विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 07 जनवरी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 7 जनवरी 2022

विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 07 जनवरी

गांव के विकास से ही देश का विकास होता है - विधायक शशांक भार्गव


vidisha news
विदिशा : आपका विधायक-आपके द्वार कार्यक्रम को अभूतपूर्व जनसमर्थन मिल रहा है।बड़ी संख्या में ग्रामीण विधायक भार्गव को अपनी समस्याएं बताने पहुंच रहे हैं।आज मढ़ी,हरजाखेड़ी,मेहरुखेड़ी,मेहरुखेड़ी चक,खेजड़ा चक,खेजड़ा बर्री,हथियाखेड़ा जैसे कम आबादी के गांवों में प्रशासनिक अमले के साथ पहुंचकर विधायक शशांक भार्गव ने ग्रामीण नागरिकों की ग्राम विकास के साथ अन्य जनसमस्याएं सुनी और उनका यथसम्भव निराकरण किया। इन छोटे-छोटे गांवों के लोग विधायक को अपने गांव में देखकर बेहद उत्साहित थे।खेजड़ा गांव के अक्षय लोधी ने बताया कि उनके गांव में चुनाव जीतने के बाद आजतक कोई जनप्रतिनिधि नहीं आया। आज पहली बार कोई जीता हुए विधायक हमारे बीच आए हैं। अक्षय लोधी ने बड़ी उम्मीदों के साथ कहा जब विधायक जी आए हैं तो हमारे गांव में विकास कार्य भी होंगे। विधायक भार्गव ने ग्राम मढ़ी में इंद्रा आवास योजना के रहवासियों के लिए श्मशान घाट का सीमांकन करने,खेल मैदान के लिए जगह तलाश करने,सामुदायिक भवन का प्रस्ताव बनवाने के निर्देश दिए। ग्राम हरजाखेड़ी में मुख्य चौक की सीसी कार्य के लिए विधायक निधि 2 लाख रुपए विधायक निधि से स्वीकृत किए ग्राम मेहरुखेड़ी में पेयजल आपूर्ति के लिए इलेक्ट्रिक मोटर देने,पंचायत निधि से शमशान घाट पहुंच मार्ग निर्माण एवं मंजूर हो चुके पंचायत भवन का जल्द निर्माण कार्य शुरु कराए जाने का आश्वासन दिया।ग्राम चक खेजड़ा में आरईएस से सड़क मरम्मत कराने एवं 1 लाख की विधायक निधि से सीसी कार्य स्वीकृत किया। ग्राम खेजड़ा बर्री में पंचायत निधि से सीसी कार्य,रेल्वे फाटक बंद ना करने के लिए वरिष्ठ रेल अधिकारियों से चर्चा करने का आश्वासन दिया।ग्राम हरजाखेड़ी में नलजल योजना का प्रस्ताव बनाने, इंद्रा आवास योजना के रहवासियों के लिए अलग ट्रांसफार्मर का स्टीमेट तैयार करने एवं रास्ता निकालने,खेल मैदान के लिए शासकीय भूमि से अतिक्रमण हटाने के निर्देश दिए। इस अवसर पर संबोधित करते हुए विधायक शशांक भार्गव ने कहा कि गांव के विकास से ही देश का विकास होता है।प्रगति के युग में गांव विकास की दौड़ में पिछड़ रहे हैं।ग्रामीण क्षेत्रों में बहुत छोटे-छोटे कामों के लिए परेशान होना पड़ता है हमारी कोशिश है हर गांव के नागरिकों को बुनियादी सुविधाएं मिल सकें। पूर्व सरपंच नंदकिशोर शर्मा ने कहा कि आज सुबह से बारिश और तेज ठंड थी लेकिन इसके बाबजूद विधायक जी निर्धारित कार्यक्रम के तहत आपके बीच पहुंचे हैं।हमे ऐसे ही दृढ़ इच्छाशक्ति के जनप्रतिनिधियों की आवश्यकता है। जनपद अध्यक्ष प्रतिनिधि राकेश कटारे ने कहा कि सरकार की उदासीनता के कारण पंचायत चुनाव ना होने के साथ-साथ हर रोज नए आदेश जारी होने से एक ओर पंचायती राज का मजाक बन रहा है दूसरी तरफ ग्रामीण क्षेत्रों के विकास कार्य प्रभावित हो रहे हैं।इस विषय में शाषन को ठोस निर्णय लेना चाहिए। इस दौरान ग्राम चौपालों को बाबूलाल वर्मा,अजय कटारे,नरेंद्र रघुवंशी,दीवान किरार,किशन सिंह दांगी,देवेन्द्र दांगी,ब्लॉक अध्यक्ष गौरव दांगी,विनीत दांगी,शिवराज पिपरोदिया,संयोग राज जैन,डॉ राजेंद्र दांगी ने भी संबोधित करते हुए ग्रामीण जनता को शाषन की ज्यादा से ज्यादा योजनाओं का लाभ दिलाने की बात कही। इस दौरान प्रकाश दांगी,थानसिंह दांगी,भूपेन्द्र रघुवंशी,गणेश दांगी,किशोर रघुवंशी, रघुराज दांगी,शेरा मालवीय, राजकुमार डीडोंत, मुआज कामिल,हरिओम किरार,गुरप्रीत धनोवा,अजहर खान,राहुल रघुवंशी, अनिकेत सेन,गोलू शर्मा सहित स्थानीय सरपंच एवं बड़ी संख्या में ग्रामीणजन उपस्थित रहे।


39 सेम्पल पॉजिटिव प्राप्त हुए


मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ अखण्ड प्रताप सिंह ने बताया कि शुक्रवार सात जनवरी को 1040 सेम्पलों का परीक्षण किया गया है जिसमें से 39 पॉजिटिव सेम्पल प्राप्त हुए है। पॉजिटिव प्राप्त सेम्पलों का तहसीलवार ब्यौरा इस प्रकार से है। बासौदा में 16, कुरवाई एवं नटेरन में क्रमशः-दो-दो तथा विदिशा तहसील के 19 शामिल है। गौरतलब हो कि जिले में अब तक कोरोना पॉजिटिव सेम्पलों की कुल संख्या 101 हो गई है।


आने वाली पीढ़ी शारीरिक रूप से सशक्त हो यह हमारा दायित्व है-कलेक्टर

  • स्वास्थ्य कार्यो की समीक्षा 

vidisha news
कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव ने शुक्रवार को स्वास्थ्य विभाग के माध्यम से क्रियान्वित केन्द्रीय एवं राज्य स्तरीय स्वास्थ्य कार्यो की समीक्षा की। उन्होंने कहा कि आने वाली पीढ़ी शारीरिक रूप से स्वस्थ एवं सशक्त हो इसके लिए समय पर स्वास्थ्य योजना व कार्यक्रमो का लाभ संबंधितों को दिलाया जाना हम सबका नैतिक दायित्व है। कलेक्टर श्री भार्गव ने चिकित्सकों से कहा कि वे अपने कार्य क्षेत्रों में बेहतर डाक्टरों के नाम से जाने जाए, उनकी सेवाएं ही उनकी ख्याति को दर्शायेगी। कलेक्टर श्री भार्गव ने कहा कि जिले को कुपोषण जैसे दाग से मुक्ति दिलाने में स्वास्थ्य विभाग की भी महती भूमिका है। समाज को जनजागृत कर कुपोषण को विदा करने के लिए पौष्टिक आहार, स्वरूचि भोज्य पदार्थ बनाकर बच्चों को खिलाएं। स्वास्थ्य संस्थाओं से समय पर उपचार सुविधा मिले इस ओर नवाचार कर हम जिले को नई ख्याति की श्रेणी में दर्ज करा सकते है। कलेक्टर श्री भार्गव ने मौके पर मौजूद विभिन्न विभागो के अधिकारियों से कहा कि वे अपने-अपने दायित्वों का पूरी ईमानदारी के साथ सजगता और जिम्मेदारी से निर्वहन कर हम जिले को स्वास्थ्य सुविधाओं की उपलब्धियों के क्षेत्रों में अग्रसर कर सकते है। उन्होंने कहा कि अब प्रत्येक माह दो बार स्वास्थ्य कार्यो की समीक्षा की जाएगी। उन्होंने विभिन्न अभियानो में प्रदेश स्तरीय प्रतिशत दर से जिले में उपलब्धि हासिल नही होने पर असंतोष जाहिर करते हुए कहा कि आशातीत उपलब्धियां हासिल नही कर पाना हमारे कार्यो को रेखांकित करता है। जिला पंचायत सीईओ एवं स्वास्थ्य विभाग के लिए नियुक्त जिला स्तरीय नोडल अधिकारी डॉ योगेश भरसट ने अभियान और कार्यक्रमों से हम कैसे त्वरित लाभ दिलाएं इसके लिए जिला स्तर पर पृथक से माइक्रोप्लान तैयार करने पर उन्होंने बल दिया। उन्होंने कहा कि भौगोलिक परिस्थितियों को ध्यानगत रखते हुए स्वास्थ्य सुविधाओं के क्रियान्वयन में विशेष पहल करनी होगी। इसके लिए किए जाने वाले प्रबंधो पर उन्होंने संक्षिप्त प्रकाश डाला। आज सम्पन्न हुई बैठक में आगामी राष्ट्रीय पल्स पोलियो अभियान जो 23 से 25 जनवरी तक क्रियान्वित किया जाएगा। विटामिन ए अनुपूरण अभियान जो 11 जनवरी से 22 फरवरी तक संचालित होगा जबकि मिशन परिवार विकास पखवाडा 11 से 25 जनवरी तक, एनीमिया मुक्त भारत कार्यक्रम एवं राष्ट्रीय क्षय उन्मूलन कार्यक्रम के संबंध में अंर्तविभागीय अधिकारियों, सामाजिक संगठनो, स्वयंसेवी संस्थाओं, धर्मगुरूओंं का सहयोग प्राप्ति के संबंध में आवश्यक सुझाव प्राप्त किए गए है। उपरोक्त बैठक में मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ अखण्ड प्रताप सिंह, डब्ल्यूएचओ प्रतिनिधि डॉ शेखावत के अलावा समस्त बीएमओ, बीईई, बीपीएम, बीसीएम के अलावा विभिन्न विभागो के अधिकारी मौजूद थे।


आर्थिक मदद जारी


कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव ने सोलिशियम स्कीम के एक प्रकरण में 25 हजार रूपए की आर्थिक मदद के आदेश जारी कर दिए है। कलेक्टर श्री भार्गव ने हिट एण्ड रन के जिस प्रकरण में आर्थिक प्रकरण के आदेश जारी किए है तदानुसार रघुवीर पुत्र लक्ष्मण सिंह आदिवासी निवासी बरोदिया घाट तहसील बीना जिला सागर की विदिशा जिले में थाना कुरवाई अंतर्गत ग्राम मलियाखेडा के पास सड़क दुर्घटना में मृत्यु हो जाने पर मृतक की मां राजरानी को 25 हजार रूपए की मदद जारी की गई है। 


केन्द्र पोषित योजनाओं की समीक्षा दस को


कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव की अध्यक्षता में जिला स्तरीय निगरानी समिति (डीएलएमसी) की बैठक सोमवार दस जनवरी को आयोजित की गई है। उक्त बैठक में केन्द्रीय पोषित योजना कृषि संरचना निधि के संबंध में क्रियान्वित कार्यो की समीक्षा की जाएगी। यह बैठक नवीन कलेक्ट्रेट के बेतवा सभागार कक्ष में टीएल बैठक के उपरांत शुरू होगी। 


सीएम हेल्पलाइन के आवेदनों की समीक्षा


प्रत्येक टीएल बैठक में सीएम हेल्पलाइन के आवेदनों की समीक्षा की जाती है। इस बार सोमवार दस जनवरी को आयोजित टीएल बैठक में सीएम हेल्पलाइन तहत दर्ज आवेदनों की समीक्षा की जाएगी उनमें नगरपालिका, जलसंसाधन, लोक स्वास्थ्य एवं जिला अस्पताल, सोलर पंप (नवीन नवकरणीय ऊर्जा विभाग), पशुपालन तथा अनुसूचित जाति कल्याण विभाग शामिल है। गौरतलब हो कि प्रत्येक टीएल बैठक जो सोमवार को प्रातः 11 बजे से शुरू होती है जिसमें चुनिंदा विभागो में सीएम हेल्पलाइन के तहत दर्ज आवेदनों की पृथक से समीक्षा कलेक्टर द्वारा की जाती है इस बार की टीएल बैठक में छह विभागो में दर्ज आवेदनों की समीक्षा की जाएगी।


प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम योजना अंतर्गत पोर्टल पर प्रतिवेदन करने के निर्देश


कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव के द्वारा भारत सरकार की सहायता से अनुसूचित जाति बाहुल्य ग्रामों के समयकित विकास हेतु संचालित महत्वपूर्ण प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम योजना का क्रियान्वयन विदिशा जिले के विकासखंडों के ग्रामों में कराया जा रहा है। योजना के तहत ग्राम के चयन पश्चात अन्य विभागों की राशि से कराए गए एवं कराए जा रहे विकास व निर्माण कार्यों की जानकारी पोर्टल पर प्रतिवेदन करने हेतु 15 दिवस में उपलब्ध कराने के निर्देश दिए गए हैं। पूर्व में भी प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम योजना अंतर्गत बीडीपी अनुसार पीएमएजीवाई में प्रावधानित राशि 20 लाख के अंतर्गत प्रस्तावित कार्यों की राशि के अनुसार अभिसरण करते हुए प्राक्कलन में तकनीकी स्वीकृति के एक सप्ताह में उपलब्ध कराने के निर्देश दिए गए थे। कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव द्वारा जारी पत्र में  जनपद पंचायत विदिशा, नटेरन, ग्यारसपुर, बासौदा, कुरवाई, लटेरी एवं सिरोंज के मुख्य कार्यपालन अधिकारी को दिशा निर्देश दिए गए हैं। प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम योजना अंतर्गत वर्ष 2018-19 एवं 2019-20 में चयनित ग्रामों की सूची अनुसार गंजबासौदा विकासखण्ड के अंतर्गत ग्राम पंचायत अंबानगर के चयनित ग्राम अंबानगर, ग्राम पंचायत गंज, चयनित ग्राम रजौदा, ग्राम पंचायत धनबाथ के चयनित ग्राम मेहरा, ग्राम पंचायत सकरौली के चयनित ग्राम सकरौली, ग्राम पंचायत कंजना के चयनित ग्राम विश्वकावली शामिल हैं। वहीं सिरोंज विकासखंड के अंतर्गत ग्राम पंचायत सांकलोन के चयनित ग्राम मदागन, ग्राम पंचायत बरेज के चयनित ग्राम बरेज, ग्राम पंचायत कांजीखेड़ी के चयनित ग्राम कांजीखेड़ी, ग्राम पंचायत रिनिया के चयनित ग्राम रिनिया, ग्राम पंचायत कादरपुर के चयनित ग्राम अहमदाबाद उर्फ खिल्ली, ग्राम पंचायत संतोषपुर के चयनित ग्राम संतोषपुर, ग्राम पंचायत विशेपुर के चयनित ग्राम युसूफ अलियास वजीरपुर, ग्राम पंचायत वेवीटोरी के चयनित ग्राम सिद्दीकगंज, ग्राम पंचायत अनूपपुर के चयनित ग्राम रूसल्ला अभिराज, ग्राम पंचायत (बड़ोदाताल) उनारसीताल के चयनित ग्राम बरखेड़ाताल शामिल हैं। लटेरी विकासखंड के अंतर्गत ग्राम पंचायत मोतीपुर के चयनित ग्राम अहमदानगर (मोतीपुर), ग्राम पंचायत बरखेड़ा घोसी के चयनित ग्राम बरखेड़ा घोसी शामिल हैं। नटेरन विकासखंड के अंतर्गत ग्राम पंचायत रामपुरा कलां के चयनित ग्राम रामपुरा कलां, ग्राम पंचायत कस्बाखेड़ी के चयनित ग्राम कस्बाखेड़ी, ग्राम पंचायत ताजखजूरी के चयनित ग्राम ताजखजूरी, ग्राम पंचायत ताज खजूरी के चयनित ग्राम मियांखेड़ी, ग्राम पंचायत घटवाई के चयनित ग्राम घिनौची, ग्राम पंचायत रायपुर के चयनित ग्राम रायपुर को शामिल किया गया है। विदिशा विकासखंड के अंतर्गत ग्राम पंचायत नथनपुर के चयनित ग्राम नथनपुर, ग्राम पंचायत कोटरा लश्करपुर के चयनित ग्राम कोटरा लश्करपुर, ग्राम पंचायत बामोरा के चयनित ग्राम करोदिया बामोदा, ग्राम पंचायत कॉलिंजा के चयनित ग्राम दुलई, ग्राम पंचायत देवराज पुर (खरबई) के चयनित ग्राम खरबई शामिल हैं। इसके अलावा कुरवाई विकासखंड के अंतर्गत ग्राम पंचायत धारुखेड़ी के चयनित ग्राम रायमूडरा, ग्राम पंचायत खजुरिया पठारी के चयनित ग्राम खजुरिया, ग्राम पंचायत धुवा के चयनित ग्राम धुवा, ग्राम पंचायत मथुरापुर के चयनित ग्राम मथरापुर, ग्राम पंचायत एरन के चयनित ग्राम खजुरिया टप्पा बर्री, ग्राम पंचायत कोलुआ जागीर के चयनित ग्राम कोलुआ जागीर शामिल हैं।


प्राक्कलन अप्राप्त-

प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम योजना अंतर्गत वर्ष 2019 में चयनित ग्रामों की सूची अनुसार जिनके प्राक्कलन का प्राप्त हैं उनमें सिरोंज विकासखंड की ग्राम पंचायत चौड़ाखेड़ी के चयनित ग्राम चौड़ाखेड़ी, विदिशा विकासखंड की ग्राम पंचायत कोलिंजा के चयनित ग्राम दुलई, विदिशा विकासखंड की ग्राम पंचायत खरबई के चयनित ग्राम खरवई, विदिशा विकासखंड की ग्राम पंचायत बामोरा के चयनित ग्राम करोदिया बामोरा, नटेरन विकासखंड की ग्राम पंचायत घटवाई के चयनित ग्राम घिनौची शामिल हैं।


शुक्रवार को जिले में 20.9 मिमी औसत वर्षा दर्ज


जिले की तहसीलो में स्थापित वर्षामापी यंत्रो पर शुक्रवार सात जनवरी को दर्ज की गई वर्षा की जानकारी देते हुए अधीक्षक भू-अभिलेख श्री राजेश राम ने बताया कि जिले में आज 20.9 मिमी औसत वर्षा दर्ज हुई है। शुक्रवार को तहसीलवार दर्ज की गई वर्षा तदानुसार विदिशा में 27 मिमी, बासौदा में 18.4, कुरवाई में 13 मिमी, सिरोंज में 12 मिमी, लटेरी में 18 मिमी, ग्यारसपुर में 29 मिमी, गुलाबगंज में 13 मिमी, नटेरन में 28 मिमी, शमशाबाद में 19 मिमी एवं पठारी तहसील में में 32 मिमी वर्षा दर्ज हुई है।  


बिजली उपभोक्ताओं की सुविधा के लिए समाधान योजना 31 जनवरी तक बढाई गई


कोरोना काल में एक किलोवॉट तक के संयोजित भार वाले घरेलू बिजली उपभोक्ताओं के देयकों की 31 अगस्त 2020 तक की मूल बकाया राशि एवं अधिभार की आस्थगित राशि के भुगतान में उपभोक्ताओं को राहत देने के उद्देश्य से राज्य शासन द्वारा समाधान योजना को 15 दिसंबर 2021 तक लागू किया गया था। मध्यप्रदेश मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी के महाप्रबंधक ने बताया कि उपभोक्ताओं की सुविधा के लिए योजना को 31 जनवरी 2022 तक बढाया गया है, जिससे शेष संबंधित उपभोक्ता समाधान योजना का लाभ उठा सकें। महाप्रबंधक ने  समाधान योजना का अधिक से अधिक लाभ लेने का आग्रह बिजली उपभोक्तओं से किया है। अब बिजली उपभोक्ता 31 जनवरी 2022 तक आवेदन कर योजना का लाभ ले सकेंगे। समाधान योजना में आस्थगित की गई राशि के भुगतान के लिये 2 विकल्प उपलब्ध कराए गए हैं। पहले विकल्प के रूप में आस्थगित मूल राशि का 60 प्रतिशत एकमुश्त भुगतान करने पर 100 प्रतिशत अधिभार की राशि और शेष 40 प्रतिशत मूल बकाया राशि माफ की जाएगी। दूसरे विकल्प के रूप में आस्थगित मूल राशि का 75 प्रतिशत, 6 समान किश्त में भुगतान करने पर 100 प्रतिशत अधिभार की राशि एवं शेष 25 प्रतिशत मूल बकाया राशि माफ की जाएगी। 


मुख्यमंत्री आवासीय भू अधिकार योजना अंतर्गत संबंधितों को निर्देश


अपर कलेक्टर श्री वृंदावन सिंह ने समस्त अनुविभागीय अधिकारी समस्त तहसीलदार एवं समस्त जनपद पंचायत सीईओ को मुख्यमंत्री आवासीय भू अधिकार योजना अंतर्गत ग्रामीण क्षेत्रों में आबादी भूमि पर भूखंड आवंटन के संबंध में दिशा-निर्देश दिए हैं। अपर कलेक्टर श्री वृंदावन सिंह ने बताया कि विदिशा जिले की प्रत्येक ग्राम पंचायत में आबादी भूमि के क्षेत्र पर पात्र परिवार को आवासीय भूखंड उपलब्ध कराना है मुख्यमंत्री आवासीय भू अधिकार योजना में सारा पोर्टल के माध्यम से प्ररूप- क में आवेदन प्राप्त किए जाने हैं एवं प्राप्त आवेदन पत्रों की जांच सारा पोर्टल के माध्यम से प्ररूप ख में जांच दल (पटवारी एवं ग्राम सचिव) के द्वारा की जाना है। योजना के क्रियान्वयन की समीक्षा में यह पाया गया है कि जिले में तहसील लटेरी के अतिरिक्त अन्य सभी तहसीलों में आवेदन पत्र प्राप्ति का कार्य अत्यंत धीमी गति से चल रहा है इसके साथ ही तहसील लटेरी के अतिरिक्त अन्य सभी तहसीलों में जांच की कार्यवाही भी प्रारंभ नहीं की गई है। इस संबंध में संबंधितों को निर्देशित किया गया है कि योजना का व्यापक प्रचार-प्रसार कराएं एवं प्राप्त हो चुके आवेदन पत्रों का शीघ्रता से निराकरण कराना सुनिश्चित करें। साथ ही आबादी भूमि की उपलब्धता का आंकलन कर आवश्यकता अनुसार नवीन आबादी घोषित करने के प्रस्ताव भी कार्यालय को प्रेषित करें। मुख्यमंत्री आवासीय भू अधिकार योजना अंतर्गत तहसील लटेरी में आवेदन प्रारूप क 7221 एवं जांच प्रतिवेदन प्रारूप ख मे 699 हैं। इसके अलावा तहसील सिरोंज में आवेदन प्रारूप क 650 एवं जांच प्रतिवेदन प्ररूप ख शून्य है। तहसील शमशाबाद आवेदन प्ररूप क 358 एवं जांच प्रतिवेदन प्ररूप ख शून्य है। तहसील पठारी में आवेदन प्रारूप क 226 एवं जांच प्रतिवेदन ख शून्य है। तहसील विदिशा में आवेदन प्रारूप क 187 एवं जांच प्रतिवेदन ख शून्य है। तहसील विदिशा नगर में आवेदन प्रारूप क 163 एवं जांच प्रतिवेदन ख शून्य है। तहसील बासौदा में आवेदन प्रारूप क 70 एवं जांच प्रतिवेदन ख शून्य है। तहसील नटेरन में आवेदन प्रारूप क 67 एवं जांच प्रतिवेदन ख शून्य है। तहसील कुरवाई में आवेदन प्रारूप क 25 एवं जांच प्रतिवेदन ख शून्य है। तहसील त्यौंदा में आवेदन प्रारूप क 20 एवं जांच प्रतिवेदन ख शून्य है। तहसील गुलाबगंज में आवेदन प्रारूप क 12 एवं जांच प्रतिवेदन ख शून्य है। तहसील ग्यारसपुर में आवेदन प्रारूप क 5 एवं जांच प्रतिवेदन ख 2 है। इस प्रकार सभी तहसीलों में आवेदन प्रारूप क 9204 एवं जांच प्रतिवेदन प्ररूप ख 701 दर्ज हैं।

कोई टिप्पणी नहीं: