विदिशा (मध्य प्रदेश) की खबर 06 फ़रवरी - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 6 फ़रवरी 2022

विदिशा (मध्य प्रदेश) की खबर 06 फ़रवरी

अन्नोत्सव का आयोजन आज


अन्नोत्सव का आयोजन सोमवार सात फरवरी को बिना किसी प्रकार के शासकीय समारोह का आयोजन ना करते हुए जिले के समस्त उचित मूल्य दुकानो से पात्र हितग्राहियों को राशन सामग्री का वितरण नियमित प्रक्रिया अनुसार नोडल अधिकारी की उपस्थिति में सम्पन्न होगा। कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव ने खाद्य नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण विभाग के प्रमुख सचिव के द्वारा जारी पत्र का हवाला देते हुए बताया कि प्रदेश में छह एवं सात फरवरी को राजकीय शोक घोषित किया गया है इस अवधि में कोई शासकीय आयेजन समारोहपूर्वक नहीं किए जाएंगे। गौरतलब हो कि राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा 2013 के अंतर्गत सम्मिलित पात्र परिवारों को रियायती दर पर नियमित एवं पीएमजीकेएवाय की निःशुल्क खाद्यान्न सामग्री शासकीय कर्मचारियों की उपस्थिति में सुनिश्चित करने एवं उचित मूल्य दुकान पर पर्याप्त मानिटरिंग के लिए प्रत्येक माह की सात तारीख को अन्नोत्सव का आयोजन जारी निर्देशो के अनुरूप संपादित होता है।


बीमारो के उपचार हेतु बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं मुहैया कराएं-कलेक्टर


vidisha news
कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव की अध्यक्षता में जिला स्वास्थ्य समिति की बैठक सम्पन्न हुई उक्त बैठक में जिला पंचायत सीईओ डॉ योगेश भरसट, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ अखण्ड प्रताप सिंह समेत अन्य चिकित्सकगण व विभागीय अधिकारी मौजूद थे। कलेक्टर श्री भार्गव ने चिकित्सकों से कहा कि बीमार पीड़ितो को समयावधि में बेहतर चिकित्सीय सुविधाएं शासन के मापदण्डानुसार त्वरित प्राप्त हो के पुख्ता प्रबंध ग्राम स्तर तक सुनिश्चित किए जाए। उन्होंने कहा कि प्रत्येक विकासखण्ड में राष्ट्रीय स्वास्थ्य कार्यक्रमों एवं संस्थागत प्रसव की समीक्षा बैठके सीएमएचओ आयोजित कर उपरोक्त बैठको की सार संक्षेपिका से अवगत कराए और ऐसे बीएमओ जिनके द्वारा स्वास्थ्य कार्यक्रमों के क्रियान्वयन में लापरवाही बरती जा रही है उनके खिलाफ कार्यवाही के प्रस्ताव प्रस्तुत करें। कलेक्टर श्री भार्गव ने कहा कि जिले के सभी संस्थागत प्रसव केन्द्र संचालित होना चाहिए। इन केन्द्रो पर प्रत्येक माह कितने प्रसव हुए है का डाटा भी प्रतिमाह प्रस्तुत किया जाए। उन्होंने महिला एवं बाल विकास एवं स्वास्थ्य विभाग के लक्षित दम्पति परिवारो को परिवार नियोजन के संसाधनो से अवगत कराते हुए स्थायी परिवार नियोजन के लिए भी प्रेरित करने पर बल दिया है। कलेक्टर श्री भार्गव ने कहा कि सभी चिकित्सक व स्वास्थ्य अमला अपने पदस्थापना के कार्यक्षेत्रो में बेहतरीन स्वास्थ्य सुविधाएं मुहैया कराने से जाने जाए। उन्होंने कहा कि ऐसे मरीज जिन्हें वास्तव में जिला चिकित्सालय रेफर करना जरूरी है उन ही मरीजो को रेफर किया जाए। और ऐसे मरीज जिला चिकित्सालय से डिस्चार्ज होने के उपरांत खण्ड स्तरीय चिकित्सकगण उनके स्वास्थ्य पर नजर रखने हेतु ग्राम स्तरीय अमले को ताकिद करे। कलेक्टर श्री भार्गव ने कोविड वैक्सीनेशन टीकाकरण के कार्यो की भी समीक्षा की। उन्होंने कहा कि प्रथम एवं द्वितीय डोज टीकाकरण कार्य में जिला प्रदेश में अव्वल रहे इसके लिए टीकाकरण से कोई वंचित ना रहे हम सबका लक्ष्य होना चाहिए। जिला पंचायत सीईओ डॉ योगेश भरसट ने ग्रामीण  क्षेत्रों में स्वास्थ्य सुविधाओं की आपूर्ति सुनिश्चित कराने हेतु चिकित्सको से कहा कि वे क्षेत्र में स्वंय की उपस्थिति के साथ-साथ अन्य अमले की उपस्थिति सुनिश्चित कराएं। उन्होंने राष्ट्रीय स्वास्थ्य कार्यक्रमों के लक्ष्यपूर्ति और बेव पोर्टलों पर डाटा अंकित करने पर बल दिया है। उन्होंने कहा कि फ्रंट लाइन वर्करों का शत प्रतिशत प्रिकाशन डोज अनिवार्यत लगाई जाए। इस दौरान खण्ड स्तरीय चिकित्सालय अमला में स्वास्थ्य सुविधाओं के मद्देनजर आवश्यक उपकरणों की आपूर्ति दवाईयां व साफ सफाई तथा विभिन्न पंजियो ंके स्टाक को कैसे अद्यतन रखें से अवगत कराया है। नवीन कलेक्ट्रेट के बेतवा सभागार कक्ष में सम्पन्न हुई समस्त बीएमओ के द्वारा राष्ट्रीय कार्यक्रमों की अद्यतन जानकारियां प्रस्तुत की गई। 

कोई टिप्पणी नहीं: