प्रतापगढ़ : विद्यालय में हुआ जागरूकता शिविर आयोजन - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 5 जनवरी 2022

प्रतापगढ़ : विद्यालय में हुआ जागरूकता शिविर आयोजन

legel-awareness-in-schools
प्रतापगढ़/05 जनवरी, आज दिनांक 05.01.2022 को जिला विधिक सेवा प्राधिकरण सचिव शिवप्रसाद तम्बोली द्वारा माननीय राजस्थान राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण जयपुर द्वारा जारी एक्शन प्लान एवं निर्देशानुसार स्थानीय राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय, प्रतापगढ़ में जागरूकता शिविर का आयोजन किया गया।  आयोजित शिविर में राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा संचालित योजनाओं यथा-नालसा (तस्करी और वाणिज्यिक यौन शोषण पीड़ितों के लिये विधिक सेवाएं) योजना 2015, नालसा (आदिवासियों के अधिकारों का संरक्षण और प्रवर्तन के लिए विधिक सेवाएं) योजना 2015, नालसा (मानसिक रूप से बीमार और मानसिक रूप से विकलांग व्यक्तियांे के लिए विधिक सेवाएं) योजना 2015 एवं नालसा (प्राकृतिक आपदा से पीड़ितों हेतु विधिक सेवाएं) योजना 2010 के तहत जानकारियां प्रदान की।  दौराने केम्प प्राधिकरण सचिव (ए0डी0जे0) द्वारा उपस्थित छात्र-छात्राओं को विभिन्न कानूनी जानकारियों से भी अवगत कराया। जैसे एंटी रैगींग कानून, राजस्थान सार्वजनिक (अनुचित साधनों की रोकथाम) अधिनियम 1992 आदि के साथ नैतिक मूल्यों का पालन, एकलव्य का उदाहरण देते हुए गुरूओं का सम्मान करने हेतु प्रेरित किया गया। इसी के साथ प्राधिकरण सचिव श्री तम्बोली ने बाल विवाह निषेध अधिनियम, बाल-श्रम के विरूद्ध कानून, मृत्यु भोज निषेध कानून एवं केन्द्र सरकार व राज्य सरकार द्वारा संचालित विभिन्न जन कल्याणकारी योजनाओं के संबंध में जानकारी प्रदान की गई।  इसी के साथ बीच में स्कूल छोड़ने वाले बच्चों को पुनः जोड़े जाने हेतु भी कहा। त्ण्ज्ण्म्ण् कानून 2009 आदि के बारे में बताते हुए उच्च शिक्षा हेतु प्रेरित किया। उपस्थित छात्र-छात्राओं की जिज्ञासाओं को उनके साथ प्रश्नोत्तर कर शांत किया।  आयोजित केम्प में उपस्थित विद्यालय के प्रिंसीपल राकेश दवे, उप प्राचार्य मोहम्मद शाहिद, वरिष्ठ अध्यापक मधुसुधन शर्मा, बलराम मीणा एवं हितार्थ दवे ने अपना सक्रिय सहयोग दिया। 

कोई टिप्पणी नहीं: