मधुबनी : जल संसाधन मंत्री द्वारा मिथिला हाट की समीक्षा की गई। - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 11 फ़रवरी 2022

मधुबनी : जल संसाधन मंत्री द्वारा मिथिला हाट की समीक्षा की गई।

sanjay-jha-inspact-mithila-haat
मधुबनी, आज दिनांक 11 फरवरी 2022 को श्री संजय कुमार झा, माननीय मंत्री, जल संसाधन, सूचना एवं जनसंपर्क विभाग, बिहार सरकार जिले के झंझारपुर अनुमंडल अंतर्गत अररिया संग्राम ग्राम में निर्माणाधीन मिथिला हाट के भौतिक संरचना के विकास की समीक्षा करने कार्यस्थल पर पंहुचे।  उक्त स्थल पर श्री आदित्य लाल दास, पूर्व मुख्य सचिव, आंध्र प्रदेश, डॉ. एस एम सुबहानी, टाउन प्लानर, रामाशंकर द्विवेदी, मुख्य अभियंता, बाढ़ नियंत्रण एवं जल निसरण, जल संसाधन विभाग, समस्तीपुर, आर्किटेक्ट विवेक रंजन, आदर्श कुमार सिंह के साथ साथ नगर विकास को गहराई से समझने वाले अन्य प्रखर नीतिकार भी मौजूद थे। बताते चलें कि बिहार सरकार द्वारा नगरों के विकास के माध्यम से अनेक जगहों का चयन कर विकसित किए जाने की योजना है। इसमें मधुबनी जिले के कई स्थल हैं, जिनमें झंझारपुर और आसपास के क्षेत्र भी हैं। इस योजना का मकसद सांकृतिक रूप से समृद्ध जगहों पर पर्यटन की संभावनाओं का विकास कर स्वरोजगार को बढ़ावा देना है। राष्ट्रीय राजमार्ग से सटे मिथिला हाट के रूप में विकसित किए जा रहे उक्त स्थल पर न केवल मधुबनी बल्कि सम्पूर्ण मिथिला की सांस्कृतिक विरासत को सफलतापूर्वक प्रकटित करने की योजना है। इसके लिए पूरे परिसर में पांच क्लस्टर ब्लॉक बनाए गए हैं। जिनमें क्षेत्र की लोक संस्कृति की झलक देखी जा सकती है। एक ब्लॉक के अंतर्गत स्थानीय हस्तकलाओं पर आधारित दस दुकानें आवंटित की जाएंगी। परिसर में एक बड़े ओपन एयर थियेटर का निर्माण कार्य प्रगति पर है। इसके माध्यम से नियमित तौर पर विभिन्न सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन किया जा सकेगा। इसके सामने अवस्थित बड़की तालाब की मनोरम छटा मन को शांति प्रदान करेगी। तालाब के चारो तरफ से इस प्रकार घाटों का निर्माण करवाया जा रहा है, जिससे पर्यटक यहां आयोजित होने वाले विभिन्न गतिविधियों एवं मनोरम दृश्यों को देखते हुए बैठ कर समय बिता सकें। यहां पुरुष एवं महिला प्रसाधन की समुचित व्यवस्था उपलब्ध करवाए जाने के लिए अलग से ब्लॉक बनाए गए हैं। यहां समुचित तकनीकी युक्त प्रशासनिक भवन का निर्माण भी किया जा रहा है। साथ ही साथ कलाकारों को भी आवासन की पर्याप्त सुविधा उपलब्ध हो इसके लिए  भवन निर्माण की प्रक्रिया अंतिम चरण में हैं। यहां आने वाले पर्यटकों को स्थानीय लजीज व्यंजन परोसे जाने के उद्देश्य से फूड कोर्ट का भी निर्माण किया गया है। इतना ही नहीं बच्चों के मनोरंजन के लिए भी पर्याप्त साधन उपलब्ध करवाए जायेंगे।  मिथिला हाट के अंतर्गत उपलब्ध करवाए जाने वाली विभिन्न सुविधाओं के सुचारू क्रियान्वयन एवं देख रेख के लिए भी इस समीक्षा कार्यक्रम में व्यापक चर्चा की गई। माननीय मंत्री द्वारा स्पष्ट किया गया कि क्षेत्र के लोग बड़े लगनशील हैं। सरकार की योजना के तहत व्यापक जनहित को देखते हुए दक्ष लोक कलाकारों के साथ साथ अन्य श्रमशील लोगों को भी रोजगार उपलब्ध कराया जा सकेगा। उक्त अवसर पर अररिया संग्राम व आस पास के क्षेत्र के लोग भी उपस्थित थे। जिनमें मिथिला हाट को लेकर खासा उत्साह देखा गया

कोई टिप्पणी नहीं: