झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 05 जनवरी - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

बुधवार, 5 जनवरी 2022

झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 05 जनवरी

शासकीय कन्या उमा विद्यालय झाबुआ की 903 में से 789 छात्राओं ने करवाया वैक्सीनेशन, ‘‘मेरा टीका मेरी सुरक्षा’’ का दिया संदेष, संपूर्ण विद्यालय परिवार प्रदान कर रहा विशेष सहयोग


jhabua news
झाबुआ। शासकीय कन्या उमा विद्यालय झाबुआ में विगत 3 जनवरी से आरंभ हुए 15 से 18 वर्ष आयु के बालक-बालिकाओं के कोविड-19 से रोकथाम हेतु टीकाकरण कार्य में शाला परिवार ने अभूतपूर्व उपलब्धि हासिल की है। शाला परिवार द्वारा सत्त प्रयासरत होकर कुल लक्ष्य 903 में से 5 जनवरी, बुधवार तक 789 छात्राओं का टीकाकरण कार्य पूर्ण हुआ। सभी छात्राओं ने सफलतापूर्वक टीकाकरण करवाकर प्रसन्नता व्यक्त की। साथ ही उन्हांेने जिलेवासियों को ‘‘मेरा टीका मेरी सुरक्षा’’ का संदेश दिया। उक्त छात्राओं ने संस्था की अन्य छात्राओं से भी अनुरोध किया कि शेष सभी जल्द ही कोविड-19 से बचाव हेतु अपना टीकाकरण करवाएं और अमूल्य जीवन को सुरक्षित करे। टीकाकरण का यह कार्य संस्था प्राचार्य मनोज खाबिया के नेतृत्व में स्वास्थ्य विभाग की टीम ने किया। उक्त कार्यक्रम के नोडल अधिकारी प्रदीपकुमार मग है। इसके अलावा उक्त कार्य में समस्त शाला परिवार समर्पित होकर पूर्ण सहयोग प्रदान कर रहा है।


जिला स्तरीय परिवार परामर्ष केन्द्र निभारहा मुष्तेदी से अपना दायित्व टूटे हुए परिवार को जोडने में भूमिका निभाती है काउंसलर मंजु चौहान


झाबुआ । रिश्तों में उपजे तनाव में दबाव से नहीं समझाइश से सुलह होती है। पुरातन समय में न्याय की यही व्यवस्था थी और अब विज्ञान के युग में भी टूटते संबंध दबाव के न्याय से नहीं, बल्कि समझाइश से ही सुलझ रहे हैं। पुलिस के जिला  परामर्श केंद्र झाबुआ पर रिश्तों की ऊंच-नीच में समझाइश से सुलह कराई जा रही है। पिछले बरसों में महिला परामर्श केंद्र में समझाइश और समझौते लिए पहुंचने वाले दंपतियों की संख्या बढ़ी है और इनके बीच होने वाले समझौते भी बढ़े हैं, ठीक ऐसी ही स्थिति सालों पुराने पारिवारिक रिश्तों में आई कड़वाहट को लोग परिवार परामर्श केन्द्र की मध्यस्थता से आसानी से भुला रहे हैं। ज्ञातव्य है कि न्याय व्यवस्था की शुरुआत होने से पहले व्यवस्था यही थी कि समाज के गणमान्य लोग दो पक्षों या पारिवारिक विवाद को सुलझाने के लिए इकट्‌ठे बैठते थे और एकराय होकर फैसला लेते थे। इस फैसले को निर्विवाद रूप से माना जाता था। अब समाज भले ही विज्ञान की बातों पर भरोसा करता हो, लेकिन समझाइश और सुलह की यही व्यवस्था सर्वमान्य होती जा रही है। पिछले बरसों में समझाइश से सुलह का सोच बढ़ा है और विवादों के सुलझाने में पुराने तरीके का उपयोग किया गया है। पुुलिस अधीक्षक श्री आशुतोष गुप्ता के मार्गदर्शन में जिला स्तरीय परिवार परामर्श केन्द्र झाबुआं  में 1 जनवरी 2021 से 31-12-2021 तक कुल 508 मामले पहुंचे हैं और इनमें से 500 मामले समझाइश से सुलझ गए हैं यानि जो शिकायतें पहुंची उनमें से 98 फीसदी से अधिक मामलों में समझाइश से सुलह हो गई  तथा मात्र 8 प्रकरणों में काउंसलिंग के माध्यम से उन्हे निपटाने की कार्यवाही पूरी मुश्तेदी से जारी है वही पूरे जिले के विभिन्न थानों से इसी कडी में 45 आवेदन मिले जिसमें से 12 का निराकरण इस परिवार परामर्श केन्द्र परकया जाचुका है तथा शेष के लिये काउंसलिंग की कार्य्रवाही जारी है । इनमे से अधिकांश लोग एक बार आने के बाद दोबारा अपनी शिकायत लेकर पहुंचे ही नहीं। जिला स्तरीय परिवार परामर्श केन्द्र की प्रभारी श्रीमती गीता वंदलेहरा का कहना है कि यहां  में पति-पत्नी के विवाद में जो शिकायतें पहुंचती हैं उनमें ज्यादातर समझाइश से सुलझ जाती हैं। पत्नी नहीं चाहती कि पति परेशान हो और पति भी परिवार सुखी चाहते हैं लेकिन छोटी-छोटी बातों के विवाद वैवाहिक जीवन खराब कर देते हैं। परिवार परामर्श केंद्र में दंपति को यही समझाया जाता है कि छोटी-छोटी बातों पर परिवार न बिगाड़ें। वे एक-दूसरे को समझते रहेंगे तो विवाद की नौबत ही नहीं आएगी। जिला परिवार परामर्श केन्द्र में मुख्य भूमिका कांउसलर मंजु चौहान की ही रहती है । वही इन्हे सहयोग के लिये प्रधान आरक्षक सलमा परमार एवं नर्मदा मेडा का भी सहयोग प्राप्त होता है। काउंसलर मंजु चौहान का कहना है कि इस केन्द्र पर अधिकतर प्रकरण शराब के नशे मे पति-पत्नी के बीच विवाद के अलावा पत्नी या पति पर चारित्रिक शंका के ही आते है । व कई बाबर मामूली विवादों के चलते मातायें अपने 15-20 दिन तक के बच्चों को ससूराल मे छोड के मायके चली आती है, ऐसे स्थितियों में नवजात बच्चों की अकाल मौत भी हो जाती है, इस मानवीय संवेदना जैसी घटनाओं को भी पुनरावृति नही हो इसके लिये मंजु चौहान हमेशा सकारात्मक भूमिका निभाते हुए समझाईश के माध्यम से टूटते परिवारो को जोडे रखने का काम भी करती है। इसलिये पुलिस अधीक्षक आशुतोष गुप्ता के प्रखर मार्गदर्शन में यहां पर 5-5 सालों के ऐसे प्रकरणों को काउंसलिंग के माध्यम से  निराकृत  करना जिले की बडी उपलब्धि ही कहा जावेगा । काउंसलर मंजु चौहान पति पत्नी के बीच छोटी छोटी बातों से हुए मनोविवादों एवं शंकाओं को अपनापन के माध्यम से, समझा बुछा कर उन्हे राजी करके निराकृत करने में अपनी भूमिका का निर्वाह कर रही है। सबसे बडी बात यह है कि परिवार परामर्श केन्द्र पर आये दिन गा्रमीणजन अपनी समस्याओं को सुलझाने के लिये आते रहते है, यदि परमार्श केन्द्र पर मंजु चौहान को नही दिखते है तो वे वापस चले जाते है । मतलब साफ है कि लोगो एवं गा्रमीणों का पूरा विश्वास काउंसलर मंजु चौहान पर है कि वे ही उन्हे सही राह  दिखाती है ओर उनकी बातों को  गंभीरता से सुन कर काउंसलिंग करके पारिवारिक विवादों को बिना किसी कोर्ट के सुलझाती रहती है । आदिवासी समाज में तो मंजु चौहान के प्रति व्यापक विश्वास इस बात का प्रतिक है कि वे  बिना किसी व्यकितगत स्वार्थ के समाज सेवा के इस प्रकल्प को गंभीरता से सुलझाने में अपनी भूमिका निभाती है ओर यह आपसी समझौता इसके बाद पूरी तरह स्थायी बन चुका होता है तथा परिवार में सुख-शांति का माहौल प्रेममय जीवन जीने की प्रेरणा देता है । इनके इसी उत्कृष्ठ कार्यो को देखते हुए इन्हे जिला कलेक्टर स्तर से, पुलिस अधीक्षक स्तर के अलावा स्वतत्रंता दिवस एवं गणतंत्र दिवस जेसे राष्ट्रीय पर्वो पर भी सार्वजनिक रूप से सम्मानित किया गया है । झाबुआ का जिला स्तरीय परिवार परामर्श केन्द्र जिले मे ही नही वरन प्रदेश स्तर पर अपनी पहचान बना चुका है तथा समाजसेवा के इस प्रकल्प को काउंसलर मंजु चौहान का मृदु एवं मानवीय व्यवहार निश्चित ही जिले के लिये गौरव की बात है ।


10 बुजुर्ग पेंषनरों का किया गया सम्मान बैंक मेनेजरद्वय ने पेंषनर्स हितैषी योजनाओं की दी जानकारी


झाबुआ । जिला पेंशनर्स एसोसिएशन द्वारा बुधवार को स्थानीय पैलेस गार्डन में 75 वर्ष से अधिक आयु के पेंशनरों का सम्मान समारोह आयोजित किया । पेंशनर्स दिवस के अवसर पर आयोजित कार्यक्रम का शुभारंभ मां सरस्वती के चित्र पर पुष्पांजलि एवं दीप प्रज्वलन कर किया गया । मंच पर मुख्य अतिथि के रूप  में स्टेट बेंक आफ इण्डिया की आजाद चौक शाखा के मनेजर केएल गोयल, राजवाडा शाखा के मेनेजर दिनेश कुमार नागर के अलावा, जिला पेंशनर्स एसोसिएशन के जिलाध्यक्ष रतनसिंह राठौर, सामाजिक महासंघ के अध्यक्ष नीरजसिंह राठौर, डा. एलएस  राठौर, गुजरात के सेवानिवृत कमिश्नर डा. जितेन्द्रसिंह नायक, थांदला एसोसिएशन के अध्यक्ष जगमोहनसिंह राठौर, मेघनगर के कुंवरलाल सांकला, रानापुर के अध्यक्ष मांगीलाल दुर्गेश्वर एवं पेटलावद शाखा के अध्यक्ष एनएल रावल  उपस्थित थे । श्री गोपालसिंह चौहान ने सरस्वती वंदना प्रस्तुत की । कार्यक्रम का संचालन सुभाष दुबे ने किया । श्री एमएल फुलपगारे ने सम्मानित किये जाने वाले पेंशनरों के प्रशस्ति पत्रों का वाचन किया । स्टेट बेंक आफ इण्डिया के आजाद चौक ब्रांच के मेनेजर केएल गोयल ने अपने संबोधन में पेंशनरों से आव्हान किया कि वे अपने खाते में नामीनेशन दर्ज करवा लेवे ताकि भविष्य में उनके बाद पेंशन में किसी प्रकार की परेशानी नही हो । उन्होने पेंशनरों को बेंक द्वारा 18 माह की पेंशन राशि के बराबर लोन प्राप्त करने की योजना की जानकारी दी ।उन्होने पारिवारिक पेंशन के बारे में विस्तार से बताया । जीवन प्रमाणपत्र समय पर बेंक मे प्रस्तुत करने के बारे में जानकारी दी । राजवाडा शाखा के मेनेजर दिनेश कुमार  नागर ने भी आन लाईन पेमेंट के लिये योनों एप के उपयोग के बारे में बताया । सामाजिक महासंघ के अध्यक्ष नीरजसिंह राठौर ने अपने उदबोधन मे पेंशनरों एवं वरिष्ठ जनो की हर समस्या के निदान में पूरा सहयोग देने की बात कहते हुए बताया कि निकट भविष्य में जिला स्तर पर सामाजिक संघ त्रि दिवसीय आयोजन करेगा जिसमें जिले के सभी पेंशनरों एवं वरिष्ठजनों का सम्मानित किया जावेगा । उन्होने सामाजिक संघ द्वारा कंधे से कंधा मिलाकर पेंशनरों एवं वरिष्ठजनों की मदद करने का भरोसा दिलाया। जिला पेंशनर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष रतनसिंह राठौर ने मंच से महिला प्रकोष्ठ की अध्यक्ष सुश्री रूकमणी वर्मा को तथा श्रीमती कुंता सोनी को संयोजक नियुक्त करने की घोषणा के साथ ही 75 वर्ष से अधिक आयु के पेंशनरों के सममान समारोह का जिक्र करते हुए कहा कि बुजुर्गो का आशीर्वाद परिवार की प्रगति में महत्वपूर्ण होता हेै। कोराना काल का जिक्र करते हुए उन्होने कहा कि कोरोना गया नही है इसलिये हम सभी को मास्क के उपयोग के साथ ही गाईड लाइ्रन का पालन करना जरूरी है ।उन्होने पेंशनर्स हित की योजनाओं के बारे में विस्तार से जानकारी दी । इस अवसर पर गुजरात के जितेन्द्रसिंह नायक, थांदला संगठन के जगमोहनसिंह राठौर, सुभाष दुबे, डा. लोकेन्द्रसिंह राठौर, पेटलावद संगठन के एनएल रावल, जयेन्द्र बैरागी आदि ने भी संबोधन दिया ।


10 वरिष्ठ पेंषनरों को किया गया सम्मानित

अतिथियों के कर कमलों से 75 वर्ष की आयु  से अधिक आयु के गुमजीभाई सिंगोड, अरवीन्द व्यास, पीडी रायपुरिया, वाहिद खान, बाल मुकुन्दसिंह चौहान, श्याम सुंदर कसेरा, विद्याराम शर्मा, प्रेम शंकर शर्मा, श्रीमती सुशीला भट्ट एवं कालुसिंह डांगी का शाल श्रीफल एवं प्रश्स्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया । कार्यक्रम के अंत में आभार प्रदर्शन सुभाष दुबे ने व्यक्त किया ।


“400 सेंटिंग लोहे की प्लेटे चोरी करने वाले गिरोह का पर्दाफाश, आरोपी पुलिस गिरफ्त में”


झाबुआ । फरियादी प्रकाश का ग्राम बिलीडोज में नितेश कटारा के नये मकान बनाने का कार्य चल रहा था जहां पर फरियादी की 700 लोहे की प्लेट काम के लिये रखी हुई थी। दिनांक 21-22.12.2021 की दरमियानी रात्री में नितेश कटारा के निर्माणाधीन मकान से 400 सेंटिंग लोहे की प्लेट किमती 4,00,000ध्-रू. की कोई अज्ञात बदमाश चुराकर ले गया। जिस पर थाना कोताली में चोरी का अपराध पंजीबद्ध कर विवचेना में लिया गया। उक्त प्रकरण में थाना कोतवाली की पुलिस टीम द्वारा अपने विश्वसनीय मूखबीरों को लगाया गया। मूखबीर द्वारा सूचना मिली कि दो संदीग्ध व्यक्ति सादिक एवं गोलु को सेंटिंग की लोहे की प्लेट को ले जाते हुए देखा गया था। जिस पर पुलिस टीम द्वारा दोनों संदिग्ध व्यक्तियों को पुलिस गिरफ्त में लेकर पुछताछ करने पर सादिक, गोलु एवं विकाश ने मिलकर 400 सेंटिग लोहे की प्लेट को चोरी करना बताया। जिसमें से 100 सेंटिग की प्लेटों को श्रीराम स्क्रेप भंगार की दुकान में बेचना बताया। जिसे विधिवत जप्त किया गया। अन्य 300 सेंटिग की प्लेटों को आरोपियों की निशादेही से जप्त किया गया।  विकाश ऊर्फ राहुल पिता फ्रासिंस बारिया निवासी झाबुआ (गिरफ्तार) सादिक पिता मेहमुद शेख निवासी उम्र 26 वर्ष निवासी रोहिदास मार्ग झाबुआ (गिरफ्तार) गोलु ऊर्फ मनोज पिता इंदरसिंह बारिया उम्र 25 वर्ष निवासी रामशरणम के पास झाबुआ  (गिरफ्तार) श्रीराम स्क्रेप दुकान संचालक (फरार)  संपुर्ण घटनाक्रम का खुलासा करने में थाना प्रभारी कोवताली निरी. सुरेन्द्र सिंह गाडरिया, सउनि कड़पसिंह मेड़ा, सउनि महावीर वर्मा, प्रआर. दगदीश, आर. जितेन्द्र पुरी, आर. जितेन्द्र रावत का सराहनीय योगदान रहा। उक्त सराहनीय कार्य पर पुलिस टीम को पुलिस अधीक्षक झाबुआ द्वारा पुरूस्कृत करने की घोषणा की।


भाजपा पिछडा वर्ग मोर्चा ने स्कूली छात्र-छात्राओं को टीककरण के लिए प्रेरित करते हुए उन्हें निःशुल्क मास्क एवं चॉकलेट का किया वितरण, शासकीय उत्कृष्ट माध्यमिक विद्यालय करड़ावद में किया कार्यक्रम


jhabua news
झाबुआ। शासन-प्रशासन द्वारा विगत 3 जनवरी से 15 से 18 वर्ष के स्कूली छात्र-छात्राओं को कोविड से रोकथाम हेुत वैक्सीन लगाने का कार्य युद्ध स्तर पर किया जा रहा है। ग्रामीण क्षेत्रों की स्कूलों में भी बच्चों को टीके के महत्व के बारे में जानकारी देते हुए उन्हें वैक्सीन का प्रथम डोज लगाने का कार्य चल रहा है। इसी क्रम में भाजपा पिछड़ा वर्ग मोर्चा की जिला इकाई द्वारा भी स्कूली छात्र-छात्राओं को वैक्सीन के प्रति जागरूक करने का कार्य किया गया। जिसमें पिछड़ा वर्ग मोर्चा ने शासकीय उत्कृष्ट माध्यमिक विद्यालय करडावद, पेटलावद मे 5 जनवरी, बुधवार को कार्यक्रम का आयोजन किया। जिसमें मोर्चा जिलाध्यक्ष सोनू विश्वकर्मा एवं जिला उपाध्यक्ष आशीष बाविस्कर ने स्कूल के छात्र-छात्राओं को तिलक लगाकर वैक्सीनेशन के लिए जागरूक किया। साथ ही वैक्सीनेशन होने के बाद बच्चों को चॉकलेट एवं मास्क भी वितरित किए।


दूसरे छात्र-छात्राओं को भी करे प्रेरित

इस दौरान भाजपा पिछड़ा मोर्चा जिलाध्यक्ष सोनू विश्वकर्मा ने टीका लगवाने वाले छात्र-छात्राआ से कहा कि वे अपने दूसरे साथियों को भी वैक्सीन के लिए प्रेरित करे।घर के बाहर निकलते समय और स्कूल आने पर मास्क और सोषल डिस्टेनसिंग का उपयोग जरूर करे। उक्त कार्यक्रम में भाजपा पिछड़ा वर्ग मोर्चा से जुड़े अन्य पदाधिकारियों में अंशुल व्यास, हेमंत राठौड़ के साथ विद्यालय प्राचार्य गोपाल काग सहित स्टॉफ शिक्षक-शिक्षिकाएं और मेडिकल स्टॉफ उपस्थित था।


छठवीं राज्य स्तरीय कूड़ो प्रतियोगिता में जिले के खिलाडियों ने जीते पदक, बेटी आहना डामोर एवं कोच दिनेश खराड़ी ने रजक पदक हासिल किया, जिला कूड़ो एसोसिएशन ने दी शुभकामनाएं


jhabua news
झाबुआ। कूड़ो एसोसिएशन ऑफ मप्र के तत्वाधान में दीपक मेमोरियल एकेडमी सागर द्वारा आयोजित छठवीं राज्य स्तरीय कूड़ो प्रतियोगिता में जिले के खिलाड़ियों ने पदक हासिल किए। जानकारी देते हुए झाबुआ जिला कूड़ो एसोसिएशन के उपाध्यक्ष कोमल बारिया ने बताया कि विगत 28 दिसंबर-2021 से 3 जनवरी-2022 तक प्रथम तीन दिवसीय विशेष कूड़ो प्रशिक्षण शिविर एवं दो दिवसीय कूड़ो प्रतियोगिता प्रदेश के सागर जिले में आयोजित हुई। जिसमें झाबुआ से 2 खिलाड़ियों ने भाग लिया। जिले से जिला कूड़ो एसोसिएशन के सचिव दिनेश खराड़ी ने टीम की अगुवाई की। मिनिस्ट्री ऑफ यूथ अफेयर्स एंड स्पोर्ट्स गवर्नमेंट ऑफ इंडिया से मान्यता प्राप्त कूड़ो इंटरनेशनल फेडरेशन ऑफ इंडिया के राष्ट्रीय अध्यक्ष सोसिहान मेहुल वोरा, कोषाध्यक्ष सिहान जैस्मिन मकवाना एवं प्रशिक्षण सेमिनार के प्रभारी रेंसी विपुल सुरू ने सभी खिलाड़ियों और जिला कूड़ो प्रशिक्षको को कूड़ो के नए अपडेट्स 2.2 वर्जन की ट्रेनिंग दी।


रजक पदक हासिल किए

इसी दौरान रेफरी कोच एवं ब्लैक बेल्ट की ग्रेडिंग एग्जाम ली गई। झाबुआ जिले से इस प्रतियोगिता में मार्शल आर्ट्स एंड फिटनेस अकैडमी झाबुआ की खिलाड़ी आहना पिता निलेश डामोर ने अंडर-15 वर्ष आयु वर्ग में -36 किलो भार वर्ग में रजत पदक हासिल किया। वहीं दिनेश खराड़ी ने पुरुष आयु वर्ग के पीआई कैटेगरी में खेल कर रजत पदक हासिल किया।


मोमेंटो देकर किया सम्मानित

खिलाड़ियों को स्कूल गेम्स फेडरेशन ऑफ इंडिया के जनरल सेक्रेटरी आलोक खरे एवं मप्र कूड़ो एसोसिएशन के चेयरमेन तथा विधायक सागर शैलेंद्र जैन द्वारा पदक देकर तथा जिला प्रशिक्षकों को मोमेंटो देकर सम्मानित किया गया। खिलाडियों की घर वापसी पर झाबुआ जिला कूड़ो एसोसिएशन के पदाधिकारी-सदस्यों और परिजनों ने भी बधाईयां दी।


झाबुआ के बहादुर सागर तालाब पर लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग ने किया श्रमदान, तालाब किनारे पड़ी गाद और जलकुंभियां निकालकर ट्रेक्टर-ट्राली से अन्यत्र स्थानांे पर फिंकवाया


jhabua news
झाबुआ। कलेक्टर सोमेश मिश्रा के आदेशानुर एवं लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के कार्यपालन यंत्री एनएस भिड़े के निर्देशन में लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग झाबुआ के समस्त अधिकारी-कर्मचारियांे ने मिलकर 5 जनवरी, बुधवार को सुबह 8 बजे से बहादुर सागर तालाब (बड़ा तालाब) पर श्रमदान किया। जिसमें बड़ा तालाब के पुराने शिक्षा विभाग के सामने स्थित घाट से गाद एवं सैकड़ों जलकुंभिया निकालकर इन्हें ट्रेक्टर-ट्रॉलियों मंें भरकर कचरा निपटान स्थल तक पहुंचाया गया। यह श्रमदान कार्य करीब एक घंटे 9 बजे तक चला। इस अवसर पर विभाग प्रमुख कार्यपालन यंत्री एनएस भिड़े., डीए राहुल बंसल, जिला सलाहकार धूलिया बामनिया, सहायक यंत्री पेटलावद शैलेन्द्र बघेल के साथ विभाग के समस्त सब इंजीनियर एवं कर्मचारीगण उपस्थित थे।


2 फरवरी तक चलेगा श्रमदान, 40 प्रतिशत साफ हुआ तालाब

झाबुआ के बहादुर सागर तालाब पर जिले के विभिन्न विभागों द्वारा आगामी 2 फरवरी तक श्रमदान कार्य जारी रहेगा। ज्ञातव्य रहे कि बड़ा तालाब पर वार्ड क्र. 1 के सक्रिय एवं जागरूक पार्षद पपीश पानेरी तथा नपा की स्वच्छता शाखा के विशेष प्रयासांे से करीब 40 प्रतिशत हिस्सा अब साफ हो चुका है और तालाब में पानी जगह-जगह से दिखाई देने लगा है। यहां नगरपालिका की स्वच्छता शाखा की टीम अनवरत सफाई कार्य में जुटी हुई है।


गुरू तृतीया एवं आचार्य श्री यतिन्द्र सूरीष्वरजी मसा की जंयती के अवसर पर श्री श्वेतांबर जैन मालवा महासंघ ने किया कार्यक्रम, निराश्रित आश्रम अंतरवेलिया में निःस्वार्थ सेवा देने वाले श्यामलाल पाल का सम्मान के साथ सभी को निःशुल्क कंबल का भी हुआ वितरण


झाबुआ। 5 जनवरी, बुधवार को गुरू तृतीया एवं आचार्य श्री यतिन्द्र सूरीश्वरजी मसा की जयंती के उपलक्ष में श्री श्वेतांबर जैन मालवा महासंघ द्वारा स्वामी श्रृद्धानंद निराश्रित बाल आश्रम अंतरवेलिया पहुंचकर यहां कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जिसमंे आश्रम में निःस्वार्थ सेवाएं देने वाले श्यामलाल पाल का भावभरा सम्मान कर वर्तमान शीत ऋतु के दृष्टिगत जरूरतमंदों को निःशुल्क कंबल भी वितरित किए। प्रारंभ में मालवा जैन महासंघ के कंेंद्रीय प्रवक्ता यशवंत भंडारी ने आज के विशेष दिवस के बारे में सभी को जानकारी दी एवं बताया कि इस विशेष दिवस के उपलक्ष में मालवा महासंघ पुण्य का कार्य करने जा रहा है। बाद आश्रम में चौकीदार के रूप में 24 घंटे सेवाएं देने वाले श्यामलाल पाल का अभिनंदन पुष्पमाला पहनाकर एवं बंडी पहनाकर किया गया। बाद आश्रम में ही आवश्यकतानुसार कंबल प्रदान किए गए।


यह रहे उपस्थित

उक्त कार्यक्रम में अतिथि के रूप में माहिष्मति कला मंच के जिलाध्यक्ष एमएल फुलपगारे, राष्ट्रीय कवि संगम से जुड़े सुरेश पुरोहित ‘सन्नाटा’, रोटरेक्ट क्लब सचिव दौलत गोलानी, युवा शार्दुल भंडारी उपस्थित रहे। वहीं आश्रम की ओर से मनीषा वैदिक, सरिता पाल, कौशल्या हटिला, रवि वैदिक आदि मौजदू रहे।


प्रधानमंत्री की स्वामित्व योजनांतर्गत ड्रोन सर्वे


jhabua news
झाबुआ। प्रधानमंत्री की स्वामित्व योजनांतर्गत किये जा रहे ड्रोन सर्वे के निरीक्षण हेतु कलेक्टर श्री सोमेश मिश्रा द्वारा अपने दल के साथ थांदला के समीप ग्राम टिमरवानी में निरीक्षण किया गया। ड्रोन सर्वे की सम्पूर्ण कार्यवाही को कलेक्टर के समक्ष सम्पन्न करवाई गई कलेक्टर द्वारा बताया गया कि स्वामित्व योजना माननीय प्रधानमंत्री की महत्वपूर्ण योजना है। इस योजना के अंतर्गत आबादी भूमि के अंतर्गत वर्षो से बने मकानों का ड्रोन से सर्वेक्षण उपरांत अधिकार अभिलेख तैयार कर स्वामित्व का प्रमाण पत्र शासन द्वारा जारी किया जाएगा। जिससे की संबंधित को बैंक इत्यादि में लोन हेतु उपयोगी सिद्ध होगा। अधीक्षक भू-अभिलेख श्री सुनील राणा ने बताया कि सर्वे पूरा करने में साढे़ 3 से चार महीने का समय लग सकता है। झाबुआ स्वामित्व योजना के तीसरे चरण में हैं। एक-एक सर्वे के अंदर जितने भी आवास है, उनका सर्वे ड्रोन से करके नक्शे तैयार होंगे। गांवों के आबादी क्षेत्र में सरकारी जमीन पर मकान बनाकर रहने वालों को उस जमीन का अधिकार पत्र देने के लिए चलाई गई स्वामित्व योजना के लिए शुक्रवार से जिले में ड्रोन सर्वे शुरू हो गया है। पहले दिन गांव पीथनपुर में सर्वे किया गया। हर दिन लगभग 5 गावों में सर्वे किया जा रहा है। ड्रोन आबादी सर्वे में काबिज लोगों का एरियल सर्वे कर नक्शा तैयार करेगा। इसी नक्शे के आधार पर योजना के तहत अधिकार पत्र दिए जाएंगे। जिले के 579 गांवों में ड्रोन सर्वे का कार्य किया जाएगा इस दौरान अनुविभागीय अधिकारी राजस्व थांदला श्री अनिल भाना, अधीक्षक भू-अभिलेख श्री सुनील राणा, तहसीलदार श्री शक्ति सिंह चौहान, जनपद पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री आर.सी.हालू, प्रभारी पीआरओ श्री सुधीर कुशवाह, स्थानिय पटवारी, रोजगार सहायक एवं बड़ी संख्या में ग्रामीण उपस्थित थे।


स्वाधीनता की 75 वीं वर्षगांठ अवसर पर आजादी का अमृत महोत्सव


झाबुआ,। श्री शिव शेखर शुक्ला, प्रमुख सचिव, मध्यप्रदेश शासन, संस्कृति विभाग भोपाल दिनंाक 28 नवम्बर 2021 के अर्द्धशासकीय पत्र के निर्देशानुसार आजादी का अमृत महोदत्सव अंतर्गत सभी विभागों/ अधीनस्थ कार्यालयों के आधिकारिक स्टेशनरी (फाइल कवर, लिफाफे, फोल्डर्स) सूचनात्मक ब्रोशर, ईमेल, चालान और बिल आदि पर आजादी का अमृत महोत्सव (।ज्ञ।ड) लोगो के उपयोग के लिए आवश्यक निर्देश जारी करने का अनुरोध किया गया है। साथ ही राज्य में सार्वजनिक उपक्रमों, स्वायत्त निकाय एवं अन्य संस्थान हेतु भी लोगो के उपयोग किये जाने का अनुरोध किया गया है। मध्यप्रदेश शासन, संस्कृति विभाग के पत्र क्रमांक 142/प्र.स./सं/तीस/2021, दिनांक 27.08.2021 द्वारा पूर्व में भारत सरकार के संस्कृति मंत्रालय द्वारा प्रेषित लोगो की लिंक सभी विभागों को पूर्व में उपलब्ध कराई गई थी। आजादी का अमृत महोत्सव का लोगो लिंक http:èèamritmahotsav.nic.in@download.htm से डाउनलोड किया जाकर उपर्युक्तानुसार उपयोग करने हेतु सम्बन्धितों को निर्देशित करने का अनुरोध है।


माननीय विधायक ने किया जल शोधन संयंत्र परिसर का अवलोकन


jhabua news
झाबुआ,। पेटलावद जल प्रदाय परियोजना के अन्तर्गत जल शोधन संयंत्र का क्षेत्रीय माननीय विधायक श्री वालसिंह जी मेड़ा द्वारा अवलोकन किया गया। इस अवसर पर क्षेत्रीय विधायक ने जल शोधन संयंत्र में स्थापित जल परीक्षण प्रयोगाशाला सहित सभी घटकों के बारे में विस्तार से जानकारी ली। पेटलावद जल प्रदाय परियोजना का निर्माण मध्यप्रदेश अर्बन डेवलपमेंट कम्पनी द्वारा एशियन डेवलपमेंट बैंक की सहायता से किया जा रहा है। श्री मेडा ने परियोजना कार्यों की प्रशंसा व्यक्त करते हुए कहा कि आशा कि जानी चाहिए कि शीघ्र ही पेटलावद नगर को स्वच्छ और गुणवत्तायुक्त जल मिलेगा। उन्होंने डब्ल्यूटीपी में स्थित जल शिकायत निवारण केन्द्र की विशेषतौर पर सराहाना की। उल्लेखनीय है कि पेटलावद में जल प्रदाय व्यवस्था का परीक्षण भी प्रारंभ कर दिया गया है। पेटलावद नगर में 2774 घरों में मीटरयुक्त नल कनेक्शन दिए गए है। मध्यप्रदेश अर्बन डेवलपमेंट कम्पनी के प्रबंध संचालक श्री निकुंज श्रीवास्तव ने भी लोगों से मीटरयुक्त नल कनेक्शन लेने की अपील की है।


उत्पादक समूहों का प्रशिक्षण प्रारंभ

         

झाबुआ। जिला पंचायत झाबुआ में मध्य प्रदेश डे राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन विकास खण्ड थांदला में संचालित शबरी माता सामुदायिक प्रशिक्षण केंद्र खवासा में तीन दिवसीय महिला किसानों के रामा विकासखंड और मेघनगर विकास खण्ड में बने उत्पादक समूहों का प्रशिक्षण प्रारंभ हुआ। जिसमे महिला किसान ने उत्पादक समूह के बारे में जानकारी प्राप्त की जिसमे प्रथम दिवस उत्पादक समूह बनाने के उद्देश्य,अवधारणाये,कार्य लघु एवं सीमांत किसानो के लिए इसके महत्व को लेकर विस्तृत रूप में समझाया गया। इस प्रशिक्षण का मुख्या उद्देश्य महिला किसानो को व्यावसायिक आजीविका गतिविधियों से जोड़ कर सशक्त एवं आत्मनिर्भर बनाना है इस प्रशिक्षण में रामा विकासखंड से 6 उत्पादक समूह व मेघनगर विकासखंड से 7 उत्पादक समूह की दीदीयों ने प्रशिक्षण प्राप्त किया प्रशिक्षण का कार्य ट्रांसफॉर्म रूरल इंडिया फाउंडेशन के पेटलावद एवं थांदला के कृषि समृद्धि मेनेजर श्री वर्धमान जाधव, श्री अजय गेहलोत द्वारा पूर्ण किया गया। जिसमे सहायक के रूप में एन आर ई टी पी से श्री प्रतीक विश्वकर्मा, श्री विश्वनाथ सिंह विशेष रूप से उपस्थित रहे।


मांडू उत्सव में जिले के समूहों के द्वारा उत्कृष्ट शिल्प का स्टाल लगाया, समूहों के द्वारा निर्मित सामग्री को सराहा गया


झाबुआ,। कलेक्टर श्री सोमेश मिश्रा एवं जिला मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री सिद्धार्थ जैन के मार्गदर्शन में समूह की दीदीयों ने मांडू उत्सव मेले में प्रतिभाग किया। जिला धार में बड़े ही उल्लास के साथ मनाए जाने वाले मांडू उत्सव में जिला झाबुआ के समूहो की दीदीयो ने अपने अपने समूह द्वारा बनाए जाने वाले उत्पादों के स्टॉल लगाए। जिसमें ब्लॉक झाबुआ के ग्राम डूंगरा लालू से संगीता समूह की साक्षी भुहा द्वारा झाबुआ डॉल मोती माला ब्लॉक रामा के ग्राम  पारा के विकास समूह की माया चौहान द्वारा मेक्रम का सामान कपड़े के बैग बास सामग्री व ब्लॉक थांदला के मकोडिया ग्राम के शारदा समूह की केसरी पारगी द्वारा धनिया मिर्ची पाउडर सर्फ सामग्री को अच्छे दामों पर विक्रय किया  सभी समूहो द्वारा लगभग 10 प्रकार के उत्पादों को विक्रय कर 16590 की राशि अर्जित की गई। समूहो के द्वारा निर्मित सामग्री को सभी ने मुक्तकंठ से सराहा गया।


वित्तीय साक्षरता कार्यक्रम का आयोजन

jhabua news
झाबुआ। 4 जनवरी 2022 को नाबार्ड प्रायोजित थेथम जलग्रहण परियोजना के तहत विकासखंड थांदला के ग्राम झोसली में वित्तीय साक्षरता कार्यक्रम का आयोजन किया गया। श्री राधामोहन मिश्रा जी, उप क्षेत्रीय प्रबंधक, मध्यप्रदेश ग्रामीण बैंक ने परियोजना ग्रामों के पात्र 10 स्व सहायता समूहों को यथाशिघ्र ऋण वितरित करने हेतु आजीविका मिशन को सहयोग करने को कहा। प्रक्षिक्षण के उपरांत परियोजना के तहत वितरित कड़कनाथ चूजों की इकाई, ड्रिप सिंचाई इकाई, खेत तालाब निर्माण, गेबियन, मेढ़ बंधान कार्यों का अवलोकन किया गया ताकि इन गतिविधियों के लिए अन्य जरूरतमंद किसानों को ऋण वितरित किया जा सके। परियोजना के तहत अभी तक 04 खेत तालाब का निर्माण किया गया है जहाँ मत्स्य पालन की संभावना है। यह जानकारी श्री नितिन अलोने जिला विकास प्रबंधक, नाबार्ड, झाबुआ (झाबुआ, रतलाम) द्वारा उपलब्ध करवाई गई है।


माननीय मुख्यमंत्री जी मध्यप्रदेश शासन के द्वारा हितग्राहियों को प्रधानमंत्री आवास योजना ‘‘ग्रामीण‘‘ के अंतर्गत आवास मिलने पर बधाई संदेश प्रेषित किया


झाबुआ। माननीय मुख्यमंत्री मध्यप्रदेश श्री शिवराज सिंह जी चौहान के द्वारा प्रधानमंत्री आवास योजना ‘‘ग्रामीण‘‘ के अंतर्गत आवास मिलने पर बधाई संदेश प्रेषित किया है। जिसमें माननीय मुख्यमंत्री जी ने कहा कि मैं आशा करता हॅू कि आप अपने नवीन आवास में हर्ष एवं आनंद के साथ निवास कर रहे हैं। आवास प्रत्येक परिवार की मूलभूत आवश्यकता है। इसी अवधारणा को रखते हुए ‘‘ सबसे लिए आवास 2022 ‘‘ के अंतर्गत हमारे यशस्वी प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के द्वारा प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण प्रारंभ की गई है। इस योजनांतर्गत आवास निर्माण के लिए रूपए 1.20/1.30 लाख , स्वच्छ भारत मिशन से शौचालय निर्माण के लिए पात्रता अनुसार रूपए 12 हजार और मनरेगा से रूपए 18 हजार की सहायता राशि प्रदान के साथ-साथ अन्य सरकारी योजनाओं का लाभ भी परिवार को दिया जाता है। जिससे परिवार का सर्वागीण विकास हो सकें। आवासविहीन गरीब परिवारों के लिए घर वह उपहार है जिसमें न केवल जीवन की मूलभूत आवश्यकताओं की पूर्ति होती है, अपीतू उसका आत्मविश्वास भी बढ़ता है। आवास युक्त परिवार गरीबी के बंधन से मुक्त होकर जीवन में सफलता के मार्ग पर बढ़ने में सक्षम हो जाता है तथा बच्चों की पढ़ाई तथा उनके सफल भविष्य का मार्ग भी प्रशस्त करता है। योजना में आपका चयन हुआ तथा आपके द्वारा आवास निर्माण पूर्ण किया गया। इसके लिए आपको बधाई। आपके और आपके परिवार के लिए समृद्धि की कामना करते हुए हार्दिक शुभकामनाएं।


आंनवाडी केन्द्र को गोद ले, संवारे नोनिहालों का भविष्य, बच्चे देश का भविष्य आओ हम सब मिलकर संवारे देश का भविष्य, कलेक्टर श्री सोमेश मिश्रा ने अपील जारी की


झाबुआ। कलेक्टर श्री सोमेश मिश्रा ने अपील की है जिसमें आंगनवाडी केन्द्र को गोद ले, संवारे नोनिहालों का भविष्य, बच्चे देश का भविष्य आओ हम सब मिलकर संवारे देश का भविष्य जिसमें आंगनवाडी केन्द्रों पर 6 वर्ष तक की आयु के बच्चों की स्वास्थ्य देखभाल, पोषण, टीकाकरण और स्कूल पूर्व शिक्षा जैसी बुनियादी सेवाएं प्रदान की जाती है। जिससे बच्चों की बुनियाद मजबूत की जा सके। बच्चे देश के भावी नागरिक है। बच्चों की बुनियाद मजबूत होगी तो देश का भविष्य उज्जवल होगा। आंगनवाडी केन्द्रो पर महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा प्रदान की जाने वाली सेवाओं का शत प्रतिशत लाभ बच्चों, गर्भवति माताओं, दूध पिलाने वाली माताओं और किशोरियों को दिलवाने के लिए और अतिरिक्त बाल हितेशी गतिविधियां संचालित करने के लिए समाज के प्रभुद्धजनों, जनप्रतिनिधियों, अधिकारियों, कर्मचारियों एवं सर्वसाधारण जनता का सहयोग व सहभागिता आवश्यक है। आप सभी सेवाभावी जनप्रतिनिधिगण, अधिकारीगण, कर्मचारीगण, व्यापारीगण, औद्योगिक संस्थाओं, स्वयंसेवी संस्थाओं, शिक्षकगण आदि से विनम्र अपील है कि जिले में स्वैच्छा से एक-एक आंगनवाडी केन्द्र को गोद लेकर केन्द्र पर शासन द्वारा प्रदाय सेवाओं जैसे बच्चों की स्वास्थ्य देखभाल, पोषण, टीकाकरण और स्कूल पूर्व शिक्षा जैसी बुनियादी सेवाओं का शत प्रतिशत लाभ दिलवाते हुए बच्चों के समग्र विकास के लिए जन सहयोग से अतिरिक्त सेवाएं उपलब्ध करवा कर एक आदर्श आंगनवाडी केन्द्र बनाने में अपना सहयोग प्रदान करें। इच्छुक व्यक्ति/संस्था द्वारा एक आंगनवाडी केन्द्र को गोद लेने हेतु विभाग द्वारा प्रारम्भ ।क्व्च्ज्प्व्छ ।छ ।छळ।छॅ।क्प् कार्यक्रम में पंजीयन निम्न लिंक पर किया जा सकता है जब देश स्वतंत्रता का अमृत महोत्सव मना रहा है ऐसे पावन अवसर पर आपका यह योगदान देश के भावी नागरिकों की बुनियाद मजबूत करने में मील का पत्थर साबित होगा। बच्चों के विकास और समाज और देश हित में आपसे यही विनम्र अपील है। आंगनवाडी गोद लेने के इच्छुक व्यक्ति जिला कार्यक्रम अधिकारी महिला एंव बाल विकास झाबुआ जिनका मोबाईल नंबर 9630662451, 7024543419 है।


आयुष क्योरी एप - ऑनलाइन निशुल्क चिकित्सा परामर्श हेतु एक अभिनव पहल’


झाबुआ। मध्यप्रदेश शासन आयुष विभाग भोपाल के आदेशानुसार एवं कलेक्टर श्री सोमेश मिश्रा के निर्देशन में वैद्य आपके द्वार योजना अंतर्गत जिला आयुष अधिकारी डॉ प्रमिला चौहान के मार्गदर्शन में आज जिला आयुष कार्यालय में समस्त चिकित्सकों एवं पैरामेडिकल स्टाफ को डॉ मिर्ज़ा गुफरान बैग यूनानी चिकित्सा अधिकारी द्वारा आयुष क्योरी एप के बारे में जानकारी दी गयी, और अधिक से अधिक लोगों को जागरूक करने एवं एप्प डाउनलोड करने के लिए कहा गया। आयुष क्योरी एप एक टेलीमेडिसिन एप है,जो मध्यप्रदेश शासन आयुष विभाग द्वारा तैयार की गई है, जो चिकित्सक और रोगी दोनो उपयोग कर सकेंगे इस ऐप को नागरिक एंड्राइड फ़ोन में गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड कर इस सुविधा का लाभ ले सकते हैं। कोविड 19 की तीसरी लहर की संभावना को देखते हुए यह काफी कारगर हो सकती है। इसके अंतर्गत आयुष स्वास्थ सेवाएं सहजता से घर घर ही सुलभ हो सकेंगी । घर बैठे निशुल्क आयुष चिकित्सा विशेषज्ञ से वीडियो कॉल द्वारा आयुष की तीनों पैथियों आयुर्वेद होमियोपैथ या यूनानी में से किसी भी विधा का लाभ लिया जा सकता है। चिकित्सक द्वारा बताए गए विभिन्न जांचो को कराकर इस ऐप पर अपलोड किया जा सकता है, इस आधार पर भी चिकित्सक परामर्श दे सकेंगे, जो कि मेसेज या इस ऐप के माध्यम से रोगी को प्राप्त होगा। आयुष क्योरी एप का उपयोग करने की प्रक्रिया’ गूगल प्ले स्टोर से आयुष क्योरी एपएप सर्च कर डाउनलोड करें। ऐप इंस्टाल करके साइन अप करें। विशेषज्ञता के अनुसार आयुर्वेद होमियोपैथ या यूनानी चिकित्सक चुनें। अपनी सुविधानुसार अपॉइंटमेंट का दिन व समय चुने। अपॉइंटमेंट बुकिंग कन्फर्म होने पर फोन पर एसएमएस प्राप्त होगा। निश्चित समय पर चयनित डॉक्टर आपको वीडियो कॉल कर परामर्श देंगे।डॉक्टर का प्रिस्क्रिप्शन मरीज को एसएमएस एवं ऐप पर प्राप्त होगा। मरीज अपने टेस्ट रिपोर्ट इत्यादि भी आयुष क्योरी के माध्यम से डॉक्टर के साथ साझा कर सकते हैं। इस योजना के द्वारा मरीजो को निम्न लाभ होंगे’ घर बैठे वीडियो कॉल पर निशुल्क स्वास्थ परामर्श,विशेषज्ञ आयुर्वेद होमियोपैथ यूनानी डॉक्टर उपलब्ध। दवा का प्रिस्क्रिप्शन आपके मोबाइल पर। दवा लेने व पुनः परामर्श के लिए रिमाइंडर की सुविधा। सम्पूर्ण परिवार का स्वास्थ्य रिकॉर्ड उपलब्ध। हिंदी और अंग्रेजी दोनो भाषाओं में उपलब्ध।


कोविड-19 संक्रमण से मृत्यु पर अनुग्रह राशि का वितरण


झाबुआ, 5 जनवरी 2022। कलेक्टर श्री सोेमेश मिश्रा के आदेशानुसार कोविड-19 संक्रमण से मृत्यु पर अनुग्रह की राशि न्यायालय अनुविभागीय अधिकारी राजस्व पेटलावद श्री शिशिर गेमावत के द्वारा श्री कपिल सोलंकी की मृत्यु कोविड-19 के कारण होने पर मृतक के वैध वारिसान पत्नि श्रीमती ममता सोलंकी निवासी नारेला रोड बामनिया तहसील पेटलावद को 50 हजार रूपए अनुग्रह राशि प्रदान की गई है। इसी तरह स्व. श्री मोहनलाल राठौर की मृत्यु कोविड-19 संक्रमण होने के कारण मृतक की वैध वारिसान पत्नि श्रीमती कंचनबाई राठौर ग्राम रूपगढ़ तहसील पेटलावद को 50 हजार रूपए की अनुग्रह राशि प्रदान की गई है। इसके अतिरिक्त स्व. श्री भरत कुमार उपलाना की मृत्यु कोविड-19 संक्रमण से होने के कारण मृतक की वैध वारिसान पत्नि श्रीमती संतोषी उपलाना को 50 हजार रूपए अनुग्रह राशि प्रदान किए गए हैं। सभी को यह राशि उनके बैंक खातों में जारी करने की स्वीकृति दिनंाक 3 जनवरी 2022 को की गई है।


मगंलवार को जनसुनवाई में केवल 16 आवेदन प्राप्त हुए

        

झाबुआ। डिप्टी कलेक्टर डॉ. श्री अभयसिह खराडी द्वारा मंगलवार को जनसुनवाई में 16 आवेदन प्राप्त किए। कलेक्टर कार्यालय सभा कक्ष में अधिकारी आवेदकों का इंतजार करते रहे, किन्तु 16 आवेदकों द्वारा ही अपने आवेदन प्रस्तुत किए गए। जिसमें श्री सम्भु पिता रूपला अमलियार आदि के द्वारा माही नगर परियोजना का पानी ग्राम सागडिया, स्वापाठ, अंतरखेडी सिचाई करने हेतु नही दिया जा रहा है। खेती के कार्यो के लिए माही नगर परियोजना का पानी प्रदान किए जाने बाबत प्रस्तुत हुआ है। श्री फारूक पहेलवान हाजी मोहम्मद सफी निवासी झाबुआ द्वारा समाज के अवैध ठेकेदारों के द्वारा प्रार्थी का शोषण किये जाने बाबत व बेदखल किए जाने बाबत प्रस्तुत किया गया है। श्री गुलाबसिंह परमार संजय जुट प्रोडक्टस झाबुआ द्वारा स्कूलों में गणवेश स्पलाय हेतु प्रस्तुत किया गया। श्री रामू पिता बूचा भाबोर एवं अन्य 37 व्यक्ति द्वारा ग्राम पंचायत डुमपाडा के द्वारा अनियमितता के संबंध में आवेदन प्रस्तुत किया गया है। श्रीमती कमला सिंगाड ग्राम सनोड राणापुर द्वारा ग्राम पंचायत सनोड में पालिया फलिया व भाबरिया फलिया में नवीन उप आंगनवाडी खोलने बाबत आवेदन प्रस्तुत किया है। श्री सेतान पिता मांगू मेईडा द्वारा नगर परिसद पेटलावद द्वारा 40 बाय 35 का मकान 15 बाय 35 कर दिया गया है। इसका न्याय किए जाने हेतु आवेदन प्रस्तुत किया है।  आज जनसुनवाई में श्री खराडी द्वारा निर्देश दिए गए कि सर्वोच्च प्राथमिकता के आधार पर 7 दिवस के अन्दर प्राप्त प्रकरणों का निराकरण करे एवं इन आवेदन पत्रों की समीक्षा टीएल की बैठक में होगी। जनसुनवाई में अनुविभागीय अधिकारी राजस्व झाबुआ श्री एल.एन.गर्ग, अति. मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत एवं उप संचालक सामाजिक न्याय श्री दिनेश वर्मा एवं जिला अधिकारी उपस्थित थे। शेष एस.डी.एम. राजस्व एवं मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत, समस्त तहसीलदार, वीडियो कांफ्रेनिं्सग के माध्यम से जुडे़ थे।

कोई टिप्पणी नहीं: