सीहोर (मध्य प्रदेश) की खबर 01 फ़रवरी - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 1 फ़रवरी 2022

सीहोर (मध्य प्रदेश) की खबर 01 फ़रवरी

नल जल योजनाओं से लाभान्वित ग्रामवासियों से मुख्यमंत्री करेंगे संवाद

  • सीहोर सहित दस जिलों के लाभान्वित ग्रामवासियों से संवाद करेंगे मुख्यमंत्री श्री चौहान

प्रदेश में जल जीवन मिशन के तहत अब तक पूर्ण की गई नलजल योजनाओं से लाभान्वित ग्रामों के ग्रामवासियों से मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान वीडियो कांफ्रेसिंग के माध्यम से जनसंवाद करेंगे। यह जन-संवाद कार्यक्रम 04 फरवरी को सायं 3.00 बजे आयोजित किया जाएगा। कार्यक्रम में मुख्यमंत्री श्री चौहान 10 जिलों के चयनित ग्रामों से कुशाभाऊ ठाकरे हॉल, भोपाल से वीडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से जुड़कर ग्रामों में उपस्थित ग्रामवासियों, जनप्रतिनिधियों तथा ग्राम जल एवं स्वच्छता समिति के सदस्यों से संवाद करेंगे। लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग द्वारा जारी निर्देशानुसार चयनित जिलों के चयनित ग्रामों की योजनाओं का पूर्ण विवरण कार्यपालन यंत्री, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग एवं सचिव जिला जल एवं स्वच्छता मिशन के द्वारा उपलब्ध कराया जाएगा। जिन जिलों के ग्रामों से चर्चा की जाएगी, उन्हें छोड़कर अन्य शेष जिलों में जनप्रतिनिधि, अधिकारी एवं ग्राम जल एवं स्वच्छता समिति के कोई दो सदस्य कोविड प्रोटोकॉल का पालन करते हुए जिलों के एनआईसी कक्ष से कार्यक्रम में शामिल होंगे।


किसान घर बैठे स्वयं के मोबाइल से कर सकेंगे पंजीयन

  • 05 फरवरी से 05 मार्च 2022 तक होगा पंजीयन, आधार से बैंक खाता और मोबाइल नम्बर को लिंक कराकर अपडेट रखें किसान

रबी विपणन वर्ष 2022-23 में समर्थन मूल्य पर गेहूं विक्रय करने के लिए किसानों की सुविधा को दृष्टिगत रखते हुए किसान पंजीयन की व्यवस्था को सहज और सुगम बनाया गया है। पंजीयन अवधि 05 फरवरी से 05 मार्च 2022 तक निर्धारित की गई है। अब किसान स्वयं के मोबाइल से घर बैठे पंजीयन कर सकेंगे।


किसानों के लिए पंजीयन व्यवस्था

किसान स्वयं के मोबाइल अथवा कम्प्यूटर से पंजीयन के लिए निर्धारित लिंक पर जाकर, ग्राम पंचायत कार्यालयों में स्थापित सुविधा केन्द्र पर, जनपद पंचायत कार्यालयों में स्थापित सुविधा केन्द्र पर, तहसील कार्यालयों में स्थापित सुविधा केन्द्र पर, पूर्व वर्षों की भांति सहकारी समिति, एसएचजी, एफपीओ, एफपीसी द्वारा संचालित पंजीयन केन्द्र पर जाकर पंजीयन की निशुल्क व्यवस्था की गई है। किसानों को 50 रूपए सशुल्क के साथ पंजीयन व्यवस्था के लिए एमपी ऑनलाईन कियोस्क पर, कॉमन सर्विस सेंटर कियोस्क पर, लोक सेवा केन्द्र पर एवं निजी व्यक्तियों द्वारा संचालित साइबर कैफे से किया जा सकता है।


पंजीयन के लिए आवश्यक दस्तावेज

किसानों द्वारा पंजीयन के लिए भू-स्वामी किसान को भूमि संबंधी दस्तावेज, किसान का आधार कार्ड, आधार नम्बर से पंजीकृत मोबाइल नम्बर एवं अन्य फोटोयुक्त पहचान पत्र दस्तावेज आवश्यक होंगे। सिकमी एवं वन पट्टाधारी किसानों को वनाधिकार पट्टाधारी,सिकमीदार किसानों को आधार कार्ड, आधार नम्बर से पंजीकृत मोबाइल नम्बर, वन पट्टा एवं सिकमी अनुबंध की प्रति दस्तावेज आवश्यक होंगे।


आधार से बैंक खाता और मोबाइल नम्बर को लिंक कराकर अपडेट रखें किसान

किसानों को उपार्जित फसल का भुगतान उनके आधार नम्बर से लिंक बैंक खाते में सीधे प्राप्त होगा। अत: आवश्यक है कि किसान अपने आधार नम्बर से बैंक खाता और मोबाइल नम्बर को लिंक कराकर अपडेट रखें। असुविधा से बचने के लिए किसान पंजीयन एवं उपज विक्रय के समय समस्त संबंधित दस्तावेज साथ लायें। आधार नम्बर से बैंक खाता और मोबाइल नम्बर को लिंक कराकर अपडेट रखें ताकि भुगतान में सुविधा हो।


दर्ज रकबे, फसल एवं फसल की किस्म के आधार पर किया जाएगा पंजीयन

किसानो का पंजीयन गिरदावरी किसान एप में दर्ज रकबे, फसल एवं फसल की किस्म के आधार पर किया जाएगा। गिरदावरी किसान एप में दर्ज जानकारी से संतुष्ट न होने पर पंजीयन के पूर्व किसान को भूमि, बोई फसल एवं फसल की किस्म आदि में संशोधन के लिए गिरदावरी एप में दावा आपत्ति करना होगी। आपत्ति का निराकरण होने पर पंजीयन किया जा सकेगा। कृषक, अनुमोदित उपार्जन केन्द्रों की सूची MPONLINE/CSC/लोक सेवा केन्द्र एवं साइबर कैफे पर www.mpeuparjan.nic.in पर देख सकते हैं। किसी भी प्रकार की शिकायत, समस्या होने पर किसान सीएम हेल्पलाइन 181 पर सम्पर्क कर सकते है।


सीएम हेल्पलाइन की शिकायतों का निराकरण समय-सीमा में कराने के निर्देश


सीएम हेल्पलाइन में दर्ज होने वाले आवेदन एवं शिकायतों का समय-सीमा में निराकरण कराने के लिए संबंधित विभागों के अधिकारियों को 2 एवं 3 फरवरी को उपस्थित होने के निर्देश दिए गए हैं। अपर कलेक्टर श्रीमती गुंचा सनोवर ने सभी संबंधित अधिकारियों को 02 एवं 03 फरवरी को प्रात: 11 बजे जिला पंचायत सभाकक्ष में सीएम हेल्पलाइन अंतर्गत लंबित प्रकरणों का समाधान कर प्रतिवेदन लेकर उपस्थित होने के निर्देश दिए है। साथ ही संबंधित अधिकारियों को शिकायतों का निराकरण करने के लिए 01 ऑपरेटर साथ लाने के लिए कहा गया है। अपर कलेक्टर श्रीमती सनोवर के निर्देशानुसार श्री अमित सिंह तहसीलदार नगर सीहोर, सुश्री शैफाली जैन नायब तहसीलदार तहसील सीहोर, श्री आकाश महंत नायब तहसीलदार बुधनी, श्री शक्ति सिंह तोमर नायब तहसीलदार नसरूल्लागंज, श्रीमती ज्योति पटेल नायब तहसीलदार श्यामपुर, सुश्री सुनीता कुमारी नायब तहसीलदार इछावर, श्री जयपाल शाह उईके नायब तहसीलदार रेहटी, श्री अतुल शर्मा नायब तहसीलदार तहसील आष्टा, श्री हरिराम झावरे जिला अग्रणी बैंक, डॉ. सुधीर कुमार डेहरिया मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी, श्रीमती प्रियंका वंशीवाल श्रम पदाधिकारी जिला श्रम विभाग, सुश्री दिव्या राय सहायक संचालक, अन्य पिछड़ा वर्ग, श्री शरद महोबिया सहायक यंत्री ऊर्जा विभाग, श्री प्रफल्ल खत्री डीपीसी महिला बाल विकास, श्री राजेन्द्र परमार खनिज निरीक्षक खनिज विभाग, श्री आरजी शाक्य कार्यपालन यंत्री लोक निर्माण विभाग, श्री सुनील कुमार कौरव कार्यपालन यंत्री लोक निर्माण विभाग बुधनी, श्री आकाश चंदेल कनिष्ठ आपूर्ति अधिकारी, सुश्री प्रियंका भंडारी कार्यपालन यंत्री जल संसाधन, श्री राजेश शर्मा उप वनमंडल अधिकारी, श्री मनोज कुमार सिंह भदौरिया उप वनमंडल अधिकारी बुधनी, श्री उदय उपेन्द्र भिडे़ डीओ स्कूल शिक्षा विभाग एवं श्री अशोक कुमार माँझी सिविल सर्जन स्वास्थ्य विभाग को उपस्थित होने के निर्देश दिए गए है।


मछुआ सहकारी समितियों के निष्क्रिय,  फर्जी बिचौलिये मछुआ सदस्यों निष्कासित करने के निर्देश


मत्स्य विभाग द्वारा जिले में पंजीकृत मछुआ सहकारी समतियों के फर्जी, बिचौलिये एवं अक्रियाशील सदस्यों के निष्कासन के निर्देश दिए गए है। जांच एवं निष्कासन की कार्रवाई के लिए सहकारिता विभाग के उपसंचालक ने विकासखण्ड स्तर पर पदस्थ सहकारिता निरीक्षक जनपद पंचायत कार्यालय में अपने विकासखण्ड की मछुआ सहकारी समितियों की पंजीयन फाईल, प्रस्ताव पंजी, सदस्य पंजी, भुगतान पंजी एवं अन्य अभिलेख सहित समितियों के संचालकों को बुलाकर क्षेत्रीय सहकारिता निरीक्षक के साथ दिनांक 08 फरवरी एवं 15 फरवरी 2022 को समितियों जांच करने के निर्देश दिए हैं। जांच के पश्चात अक्रियाशील, अपात्र, फर्जी मछुआ सदस्यों पर कार्यवाही कर प्रतिवेदन प्रस्तुत करने के निर्देश दिए हैं।


अभाविप ने 54 वे प्रांत अधिवेशन में पारित मांग को लेकर मुख्यमंत्री के नाम कलेक्टर को दिया ज्ञापन 


sehore news
सीहोर( अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद सीहोर नगर इकाई द्वारा नर्मदा पुरम में हुए अभाविप के वन में प्रांत अधिवेशन में पारित छात्र मांग पत्र को लेकर मध्य प्रदेश शासन के मुख्यमंत्री के नाम सीहोर कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा गया जिसमें जिला संयोजक शुभम व्यास ने बताया कि अभाविप हमेशा शैक्षणिक गतिविधियों में सुधार के लिए प्रयास करती रहती है और कोरोना की विषम परिस्थितियों में ना केवल पूरा विश्व और देश प्रभावित है अपितु किसी भी देश के मूलाधार कहने वाली शिक्षा व्यवस्था भी यह उस से अछूती नहीं हैं। कोरोना संक्रमण काल में शिक्षा व्यवस्था को भी बड़ी क्षति पहुंचाई है वही नवा चारों की संभावनाओं के ऊपर भी नए अवसर पैदा किए हैं। राष्ट्रीय शिक्षा नीति को लागू करने वाला मध्यप्रदेश देश में अग्रणी राज्य में से एक है राष्ट्रीय शिक्षा नीति की व्यापक बहस आज भी उतनी ही आवश्यक है जिसके कारण विद्यार्थी ओर शिक्षक समुदाय उसके अनुरूप भविष्य की संभावनाओं को देख सके। उच्च शिक्षा में राष्ट्रीय शिक्षा नीति को सुचारु रुप से लागू करने हेतु राज्य शासन द्वारा तुरंत एक क्रियान्वयन समिति की घोषणा की जाए।तकनीकी शिक्षा में राष्ट्रीय शिक्षा नीति के क्रियान्वयन हेतु  शासन द्वारा तुरंत प्रारूप घोषित किया जाए। तकनीकी शिक्षा एवं चिकित्सा शिक्षा को भी मातृभाषा हिंदी में पढ़ने की व्यवस्था हेतु पाठ्यक्रमों का तुरंत हिंदी अनुवाद किया जाए। शिक्षा संस्थानों के NACC,NIRF,NBA  जैसे मूल्यांकन हेतु तैयार किया जाए। मध्य प्रदेश के विश्वविद्यालय नियमित शिक्षकों की कमी से जूझ रहे है अभाविप का सुविचारित मत है कि विश्वविद्यालयों में खाली पड़े पदों के ऊपर तुरंत शिक्षकों की नियुक्ति की जाए प्रदेश के शा.महाविद्यालय नियमित प्राचार्यों के अभाव में है अभाविप माँग करता है कि शा. महाविद्यालयों में तुरंत नियमित प्राचार्यों की नियुक्ति की जाए । सहायक प्राध्यापकों की भर्ती में संस्कृत विषय का एक भी प्राध्यापक पद स्वीकृत न होना दुर्भाग्यपूर्ण है अभाविप का मानना है कि संस्कृत विषय के रिक्त पड़े पदों पर तुरंत भर्ती प्रक्रिया प्रारंभ की जाए । मध्यप्रदेश के अधिकतम विश्वविद्यालय में संस्कृत भाषा का ना होना संस्कृत भाषा में पड़ने वाले विद्यार्थियों के लिए अन्याय करता है अतः परिषद माँग करती है कि शासकीय विश्वविद्यालय में यथा सम्भव संस्कृत विभाग प्रारंभ किया जाए अभाविप कि हम आएंगे शिक्षा जगत को सुदृढ़ बनाने का कार्य करेंगी। इस अवसर पर नगर अध्यक्ष विशाल यादव, अभिलाषा जोशी, पलक, प्रमोद भारती, सौरभ जोशी, विशाल राठौर, आदि शर्मा ,बलवीर ,रितिक अरोरा, प्रियांशु, सनी राय, जतिन, विनय ,संस्कार, प्रियांश ,अनुकूल, विकास ,चेतन, आलोक, दीपक अमन ,हिमांशु, खुशाल ,आदर्श, कुणाल आदि कार्यकर्ता उपस्थित रहे।।


सीहोर जिले में 80% से अधिक बूथ विस्तार अभियान में बूथों पर पहुचे विस्तारक,बूथों पर कोई कसर बाकी न रहे, इसलिए पांच फरवरी तक के लिये बढ़ा अभियान-रवि मालवीय


sehore news
सीहोर। स्व. कुशाभाऊ ठाकरे जी के जन्मशताब्दी वर्ष को भाजपा संगठन पर्व के रूप में मना रही हैं। संगठन के सुदृढ़ीकरण और विस्तारीकरण के लिए पार्टी ने बूथ विस्तारक योजना शुरू की है।  जिसका आज 12 वां दिन है। इस योजना के अंतर्गत सीहोर जिले में बूथ विस्तारकों,एप्प संचालक विस्तारकों सहित पार्टी के सभी कार्यकर्ताओ की दिन रात कड़ी मेहनत,बूथों पर प्रतिदिन 10 घण्टे का समय दान करने के कारण काफी अच्छा काम हुआ है और बूथ स्तर तक कार्यकर्ताओं में उत्साह का संचार हुआ है। पहले यह योजना सिर्फ 10 दिनों के लिए थी, लेकिन जो लक्ष्य निर्धारित किए गए थे, उन्हें हासिल करने में कोई कसर बाकी न रहे, इसके लिए प्रदेश नेतृत्व ने इस योजना को पांच फरवरी तक बढ़ा दिया हैं। यह बात भारतीय जनता पार्टी के सीहोर जिला अध्यक्ष रवि मालवीय ने कही। श्री मालवीय ने कहा कि बूथ विस्तारक योजना के अंतर्गत दो काम प्रमुख रूप से किये जाने थे, जिनमें से एक था बूथों का फिजिकल वेरिफिकेशन और दूसरा था बूथों का डिजिटलाइजेशन। श्री मालवीय ने कहा कि सभी के प्रयासों,कड़ी मेहनत का यह परिणाम है कि सीहोर जिले में बूथ विस्तार योजना के अंतर्गत इन 12 दिनों में हमने 80 प्रतिशत से अधिक बूथों का फिजिकल वेरिफिकेशन कर लिया है। जिला भाजपा के मीडिया प्रभारी सुशील संचेती ने बताया कि कुछ ग्रामीण इलाकों मे खास कर बुधनी-नसरुल्लागंज क्षेत्र में संगठन एप्प में तकनीकी दिक्कतों के कारण बूथों के डिजिटलाइजेशन का कुछ काम पिछड़ गया था,बूथ विस्तारक अभियान के जिला प्रभारी श्री धारासिंह पटेल इस तकनीकी समस्या को लेकर भोपाल तक सम्पर्क में रहे और उक्त समस्या से प्रदेश की तकनीकी टीम को अवगत कराने के बाद उक्त समस्या लगभग हल हो कर उन क्षेत्रों में तेजी से कार्य शुरू हो गया है। बूथ विस्तारक योजना की जो अवधि 5 फरवरी तक बढ़ाई गई है इस बढ़ाई गई अवधि में हम जो शेष कार्य रह गया है उस काम को भी पूरा कर लेंगे।


"पार्टी और कार्यकर्ताओं में उत्साह की लहर"

जिला मीडिया प्रभारी सुशील संचेती ने बताया कि बूथ विस्तारक योजना के परिणाम कार्यकर्ताओ में बहुत उत्साहवर्धन कर रहे हैं। इस योजना के अंतर्गत पूरे प्रदेश के 36 हजार बूथों पर  पार्टी के 20 हजार से अधिक विस्तारकों ने, हमारे मुख्यमंत्री, केंद्रीय मंत्री और प्रदेश सरकार के मंत्री, संगठन कर पदाधिकारियों अन्य पार्टी के कार्यकर्ताओं ने बूथों पर जो 10-10 घंटे का समय दान कर काम किया है उनकी इस सक्रियता से पार्टी संगठन और कार्यकर्ताओं में उत्साह की लहर व्याप्त है। कार्यकर्ताओ ने इस अभियान में ना दिन देखा,ना रात देखी और ना ही कपकपाने वाली ठंड की चिंता की चरैवेति-चरैवेति के तहत कार्य को कर रहे है।


"बूथ क्र 310 के ग्राम डोभा में जिलाध्यक्ष ने बूथ समिति की बैठक में हुए शामिल"

सीहोर जिला भाजपा अध्यक्ष श्री रवि मालवीय आज बुधनी विधानसभा के बूथ क्र 310 के ग्राम डोभा पहुचे,बूथ समिति की बैठक में हुए शामिल,संगठन द्वारा दिये गये 22 करणीय कार्यो की जानकारी ले कर विस्तारकों के साथ समीक्षा की। जिला अध्यक्ष रवि मालवीय ने बूथ की बैठक में सदस्य का मोबाईल में फोटो खेंच कर उसे एप्प में लोड किया एवं कार्यकर्ता की पूरी जानकारी एप्प में दर्ज की।


आज से आरंभ होगी इंटर स्कूल फुटबाल प्रतियोगिता


सीहोर। प्रतिभाशाली खिलाड़ियों को उभराने और मंच देने के उद्देश्य से शहर के आईटीसी चौपाल सागर के समीपस्थ आईईएस यूनिवर्सिटी के तत्वाधान में बुधवार से जिला स्तरीय इंटर स्कूल फुटबाल प्रतियोगिता का शुभारंभ किया जाएगा। जानकारी के अनुसार फुटबाल प्रतियोगिता में आष्टा और इछावर के अलावा शहर की आधा दर्जन टीमों को शामिल किया गया है। प्रतियोगिता का शुभारंभ सुबह दस बजे आरंभ किया जाएगा। प्रतियोगिता में 18 साल से कम उम्र के खिलाड़ियों की टीम शामिल किया गया है। प्रतियोगिता का शुभारंभ दो फरवरी को फुटबाल मैच के साथ किया जाएगा और उसके पश्चात आगामी तीन फरवरी से क्रिकेट प्रतियोगिता का आयोजन किया जाएगा। आईईएस यूनिवर्सिटी के तत्वाधान में आयोजित होने वाली प्रतियोगिता में विजेता टीम को 21 सौ रुपए और उपविजेता टीम को 11 सौ रुपए के इनाम के साथ ट्राफी प्रदान की जाएगी। इसके अलावा फुटबाल प्रतियोगिता में गोल कीपर को ट्राफी के अलावा क्रिकेट प्रतियोगिता के मैन आफ द सीरिज की ट्राफी प्रदान की जाएगी।  


डूब रही है जमीन डूब जाएंगे अब मकान, मुआवजा राशि के बदले दिया गया नोटिस


sehore news
सीहोर। गवा के ग्रामीणों की सिंचित भूमि पार्वती डेम में डूब रहीं है जल्दी हीं मकान भी डेम के पानी में समा जाएंगे। आने वाली विकट स्थिति से ग्रामीण खौफजदा है। इधर ग्रामीणों को प्रशासन ने मुआवजा राशि के बदले जमीन और मकान खाली करने का नोटिस थमा दिया है ग्रामीण पर्याप्त मुआवजा राशि देने की मांग कर रहे है लेकिन प्रशासन दो वर्ष से टाला मटौली कर रहा है इधर डेम का पानी बड़ता हीं चला जा रहा है। पार्वती बांध परियोजना के डूब क्षेत्र में आने वाले ग्राम गवा के चंदर सिंह/प्रभुलाल प्रभु लाल/गेंदा,इंदर सिंह/जगन्नाथ,हरि सिंह/जगन्नाथ,भगवान सिंह/हरि सिंह,,बापूलाल /जगन्नाथ श्याम सिंह, बाबूलाल, राजाराम, बापू लाल, सदी बाइर्, लाखन सिंह, कृष्ण मुरारी, अभय सिंह, लाखन सिंह, अभय सिंह, मांगीलाल, प्रभु लाल, श्रजन सिंह, प्रभुलाल, फतेह सिंह, रामलाल, धन सिंह आदि ने मंगलवार को जनसुनवाई में कलेक्टर को ज्ञापन देकर मुआवजा राशि दिलाई जाने की मांग की है।


अवैध तरीके से तोड़े कच्चे मकान शासन दे मुआवजा नीलबड के ग्रामीणों ने जनसुनवाई में की है शिकायत


sehore news
सीहोर। वर्षो पुराने पूर्वजो के कच्चे मकान प्रशासन ने अतिक्रमण बताकर तोड़ दिण् है। जबकी वर्षो से ग्राम नीलबड में रह रहे है प्रशासन के द्वारा की गई अचानक कार्रवाहीं से गृहस्थी का सामान भी नष्ट हो गया है। तहसील आष्टा के ग्राम नीलबड़ के पीडि़त ग्रामीणों ने मंगलवार को जनसुनवाई में पहुंचकर तोड़े गए मकानों का मुआवजा देने और भूमि के पटटे के साथ प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना का लाभ दिलाई जाने की मांग जिला प्रशासन से की है। कलेक्ट्रेट पहुंचे ग्रामीणों ने बताया की 130 व्यक्तियों को नोटिस देने की बात कहीं गई। भेदभाव पूर्ण कार्रवाहीं करते हुए केवल कुछ लोगों के ही मकान तोड़े गए जबकी अनेक लोगों को चैतवानी दी गई। आधे से ज्यादा लोगो तो नोटिस ही नहीं दिया गया। अचानक से मकान तोड़ दिये है। जिस से अनेक लोग बेघरवार हो गए है। ग्राम के पूरन सिंह, रविंद्र सिंह, सुरेश, मुंशी, प्रकाश, दीलीप, अजय, जितेंद्र, देवीलाल,  हरिनारायण, दुर्जन सिंह, बाबूलाल आदि ने प्रशासन से मदद की गुहार लगाई है।


अब शहरी क्षेत्र के वार्डों में स्वच्छता के लिए प्रतिस्पर्धा होगी, विठलेश सेवा समिति के तत्वाधान में किया जाएगा क्षेत्रवासियों को जागरूक


sehore news
सीहोर। सभी का दायित्व है कि वह अपने घरों व आसपास स्वच्छता रखें। इस कार्य में सभी को मिलकर कार्य करना होगा, तभी अपना शहर स्वच्छ बनेगा। सरकार के प्रयास के अलावा जन भागीदारी हुए बिना सरकार का उद्देश्य पूरा नहीं हो पाएगा। उक्त विचार जिला मुख्यालय के समीपस्थ चितावलिया हेमा स्थित निर्माणाधीन मुरली मनोहर एवं कुबेरेश्वर महादेव मंदिर में विठलेश सेवा समिति के तत्वाधान में आयोजित साफ-सफाई जागरूकता कार्यक्रम में श्रद्धालुओं के समक्ष स्वच्छता ब्रांड एंबेसडर भूषण पंडित प्रदीप मिश्रा ने कहे।   भागवत भूषण पंडित श्री मिश्रा ने स्वयं झाड़ू उठाई और देश भर में स्वच्छ भारत अभियान को एक जन आंदोलन बनाते हुए कहा कि लोगों को न स्वयं गंदगी फैलानी चाहिए और न किसी और को फैलाने देनी चाहिए। उन्होंने ना गंदगी करेंगे, ना करने देंगे का मंत्र दिया। इस अभियान में शामिल होने के लिए लोगों को आमंत्रित करने के कारण स्वच्छता अभियान एक राष्ट्रीय आंदोलन बन गया। स्वच्छ भारत मिशन के माध्यम से लोगों में जिम्मेदारी की भावना आई। देश भर में लोग सक्रिय रूप से स्वच्छ भारत अभियान में शामिल हो रहे हैं और महात्मा गांधी का स्वच्छ भारत का सपना अब साकार होने लगा है। हमारे देश के पीएम नरेन्द्र मोदी द्वारा स्वच्छता के लिए कार्यक्रमों का आयोजन किया जा रहा है। हमारी सबकी जिम्मेदारी है कि वातावरण को शुद्ध रखे।


स्वच्छता के लिए प्रतिस्पर्धा होगी

विठलेश सेवा समिति के मीडिया प्रभारी प्रियांशु दीक्षित ने बताया कि आगामी दिनों में शहर के हर वार्ड में समिति के तत्वाधान में स्वच्छता के लिए प्रतिस्पर्धा होगी। इसके अलावा स्वच्छता अभियान से जुड़े हर व्यक्ति का सम्मान किया जाएगा। 


शासकीय उचित मूल्य राशन दुकानों का समय सीमा में करें निरीक्षण- सीईओ श्री सिंह

  • नल-जल समूह योजनाओं की अनुभाग स्तर पर समीक्षा के निर्देश

sehore news
जिला पंचायत सभाकक्ष में आयोजित टीएल बैठक में जिला पंचायत सीईओ श्री हर्ष सिंह एवं अपर कलेक्टर श्रीमती गुंचा सनोबर ने विभागीय गतिविधियों तथा समय सीमा वाले विभागीय परिपत्रों की समीक्षा करते हुए अधिकारियों को पत्रों पर त्वरित कार्यवाही करने के निर्देश दिए।  श्री सिंह ने कहा कि अधिकारी यह सुनिश्चित करें कि कोई भी शिकायत बिना अटेण्ड किए अगले स्तर पर न जाए। श्री सिंह ने सीएम हेल्प लाइन, समाधान ऑनलाइन तथा मुख्यमंत्री के भ्रमण के दौरान प्राप्त आवेदन पत्रों का शीघ्र निराकरण के निर्देश दिए।  बैठक में श्री सिंह ने धान उपार्जन की समीक्षा के दौरान पांच हजार टन उपर्जित धान का शीघ्र परिवहन कर भण्डारण किया जाए इस के लिए संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए। उन्होंने मत्स्य एवं उद्यानिकी विभाग को किसान क्रेडिट कार्ड के लंबित प्रकरणों का शीघ्र ही निराकरण कर लक्ष्य के अनुसार केसीसी बनाने के एलडीएम तथा संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए। श्री सिंह ने अंकुर कार्यक्रम के तहत अधिक से अधिक वृक्षारोपण कर वायुदूत एप पर फोटो अपलोड करने, आयुष्मान कार्ड बनाने तथा आंगनबाड़ियों के अडाप्शन की प्रक्रिया में गति लाने  के निर्देश दिए। बैठक में स्वास्थ्य, महिला बाल विकास, पीएचई, लोक निर्माण विभाग, स्कूल शिक्षा, स्वास्थ्य, पंचायत एवं ग्रामीण विकास, आरईएस, आदिम जाति कल्याण विभाग, कृषि, उद्यानिकी सहित अनेक विभागों की समीक्षा की गई। बैठक में सभी विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।

                       

अनुभाग स्तर पर समीक्षा के निर्देश

बैठक में जिला पंचायत सीईओ श्री सिंह ने सभी अधिकारियों को जिले में जन-जल समूह योजना के तहत ग्रामीण क्षेत्रों में चल रहे कार्यों का निरीक्षण करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि  नल-जल योजना के कार्यों की मॉनिटरिंग के लिए एसडीएम की अध्यक्षता में प्रति सप्ताह बैठक आयोजित कर प्रगति की समीक्षा की जाए। श्री सिंह ने स्कूलों तथा आंगनबाड़ियों में नल कनेक्शन बेहतर ढंग से किया जाए इसके लिए संबंधित विभागों को अधिकारियों को नियिमत निरीक्षण करने के निर्देश दिए। उल्लेखनीय है कि जिले के ग्रामीण क्षेत्रों में 1,01,500 घरेलू नल कनेक्शन किया जाना है। अभी तक 288 नल जल समूह योजना का कार्य पूरा किया हुआ है।

                  

शासकीय उचित मूल्य दुकानों का निरीक्षण के निर्देश

बैठक में श्री सिंह ने जिले में शासकीय उचित मूल्य दुकान से सभी पात्र हितग्राहियों को राशन वितरण व्यवस्था सुनिश्चित करने के लिए अधिकारियों को निरीक्षण के लिए आवंटित दुकानों का  निरीक्षण समय सीमा में करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि निरीक्षण के दौरान हितग्राहियों से भी निर्धारित मात्रा में राशन मिलने की पुष्टि कर ली जाए।


मुख्यमंत्री वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से स्मार्ट फोन वितरण कार्यक्रम में सम्मिलित होंगे


मुख्यमंत्री 04 फरवरी को दोपहर 12.30 बजे मंत्रालय से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से सीहोर जिले के पोषण अभियान के अन्तर्गत आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं के लिए 1465 स्मार्ट फोन का वितरण कार्यक्रम में सम्मिलित होगें।


किसान अपने आधार नम्बर को बैंक खाते से लिंक कराएं


किसानों की सुविधा एवं उपार्जन में बिचौलियों को समाप्त करने के उद्देश्य से सरकार ने रबी विपणन वर्ष-2022-23 में समर्थन मूल्य  पर गेहूं उपार्जन के लिए किसान पंजीयन उपार्जन व भुगतान की नवीन व्यवस्था  की है। किसान पंजीयन एवं उपार्जन के लिए अपने आधार नम्बर को अपने बैंक में जाकर खाते लिंक कर अपडेट कराएं। किसानों को समर्थन मूल्य का भुगतान उनके आधार लिंक बैंक खाते में किया जाएगा। बायोमेट्रिक सत्यापन होगा पंजीयन में वास्तविक किसान की पहचान सुनिश्चित के लिए बायोमैट्रिक सत्यापन के आधार पर पंजीयन किया जाएगा। इसके लिए किसान के वर्तमान व चालू मोबाईल नम्बर को आधार पंजीयन केन्द्र पर जाकर नम्बर से लिंक कराएं। किसानों के भू-अभिलेख में दर्ज खाते से मिलान किया जाएगा। इसमें किसी प्रकार की विसंगति होने पर पंजीयन का सत्यापन नायब तहसीलदार,तहसीलदार द्वारा करने के बाद पंजीयन मान्य होगा।

कोई टिप्पणी नहीं: