बिहार : कोर्ट से सजा हुआ है तो हम क्या बोलें : नितीश - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 21 फ़रवरी 2022

बिहार : कोर्ट से सजा हुआ है तो हम क्या बोलें : नितीश

nitish-on-lalu-verdict
पटना : बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने जनता दरबार के पत्रकारों से बातचीत करते हुए राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव को सजा मिलने को लेकर अपने प्रतिक्रिया दज करवाई है। सीएम नीतीश ने लालू पर तंज कसते हुए कहा कि लालू प्रसाद पर पहले आरोप लगे तो कुर्सी से हटना पड़ा। फिर उन्होंने अपनी पत्नी को बिठा दिया। कोर्ट से सजा हुआ है तो हम उस पर क्या बोलें। हम तो केस किये नहीं थे? केस करने वाले आज कल उनके ही दल में हैं। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा लालू को सजा हुई है इस पर हम क्या बोले हम तो केस नहीं किए थे और न ही किसी से करवाए थे। जिन लोगों ने उननपर केस करवाया था आज वह लोग उनके साथ हैं। हालंकि, नीतीश कुमार ने यह जरूर कहा कि केस करते समय वो लोग हमारे पास भी आये थे, लेकिन हमने कहा था हम केस में नहीं पड़ते। नीतीश कुमार ने बिना नाम लिये राजद के दिग्गज नेता पर हमला बोला। कुमार ने कहा कि एक आदमी हैं जो आज कल लालू के दल में ही शामिल हैं। केस कराने वाले लोग उन्हीं के तरफ हैं। लालू प्रसाद को सजा हुई है तो उसके बारे में हमें कुछ नहीं कहना है। हम न केस किये थे न कुछ किये थे। जो केस किये थे उन्हीं से पूछिए। कोर्ट में ट्रायल हुआ सजा हुआ। वैसे वे ऊपरी अदालत में जा सकते हैं। इसके अलावा जातिय जनगणना के सवाल पर नीतीश कुमार ने कहा कि कई राज्यों में चुनाव है, सभी लोग चुनाव में व्यस्त हैं। हमें लगता है समय पर सभी चीज हो जाएगा। इसके अलावा उन्होंने तेजस्वी यादव पर भी कहा कि अभी हाउस शुरू होने वाला है तो उनको जातीय जनगणना की याद आई है। वहीं, पीके से मुलाकात पर उन्होंने कहा कि उनसे पुरानी दोस्ती है जब मैं कोरोना संक्रमित हो गया था तो उन्होंने मुझे फोन किया था और मेरा हाल चाल लिया था। उसके बाद भी एक दफे बात किया है हमनें, लेकिन राजनीतिक बात नहीं हुई है।व्यक्तिगत रूप से लोग संबंध रखते ही है। इन सब चीजों को राजनीति से नहीं जोड़ना चाहिए।

कोई टिप्पणी नहीं: