विदिशा (मध्य प्रदेश) की खबर 12 फ़रवरी - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 12 फ़रवरी 2022

विदिशा (मध्य प्रदेश) की खबर 12 फ़रवरी

विदिशा जिले के ढाई लाख से अधिक कृषकों के खातों में बैंक बीमा की राशि 493.99 करोड़ वन क्लिक से जमा


vidisha news
मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान ने आज बैतूल जिले में आयोजित कार्यक्रम में खरीफ 2020 तथा रबी 2020-21 की फसल बीमा राशि वन क्लिक के माध्यम से जमा की है। जिसमें विदिशा जिले के 2 लाख 56 हजार 273 कृषकों के खातों में बीमा क्लेम दावा राशि 493 करोड़ 99 लाख जमा हुए हैं। मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान के लाइव उद्बोधन का सीधा प्रसारण देखने के प्रबंध जिला स्तरीय कार्यक्रम में सुनिश्चित किए गए थे। जिला स्तरीय कार्यक्रम एसएटीआई के कैलाश सत्यार्थी सभागार में आयोजित किया गया था। जिसमें शमशाबाद विधायक श्रीमती राजश्रीसिंह ने संबोधित करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री जी सदैव किसानों के हितों के प्रति चिंतित रहते हैं और खेती को लाभ का धंधा सही मायने में कैसे हो। इस और प्रयास ही नहीं कर रहे बल्कि परिणाम परिलीक्षित हो रहे हैं। जिला पंचायत अध्यक्ष श्री तोरणसिंह दांगी ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान ने खेती को फायदे का धंधा कैसे हो, किसानों को किसी भी प्रकार की परेशानी न हो, प्राकृतिक आपदाओं के दौरान क्षतिग्रस्त फसलों से प्रभावित किसानों को आर्थिक रूप से कमजोर नहीं होने देने की ओर अनेक कदम उठाए हैं। जिला क्राईसिस मैनेजमेंट समिति के सदस्य व पूर्व नगरपालिका अध्यक्ष श्री मुकेश टण्डन ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान ने किसानों के हितार्थ हेतु जो निर्णय लिए हैं वे अतुलनीय हैं। चाहे वे बिना ब्याज के ऋण देना, खेत पर बिजली पहुंचाना, समर्थन मूल्य पर बोनस देना, फसल खराब होने पर विभिन्न स्तरों पर मुआवजा राशि देना, किसान सम्मान निधि के अलावा कृषि यंत्रों पर हर प्रकार से अनुदान देना इत्यादि शामिल हैं। श्री टण्डन ने कहा कि प्रदेश में 2005 के बाद कृषि क्षेत्र में क्रांतिकारी परिवर्तन हुए हैं। जिसके यह परिणाम हैं कि प्रदेश कई बार राष्ट्रीय स्तर पर कृषि उत्पाद पुरस्कारों से सम्मानित हुआ है। उन्होंने फसल बीमा राशि जिसकी कल्पना नहीं थी ऐसे समय दिलाई जा रही है जब किसानों को धन की आवश्यकता होती है। उन्होंने कहा कि किसान भाई बीमा राशि का उपयोग खेती बाड़ी के कार्यों में कर मुख्यमंत्री जी की मंशा पर खरे उतरें। कार्यक्रम की शुरूआत अतिथियों के द्वारा मां सरस्वती के समक्ष माल्यार्पण दीप प्रज्जवलित कर की गई। किसान कल्याण तथा कृषि विकास विभाग के उप संचालक पीके चैकसे के द्वारा प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना खरीफ 2020 एवं रबी 2021 के तहत दावों का कृषकों को भुगतान की विस्तृत जानकारी दी गई।


प्रतीकात्मक चेकों का वितरण-

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना खरीफ 2020 एवं रबी 2020-21 के तहत जिले के कृषकों के बैंक खातों में वन क्लिक के माध्यम से सीधी राशि जमा हुई है। इन कृषकों में से ग्राम डंगरबाड़ा के कृषक श्री दिनेश बघेल को 2 लाख 26 हजार रूपये, कृषक श्री रामसेवक दांगी को 1 लाख 48 हजार का तथा ग्राम ठर्र के श्री रहमान को 2 लाख रूपये का चेक प्रतीकात्मक रूप से अतिथियों के द्वारा आयोजन स्थल पर प्रदाय किया गया है। आयोजन स्थल पर जनप्रतिनिधियों के अलावा कृषकगण तथा अपर कलेक्टर श्री वृंदावनसिंह, एसडीएम श्री गोपालसिंह वर्मा के अलावा अन्य विभागों के अधिकारी मौजूद रहे। कार्यक्रम का संचालन डाॅ दीप्ती शुक्ला ने किया और आगन्तुकों के प्रति आभार कृषि विभाग के सहायक संचालक श्री एनपी प्रजापति ने व्यक्त किया।


मांगो के अनुरूप दवाइयों की पूर्ति अब सीधे प्राप्ति की व्यवस्था


vidisha news
विदिशा जिले की शासकीय संस्थानों में औषधि पहुंचाने के लिए नवीन व्यवस्था क्रियान्वित की गई है। जिसका लाभ मिलने पर अब सीधे दवाइयां ब्लॉक मुख्यालय से आरबीएस के वाहनों द्वारा फोकल प्वाइंटों एवं प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर भेजी जाएंगी। डिलीवरी वाय द्वारा हेल्थ एवं वैलनेस सेंटर पर औषधि पहुंचाई जाएंगी। इस प्रणाली की शुरुआत हुई है। दवाओं की नवीन वितरण व्यवस्था के तहत मुख्य चिकित्सा स्वास्थ्य अधिकारी के कार्यालय परिसर से जिला कार्यक्रम प्रबंधक श्री आशुतोष घूटे ने औषधी वाहनों को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया है। 


37 सैम्पल पाॅजिटिव प्राप्त हुए


विदिशा जिले में शनिवार 12 फरवरी को कोविड-19 के 982 सैंपलों की रिपोर्ट में 37 सैंपल पॉजिटिव प्राप्त हुए है। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉक्टर अखंड प्रताप सिंह ने बताया कि 12 फरवरी की प्रातः काल 3 फाइल में कुल 982 सैंपलों  कि  रिपोर्ट प्राप्त हुई है। जिसमें 37 सैंपल पॉजिटिव  प्राप्त हुए हैं।


सफलता की कहानी : कृषकों ने बीमा राशि मिलने पर धन्यवाद ज्ञापित किया


vidisha news
प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना की राशि सीधे बैंक खातों में पहुंचने पर कार्यक्रम में शामिल हुए कृषकों के चेहरों पर प्रसन्नता झलक रही थी। इस दौरान बीमा राशि प्राप्ति के उपरांत कृषकों ने प्रधानमंत्री एवं मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चैहान के प्रति धन्यवाद ज्ञापित करते हुए कहा कि हमने सोचा नहीं था कि खरीफ 2020 और रबी 2020-21 की बीमा राशि इतनी जल्दी मिल जाएगी। प्रधानमंत्री जी एवं मुख्यमंत्री के प्रति आभार व्यक्त करने वाले कृषकों में ग्राम गंगरबाड़ा के कृषक श्री दिनेश बघेल, ग्राम परासी गूजर के कृषक श्री श्री ऋषिकांत मिश्रा एवं ग्राम थान्नेर के कृषक श्री हरनामसिंह शामिल हैं।


सफलता की कहानी : प्रगतिशील कृषक ने गोद ली आंगनबाड़ी


कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव के आव्हान पर जिले में संचालित आंगनबाड़ी केन्द्रों को गोद लेने के लिए सभी वर्ग के नागरिक आगे आ रहे हैं जिनमें से कृषकबंधु भी पीछे नहीं हैं ग्राम पंचायत सुनपुरा ग्रंट के प्रगतिशील कृषक श्री थानसिंह यादव ने कलेक्टर के आव्हान से अभिप्रेरित होकर माधोपुरा गांव की आंगनबाड़ी केन्द्र को गोद लिया है। प्रगतिशील कृषक श्री थानसिंह यादव का कहना है कि गांव में बच्चों को हर प्रकार की सुविधा मिले, इस ओर हम सबका भी नैतिक दायित्व है। उन्होंने गोद ली गई आंगनबाड़ी केन्द्र पहुंचकर बच्चों से चर्चा की और आंगनबाड़ी कार्यकर्ता एवं सहायिका से संवाद कर आंगनबाड़ी केन्द्र की क्या आवश्यकता है से अवगत होने के उपरांत पूर्ती शीघ्र कराने से आश्वस्त कराया। इस दौरान प्रगतिशील कृषक श्री यादव ने आंगनबाड़ी केन्द्र के बच्चों को टाॅफी और बिस्किट के पैकेट प्रदाय किए हैं। उनका कहना है कि हर गांव की आंगनबाड़ी आदर्श हो ऐसा हम सबका नैतिक दायित्व होना चाहिए। 

कोई टिप्पणी नहीं: