पर गेंहू की फसल बोई गई है जो अच्छी स्थिति में है। स्थानीय ग्रामवासियों ने कृषक को हंसमुख व मेहनती बताया। अतः प्रथम दृष्टया उक्त मामला ऋण से संबंधित नहीं प्रतीत हो रहा है। पुलिस द्वारा मर्ग कायम कर प्रकरण की विस्तृत जांच की जा रही है।

कोई टिप्पणी नहीं: