ऑफलाइन ही होगी सीबीएससी बोर्ड की परीक्षाएं - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 23 फ़रवरी 2022

ऑफलाइन ही होगी सीबीएससी बोर्ड की परीक्षाएं

cbsc-board-exam-will-be-offline
नयी दिल्ली : इस वर्ष CBSE, ICSE समेत तमाम बोर्ड की 10वीं और 12वीं की परीक्षाएं आफलाइन ही ली जायेंगी। सुप्रीम कोर्ट ने आज आफलाइन परीक्षा लेने के खिलाफ दायर याचिका को रद्द करते हुए यह आदेश दिया। इसके साथ ही कोर्ट ने ऐसी याचिकाओं पर कड़ी टिप्पणी करते हुए यह भी कहा कि इनसे बच्चों में परीक्षा को लेकर भ्रम पैदा होता है।कोर्ट इस साल सीबीएसई, सीआइसीएसई और कई अन्य बोर्डों की 10वीं और 12वीं बोर्ड के लिए ऑफलाइन परीक्षा को रद्द करने की मांग वाली याचिका पर सुनवाई कर रहा था। यह याचिका देश भर के 15 राज्यों के छात्रों द्वारा दायर की गई है। दरअसल, कोरोना के चलते सीबीएसई, सीआइसीएसई समेत कई स्टेट बोर्ड 10वीं, 12वीं की बोर्ड परीक्षा 50-50 प्रतिशत सिलेबस के आधार पर दो टर्म में आयोजित कर रहे हैं। टर्म 1 की परीक्षाएं ऑनलाइन मोड में आयोजित की गई थी। वहीं कोविड-19 के घटते संक्रमण को देखते हुए टर्म 2 की परीक्षाएं ऑफलाइन मोड में आयोजित करने का फैसला लिया गया है। सीबीएसई टर्म 2 परीक्षाएं 26 अप्रैल से शुरू होंगी। दूसरी ओर छात्र 10वीं और 12वीं बोर्ड परीक्षाओं का परंपरागत ऑफलाइन मोड में आयोजित करने का विरोध कर रहे हैं। छात्रों और पैरेट्स का कहना है कि महामारी के चलते स्टूडेंट्स की पढ़ाई ऑनलाइन मोड में हुई है, तो परीक्षाएं ऑनलाइन मोड में क्यों नहीं हो सकती? कुछ छात्रों का कहना है कि ऑनलाइन क्लालेस में उनकी पढ़ाई पूरी नहीं हुई, इसलिए ईवैल्यूएशन इंटर्नल एसेसमेंट के आधार पर टर्म 2 के मार्क्स दिए जाने चाहिए।

कोई टिप्पणी नहीं: