बिहार : प्रधानमंत्री के नेतृत्व में मजबूत अन्नतंत्र देश में हो रहा है विकसित: अश्विनी चौबे - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 21 फ़रवरी 2022

बिहार : प्रधानमंत्री के नेतृत्व में मजबूत अन्नतंत्र देश में हो रहा है विकसित: अश्विनी चौबे

nation-developing-in-modi-leadership-chaube
पटना, 21 फरवरी, केंद्रीय पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन तथा उपभोक्ता मामले, खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण राज्यमंत्री अश्विनी कुमार चौबे ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में देश में मजबूत अन्नतंत्र विकसित किया जा रहा है। अनाज का रखरखाव आधुनिक हो, इसके लिए सरकार कृत संकल्पित है। शाहाबाद क्षेत्र जिसे धान का कटोरा कहा जाता है। प्रधानमंत्री के विशेष आशीर्वाद से देश में पहली बार चावल का साइलो गोदाम पायलट प्रोजेक्ट के तहत तैयार किया जा रहा है। इसके तैयार होने के उपरांत इसकी सफलता के बाद पूरे देश में जहां चावल का पैदावार अधिक होता है। वहाँ इसे विस्तारित किया जाएगा।  केंद्रीय राज्यमंत्री श्री चौबे कैमूर दौरे के दौरान चावल साइलो प्रोजेक्ट का निरीक्षण करने के उपरांत वहाँ उपस्थित जिला प्रशासन, भारतीय खाद्य निगम एवं जनप्रतिनिधियों से मुखातिब थे।  केंद्रीय राज्यमंत्री के विशेष निर्देश पर भारतीय खाद्य निगम के ईस्ट जोन के ईडी अजीत सिन्हा ने बक्सर की इटाढ़ी में बन रहे चावल साइलो प्रोजेक्ट का निरीक्षण किया। केंद्रीय राज्यमंत्री श्री चौबे ने बताया कि अनाज का रखरखाव आधुनिक तरीके से हो इसके लिए सरकार कृत संकल्पित है। इसके लिए आधुनिक साइलो का निर्माण किया जा रहा है। अनाज की बर्बादी ना हो, उसे सुरक्षित रखा जाए इसके लिए केंद्र सरकार सभी आवश्यक कदम उठा रहा है।  12500 मेट्रिक टन का साइलो बनाया जा रहा है।  यहां पर 37500 मैट्रिक गेहूं का भी साइलो तैयार किया जा रहा है। निरीक्षण के दौरान केंद्रीय राज्यमंत्री श्री चौबे के साथ जिला एवं पुलिस प्रशासन सहित संबंधित विभाग के आला अधिकारी मौजूद थे।

कोई टिप्पणी नहीं: