सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 05 जनवरी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 5 जनवरी 2022

सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 05 जनवरी

जिस मुख से राम का नाम नहीं निकलता है उसे यमराज ले जाते है, सुमिरन करने से अंदर के पाप नष्ट होने लगते है


सीहोर। जैसी भी अवस्था में हो भगवान का सुमिरन करते रहना चाहिए भगवान का मात्र नाम लेने से हीं भक्त के अनेक पाप नष्ट हो जाते है। जिस मुख से राम का नाम नहीं निकलता है उसे यमराज ले जाते है। भक्त प्रहलाद ने माता के गर्भ से हीं सुमिरन की महीमा समझ ली थी। 


सेवादल कांग्रेस जिलाध्यक्ष खंगराले ने खाद्यन्न वितरण को लेकर विभागीय मंत्री बिसाहुलाल सिंह को सौपा ज्ञापन


sehore news
सीहोर। जिला सेवादल कांग्रेस अध्यक्ष नरेंद्र खंगराले प्रदेश महांमत्री अनुसुचित जाति जनजाति पिछड़ा वर्ग अल्पसंख्यक कल्याण परिषद मध्य प्रदेश एवं पीडि़त उपभोक्ताओं तथा क्षेत्रीय पार्षद आरती खंगराले के द्वारा तथा कथित शासकीय उचित मूल्य की दुकान संचालक के द्वारा खाद्यन्न वितरण में की जा रही भ्रष्टाचार को लेकर विभागीय मंत्री बिसाहुलाल सिंह को ज्ञापन दिया गया। ज्ञापन के माध्यम से उपभोक्ता राशन भंडार पंजीयन निरस्त कर तत्काल कार्रवाही की मांग की गई है। श्री खंगराले ने बताया की तथा कथित गंज क्षेत्र में दुकान संचालक के द्वारा समय पर दुकान नहीं खोलकर उपभोक्ताओं को कम राशन वितरण एवं प्रशासन को संचालक द्वारा झूठी जानकारी देकर गरीब रेखा के राशन कार्ड बंद कराए जाकर गरीबों का हक छीना जा रहा है। कई बार शिकायत करने के बाद भी संचालक पर कोई कार्रवाही स्थानीय प्रशासन के द्वारा नहीं की जा रही है। गरीब मजदूर उपभोक्ता संचालक की शिकायत करने से डरते है संचालक द्वारा धनबल का प्रयोग कर शिकायत खाद्य अधिकारियों से सांठगांठ कर खतम करा दी जाती है। शिकायत को गंभीरता पूर्वक लेते हुए खाद्य मंत्री बिसाहुलाल सिंह के द्वारा कार्यवाही के निर्देश दिए गए है। क बार प्रहलाद को समाप्त करने का प्रयास किया लेकिन सफल नहीं हुआ क्योंकी प्रहलाद नारायण हरी का जाप करते थे जबकी होलिका भगवान का नाम नहीं लेती थी, होलिका ने  प्रहलाद को जलाने का प्रयास किया और यमराज होलिका को मृत्युलोक ले गए। भोपाल नाका स्थित कॉलोनी मेंं महिला मंडल के द्वारा आयोजित श्रीमद भागवत कथा में बुधवार को पंडित मनोज कुष्ण आचार्य ने श्रद्धालुओं को प्रहलाद चरित्र, वामन अवतार, रामावतार कथाओं का श्रवण कराया। पंडाल में श्रीकृष्ण महोत्सव भी मनाया गया। कॉलोनी के बालकों को बाल गौपाल बनाया गया। श्रीकृष्ण भजनों पर श्रद्धालुओं ने नृत्य किया। गुरूवार को पंडित मनोज कुष्ण आचार्य के द्वारा श्रीकृष्ण लीला कथा सुनाई जाएगी, श्रीगोवर्धन पूजा कराई जाएगी और भगवान को 56 भोग लगाया जाएगा। 


सिलाई कला बोर्ड की अनदेखी से दर्जी समाज में नाराजगी


सीहोर। लंबे इंतजार के बाद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मध्यप्रदेश के विभिन्न शासकीय निगम, मंडल और बोर्डो में अध्यक्ष और उपाध्यक्ष के 25 रिक्त पदों पर नियुक्तियां की है। गत दिवस राज्य शासन की और से जारी सूची के मुताबिक गत  निगम और मंडलों में 16 अध्यक्ष और 9 उपाध्यक्ष नियुक्त किए गए हैं। इन नियुक्तियों में सिलाई कला बोर्ड को शामिल नहीं किया गया। इस संबंध में सीहोर तरुण संघ के संयोजक राकेश माहेश्वरी ने बताया कि श्री टेकचंद जी महाराज रजि. ट्रस्ट कड़छा उज्जैन के ट्रस्ट अध्यक्ष  मोहनलाल चौहान ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से अविलंब सिलाई कला बोर्ड का गठन करना चाहिए, बोर्ड गठन में देरी से समाज की उपेक्षा हो रही है। जिस मंशा से बोर्ड का गठन किया गया था उसके अनुरूप ही उसे अस्तित्व में लाया जाएगा तभी सरकार की मंशा पुरी होगी और दर्जी समाज को उचित लाभ मिलेगा। सरकार के इस ऐलान से दर्जी समाज में खासी नाराजगी है। समाज के लोग काफी लम्बे समय से  बोर्ड के गठन की मांग कर रहे है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने गुरुधाम कड़छा में 5 अक्टूबर 2017  को  बड़ी संख्या में उपस्थित समाजजनों को सम्बोधित करते हुए शीघ्र ही मध्यप्रदेश में सिलाई कला  बोर्ड के गठन की घोषणा की थी। शिवराज सरकार ने पूर्व में  विधानसभा चुनाव के ऐन पहले बोर्ड में अध्यक्ष और सदस्यों की नियुक्तियां की थी। इस बार समाज के लोग जल्द बोर्ड गठन की मांग कर रहे हैं ताकि बोर्ड के सदस्यों को ठीक से काम करने का समय मिले। 


कथा में कृष्ण भजनों पर थिरके श्रद्धालु संजय कॉलोनी मंडी में जारी है भागवत


सीहोर। श्रीमद भागवत कथा में श्रीकृष्ण भजनों पर श्रद्धालु़ओं के द्वारा आकर्षक नृत्य किया गया। गल्लामंडी वार्ड 23 संजय कॉलोनी में नागरिकों के  द्वारा श्रीमद भागवात कथा का आयोजन कराया जा रहा है। श्रीराम मंदिर के पुजारी बाबूलाल वैष्णव के सानिध्य में पंडित राजेश शुक्ला के द्वारा सात दिवसीय संगीतमय श्रीमद भागवत कथा का वाचन किया जा रहा है। कथा का शुभारंभ 2 जनवरी से किया गया है दोपहर  एक से शाम चार बजे तक किया जा रहा है। आयोजन समिति के ओम प्रकाश रायकवार, राधेश्याम भारती, अशोक राठौर, कमल मालवीय, संतोष यादव, शुभव रैकवार, महेश सेन आदि ने कार्यक्रम में पहुंचने की अपील श्रद्धालुओं से की है।


जिला स्तरीय युवा उत्सव मे एकल शास्त्रीय नृत्य (कथक) मे दीप्ति शर्मा ने जीता प्रथम पुरस्कार


sehore  news
सीहोर। जिला स्तरीय युवा उत्सव 2021-22 के अंतर्गत शहर के शासकीय पीजी कॉलेज सभागार मे आयोजित कार्यक्रम मे सरस्वती कथक (डांस) कला केन्द्र सीहोर की छात्रा कु दीप्ति शर्मा  ने पहले अपने अध्यानरत कालेज शासकीय कन्या महाविद्यालय मे युवा उत्सव मे प्रथम स्थान प्राप्त किया उसके बाद अब जिला स्तर पर शानदार प्रस्तुति देकर जीत का परचम लहराया, अब आगे बरकतउल्लाह विश्वविद्यालय भोपाल मे प्रादेशिक स्तर पर अपनी प्रस्तुति देकर जिले का नेतृत्व करेंगी। कथक नृत्य के संगतकार मे संस्था की संचालिका श्रीमती रुपाली सोनी द्वारा पड़न्त, तबले पर विकास भाई एवं हारमोनियम पर अनुराग भाई थे। दीप्ति शर्मा अपनी इस सफलता का श्रेय कथक गुरु श्रीमती रुपाली सोनी को देती है जिनके मार्गदर्शन मे कथक नृत्य की शिक्षा ले रही है। दीप्ति ने जिले मे स्थान प्राप्त कर सरस्वती कथक कला केन्द्र के साथ साथ अपने अध्यनरत कालेज का भी नाम गौरवान्वित किया है। गौरतलब है कि दीप्ति शर्मा ने पहली ही बार में कथक के इस कार्यक्रम में शानदार प्रस्तुति देकर उक्त स्थान प्राप्त किया है।


श्री केसरी नंदन मानस मंडल सिद्ध हनुमान मंदिर छावनी द्वारा सजा दो घर को गुलशन सा, मेरे सरकार आए है


सीहोर। शहर के छावनी सब्जी मंडी स्थित श्री सिद्ध हनुमान मंदिर में जिला संस्कार मंच के तत्वाधान में श्री केसरी नंदन मानस मंडल के द्वारा भजन संध्या और भव्य सुंदरकांड का आयोजन किया गया था। इस मौके पर सुबह आस्था और उत्साह के साथ हनुमान का अभिषेक किया गया। इसके पश्चात भजनों की प्रस्तुति दी। सुंदरकांड की शुरूआत मंडल में शामिल गायकों के द्वारा गणेश वंदना की। इसके बाद हनुमान के दरबार में मंडल के कलाकारों द्वारा सजा दो घर को गुलशन सा, मेरे सरकार आए है जैसे भजनों से प्रेमियों को बाबा से जोड़ा। कार्यक्रम के दौरान श्री सिद्ध हनुमान मंदिर समिति के अध्यक्ष बालमुकुन्द पालीवाल,्र जिला संस्कार मंच के उपाध्यक्ष रामेश्वर सोनी, मनोज दीक्षित मामा, किशन सोनी, विशाल सेन आदि ने  जिसमें मंडल सदस्य अखिलेश माहेश्वरी, अमित माहेश्वरी, विपुल राठौर, संतोष राठौर, विनीत गोयल, लोकेंद्र आर्य, समीर मालवीय, पीयूष राठौर, राहुल शुक्ला, कन्हैया राठौर, सोनू राठौर, चिराग गहलोत, सोनू मेवाड़ा, एवं क्षेत्र के राजकुमार ताम्रकार, अमित अग्रवाल, नीलेश अग्रवाल, आशीष पचौरी, आनंद गांधी गोल्डी, अग्रवाल, दुष्यंत सोनी, गेंदालाल राठौर, चंद्रप्रकाश अग्रवाल, पुजारी रोशन उपाध्याय आदि का स्वागत किया। इस संबंध में जानकारी देते हुए श्री केसरी नंदन मानस मंडल के संचालक अखिलेश माहेश्वरी ने बताया कि नए साल का पहला मंगलवार द्वारा इसको लेकर शहर के छावनी स्थित हनुमान मंदिर में हनुमान वंदना और भव्य सुंदरकांड का आयोजन मंडल के द्वारा किया गया। रात्रि बारह बजे तक चले इस कार्यक्रम के दौरान बड़ी संख्या में आए मंडल के कलाकारों ने भगवान के भजनों पर प्रस्तुति दी। 


15 से 18 साल के बच्चों को निःशुल्क वैक्सीनेशन के लिए जिला भाजपा अध्यक्ष ने जताया प्रधानमंत्री का आभार


सीहोर। 15 से 18 साल तक के बच्चों के लिए वैक्सीनेशन की शुरूआत किये जाने पर सीहोर जिला भाजपा अध्यक्ष श्री रवि मालवीय ने प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी का आभार व्यक्त किया है। जिला भाजपा अध्यक्ष रवि मालवीय ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी और मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान जी ने कोरोना के संकट से बचाने के अथक प्रयास किये हैं। अब बच्चों के लिए वैक्सीनेशन का अभियान नव वर्ष 2022 में 3 जनवरी से शुरू हो चुका है। शुभारम्भ दिवस पर ही इस उम्र के बच्चो ने जो रुचि दिखाई उसके लिये जिला भाजपा सभी युवाओ को बधाई देती है साथ ही सभी उन योद्धाओ को बधाई जो वेक्सिनेशन के इस महाअभियान में योगदान दे रहे है। जिला भाजपा अध्यक्ष श्री रवि मालवीय ने प्रधानमंत्री जी का  बच्चों को जो ये निशुल्क वेक्सिनेशन की सौगात दी है, उसके लिए उन्हें धन्यवाद देता हॅू एवं आभार व्यक्त करता हु । जिला भाजपा अध्यक्ष रवि मालवीय ने बच्चों के अभिभावकों से अपील करते हुए कहा कि अपने बच्चों को वैक्सीनेशन अवश्य करायें। जिला भाजपा अध्यक्ष श्री रवि मालवीय ने पार्टी के सभी कार्यकर्ताओ,भाजपा के सभी स्वास्थ स्वयं सेवकों से भी आव्हान किया है की वैक्सीनेशन के इस अभियान को सफल बनाने में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाएं।


बच्चों की सुरक्षा के लिए स्थागित की जाए 10 वी 12 वीं की परीक्षा, एनएसयूआइ ने कलेक्ट्रेट पहुंचकर स्कूल शिक्षा मंत्री के नाम दिया ज्ञापन


sehore newsसेहोरे
सीहोर। एनएसयूआइ कार्यकर्ताओं ने लगातार बढ़ले कोरोना वायरस को दृष्टिगत रखते हुए 10 वी एवं 12 वीं की वार्षिंक परीक्षा को स्थगित करने की मांग की है। कार्यकर्ताओं ने बुधवार को कलेक्ट्रेट पहुुंचकर एनएसयूआई जिला उपाध्यक्ष मनीष मेवाड़ा के नेत़ृत्व में स्कूल शिक्षा मंत्री इंदर सिंह परमार के नाम का ज्ञापन डिप्टी कलेक्टर प्रगति वर्मा को दिया है। एनएसयूआई जिला उपाध्यक्ष मनीष मेवाड़ा ने कहा की मध्यप्रदेश में कोरोना वासरस का प्रकोप बढ़ता हुआ दिखाई दे रहा है। एैसे हालातों में मध्य प्रदेश सरकार 10 वीं एवं 12 वीं की वार्षिक परीक्षाएं आयोजित करने जा रही है। यह परीक्षाएं 17 फरवरी से 12 मार्च तक सम्पन्न होना है। जबकी दूसरी ओर बढ़ते संक्रमण को दृष्टिगत रखते हुए राज्य सरकार ने राज्य में पंचायत चुनाव रदद कर दिए है लेकिन बच्चों के जीवन से खिलबाड़ कर परीक्षाएं आयोजित की जा रही है। सरकार के गलत निर्णय से छात्र और उनके परिवार के लोगों के स्वस्थ की अनदेखी की जा रही है। आयोजित 10 वी एवं 12वीं की परीक्षा को सामान्य स्थिती होते तक स्थगित कर दिया जाए। क्योंकी लाखों छात्र-छात्राओं व उनके परिवारजनों सहित परीक्षा में लगने वाले कर्मचारियों अधिकारीयों आदि के जीवन को खतरा हो सकता है। ज्ञापन सौपने वालों में एनएसयूआई प्रदेश सचिव सर्वेश व्यास,प्रदीप वर्मा ,अभिषेक लोधी, दीपक मालवीय, राहुल भावसार, अंकित कौशल, रवि बैरागी, अंकित त्यागी, हर्षित त्यागी, आनंद वर्मा, रोहित यादव, अर्जुन लोधी, प्रतिक माली, हर्षित बैरागी, प्रेमांजल त्यागी, हनीफ अली, भविष्य मालवीय,विकास विश्वकर्मा, तनिश त्यागी, सिद्धांत राय, सुर्या जदौन आदि कार्यकर्ता शामिल रहे।


कोरोना वायरस संक्रमण के रोकथाम एवं बचाव के लिए आवश्यक दिशा-निर्देश


मध्य प्रदेश शासन के गृह विभाग द्वारा कोविड-19 के पॉजिटिव तथा एक्टिव केसेज की संख्या में तेजी से बढ़ोत्तरी को दृष्टिगत रखते हुए नागरिकों को कोरोना वायरस संक्रमण के बचाव एवं रोकथाम के लिए आवश्यक दिशा-निर्देश दिए गए है। गृह विभाग द्वारा जारी दिशा-निर्देशो में सभी प्रकार के मेले, जिनमें जनसमूह एकत्रित होता है, प्रतिबंधित किया गया है। विवाह आयोजनों में दोनों पक्षों के मिलाकर अधिकतम 250 लोगों की उपस्थिति की अनुमति दी गई है। आयोजन के दौरान मास्क, सोशल डिस्टेसिंग, सैनेटाईजर के इस्तेमाल का पालन किया जाना अनिवार्य होगा। अंतिम संस्कार / उठावना में अधिकतम 50 लोगो को ही अनुमति दी जा सकेगी तथा मास्क एवं सोशल डिस्टेसिंग का पालन किया जाना अनिवार्य होगा। जिला कलेक्टर ऐसे क्षेत्रों को, जहां संक्रमण को रोकने के लिए आवश्यक हो, कन्टेंनमेंट जोन घोषित कर आवश्यक प्रतिबंधात्मक कार्यवाही करने के निर्देश दिए गए हैं । सार्वजनिक स्थलों पर नागरिक मास्क का उपयोग एवं कोविड उपयुक्त व्यवहार का पालन करें। मास्क नही लगाने वाले लोगो पर नियमानुसार जुर्माना लगाया जाएगा।


अभी तक जिले में 10 लाख से अधिक लोगों को लगा कोविड का टीका, अभी तक 52 हजार 451 किशोर बालक-बालिकाओं को लगा कोविड का टीका


sehore news
कोविड-19 से सुरक्षा को दृष्टिगत रखते हुए जिले में अब तक 10 लाख 02 हजार 42 व्यक्तियों को कोविड का प्रथम डोज लगाया जा चुका है तथा 08 लाख 96 हजार 184 व्यक्तियों को टीके का दूसरा डोज लगाया जा चुका है। आष्टा विकासखण्ड में 02 लाख 49 हजार 397 व्यक्तियों को टीके के दोनों डोज लगाएं गए है। बुदनी में एक लाख 12 हजार 782, इछावर में एक लाख 05 हजार 999, नसरूल्लागंज में एक लाख 43 हजार 45, श्यामपुर में एक लाख 88 हजार 622, सीहोर में 96 हजार 339 नागरिकों को कोविड टीके के दोनों डोज लगाएं जा चुके है। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. सुधीर कुमार डेहरिया ने बताया कि 03 जनवरी से प्रारंभ हुए 15 से 18 आयुवर्ग के टीकाकरण अभियान में अब तक 52 हजार 451 किशोर बालक-बालिकाओं का कोविड टीकाकरण किया जा चुका है। बुधवार को 7184 किशोर बालक-बालिकाओं को कोविड का टीका लगाया गया। आष्टा में 2200, बुदनी में 892, इछावर में 836, नसरूलागंज में 996, श्यामपुर में 1200 तथा जिला चिकित्सालय सीहोर में 1060 किशोर बालक-बालिकाओं का टीकाकरण किया गया।


कलेक्टर ने बुधनी, नेहलाई नर्मदा घाट का निरीक्षण किया  कलेक्टर ने बुधनी नर्मदा जयंती महोत्सव की तैयारियों को लेकर अधिकारियों को दिए निर्देश


sehore news
कलेक्टर श्री चंद्र मोहन ठाकुर ने बुधनी तहसील के नर्मदा घाटो का निरीक्षण किया तथा घाटो की साफ-सफाई के निर्देश दिए। उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान के निर्देशानुसार आगामी फरवरी माह में नर्मदा जयंती के अवसर पर तीन दिवसीय बुधनी नर्मदा जयंती महोत्सव मनाया जाएगा। इस महोत्सव में अनेक बहुरंगी कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। कलेक्टर श्री ठाकुर ने इस महोत्सव को भव्य स्वरूप प्रदान करने के लिए सांसद श्री रमाकांत भार्गव तथा स्थानीय जनप्रतिनिधियों से चर्चा की। बुधनी में आयोजित होने वाले इस तीन दिवसीय महोत्सव के तहत खेल एवं सांस्कृतिक कार्यक्रम, शिल्प कला, जंगल कैंप, वाटर स्पोर्ट सहित अनेक गतिविधियां आयोजित की जाना प्रस्तावित है। कलेक्टर श्री ठाकुर ने खिलौना दुकान एवं प्रज्वल बुधनी के तहत प्रस्तावित मेडिकल कॉलेज के लिए भूमि‍ देखी। आत्मनिर्भर मध्य प्रदेश के अंतर्गत एक जिला एक उत्पाद के तहत बुधनी के खिलौनों का चयन किया जाकर बुधनी को टॉय कलस्टर के रूप में विकसित करने की कार्यवाही चल रही है। इसके तहत खिलौना का वृहद स्तर पर निर्माण, शिल्पकारों का प्रशिक्षण, खिलौना निर्माण के लिए मशीनों की स्थापना तथा राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर विक्रय की कार्ययोजना को मूर्तरूप दिया जा रहा है। कलेक्टर श्री ठाकुर ने बुधनी नर्मदा जयंती महोत्सव की तैयारियों के लिए सभी आवश्यक व्यवस्थाएं करने के सम्बंध  में अधिकारियो को निर्देश दिए। कलेक्टर श्री ठाकुर ने बुधनी एवं नेहलाई घाट का निरीक्षण किया। साथ ही निरीक्षण के दौरान उन्होंने एनजीटी के अधिकारियों के साथ नेहलाई घाट पर वॉटर स्पोटर्स के खिलाड़ियो से चर्चा की। इस दौरान बुधनी एसडीएम श्री शैलेन्द्र हिनोतिया, तहसीलदार श्री आशुतोष शर्मा, जनपद पंचायत सीईओ श्री देवेश सराठे, नायब तहसीलदार रेहटी श्री जयपाल उपस्थित रहें।


नायब तहसीलदारो का स्थानांतरण


प्रशासनिक कार्य व्यवस्था को दृष्टिगत रखते हुए कलेक्टर श्री चन्द्र मोहन ठाकुर ने जिले के नायब तहसीलदारों का स्थानांतरण किया है। नायब तहसीलदार श्री अजय झा को बुधनी से नसरूल्लागंज, श्री आकाश महन्त को नसरूल्लागंज से बुधनी, श्रीमती अंकिता बाजपेयी को सीहोर से आष्टा, सुश्री शैफाली जैन को आष्टा से सीहोर, नायब तहसीलदार नजूल श्री शेखर चौधरी को जावर, श्री मुकेश गुप्ता को जावर से नायब तहसीलदार नजूल स्थानांतरित किया गया है।


जिले में आज 01 व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव मिला


पिछले 24 घंटे के दौरान प्राप्त रिपोर्ट में जिले में 01 व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव मिला है। सीएमएचओ कार्यालय से प्राप्त जानकारी के अनुसार जिले में अब तक कुल कोरोना पॉजिटिव व्यक्तियों की संख्या 10144 है। वर्तमान में एक्टिव पॉजिटिव 01 हो गई हैं। कुल रिकवर व्यक्तियों की संख्या 10021  हैं। आज 853 सैम्पल लिए गए है। जांच के लिए सीहोर शहरी क्षेत्र से 280, श्यामपुर से 175, नसरूल्लागंज से 90, आष्टा से 153, बुधनी से  75, तथा इछावर से 80 सैंपल लिए गए हैं। अभी तक कुल जांच के लिए भेजे गए सैंपल 328401 हैं। जिनमें से 316937 सैंपलों की रिपोर्ट नेगेटिव आई है। आज 795 सेंपलो की रिपोर्ट निगेटिव आई है। कुल 1249 सैंपलों की रिपोर्ट आना शेष है। पैथोलॉजी द्वारा कोरोना वायरस सेंपल की रिजेक्ट संख्या कुल 71 है।


कलेक्टर ने उपार्जित अनाज के शीघ्र परिवहन एवं भंडारण के दिए निर्देश, कलेक्टर ने उपार्जन केन्द्रों का किया निरीक्षण


कलेक्टर श्री चंद्रमोहन ठाकुर ने बुधनी तहसील के ग्राम बेसगहन के खरीदी केन्द्र का निरीक्षण किया। उन्होंने खरीदी केन्द्र पर सभी आवश्यक व्यवस्थाओं का जायजा लिया एवं उपार्जित अनाज का परिवहन एवं भंडारण जल्द से जल्द कराने के निर्देश दिए। कलेक्टर श्री ठाकुर ने यहां आयोजित होने वाले यज्ञ के लिए आवश्यक व्यवस्थाओं के अधिकारियों को निर्देश दिए। इसी प्रकार कलेक्टर श्री ठाकुर ने ग्राम बकतरा में कृषि उपज मंडी एवं मंडी के खरीदी केन्द्रों का निरीक्षण किया। उन्होंने खरीदी केन्द्रों पर आवश्यक व्यवस्थाएं सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। कलेक्टर श्री ठाकुर ने वर्तमान मौसम को दृष्टिगत रखते हुए उपार्जित अनाज को सुरक्षित रखने के निर्देश दिए। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि शेष रह गए किसानों से सीड्स खरीदी की जाएं। उन्होंने कहा कि जिन किसानों की खरीदी की जा चुकी है उनका भुगतान शीघ्र कराया जाएं। निरीक्षण के दौरान बुधनी एसडीएम श्री शैलेन्द्र हिनोतिया, तहसीलदार श्री आशुतोष शर्मा, नायब तहसीलदार श्री अंबर पंथी, जनपद पंचायत सीईओ श्री देवेश सराठे उपस्थित रहे।


कलेक्टर ने उपार्जित अनाज के शीघ्र परिवहन एवं भंडारण के दिए निर्देश, कलेक्टर ने उपार्जन केन्द्रों का किया निरीक्षण


sehore news
कलेक्टर श्री चंद्रमोहन ठाकुर ने बुधनी तहसील के ग्राम बेसगहन के खरीदी केन्द्र का निरीक्षण किया। उन्होंने खरीदी केन्द्र पर सभी आवश्यक व्यवस्थाओं का जायजा लिया एवं उपार्जित अनाज का परिवहन एवं भंडारण जल्द से जल्द कराने के निर्देश दिए। कलेक्टर श्री ठाकुर ने यहां आयोजित होने वाले यज्ञ के लिए आवश्यक व्यवस्थाओं के अधिकारियों को निर्देश दिए। इसी प्रकार कलेक्टर श्री ठाकुर ने ग्राम बकतरा में कृषि उपज मंडी एवं मंडी के खरीदी केन्द्रों का निरीक्षण किया। उन्होंने खरीदी केन्द्रों पर आवश्यक व्यवस्थाएं सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। कलेक्टर श्री ठाकुर ने वर्तमान मौसम को दृष्टिगत रखते हुए उपार्जित अनाज को सुरक्षित रखने के निर्देश दिए। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि शेष रह गए किसानों से सीड्स खरीदी की जाएं। उन्होंने कहा कि जिन किसानों की खरीदी की जा चुकी है उनका भुगतान शीघ्र कराया जाएं। निरीक्षण के दौरान बुधनी एसडीएम श्री शैलेन्द्र हिनोतिया, तहसीलदार श्री आशुतोष शर्मा, नायब तहसीलदार श्री अंबर पंथी, जनपद पंचायत सीईओ श्री धर्मेन्द्र यादव उपस्थित रहे।


उर्वरक अमानक पाए जाने पर क्रय-विक्रय प्रतिबंधित


कृषि विकास विभाग द्वारा जिले की बुधनी तहसील के मरदानपुर सेवा सहकारी समिति से उर्वरक का नमूना जाँच के लिए प्रयोगशाला सागर भेजा गया था। जॉच में उर्वरक अमानक पाए जाने पर उर्वरक निर्माता कम्पनी एग्रो फॉस इंडिया लिमिटेड इंदौर, जिसका लॉट एवं बैच नंबर D/PGC/07/06/2021 एवं अमानक लॉट की मात्रा 30.0.00 टन उर्वरक का क्रय-विक्रय तथा परिवहन प्रतिबंधित किया गया है।


पल्स पोलियो अभियान की तैयारी जारी


राष्ट्रीय पल्स पोलियो अभियान जनवरी माह में 23 से 25 जनवरी तक आयोजित किया जाएगा जिसमें पांच वर्ष तक के सभी बच्चों को दो बूंद पोलियो रोधी खुराक दी जाएगी। स्वास्थ्य विभाग ने बताया कि विकासखण्डवार स्थानीय भौगोलिक परिस्थितियों को ध्यानगत रखते हुए माइक्रोप्लान तैयार किया जा रहा है। जिसमें टीम ए, बी, सी, वैक्सीनेशन डिस्ट्रीब्यूशन अपने-अपने क्षेत्र हाई रिस्क एरिया का सुपर विजन प्लान तैयार कर राज्य स्तर को प्रेषित किया जाएगा। राष्ट्रीय पल्स पोलियो अभियान कार्यक्रम के प्रथम दिन अर्थात 23 जनवरी 2022 को टीम बी द्वारा बूथो पर बच्चों को पोलियो ड्राप की खुराक दी जाएगी। अभियान की शेष तिथियां अर्थात 24 एवं 25 को घर-घर जाकर इस बात का पता लगाया जाएगा कि कोई बच्चा पोलियो दवा पीने से छूटा तो नहीं है यदि ऐसा पाया जाएगा तो मौके पर स्वास्थ्य टीम के द्वारा पोलियो विमुक्ति दवा की खुराक दी जाएगी। ऐसे बच्चों की अंगुलियों एवं घरों पर निशान के साथ टेली शीट के साथ-साथ रिपोर्टिंग की जाएगी।


नागरिकों को कोरोना संक्रमण से बचाव के उपाय करने की अपील


स्वास्थ्य विभाग ने बताया कि कोरोना वायरस विशेषत: ओमिक्रॉन की आशंका के दृष्टिगत संक्रमण से बचने के लिये सावधानियां रखना अति आवश्यक है और कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिये हमे अपने व्यवहार में अनुकूल परिवर्तन लाना भी आवश्यक है। व्यक्ति बार-बार अपनी आँख नाक और मुंह को छूने से बचें, दूर से अभिवादन करें न किसी से हाथ मिलाये, न गले मिले, आपस में दो गज की दूरी जरूर रखें। घर से बाहर निकलने पर हमेशा मास्क पहनें। खांसते और छींकते समय अपने मुंह तथा नाक को ढक कर रखे। श्वसन संबंधी शिष्टाचार का पालन करें। बार-बार साबुन तथा पानी अथवा अल्कोहल युक्त सेनेटाइजर से हाथों को धोयें। सार्वजनिक स्थानों पर न थूकें, तंबाकू गुटखा खैनी पान आदि खाकर यहां-वहां न थूकें ।विभाग ने कहा है कि बार-बार छुए जाने वाली सतहों को नियमित रूप से विसंक्रमित करें। अनावश्यक यात्रा से बचें कोरोना को लेकर किसी से भेदभाव न करें। अनावश्यक भीड़भाड़ इकट्ठा न होने दें । अफवाहों पर ध्यान न दें और सोशल मीडिया पर किसी भी अपुष्ट जानकारी को प्रसारित न करें। सूचना के भरोसेमंद स्त्रोतों से ही जानकारी लें  आपस में सभी एक-दूसरे को मनोवैज्ञानिक रूप से सहयोग प्रदान करे ।


माध्यमिक शिक्षा मंडल की पूरक परीक्षा 12 जनवरी से


माध्यमिक शिक्षा मण्डल द्वारा संचालित प्रारंभिक शिक्षा में पत्रोपाधि पाठ्यक्रम (डीएलएड) प्रथम एवं द्वितीय वर्ष (द्वितीय अवसर) पूरक परीक्षा वर्ष 2021 की परीक्षाएं 12 से 22 जनवरी तक प्रातः 9 से दोपहर 12 बजे के मध्य होंगी। इनकी बैठक व्यवस्था के लिए संभाग स्तर पर पूरे प्रदेश में कुल 11 परीक्षा केन्द्र बनाए गए हैं। परीक्षा कार्यक्रम www.mpbse.nic.in   पर देखे जा सकते है।


गांव की बेटी और प्रतिभा किरण योजना के आवेदन की प्रक्रिया प्रारंभ


शैक्षणिक सत्र 2021-22 में नवीन प्रवेशित छात्राओं के लिए "गाँव की बेटी" योजना एवं प्रतिभा किरण योजना में आवेदन करने के लिए छात्रवृत्ति पोर्टल 2.0 पर आवेदन प्रक्रिया प्रारंभ कर दी गई है। छात्रवृत्ति के लिए आवेदन की अंतिम तिथि 20 जनवरी 2022 निर्धारित की गई है। छात्रवृत्ति के लिए ऑफलाइन आवेदन मान्य नहीं होंगे। उच्च शिक्षा विभाग द्वारा शुरू की गई "गाँव की बेटी" योजना में ग्रामीण क्षेत्र की बालिकाओं को उच्च शिक्षा के लिए प्रोत्साहित करने के उद्देश्य से 500 रूपए प्रतिमाह की दर से 10 माह तक प्रतिवर्ष छात्रवृत्ति प्रदान की जाती है। योजना के तहत मध्यप्रदेश राज्य के शहरी क्षेत्र की निवासी मेधावी छात्राएँ, जो गरीबी रेखा से नीचे जीवन-यापन कर रही हैं और अच्छे अंकों से 12वीं कक्षा उत्तीर्ण हुई हैं, ऐसी छात्राओं को प्रतिवर्ष 5 हजार रूपये छात्रवृत्ति प्रदान की जाती है।


संबल योजना में अनुग्रह सहायता के आवेदन की समय-सीमा में हुई वृद्धि


मुख्यमंत्री जन-कल्याण संबल योजना में अनुग्रह सहायता के लिए आवदेन करने की प्रक्रिया को और अधिक सहज बनाया गया है। योजना में आवेदन देने की 90 दिवस की अवधि को बढ़ाकर 180 दिवस किया गया है। इस संबंध में श्रम विभाग द्वारा आदेश जारी किया गया है।  योजना के संचालन के लिए एनआईसी द्वारा निर्मित पोर्टल पर अनुग्रह सहायता राशि के प्रकरण दर्ज किये जाते हैं। हितग्राही द्वारा मृत्यु से 7 दिवस में मुख्य कार्यपालन अधिकारी, मुख्य नगर पालिका अधिकारी को अंत्येष्टि सहायता के लिए आवेदन प्रस्तुत किया जाता है तो अनुग्रह सहायता का प्रकरण दर्ज करने की कोई समय-सीमा नहीं है, लेकिन मृत्यु के 7 दिवस के भीतर अंत्येष्टि सहायता का प्रकरण पोर्टल पर दर्ज नहीं किया जाता है तो अनुग्रह सहायता राशि के प्रकरण दर्ज करने के लिए मृत्यु दिवस से 90 दिवस के स्थान पर अब 180 दिवस की समय-सीमा में हितग्राही अपना आवेदन प्रस्तुत कर सकते हैं।  संबल योजना में आ रही कठिनाइयों के निराकरण के लिए जिला कलेक्टर को अपीलीय अधिकार दिये गये हैं। साथ ही भौतिक सत्यापन में लंबित रह गये प्रकरणों में से सत्यापन की कार्यवाही प्रारंभ कर दी गई है। इसी प्रकार मृत्यु के कारण अथवा अन्य कारणों से अपात्र घोषित किन्तु स्वीकृत प्रकरणों में पुर्न सत्यापन की कार्यवाही भी जिला स्तर से की जा रही है। 31 मार्च 2021 तिथि के पूर्व के हुई मृत्यु के लंबित ऐसे प्रकरण जिनकी 180 दिवस की अवधि भी समाप्त हो चुकी है। ऐसे प्रकरणों में जिला कलेक्टर अथवा अनके द्वारा नामांकित अपर कलेक्टर द्वारा जाँच उपरांत 180 दिवस से अधिक अवधि के प्रकरणों को भी स्वीकृत करने की छूट लिखित एवं स्पष्ट आदेश द्वारा दी जा सकेगी। ऐसी स्थिति में कलेक्टर अथवा नामांकित अधिकारी द्वारा दी गई स्वीकृति की प्रति विहित प्राधिकारी को अपने लॉगइन में निर्धारित स्थान पर अपलोड करनी होगी। इसके बाद ही संबंधित हितग्राही का ईपीओ जनरेट हो सकेगा। यहां यह उल्लेखनीय है कि यह छूट केवल 31 मार्च 2021 से पूर्व के मृत्यु प्रकरणों में ही मान्य होंगे।


मौजूदा मौसम के दृष्टिगत कृषकों को सलाह


किसान कल्याण तथा कृषि विकास विभाग ने बताया कि सर्दी के मौसम में पानी का जमाव हो जाता है जिससे कोशिकायें फट जाती है एवं पौधों की पत्तियॉ सूख जाती है परिणामस्वरूप फसलों में भारी क्षति हो जाती है। कृषि विकास विभाग ने बताया कि पाले के प्रभाव से पौधो की कोशिकाओं में जल संचार प्रभावित होता है। प्रभावित फसल अथवा पौधे का बहुभाग सूख जाता है जिससे रोग एवं कीट का प्रकोप बढ़ जाता है। पाले के प्रभाव से फल एवं फूल नष्ट हो जाते है। सब्जी फसल पाला आने से अधिक प्रभावित होती है व पूर्णतः नष्ट हो जाती है। पाला पडने की संभावना होने पर खेत में सिंचाई करें। पर्याप्त नमी होने से फसलों में नुकसान की सम्भावना कम होती है। पाला पड़ने की संभावना होने पर खेत की उत्तरी- पश्चिमी दिशा की मेढों पर रात्रि में धुऑ करना चाहियें। फसलों में जल - विलेय सल्फर 80 प्रतिशत की 500 ग्राम मात्रा प्रति एकड़ की दर से पर्णीय छिडकाव करें। फसलों पर जल विलेय उर्वरक एन.पी.के. 18.18.18 और एन.पी.के. 00.52.34 की 1 किग्रा मात्रा प्रति एकड़ की दर से पर्णीय छिडकाव करें।


किशोरों से टीकाकरण करवाने की अपील, यदि आपकी उम्र है 15 के पार, तो हो जाएं टीका लगवाने को तैयार


जिले में 15 से 18 वर्ष के बच्चों का टीकाकरण अभियान चलाया जा रहा है जिसके अंतर्गत स्कूलों में टीकाकरण किया जा रहा है। स्वास्थ्य विभाग ने जिले के सभी 15 से 18 वर्ष के पात्र युवाओं से अपील की है कि सरकार द्वारा चलाये जा रहे टीकाकरण अभियान के अंतर्गत अपना "वैक्सीन लगवाकर प्रसन्नता महसूस कर रहे हैं तो सभी को कोरोना की वैक्सीन लगवाना चाहिए। स्वास्थ्य विभाग ने किशोरों से अपील की है ‍कि वैक्सीन अवश्य लगवाएं और सुरक्षा के लिहाज से मॉस्क, सैनेटाइजर और दो गज की दूरी का पालन अवश्य करें। इन बच्चों को अब 28 दिन बाद वैक्सीन की दूसरी डोज दी जाएगी। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए “मैं कोरोना वॉलेंटियर” अभियान में सक्रिय सहभागिता सुनिश्चित की जाए।


बलराम तालाब के लिए आवेदन आमंत्रित


ऐसें किसान जिन्होंने कृषि विभाग या उद्यान विभाग से वर्ष 2017 से अभी तक स्प्रिंकलर सेट अनुदान का लाभ लिया गया है। वह कृषक बलराम तालाब अनुदान के लिये पात्र है। ऐसें कृषक अपने खेत में बलराम तालाब अनुदान पर बनवाकर सिंचाई कर सकते हैं। इसके लिए जिले के विकासखण्ड वार लक्ष्य निर्धारित कर संबंधित कृषकों से आवेदन आमंत्रित किए गए हैं। ऐसे कृषकों जिन्होंने एमपी कृषि डीबीटी पोर्टल (dbt.mpdage.org) पर पंजीयन कराया है, वह कृषक अपने विकासखण्ड के वरिष्ठ कृषि विकास अधिकारी से संपर्क कर आवेदन प्रस्तुत करें, ताकि उनकी स्वीकृति की कार्यवाही की जा सके। एमपी कृषि डीबीटी पोर्टल अभी खुला है, जो कृषक बलराम तालाब हेतु पंजीयन कराना चाहते हैं वह पंजीयन करा सकते हैं। पहले आएं पहले पाएं के आधार पर लक्ष्यानुसार स्वीकृति प्रदाय की जायेगी। योजना प्रावधान अनुसार बलराम तालाब योजना के अंतर्गत सामान्य श्रेणी के कृषकों को रू. 80 हजार एवं अजा/अजजा वर्ग के कृषकों के लिए रू. एक लाख रूपए की पात्रता का प्रावधान है।


एकलव्य शिक्षा विकास योजना में तेन्दूपत्ता संग्राहकों के बच्चों को मिलेगी मदद


‘एकलव्य शिक्षा विकास योजना’ में प्रदेश के वन क्षेत्रों में निवासरत तेन्दूपत्ता संग्राहकों के होनहार बच्चों को उत्कृष्ट शिक्षा संस्थानों में प्रवेश और उनके शिक्षा व्यय की प्रतिपूर्ति की जाती है। राज्य लघु वनोपज संघ के प्रबंध संचालक श्री पुष्कर सिंह ने बताया कि एकलव्य शिक्षा विकास योजना में प्रदेश में अब तक 12 हजार से ज्यादा छात्र-छात्राओं को 10 करोड़ 51 लाख से अधिक की राशि स्वीकृत कर उपलब्ध कराई गई है। तेन्दूपत्ता संग्राहक के लिए यह जरूरी है कि पिछले 5 वर्ष में से कम से कम तीन वर्षों में न्यूनतम एक मानक बोरा तेन्दूपत्ता का संग्रहण किया गया हो। फड़ मुंशी और समिति प्रबंधक द्वारा कम से कम तीन वर्षों में तेन्दूपत्ता सीजन में कार्य करने पर तेंदूपत्ता संग्राहक के बच्चों की शिक्षा के लिए सहायता दी जाती है। बच्चों को योजना का लाभ लेने के लिए पिछली वार्षिक परीक्षा में 60 प्रतिशत अंक लाना जरूरी है। इस सहायता योजना में व्यवसायिक कोर्स के विद्यार्थियों को वार्षिक 50 हजार रूपये दिए जाते हैं। गैर तकनीकी स्नातक विद्यार्थियों को 20 हजार रूपये, कक्षा 11वीं एवं 12वीं के विद्यार्थियों को 15 हजार रूपये और कक्षा 9वीं एवं 10वीं उत्तीर्ण करने वाले विद्यार्थियों को 12 हजार रूपये की वार्षिक सहायता दी जाती है। योजना में विद्यार्थियों को निर्धारित राशि की सहायता के अलावा शिक्षण शुल्क, पाठ्य-पुस्तकें, छात्रावास व्यय के साथ वर्ष में एक बार अपने घर आने-जाने का यात्रा व्यय भी दिया जाता है।


शरबती गेहूँ का रकबा बढ़ायें : मुख्यमंत्री श्री चौहान


मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि शरबती गेहूँ मध्यप्रदेश की पहचान है। इसका क्षेत्र बढ़ाने के प्रयास हों। मिट्टी परीक्षण प्रयोगशालाओं को प्राथमिकता के साथ शुरू करायें। उन्होंने मंत्रालय में किसान-कल्याण एवं कृषि विकास विभाग की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने भण्डारण प्र-संस्करण बुनियादी ढाँचा विकास के लिए बेहतर कार्य करने के निर्देश दिए। कस्टम, हायरिंग सेंटर में हम देश में नम्बर वन हैं। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने वर्ष 2022 के विभागीय विजन की जानकारी ली। उन्होंने फसलों के विविधीकरण को बढ़ावा देने, जैविक एवं प्राकृतिक खेती और मोटे अनाज को बढ़ावा, कृषि निर्यात को बढ़ावा और कृषि में आधुनिक तकनीकी का उपयोग करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि कृषि निर्यात के लिए मिशन मोड में जुट जाये। रोडमैप बनाकर कार्य करें। नरवाई जलाने की घटनाओं को प्रदेश में कम किया गया है। ऐसी घटनाओं को पूरी तरह नियंत्रित करें। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि "एक जिला-एक उत्पाद" योजना में बेहतर कार्य करें। कृषि के क्षेत्र में स्टार्टअप को बढ़ावा दें। फसल उत्पादन का आकलन और गुणवत्ता का पता लगाने के लिए कार्य करें। प्रदेश में खाद की कोई कमी नहीं हो। अगले साल के लिए भी अभी से प्लान कर लें। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्राकृतिक खेती को बढ़ावा दिया जाये। देश और धरती को बचाने के लिए जैविक खेती जरुरी है। जैविक खेती में मध्यप्रदेश देश में नम्बर एक है। इसे बनाये रखने की जरुरत है। जैविक खेती का रकबा 17.31 लाख हैक्टेयर है। संभावनाओं का पता लगाकर निर्यात की ठोस रणनीति बनाये। खेती को असली ताकत बनाना है।


योजनाओं के क्रियान्वयन में जन-भागीदारी को प्रोत्साहित करें- मुख्यमंत्री श्री चौहान


मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि योजना, आर्थिक एवं सांख्यिकी विभाग जिलेवार उत्पादन और उपभोग का सर्वेक्षण कर विश्लेषण करे। प्रमुख विभागों की योजनाओं के अनुश्रवण में जन-भागीदारी को प्रोत्साहन के लिए गहराई से कार्य हो। जन-भगीदारी योजना में जिलों में स्वीकृत विकास कार्यों एवं नियमों की समीक्षा की जाये। मुख्यमंत्री श्री चौहान मंगलवार को योजना, आर्थिक एवं सांख्यिकी विभाग की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने जनअभियान परिषद को सक्रियता से कार्य करने की जरुरत बताई। उन्होंने कहा कि विभिन्न योजनाओं का लाभ प्रदेश की 23 हजार 51 ग्राम पंचायतों में पहुँचाने के लिए स्वयं पूर्ण मित्र बनायें। सर्वे कर लोगों को पात्रतानुसार योजनाओं का लाभ दिलायें। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि आंकाक्षी जिलों एवं आकांक्षी विकास खंड कार्यक्रम को तेजी से आगे बढ़ायें। आत्म-निर्भर मध्यप्रदेश रोडमैप में नियमित अंतराल में सामाजिक अंकेक्षण किया जाये।सामाजिक अंकेक्षण के बाद समाज की प्रतिक्रिया प्राप्त कर संस्थागत रूप दिया जाए। उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए “मैं कोरोना वॉलेंटियर” अभियान में सक्रिय सहभागिता सुनिश्चित की जाए। अटल भू-जल योजना में डिस्ट्रीक्ट इम्प्लीमेंटेशन पार्टनर के रूप में जन-अभियान परिषद की सहभागिता से कार्य किया जाए। सिकल सेल रोग की रोकथाम और प्रबंधन के लिए महती भूमिका निभाई जाए।


पशुओं की नस्ल सुधार के लिए उठायें आवश्यक कदम:- मुख्यमंत्री श्री चौहान


मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि पशुओं की नस्ल सुधार के लिए आवश्यक कदम उठाये जायें। पशुपालन एवं डेयरी विकास के लिए तेजी से प्रयास हों। पशुओं की नस्ल सुधारने से उन्हें उपयोगी बनाया जा सकता है। कृत्रिम गर्भाधान ढंग से करें। मुख्यमंत्री श्री चौहान मंगलवार को पशुपालन एवं डेयरी विकास विभाग की समीक्षा कर रहे थे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बकरी पालन को बढ़ावा देने के लिए निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि कम खर्च में बकरी पालन संभव है। नवीन चारा उत्पादन कार्यक्रम में चारे के अधिकाधिक उत्पादन के प्रयास हों। उन्होंने कहा कि लोगों को पशुपालन से जोड़ने का कार्य हो। विशेषकर बैगा जनजाति को पशु देकर पशुपालन से जोड़ा जाये। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि गौ-संवर्धन से रोजगार को बढ़ाया जाये। पॉल्ट्री उद्योग को बढ़वा देने के लिए प्रस्ताव तैयार कर आगे बढ़ायें। भारत सरकार की बेकयार्ड योजना में चूजा प्रदाय का विस्तार किया जाये। उन्होंने कहा कि मिशन मोड में लेकर लोगों की आर्थिक स्थिति में सुधार लाया जाये। विशेषकर महिलाओं की आर्थिक स्थिति सुधारने के प्रयास हों।


गरीबों को रोजगार से जोड़ें

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि दुग्ध सहकारी समितियों के माध्यम से लोगों को रोजगार से जोड़ें। गौ-शालाओं का संचालन व्यवस्थित ढंग से हो। गौ-शालाओं को आत्म-निर्भर बनाया जाये। गोबर, गौ-मूत्र से कई उत्पाद बन रहे हैं।  गाय के गोबर और गौमूत्र के नये-नये प्रयोग करें। गो-वंश के संरक्षण के लिए कमी नहीं रहे। किसानों की आय और रोजगार के अवसर बढ़ाने के लिए पशुपालन एवं डेयरी विभाग की महती भूमिका है। मिशन मोड पर कार्य कर चमत्कार कर दिखायें।

कोई टिप्पणी नहीं: