बिहार : हिजाब विवाद में मुस्लिम युवती को बैंक ने पैसा देने से किया मना - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 21 फ़रवरी 2022

बिहार : हिजाब विवाद में मुस्लिम युवती को बैंक ने पैसा देने से किया मना

hijab-controversy-in-bihar
पटना : पुरे देश में हिजाब को लेकर चल रहा विवाद अब बिहार में भी शुरू हो गया है। एक तरफ जहां हिजाब विवाद को लेकर सत्ता पक्ष और विपक्ष आमने सामने है।वहीं, दूसरी तरफ बिहार की राजधानी पटना से सटे जिले बेगूसराय के एक बैंक में हिजाब को लेकर खूब बबाल हुआ है। इस घटना को वीडियो सोशल मीडिया पर बड़ी तेजी से वायरल हो रहा है। दरअसल, वायरल वीडियो बेगूसराय जिला अंतर्गत मंसूरचक प्रखंड के यूको बैंक का है जिसमें एक लड़की द्वारा बैंक कर्मचारियों पर आरोप लगाया जा रहा है कि जब वह प्रत्येक महीने की भांति पैसा निकालने के लिए बैंक पहुंची तो बैंक के पदाधिकारियों द्वारा उसे हिजाब हटाने के बाद ही पैसे देने की बात कही गई। फिर उस लड़की को ये बात इतनी बुरी लगी कि वो अपने पिता के साथ बैंक के सारे कर्मचारियों से भीड़ गई और जिरह करने लगी। वहीं, वायरल वीडियो में लड़की के पिता यह बताते हुए दिख रहे हैं कि उसका पुत्र दूसरे राज्य में रहकर काम धंधा करता है एवं परिवार के जीविकोपार्जन के लिए प्रत्येक माह एक राशि भी भेजता है जो स्थानीय यूको बैंक के माध्यम से उसके परिजनों तक पहुंचती है। लड़की के पिता के द्वारा यह भी आरोप लगाया जा रहा है कि बैंक के कर्मचारियों के द्वारा कर्नाटक की तर्ज पर उसकी पुत्री को हिजाब हटाने की बात कही गई। उसने जब इस घटना का विरोध किया और वीडियो को शूट करना चाहा तो बैंक कर्मचारियों द्वारा मामला दर्ज करवाने की भी धमकी दी जा रही है। इधर, वीडियो सामने आने के बाद शाखा प्रबंधक ने भी पूरी घटना को लेकर अपना पक्ष रखा है। बैंक के सीनियर मैनेजर ने इस मामले में बताया कि कैशियर द्वारा किसी द्वेष और पूर्वाग्रह को लेकर हिजाब हटाने के लिए नहीं कहा गया था बल्कि उपभोक्ता का हस्ताक्षर मिलान नहीं होने पर उन्हें सिर्फ चेहरे की आइडेंटी देने के लिए कहा गया था। बैंक मैनेजर ने बताया कि इसी बात को लेकर लड़की और उसके पिता द्वारा बैंक में हंगामा किया गया और वीडियो बनाकर वायरल कर दिया गया। दूसरी तरफ, बेगूसराय के इस वायरल वीडियो पर बिहार के नेता विपक्ष तेजस्वी यादव ने राज्य सरकार पर निशाना साधा है। तेजस्वी यादव ने नीतीश कुमार से सवाल करते हुए कहा है कि आखिर कुर्सी के लिए आप बिहार में यह सब क्या करवा रहे हैं। माना आपने अपना विचार नीति सिद्धांत और अंतरात्मा सब भाजपा के पास गिरवी रख दिया है लेकिन संविधान की जो शपथ ली है कम से कम उसका तो ख्याल रखिए।

कोई टिप्पणी नहीं: