भाजपा को समर्थन देना एक बहुत बड़ी भूल : मुकेश साहनी - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 23 फ़रवरी 2022

भाजपा को समर्थन देना एक बहुत बड़ी भूल : मुकेश साहनी

suporting-bjp-big-mistake-mukesh-sahni
बिहार एनडीए के सहयोगी दल में शामिल विकासशील इंसान पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और बिहार सरकार के पशुपालन मंत्री मुकेश सहनी ने बिहार में दूसरे नंबर की पार्टी भाजपा पर जोरदार हमला बोला है। मुकेश सहनी का मानना है कि भाजपा को समर्थन देना एक बहुत बड़ी भूल थी। उनकी पार्टी और निषाद समाज अब खुद को ठगा हुआ महसूस कर रही है। मुकेश सहनी ने कहा कि संविधान में निषाद समाज को जो आरक्षण दिया गया, उत्तर प्रदेश में उसे भी लागू नहीं किया गया। इस सरकार ने निषाद समाज को अंधेरे में धकेल दिया, पर इस चुनाव में निषाद समाज अच्छे दिन के प्रलोभन में नहीं आएगा। उन्होंने कहा कि हर निषाद समाज के बेटे को सन आफ मल्लाह बनना होगा। मुकेश सहनी ने कहा कि वीआइपी ने हमेशा भाजपा को समर्थन दिया ताकि निषाद समाज के अच्छे दिन आ सकें, लेकिन भाजपा ने निषाद समाज को हमेशा ठगा है। भाजपा निषाद वोट से सत्ता पर काबिज हुई और अपने वादे भूल गई। दरअसल, मुकेश सहनी निषाद समाज के लिए लंबे समय से आरक्षण की मांग कर रहे है। इसको को लेकर सहनी ने यूपी चुनाव में आंबेडकरनगर जनपद के आलापुर विधानसभा क्षेत्र के जहांगीरगंज में चुनावी सभा को संबोधित करते हुए भाजपा पर गहरा आरोप लगाया। जानकारी हो कि, बिहार में एनडीए सरकार का हिस्सा मुकेश सहनी की पार्टी यूपी में अकेले चुनाव लड़ रही है। उत्तर प्रदेश में विकासशील इनसान पार्टी (वीआइपी) 165 सीटों पर हाथ आजमा रही है। यह वह सीटें हैं जहां निषाद वोटरों की संख्या काफी अधिक है। वहीं, यूपी चुनाव को लेकर पिछले कुछ समय से बिहार में वीआईपी और भाजपा के बीच दूरियां बढ़ गई है।बिहार एमएलसी चुनाव में वीआईपी ने टिकट की मांग की थी, लेकिन भाजपा ने इससे इनकार कर दिया था। वहीं सहनी ने इस बात की घोषणा की थी कि वह सभी 24 सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारेगी।

कोई टिप्पणी नहीं: