विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 03 जनवरी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 3 जनवरी 2022

विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 03 जनवरी

विधायक भार्गव गॉव गॉव पहुंचकर सुनेगे जनसमस्याएं


विदिशा:- विदिशा विधायक शशांक भार्गव विदिशा विधानसभा क्षेत्र के गुलाबगंज तहसील के विभिन्न ग्रामों में पहुंचकर चौपाल लगाकर आमनागरिको की मूलभूत समस्याएं सुनकर मौके मौजूद राजस्व एवं पंचायत विभाग के अधिकारियों एवं कर्मचारियो से हल करवाने का प्रयास करेगें साथ ही ग्राम के विकास कार्याें से संबंधित कार्याें का निरीक्षण करगें। विधायक भार्गव का ग्रामीण दौरे का प्रथम चरण दिनांक 4 जनवरी सोमवार से शुरू होकर 7 जनवरी शुक्रवार तक चलेगा, जिसमें लगभग 25 गॉवों का दौरा किया जाएगा।


कागपुर में ग्राम चौपाल का आयोजन बुधवार को


मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान का कागपुर में प्रस्तावित दौरा कार्यक्रम के संदर्भ में कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव ने निर्माण विकास कार्यो को सम्पादित कराने वाले विभागो के अधिकारियों को लोकार्पण, शिलान्यास कार्यो की सूची तीन दिवस के भीतर उपलब्ध कराने के निर्देश दिए है। जिला पंचायत सीईओ डॉ योगेश भरसट ने बताया कि सभी विभागो के कार्यो की स्थल पर समीक्षा के मद्देनजर बुधवार पांच जनवरी को ग्राम चौपाल का आयोजन किया गया है। यह कार्यक्रम प्रातः 11 बजे से शुरू होगा। उपरोक्त ग्राम चौपाल में समस्त विभागो के अधिकारियों को उपस्थित होने के निर्देश प्रसारित किए गए हैं। 


नटेरन में आजीविका भवन हेतु भूमि आवंटन


कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव ने सोमवार को लंबित आवेदनों की समीक्षा बैठक के दौरान बताया कि नटेरन तहसील परिसर में आजीविका भवन निर्माण के लिए भूमि आवंटित की गई हैं। उन्होंने निर्माण ऐजेन्सी आरइएस के कार्यपालन यंत्री को समुचित कार्यवाही शीघ्रतिशीघ्र सम्पादित कराने के निर्देश दिए है।


नौ हजार मेट्रिक टन खाद्यान्न का आवंटन प्रत्येक माह


नागरिक आपूर्ति निगम के प्रबंधक श्री सोनू गर्ग ने बताया कि विदिशा जिले के राशनकार्डधारियों तथा प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना  के हितग्राहियों को नौ हजार मेट्रिक टन खाद्यान्न आवंटित किया जा रहा है। इस माह का खाद्यान्न जारी किया जा चुका है जो उचित मूल्य दुकानो के माध्यम से वितरित किया जाता है। जारी आवंटन में गेंहू आठ हजार मेट्रिक टन तथा चावल एक हजार मेट्रिक टन शामिल है। गौरतलब हो कि प्रत्येक माह की सात तारीख को हरेक उचित मूल्य दुकान पर अन्नोत्सव कार्यक्रम का आयोजन किया जाता है। 


पेयजल हेतु डेम में पानी सुरक्षित रखने के निर्देश


कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव ने सोमवार को लंबित आवेदनों की समीक्षा बैठक के दौरान सम्राट अशोक सागर के कार्यापालन यंत्री को निर्देश दिए है कि डेम से विदिशा नगर के नागरिकों को पेयजल हेतु प्रदाय किया जाने वाला पानी के भण्डार को सुरक्षित रखा जाए। उन्होंने कहा कि इस कार्य में किसी भी प्रकार की कोताही ना बरती जाए। उन्होंने हलाली डेम से पेयजल हेतु लिफ्ट होने वाले पानी के रूटचार्ट के संबंध में भी जानकारी प्राप्त की है। इसी प्रकार सिरोंज सहित अन्य तहसीलो में जिन बांधो से पेयजल हेतु पानी प्रदाय की व्यवस्था क्रियान्वित की जाती है। उन क्षेत्रों के बांध प्रभारी भी इस ओर पूर्ण ध्यान दें। ततसंबंध में संबंधित कार्यपालन यंत्रियों को भी उन्होंने आवश्यक दिशा निर्देश दिए है। 


तकनीकी स्वीकृति जारी करने के निर्देश


कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव ने लंबित आवेदनों की समीक्षा बैठक में आरईएस के कार्यपालन यंत्री को निर्देश दिए है कि जिले में तालाबो के निर्माण कार्यो की तकनीकी स्वीकृति शीघ्रतिशीघ्र प्रदाय कराने की कार्यवाही क्रियान्वित की जाए। कलेक्टर श्री भार्गव ने जल संचय के मद्देनजर किए जाने वाले प्रबंधो पर विशेष बल देते हुए उन्होंने कहा कि प्रत्येक ग्राम में कम से कम एक ऐसा तालाब का निर्माण हो जिसका पानी ग्रीष्मकाल में भी भरा रहे। उन्होंने जलस्त्रोतो के जीर्णद्वारो के संबंध में भी आवश्यक निर्देश दिए है।


लंबित आवेदनों की समीक्षा


vidisha news
कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव ने सोमवार को लंबित आवेदनों की समीक्षा की। नवीन कलेक्ट्रेट के बेतवा सभागार कक्ष में सम्पन्न हुई इस बैठक में जिला पंचायत सीईओ डॉ योगेश भरसट, अपर कलेक्टर श्री वृदांवन सिंह के अलावा डिप्टी कलेक्टर श्रीमती आरती यादव, श्रीमती अमृता गर्ग, श्रीमती अनुभा जैन के अलावा एसडीएम सिरोंज, कुरवाई, लटेरी, ग्यारसपुर, विदिशा समेत विभिन्न विभागो के जिलाधिकारी मौजूद थे। कलेक्टर श्री भार्गव ने अधिकारियों को निर्देश दिए है कि वरिष्ठ कार्यालयों से प्राप्त होने वाले पत्रों का समय सीमा में निराकरण कर सूचित करना सुनिश्चित करेंगे। इसी प्रकार सीएम हेल्पलाइन के तहत दर्ज आवेदनों के तहत कार्यवाही करने के निर्देश उन्होंने दिए है। बैठक में स्कूल, शिक्षा, स्वास्थ्य, खाद्य विभाग, ऊर्जा, जनजातीय कार्य विभाग, पिछडा वर्ग,पशु चिकित्सा, खनिज, प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क, श्रम, उद्यानिकी, आरईएस सहित अन्य विभागो में लंबित आवेदनों पर निराकरण की संपादित की गई कार्यवाही से संबंधित विभाग के जिलाधिकारियों द्वारा अवगत कराया गया है। जिला पंचायत सीईओ डॉ योगेश भरसट ने अंकुर अभियान के तहत संपादित किए जाने वाले कार्यो पर गहन प्रकाश डालते हुए ऐसे विभागों के अधिकारी जिनके कार्यालयों में भूमि रिक्त है तो उन क्षेत्रों में पौधरोपण अभियान के तहत अनिवार्य रूप से कराया जाए। जिसकी समुचित जानकारी वायुदूत पोर्टल पर श्रेणीबद्ध दर्ज की जाए। 

 

जिला पुरातत्व, पर्यटन एवं संस्कृति परिषद अंतर्गत कार्यकारिणी समिति की बैठक


vidisha news
कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव की अध्यक्षता में आज जिला पुरातत्व पर्यटन एवं संस्कृति परिषद अंतर्गत कार्यकारिणी समिति की बैठक आयोजित की गई। इस बैठक में जिले के पर्यटन स्थलों को विकसित करने सहित अन्य बिंदुओं पर चर्चा की गई है। बैठक के दौरान बताया गया कि जिले के पर्यटन स्थलों पर स्थानीय गाइड की व्यवस्था करना, पर्यटन क्षेत्रों में रोजगार सृजन गतिविधियों का विकास, उदयपुर त्योंदा अथवा बडोह पठारी में स्वल्पाहार, डे बोर्डिंग, प्रसाधन केंद्र विकसित करना तथा आवश्यकता अनुसार तड़ित चालक लगवाना, लाइटिंग व्यवस्था, शुद्ध पेयजल की व्यवस्था करना, उदयगिरि, उदयपुर, बडोह पठारी, रामगढ़ एवं ग्यारसपुर के पर्यटक स्थलों में हेरिटेज वॉक का आयोजन करना, शैलाश्रय स्थल अहमदपुर बिलौरी को विकसित करना, जिले में टूरिस्ट सर्किट विकसित का शुल्क आधारित प्रति रविवार प्रातः 8 बजे से मिनी बस अथवा बस से स्थानीय पर्यटकों के भ्रमण की कार्य योजना, जिले में पर्यटन स्थलों पर समय-समय पर सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित कर पर्यटन को प्रोत्साहित करना, प्रचार-प्रसार के लिए पंपलेट प्रिंट कर विभिन्न होटलों सांची, भोपाल, विदिशा में रखवाया जाना, स्थलों की डॉक्यूमेंट्री तैयार करना, फोटो गैलरी का निर्माण करना शामिल हैं।


परिषद के दायित्व-

जिले में पर्यटन संभावनाओं का पूर्ण दोहन करने हेतु विभिन्न शासकीय विभागों स्वयंसेवी, संगठनों तथा पर्यटन से जुड़े हुए हितग्राहियों (स्टेक होल्डर्स) (यथा होटल, व्यवसाई, टूर, ऑपरेटर, एजेंट, गाइड आदि के बीच समन्वय स्थापित करना, जिले में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए विशेष आयोजन एडवेंचर कैंप, सांस्कृतिक महोत्सव, फूड फेस्टिवल आदि आयोजित करना, निजी भागीदारी से तैयार स्थानीय उत्पादों का पर्यटन की दृष्टि से मार्केटिंग करना, पर्यटन की दृष्टि से महत्वपूर्ण स्थानीय उत्पादों और सेवाओं की गुणवत्ता में सुधार करना, प्रमुख पर्यटन स्थलों पर सूचना पटल साइन (पेयजल, शौचालय, पार्किंग) आदि की सुविधाएं जुटाना, पुरातत्व एवं सांस्कृतिक धरोहर की रक्षा एवं रख-रखाव करना, पर्यटन तथा उससे प्राप्त होने वाले लाभ के प्रति जागृति पैदा करना तथा स्थानीय नागरिकों को पर्यटन के सहयोग से तैयार करना, निजी निवेशकों को पर्यटन के क्षेत्र में निवेश करने हेतु प्रोत्साहित करना एवं उन्हें राज्य की पर्यटन नीति के तहत हर संभव सहयोग प्रदान करना, स्थानीय पर्यटक स्थलों के प्रबंधन एवं रखरखाव हेतु स्थानीय निकायों को सहयोग प्रदान करना एवं अधिकृत किए जाने पर पारदर्शी प्रक्रिया से निजी क्षेत्र को सौंपना, शुल्क आदि निर्धारित करना एवं प्राप्त करना, पर्यटन विकास एवं पर्यटक साथ सीलों के रख-रखाव पर्यटन सुविधाओं की स्थापना आदि के लिए सांसद निधि, विधायक निधि, जनभागीदारी निधि, कॉरपोरेट सोशल रिस्पांसिबिलिटी अंतर्गत कंपनियों से एवं अन्य दानदाताओं से राशि अनुदान प्राप्त करना एवं कार्य कराना, पर्यटन स्थलों पर स्थानीय सुविधाओं के विकास प्रबंधन एवं संधारण हेतु संबंधित एजेंसी यथा भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण राज्य पुरातत्व, वन विभाग आदि को आवश्यक सहयोग प्रदान करना एवं अधिकृत किए जाने पर स्वयं एजेंसी के रूप में कार्य करना, अपने क्षेत्र अंतर्गत स्थानीय पर्यटन विकास हेतु टूरिज्म मास्टर प्लान, राज्य के पर्यटन नीति के क्रियान्वयन एवं उद्देश्यों की पूर्ति के लिए किए जाने वाले कार्यों में सहयोग प्रदान, जिले में स्थित पर्यटन के आकर्षण के केंद्रों के बारे में जानकारी संकलित करना तथा उसका व्यापक प्रचार-प्रसार करना, जनप्रतिनिधियों, बुद्धिजीवियों, युवाओं को पर्यटन के क्षेत्र में नेतृत्व प्रदान करने हेतु प्रेरित करना, जिले में पर्यटन संवर्धन की दिशा में अन्य कार्य, पर्यटन विकास से संबंधित अन्य कार्य जिनके पर्यटन विभाग द्वारा अपेक्षा की जाए, का संपादन करना मध्यप्रदेश टूरिज्म बोर्ड के द्वारा महिलाओं हेतु सुरक्षित पर्यटन स्थल परियोजना के संबंध में जारी दिशा निर्देशो की क्रियान्वयन में सहयोगी संस्था समर्थ संस्थान की एजुकेटिव डायरेक्टर मंजू शर्मा ने विस्तृत जानकारी दी साथ ही पर्यटन स्थलों पर महिलाओं हेतु सुरक्षा के उपायों हेतु क्रियान्वित बिन्दुओं के संबंध में जानकारी पीएसओएस से भी अवगत कराया है। उपरोक्त बैठक में समिति के पदाधिकारियों के अलावा जिला पंचायत सीईओ डॉ योगेश भरसट, अपर कलेक्टर श्री वृदांवन सिंह के अलावा समस्त एसडीएम, डिप्टी कलेक्टर तथा विभिन्न विभागो के अधिकारी मौजूद रहें।


वयोश्री योजना अंतर्गत शिविरों का आयोजन आज से


राष्ट्रीय वयोश्री योजना अंतर्गत विदिशा जिले के प्रत्येक विकासखण्ड में एक-एक शिविर आयोजित किया जाएगा जिसकी शुरूआत आज चार जनवरी से होगी। भारतीय कृत्रिम अंग निर्माण निगम एलिम्को उज्जैन द्वारा वृद्धजनों को सहायक उपकरण प्रदान करने हेतु परीक्षण शिविरों का आयोजन किया जा रहा है। भारतीय कृत्रिम अंग निर्माण निगम (एलिम्का) कानपुर सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्रालय द्वारा राष्ट्रीय वयोश्री योजना 2016-पात्र वरिष्ठ नागरिकों में आयु, जन्य निशक्तताध्दुर्बलता की सीमा के अनुरूप नित्य जीवन सहायक उपकरण प्रदान करने का प्रावधान है। इस योजना के प्रथम चरण में सीएससी के माध्यम से वरिष्ठजनों का पंजीयन किया गया है। इन पंजीकृत वरिष्ठजनों का परीक्षण शिविरों का आयोजन प्रबंधक, एलिम्को भारतीय अंग निर्माण निगम उज्जैन के द्वारा किया जाएगा जिसकी तिथि निर्धारित की गई है। कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव ने बताया कि जनपदों एवं निकायों में एक साथ शिविर आयोजित किए गए है। जिले के विकासखण्ड मुख्यालयों पर शिविर नियत तिथि को प्रातः 11 बजे से शुरू होंगे। शिविरों आयोजन की जारी तिथि अनुसार चार जनवरी को जनपद पंचायत ग्यारसपुर में, पांच को जनपद पंचायत एवं नगर पंचायत शमशाबाद, छह जनवरी को जनपद पंचायत एवं नगरपालिका बासौदा में,  सात जनवरी को जनपद पंचायत एवं नगर पंचायत कुरवाई में, आठ जनवरी को जनपद पंचायत एवं नगर पालिका सिरोंज, नौ जनवरी को जनपद पंचायत एवं नगर पंचायत लटेरी में तथा दस जनवरी को जनपद पंचायत विदिशा एवं नगरपालिका विदिशा का संयुक्त शिविर प्रातः 11 बजे से आयोजित किया गया है। कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव ने निर्देशित किया है कि शिविर स्थल पर पर्याप्त बैठक व्यवस्था एवं पेयजल आदि की व्यवस्था की जाए जिससे कि वरिष्ठजनों एवं परीक्षण दल को कोई भी असुविधा ना होने पाए। आयोजन की व्यवस्था की जिम्मेदारी मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत की रहेगी तथा व्यवस्था में मुख्य नगर पालिका अधिकारी नगर पालिका पूर्ण सहयोग प्रदान करेंगे। उक्त शिविरों के संपूर्ण आयोजन अनुविभागीय अधिकारी, अनुविभाग राजस्व के मार्गदर्शन में संपादित किए जाएंगे।


तीन सेम्पल पॉजिटिव


कोरोना वायरस कोविड 19 के सेम्पलों की प्राप्त रिपोर्ट की जानकारी देते हुए मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ अखण्ड प्रताप सिंह ने बताया कि सोमवार तीन जनवरी को तीन सेम्पल पॉजिटिव प्राप्त हुए है। उपरोक्त तीनो सेम्पल विदिशा नगर में किले अन्दर, टीलाखेडी तथा युवराज क्लब क्षेत्र में निवासरत है। 


15 से 18 आयु वर्ग के किशोर किशोरियों का टीकाकरण शुरू

  • जनप्रतिनिधियों ने केन्द्रों पर पहुंचकर शुभारंभ किया, पहले दिन 18 हजार से अधिक का टीकाकरण

vidisha news
विदिशा जिले में भी आज 3 जनवरी 2022 को जिले में 15 से 18 वर्ष आयुवर्ग के किशोर किशोरियों के कोविड-19 टीकाकरण कार्य शुरू हुआ है। निर्धारित आयुवर्ग  15 से 18 वर्ष के स्कूली विद्यार्थियों में टीकाकरण को लेकर काफी उत्साह नजर आया विदिशा जिले में बनाए गए टीकाकरण स्थलों पर स्कूली विद्यार्थियों को टीकाकरण कराने प्रेरित करने के लिए सेल्फी प्वाइंट भी बनाए गए थे जहां स्कूली विद्यार्थियों ने टीकाकरण कराने के बाद सेल्फी खिंचवा रहे थे।


शुभारंभ-

स्कूलों में बनाए गए टीकाकरण केन्द्रों पर जनप्रतिनिधियों ने पहुंचकर टीकाकरण कार्य का शुभारंभ कराया है। जिला पंचायत अध्यक्ष श्री तोरणसिंह दांगी ने ट्रीनिटी कॉन्वेंट स्कूल में, कुरवाई विधायक श्री हरिसिंह सप्रे ने श्री हरिसिंह सप्रे ने शासकीय उत्कृष्ट उमा विद्यालय कुरवाई,    विदिशा विधायक श्री शशांक भार्गव ने शासकीय कन्या उच्चतर माध्यमिक विद्यालय शेरपुरा में तथा शमशाबाद विधायक श्रीमती राजश्री रूद्रप्रताप सिंह ने माधवगंज क्रमांक दो में और पूर्व नगरपालिका अध्यक्ष श्री मुकेश टण्डन, कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव तथा पुलिस अधीक्षक डॉ मोनिका शुक्ला ने शासकीय महारानी लक्ष्मीबाई कन्या उच्चतर माध्यमिक विद्यालय में पहुंचकर टीकाकरण कार्य का शुभांरभ कराया है।


पंजीयन की व्यवस्था

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ एपी सिंह ने बताया कि प्रत्येक टीकाकरण केंद्रों में स्पॉट पर ही छात्र-छात्राओं का पंजीयन कर उनका टीकाकरण की व्यवस्था सुनिश्चित की गई थी। निर्धारित आयु वर्ग 15 से 18 वर्ष आयुवर्ग के किशोर किशोरियों का टीकाकरण किया गया है। सायं छह बजे तक जिले में 18380 विद्यार्थियों का टीकाकरण कार्य किया गया है। कार्यक्रम में इंडियन मेडिकल एसोसिएशन एवं शिक्षा विभाग की की ओर से बच्चों को बिस्किट की व्यवस्था की गई थी।


इस दौरान स्कूली छात्राओं ने कलेक्टर व अन्य जनप्रतिनिधियों के साथ सेल्फी प्वाइंट पर फोटोग्राफी हुई।

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ अखण्ड प्रताप सिंह के द्वारा उपलब्ध कराई गई जानकारी के अनुसार स्वास्थ्य संस्थान के अंतर्गत स्कूलो में आज सम्पन्न हुए टीकाकरण में ग्यारसपुर क्षेत्र में 1177 का टीकाकरण हुआ है जबकि बासौदा त्योंदा में 4396 का, कुरवाई में 1823 को, सिरोंज में 2715 को, लटेरी में 1550 का, शमशाबाद नटेरन में 860 का, जबकि विदिशा पीपलखेडा संस्था के कार्य क्षेत्रांतर्गत स्कूली विद्यार्थी 5859 का टीकाकरण हुआ है। 


बालश्रम को रोकने के पुख्ता प्रबंध सुनिश्चित हो-आयोग सदस्य श्री चौहान

  • सिरोंज के विभिन्न कार्यक्रमों में सम्मिलित हुए

vidisha news
मध्यप्रदेश राज्य बाल अधिकार संरक्षण आयोग के सदस्य श्री बृजेश चौहान ने विदिशा जिले की सिरोंज तहसील क्षेत्र में पहुंचकर आयोग के माध्यम से क्रियान्वित कार्यो का जायजा लिया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में कहीं भी बालश्रम ना हो इसके लिए हम सबका नैतिक दायित्व है। बच्चों से काम कराना कानूनी जुर्म है। इसकी जानकारी सभी तक पहुंचे।  आयोग सदस्य श्री चौहान ने रक्षिता वेलफेयर सोसायटी भोपाल द्वारा कुपोषण महाअभियान में निस्वार्थ भाव से कार्य करने वाले वॉलेंटियर्स का सम्मान किया। वहीं उत्कृष्ट स्कूल सिरोंज में बाल अधिकार एवं बच्चों के वैक्सीनेशन पर जागरूकता कार्यक्रम में शामिल हुए। राज्य बाल अधिकार संरक्षण आयोग के सदस्य श्री चौहान ने सिरोंज में कोरोना के बाद की स्थिति में बच्चों की शिक्षा, सुरक्षा, नशे की बढ़ती लत पर जागरूकता विषयों पर आधारित समीक्षा बैठक में आवश्यक निर्देश दिए है। उन्होंने सिरोंज में संचालित एनआरसी का भी निरीक्षण किया।

कोई टिप्पणी नहीं: