झाबुआ (मध्य प्रदेश) की खबर 17 फ़रवरी - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 17 फ़रवरी 2022

झाबुआ (मध्य प्रदेश) की खबर 17 फ़रवरी

बलोला में अखण्डेश्वर महादेव मन्दिर पर भाजपा मंडल पारा की बैठक हुई सम्पन्न


पारा।  बुधवार को भाजपा पारा की मंडल स्तरीय बैठक ग्राम बलोला के अखंडेश्वर महादेव मंदिर परिसर में सम्पन्न हुई। कार्यक्रम में अनुसूचित जनजाति मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष कलसिंह भाबर, पूर्व मंत्री मप्र शासन निर्मला भूरिया, भाजपा जिला महामंत्री सोमसिंह सोलंकी, नीति एवं शोध सहप्रभारी रामपाल चौहान ने उपस्थित कार्यकर्ताओं को सम्बोधित करते हुए पार्टी की रीति दृ  नीति एवं सबका साथ, सबका विकास  तथा सबका विश्वास की बात कही। अतिथियों ने पूर्ववर्ती सरकारों पर अल्पसंख्यकों के तुष्टिकरण और बरगलाने का आरोप लगाते कहा कि केंद्र  और मप्र की भाजपा सरकार जात वर्ग के भेद किये बिना सबका विकास हो ऐसी योजनाएं बनाती हैं। अन्य अतिथियों ने सरकार की जन हितेषी योजनाओं के बारे में बताते कहा की हम सब को मिल कर एक समृद्धिशाली भारत बनाना है और भारत माता के वैभव से पूरे विश्व को जगमगाना है। कार्यक्रम के अंत मे उपस्थित सभी कार्यकताओं को स्नेह भोज करवाया गया। आयोजन में अजजा मोर्चा जिलाध्यक्ष अजमेर भुरिया, किसान मोर्चा जिलाध्यक्ष कलमसिंह भाबोर, पिछड़ा वर्ग मोर्चा जिलाध्यक्ष सोनू विश्वकर्मा, यूवा मोर्चा जिलाध्यक्ष  कुलदीप चौहान,  अल्पसंख्यक मोर्चा जिलाध्यक्ष यूसुफ भारती, पारा मण्डल अध्यक्ष सज्जनसिंह अमलियार, अजजा मोर्चा महामंत्रीद्वय वालसिंह मसानिया,  बहादुर हटिला, नीति शोध जिला सह सयोंजक उमेश डामोर, अल्पसंख्यक मोर्चा जिला उपाध्यक्ष खानु पठान, पारा मण्डल महामंत्री रोमिराज सेन, अर्जुन बबेरिया, किसान मोर्चा जिला उपाध्यक्ष राजेश पारगी, सेकु रावत, पिछड़ा मोर्चा जिला कोषाध्यक्ष संदीप सोनी, आजजा मोर्चा पारा मण्डल अध्यक्ष दिलीप किराड़े, पारा मण्डल अध्यक्ष किसान मोर्चा अध्यक्ष अमरसिंह मेडा तथा सभी मोर्चों के नवनिर्वाचित पदाधिकारीगण  सरपंच, क्षेत्र के वरिष्ठ नेता एवं सैकड़ो कार्यकर्ता उपस्थित थे। 


शासकीय उचित मूल्य की दुकानों पर खाद्य सामग्री की सूची चस्पा करने की मांग, प्रत्येक राशन केंद्र पर एक-एक समिति गठित कर प्रतिमाह समीक्षा आवश्य हो -ः संभागीय कांग्रेस प्रवक्ता साबिर फिटवेल

  • संभागीय प्रवक्ता श्री फिटवेल ने जिले की राशन दुकानों पर सामग्री वितरण में मनमानी को लेकर उठाए सवाल

झाबुआ। शासकीय उचित मूल्य की अधिकतर राशन कंट्रोल केंद्र पर नोटिस बोर्ड या खाद्य सूची चश्पा नहीं होती है कि इस माह किस उपभोक्ता को क्या और कितनी खाद सामग्री किस मूल्य पर दी जाएगी एवं शासन की योजना खाद्य पर्ची से किसे निशुल्क राशन प्राप्त होगा उक्त जानकारी देते हुए संभागीय कांग्रेस प्रवक्ता साबिर फिटवेल ने बताया कि जिले के ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों में जहां शासकीय उचित मूल्य दुकानों पर प्राइवेट संस्थाओं द्वारा जो खाद्य सामग्री वितरण की जा रही है, उसकी सूची प्रत्येक राशन केंद्रों पर चस्पा की जाना चाहिए ताकि उपभोक्ताओं को पता चले कि हमें क्या राशन दिया जा रहा है। कई मध्यम परिवार ऐसे हैं जिन्हें मात्र गेहूं दिया जाता है। वही चावल और केरोसीन उन्हें महीनों से  तक नहीं मिलता। कई राशन दुकानों पर निर्धारित कोटे की खाद्य सामग्री विभाग से मिलने के बावजूद भी उपभोक्ताओं को राशन यह बोलकर नहीं दिया जाता कि राशन खत्म हो चुका है।


उपभोक्तओं को उचित मूल्य दुकानों से मिले पूरी राशन सामग्री

संभागीय प्रवक्ता फिटवेल श्री ने आगे बताया कि प्रत्येक राशन केंद्रों पर एक समिति गठित है, परंतु उस समिति में कौन सदस्य है या उपभोक्ताओं को जानकारी ही नहीं और ना ही इसकी समीक्षा होती है। वहीं शासन द्वारा खाद्य विभाग को गुणवत्तायुक्त राशन सामग्री वितरण करने पर, यह खाद्य सामग्री राशन की दुकानों तक आते-आते निम्न स्तरीय कैसे हो जाती है। अक्सर राशन की दुकानों से निम्न स्तरीय गेहूं-चावल दिया जाता है। उपभोक्ताओं को उचित जानकारी के अभाव में सेल्समेन उन्हें कम राशन देकर शोषण कर रहे है। संबंधित विभाग को इस घपले बाजी पर त्वरित कार्रवाई कर इस शोषण को रोकना चाहिए। साथ ही इसकी उच्च स्तरीय जांच कर उपभोक्ताओं को राहत प्रदान करने की आवश्यकता है, ताकि उन्हें समय-समय पर पूरा राशन मिलता रहे।


पूर्व केंद्रीय मंत्री एवं विधायक कांतिलाल भूरिया ने बोरी क्षेत्र में ‘‘घर चलो घर-घर चलो अभियान’’ में लिया हिस्सा,, 4 पंचायतों में पेयजल हेतु विधायक निधि से प्रदान किए टेंकर


झाबुआ। झाबुआ विधानसभा के बोरी क्षेत्र में पेयजल हेतु ग्रामीणों को सुविधा की दृष्टि से 4 ग्राम पंचायतों में पेयजल हेतु टेंकर विधायक निधि से वितरण किए गए। इस अवसर पर पूर्व केंद्रीय मंत्री एवं झाबुआ विधायक कांतिलाल भूरिया ने अपने उद्वबोधन में कहा कि ग्रामीण एवं आम जनता को सुविधा दिलाना कांग्रेस का मुख्य कार्य है। कांग्रेस पार्टी विकास कार्य करना ही अपना धैर्य समझती है। झाबुआ विधानसभा अंतर्गत अलीराजपुर जिले के बोरी क्षेत्र की ग्राम पंचायत चुलिया, बेगलगांव बडी, बोरी एवं डेडरवासा में 16 फरवरी, बुधवार को पेयजल हेतु टैंकर प्रदान किए गए। इस दौरान विधायक श्री भूरिया ने क्षेत्र के सरंपचों को अपने उद्वबोधन में कहा कि आने वाले समय में पेयजल हेतु टेंकर प्रदान किए जा रहे है। उसका समुचित उपयोग हो। ग्रामीण क्षेत्र में शुद्व पेयजल उपलब्ध हो। टेंकर से ग्राम में पानी वितरण किया जाए। जिससे महिलाओं को दूर-दूर तक पानी हेतु भटकना नहीं पडे।


भाजपा विकास के नाम पर करती है थोथी राजनीति

इस अवसर पर पूर्व कंेद्रीय मंत्री श्री भूरिया ने ‘‘घर चलो घर-घर चलों अभियान’’ में भी हिस्सा लिया तथा ग्रामीणों को कांग्रेस पार्टी द्वारा मप्र सरकार में 15 माह के कार्यकाल में किए गये कार्याे का विस्तार से अवगत कराया तथा कहा कि कांग्रेस ने हमेशा विकास की राजनीति की है एवं भाजपा विनाश, सांप्रदायिकता की राजनीति करती है। बिजली बिल अधिक राशि के दिए जा रहे है, जबकि पूर्व की कांग्रेस सरकार 100 रूपए में 100 युनिट बिजली प्रदान करती थी। भाजपा के कार्यकाल में हैंडपंप खनन भी नहीं किए गए। ग्रामीण क्षेत्र में अभी से पीने के पानी की समस्या आ रहीं है, किन्तु शासन-प्रशासन इस ओर ध्यान नहीं दे रहा है। ग्रामीण क्षेत्रों में पाईप लाईन डाल दी गई, टंकी बना दी गई, लेकिन उसमें पानी कहां से आएगा, इसकी कोई जानकारी नहीं है।


क्षेत्र की जनता की ओर से विधायक श्री भूरिया का माना आभार

इस अवसर पूर्व विधायक जेवियर मेडा ने अपने उद्वबोधन में कहा कि भाजपा द्वारा अपने कार्यकाल में प्रदेश को बर्बादी के हाल पर लाकर छोड दिया है। आमजन, मजदूर, गरीब, आदिवासी , युवा सभी मजदूरी एवं बेरोजगारी से परेशान है। बोरी के ठाकुर आदित्यसिंह ने अपने उद्वबोधन में विधायक कांतिलाल भूरिया को क्षेत्र की जनता की ओर से धन् वाद ज्ञापित किया एवं कहा कि झाबुआ विधायक श्री भूरिया द्वारा ग्रीष्मऋतु के पहले टेंकर वितरण कर बहुत ही सराहानिय कार्य किया है। आने वाले समय में गांवों में पेयजल संकट में ये टेंकर बहुत उपयोगी साबित होगें।


विधायक श्री भूरिया का किया गया स्वागत

इस अवसर पर राजू भूरिया ने अपने उद्वबोधन में बताया कि झाबुआ विधानसभा की सभी 14 ग्राम पंचायतों में विधायक भूरिया द्वारा अपनी निधि से कार्य किए गए हख्ै जिससे आमजनता को लाभ मिला है। इस अवसर पर विधायक भूरिया का स्वागत बंशी बारिया सरपंच बोरी एवं ज्ञानसिंह मुझाल्दा, रेलसिंह आदि ने पुष्पमालाओं से किया।   इस अवसर युवक कांग्रेस अध्यक्ष विजय भाभर ,विधानसभा झाबुआ अध्यक्ष हेमचन्द्र बबलू कटारा सहित क्षेत्र के फुलचन्द्र सेठ, बाला सेठ गुलसिंह अमलियार, इमरान, नरू बाला सेठ, जगदीश बारिया सोसाईटी अध्यक्ष, इंदरसिंह चौहान, नवल पटेल चुलिया, थानसिंह सरपंच, सरदार भाई पूर्व सरपंच, किशन भाई, लादीया बाबा, पूर्व सरपंच, कुवरसिंह डेडरवासा, जोगडिया भाई पूर्व सरपंच सहित ग्राम बोरी, चुलिया, बेगलगांव, डेडरवासा के सरपंच सहित कांग्रेस के पदाधिकारी एवं ग्रामीण बड़ी संख्या में उपस्थित थेे।


शिक्षित नाबालिग लड़की ने घर पर अकेला पाते हुए पी कपास की दवा, उपचार के लिए ले जाते समय रास्ते में हुई मृत्यु

  • जिला चिकित्सालय में हुआ पोस्टमार्टम, पुलिस ने किया मर्ग कायम

jhabua news
झाबुआ। कल्याणपुरा थाना अंतर्गत आने वाले आने ग्राम खेड़ा में एक 17 वर्षीय बालिका ने अपने आपको घर पर अकेला पाते हुए कपास की दवा पी ली। जिससे उसकी तबीयत अत्यधिक बिगड़ने पर कल्याणपुरा से पेटलावद स्वास्थ्य केंद्र पर उपचार के लिए ले जाते समय रास्ते में दम तोड़ दिया। घटना में कल्याणपुरा पुलिस ने मर्ग कायम किया है। बालिका के शव का पोस्टमार्टम जिला चिकित्सालय में हुआ। प्राप्त जानकारी के अनुसार ग्राम खेड़ी निवासी कैलाशी पिता तोलिया निनामा, जो अशिक्षित होकर मवेशी चराने का एवं खेत में कार्य करती है। कैलाश के 5 भाई एवं 7 बहन है। वह सबसे छोटी बहन होकर उसके साथ एक छोटा भाई माता-पिता के साथ ग्राम खेड़ी में रहते है। बाकी सभी भाई-बहन की शादी होने से पृथक-पृथक रहते है। कैलाशी के माता-पिता 16 फरवरी, बुधवार दोपहर 3 बजे घर से बाजार खरीदी करने के लिए निकले। इसी बीच बालिका ने अपने आपको अकेला पाते हुए अज्ञात कारणों के चलते किटनाशक दवा पी ली। बाद आस-पड़ौस के लोगों ने अभिभावक को सूचना दी।


रास्ते में हुई मृत्यु

अभिभावक ने पहुंचकर बालिका को सर्वप्रथम उपचार के लिए कल्याणपुरा स्वास्थ्य केंद्र ले जाया गया। तबीयत अधिक बिगड़ने पर यहां से पेटलावद स्वास्थ्य केंद्र ईलाज के लिए ले जाते समय रास्ते में कैलाशी की मृत्यु हो गई। बाद शव का परिजन पोस्टमार्टम हेतु रात्रि में जिला चिकित्सालय लाए। जहां 17 फरवरी, गुरूवार को सुबह शव का पोस्टमार्टम बाद परिजनों को सौंपा गया। घटना में कल्याणपुरा पुलिस ने मर्ग कायम कर जांच आरंभ कर दी है।


झाबुआ में पिछले डेढ़ महीने से सड़कों पर इधर-उधर घूम रहीं मानसिक विक्षिप्त महिला अपने भाई से मिलकर हो गई भाव-विभोर, दाहोद के पाटवेल (फतेहपुरा) से भाई ग्राम पंचायत सरंपच के साथ अपनी बहन को पहुंचा लेने

  • वन स्टॉप सेंटर पर दोनो की काउसिंलिंग कर एवं भाई के कथन लिखवाकर किया गया सुर्पुद

jhabua news
झाबुआ। आज भी मानवता जिंदा है एवं नर सेवा-नारायण सेवा को साकार करने का संकल्प आज भी झाबुआ जिले में कई लोग अपने जहन में संजोए हुए है। जिसके चलते ही गुजरात के दाहोद जिले के पाटवेल के ग्राम फतेहपुरा से लापता हुई एक मानसिक विक्षिप्त विवाहित महिला जो पिछले डेढ़ महीने से झाबुआ में भटक रहीं थी। कभी सड़कों पर घूमकर अपना जीवन यापन करती तो कभी बस स्टेंड पर यात्री प्रतिक्षालय में रहकर अपना गुजर-बसर कर रहंी थी। उक्त महिला को परिवारजनों के साथ मिलाकर उसका समुचित उपचार करवाने का सपना जिले के कई जागरूक नागरिकों की मेहनत और लगनशीलता के चलते आखिरकार साकार हुआ। पूरा मामला इस प्रकार है कि गुजरात के दाहोद जिले के पाटवेल के ग्राम फतेहपुरा, जो संतरापुर रोड़ पर होकर राजस्थान से लगा हुआ है। यहां रहने वाली 28 वर्षीय युवती सरस्वती, जिसका विवाह परिवारजनांे ने तय किया था। विवाह बाद वह अपने ससुराल पक्ष में रहने लगी। इस बीच सरस्वती को तीन बच्चें भी हुए, लेकिन सुसराल पक्ष की लगातार प्रताड़ना और ज्यादती के चलते वह ससुराल छोड़कर वापस मायके आ गई। जिसके बाद मायके वालों ने ससुराल पक्ष के लोगों की लगातार मानसिक-शारीरिक प्रताड़ना के चलते सरस्वती का पहले पति से तलाक करवाकर उसकी दूसरी शादी करवाई, लेकिन वहां भी उसे सुख नहीं मिलने से लगातार संघर्ष भरे जीवन के कारण सरस्वती अपना मानिसक संतुलन खो बैठी और पुनः मायके लौटकर मानसिक रूप से विक्षिप्त होकर बस में बैठकर झाबुआ आ गई। झाबुआ में उक्त युवती पिछले डेढ़ महीने से रह रहंी थी।


कहीं सड़कों पर तो कभी यात्री प्रतिक्षालय में किया जीवन यापन

सरस्वती की दुखभरी कहानी यह है कि झाबुआ शहर उसके लिए पूरी तरह से अनजान होकर तथा मानसिक रूप से वह पूरी तरह से ग्रस्त हो जाने से कभी सड़कों पर अपना जीवन यापन करती, तो कभी बस स्टेंड स्थित यात्री प्रतिक्षालय में रहकर वहां प्रतिक्षालय की झाड़ू लगाकर सफाई करती और वहीं सो जाती। कभी नाले के पानी से नहाती तो कभी अचानक से पुरानी दुखभरी यादे ताजा हो जाने से राहत चलते लोगों और वाहन चालकों को पत्थर मारने लगती तो कभी बीच बाजार में खडे़ होककर नांचते लगती और रोने लगती। कभी दुकानों के आगे खड़े वाहन को धक्का मारकर गिरा देती।


इन जिम्मेदार नागरिकों की पहल लाई रंग

सरस्वती की यह स्थिति झाबुआ जिले के जागरूक नागरिकों में युवा समाजसेवी डॉ. वैभव सुराना, प्रतिष्ठित व्यवसायी कमलेश त्रिपाठी, रोटरेक्ट क्लब सचिव दौलत गोलानी, बचपन बचाओ आंदोलन एवं बाल अधिकार मंच के जिला संयोजक रामप्रसाद वर्मा आदि को देखी नहीं गई और उन्होंने इस बीच ऐसे मानिसक विक्षिप्त लोगों की समुचित देखरेख, उपचार करवाने, आश्रम भेजने और परिवारजनों से मिलाने का वर्षों से नैक कार्य करने वाले जिले के मेघनगर निवासी नीरज श्रीवास्तव से संपर्क किया। नीरज श्रीवास्तव ने झाबुआ आकर महिला की काउंसिलिंग की और पता किया वह कहां की रहने वाली है और वह क्यो अपने सुसराल या घर से भागकर यहां आ गई है। जिसके बाद बस स्टेंड पर ही चौवीस घंटे सेवाएं देने वाले बस-चालक परिचालक संघ के जिलाध्यक्ष एवं भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा के जिला महामंत्री सोनू अली सैयद तथा हमेशा सेवाभावी और समर्पित रहने वाले हाजी लाला पठान की मद्द से सभी ने मिलकर यह निर्णय लिया कि उक्त महिला, जो मानिसक विक्षिप्त होकर जब तक उसके परिवार वाले नहंी मिलते है तथा समुचित उपचार नहीं होता, तब तक उसे सेवाधाम आश्रम भिजवाया जाए। इसी बीच प्रतिदिन सरस्वती के लिए भोजन की व्यवस्था का जिम्मा नपा के सामने दिनदयाल अंत्योदय रसोई केंद्र के प्रभारी प्रहलाद राठौर एवं कर्मचारी मोतीलाल गुर्जर ने उठाया और पूर्ण सहयोग प्रदान किया।


वन स्टॉप सेंटर एवं नगरपालिका की भी रहीं सराहनीय भूमिका

इस दौरान नीरज श्रीवास्तव एवं दौलत गोलानी ने कलेक्टोरेट में अपर कलेक्टर जुवानसिंह बघेल से मिलकर उक्त लड़की के संपूर्ण मामले से अवगत करवाया। बाद अपर कलेक्टर श्री बघेल ने महिला को सेवाधाम उज्जैन भिजवाने हेतु नगरपालिका सीएमओ एलएस डोडिया और वन स्टॉप सेंटर की प्रशासक लीला परमार को निर्देशित किया। नगरपालिका सीएमओ ने वन स्टॉप को कार्रवाई के लिए पत्र लिखा। बाद वन स्टॉप सेंटर की प्रशासक श्रीमती लीला परमार ने अपने अमले में काउंसलर रानू राठौर, आईटी वर्कर अंकिता लाखेरी, केश वर्कर गौमती डामोर एवं प्रियंका वर्मा, पुलिस विभाग से बिरबल चनाना को उक्त महिला की काउंसिलिंग के लिए भेजकर गहनता से पूछताछ एवं प्रयास करने पर पता चला कि वह दाहौद के पाटवेल के ग्राम फतेहपुरा की रहने वाली है। बाद ग्राम फतेहपुरा के सरंपच रामा कोदरभाई पारगी एवं भाई गणेश किशोर से संपर्क कर झाबुआ आने की सूचना दी गई।


भाई को देखकर बहन हो गई भाव-विभोर

16 फरवरी, बुधवार को सुबह 10 बजे बोलेरे वाहन से सरस्वती को लेने सरपंच श्री पारगी, भाई गणेश के साथ दिनेशभाई, सुभाषभाई आदि झाबुआ पहुंचे। दिनदयाल अंत्योदय रसोई केंद्र में सरस्वती को भोजन करवाकर कर बाद ऑटो रिक्शा से वन स्टॉप सेंटर लाया गया। जहां भाई गणेश को देखकर बहन सरस्वती अत्यधिक भावुक हो गई और उसकी आंखांे से आंसू निकल आए। वन स्टॉप सेंटर की काउंसलर द्वारा दोनो की अलग-अलग काउंसिलिंग की गई। बाद दोनो से कथन लिखवाकर लड़की को सुपुर्द करने की कार्रवाई पूर्ण की।


पूर्ण सहयोग किया जाएगा

झाबुआ के उक्त जागरूक नागरिकों ने ग्राम पंचायत सरपंच श्री पारगी एवं भाई गणेश से कहा कि वह अपनी बहन का पूरा ध्यान रखे एवं उसका मानसिक उपचार दाहोद में नवधा हॉस्पिटल में मानसिक चिकित्सक से करवाकर भविष्य में किसी भी प्रकार की आवश्यकता या सहयोग की जरूरत होने पर पूर्ण सहयोग करने हेतु भी भरोसा दिलवाया। सरस्वती को खुशी-खुशी वाहन से अपने घर के लिए रवाना किया और उसे पुरानी बातों को भूलाकर नए तरीके से जीवन यापन करने हेतु प्रेरित किया।


आदिवासियों के हक, अधिकार और सम्मान के लिए किया जाएगा धरना प्रदर्शन और निकाली जाएगी न्याय यात्रा, विजन ऑफ बाबा साहब वेलफेयर एसोसिएशन के साथ अन्य संस्थाओं का संयुक्त आयोजन


झाबुआ। आदिवासी के हक, अधिकार एवं सम्मान में विजन ऑफ बाबा साहेब वेलफेयर एसोसिएशन के साथ अन्य राजनैतिक एवं गैर राजनैतिक दलों द्वारा मिलकर आगामी 31 मार्च को धरना प्रदर्शन एवं न्याय पद यात्रा का आयोजन किया गया है। जानकारी देते हुए विजन ऑफ बाबा साहब वेलफेयर एसोसिएशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष एडविन भारतीय ने बताया कि आदिवासियांे की जमीन पर सरकारी अफसरों द्वारा भूमाफियाओं से मिलीभगत कर कब्जा जमाने एवं बेनामी संपतियों के खिलाफ संवैधानिक धरना प्रदर्शन एवं पद यात्रा का आयोजन आगामी 31 मार्च को किया गया है। जिसकी शुरूआत झाबुआ के डीआरपी लाईन स्थित डॉ. अंबेडकर गार्डन से होगी एवं समापन 14 अप्रेल को मुख्यमंत्री निवास भोपाल पर होगा। एसोसिएशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष एडविन भारतीय ने इसमें जिलेभर के नागरिकों से सम्मिलित होकर सफल एवं भव्य बनाने की अपील की है।


अभाविप के 54वें प्रांत अधिवेशन में परिषद् की वर्ष 2022-23 की नवीन प्रांत कार्यकारिणी हुई घोषित, मदन वसुनिया प्रांत उपाध्यक्ष, दर्शन कहार प्रांत सहमंत्री एवं पवन परमार प्रांत जनजाति छात्र कार्य प्रमुख मनोनीत हुए


झाबुआ। अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद् का 54वां प्रांत अधिवेशन देवास में संपन्न हुआ। जिसमें परिषद् की सत्र 2022-23 की नवीन प्रांत कार्यकारिणी की घोषणा हुई। जिसमें झाबुआ जिले से मदन वसुनिया को प्रांत उपाध्यक्ष, दर्शन कहार को प्रांत सहमंत्री एवं पवन परमार को प्रांत जनजाति छात्र कार्य प्रमुख मनोनीत किया गया। इसके अतिरिक्त प्रांत कार्यकारिणी सदस्यों में वैभव जैन झाबुआ, पलमा खराड़ी थांदला, आंशु पंवार झाबुआ, निलेश गणावा झाबुआ को सम्मिलित किया गया। अभाविप जिला इकाई द्वारा सभी नव-मनोनीत पदाधिकारियों को शुभकामनाएं प्रेषित करते हुए हर्ष व्यक्त किया है। साथ ही नवीन पदाधिकारियों को ऊर्जा के साथ संगठन को गति प्रदान करने हेतु आशा व्यक्त की है।


श्री ऋषभदेव बावन जिनालय में हुआ अभा सौधर्म वृहद तपोगच्छीय त्रि-स्तरीय संघ के मप्र अध्यक्ष संतोष जैन ‘नाकोड़ा’ का गरिमामय बहुमान समारोह संपन्न, श्री नाकोड़ा का करीब 20 संस्थाओं और संगठनों ने मिलकर बहुमान कर शुभकामनाएं प्रेषित की

  • सुभाष कोठारी को त्रि-स्तुतिक संघ का मप्र उपाध्यक्ष एवं मुकेश रूनवाल को संघ का मप्र सह-सचिव किया गया मनोनीत

jhabua news
झाबुआ। प्राचीन जैन तीर्थ श्री ऋषभदेव बावन जिनालय स्थित पोषध शाला भवन में 17 फरवरी, गुरूवार को दोपहर 11 बजे से हाल ही में अखिल भारतीय सौधर्म वृहद तपोगच्छीय त्रिस्तुतिक संघ के मप्र अध्यक्ष नियुक्त हुए वरिष्ठ समाजसेवी एवं धार्मिक प्रवृत्ति के संतोष जैन ‘नाकोड़ा’ का अभिनदंन समारोह रखा गया। जिसमें सकल जैन समाज सहित शहर की विभिन्न सामाजिक-धार्मिक करीब 20 संस्थाओं और संगठनों ने मिलकर उनका रत्नजड़ित माला, शाल-श्रीफल और साफा पहनाकर भावभरा बहुमान किया। इस दौरान त्रि-स्तुतिक संघ के राष्ट्रीय एवं प्रादेशिक पदाधिकारियों की अनुसंशा एवं सहमति पर ही श्वेतांबर जैन श्री संघ के वरिष्ठ सुभाष कोठारी को त्रि-स्तुतिक संघ का मप्र उपाध्यक्ष एवं सामाजिक-धार्मिक कार्यो में अग्रणी रहने वाले मुकेश रूनवाल को त्रि-स्तुतिक संघ का मप्र सह-सचिव नियुक्त कर अतिथियों ने उन्हें नियुक्ति पत्र देने के साथ सम्मानित भी किया। उक्त समारोह में अतिथि के रूप में श्वेतांबर जैन श्री संघ अध्यक्ष मनोहरलाल भंडारी, सचिव अनिल रूनवाल के साथ त्रि-स्तुतिक संघ के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष राजेश वागरेचा, राष्ट्रीय मंत्री संजय कोठारी एवं अनिल चौपड़ा, प्रदेश कोषाध्यक्ष अंतिम चत्रर एवं वरिष्ठ शैलेष अंबोर के साथ श्वेतांबर जैन श्री संघ के पूर्व अध्यक्ष संजय मेहता भी उपस्थित रहे। संपूर्ण कार्यक्रम का संचालन श्री गौड़ी पार्श्वनाथ मंदिर समिति एवं श्वेतांबर जैन श्री संघ के वरिष्ठ संजय कांठी ने करते हुए सभी अतिथियों को मंचासीन कर अतिथियों ने प्रारंभ में आदिनाथ भगवान की तस्वीर पर माल्यार्पण एवं दीप प्रज्जवलन कर समारोह का शुभारंभ किया। बाद समारोह में श्वेतांबर जैन श्री संघ अध्यक्ष मनोहरलाल भंडारी के साथ बाहर से आए राजेश वागरेचा, संजय कोठारी, अनिल चौपड़ा एवं अंतिम चत्रर के साथ झाबुआ से संजय मेहता, डॉ. प्रदीप संघवी, वरिष्ठ निर्मल अग्रवाल, योगेश जैन ‘बापू’ आदि ने बारी-बारी से अपने संक्षिप्त विचारों में संतोष जैन ‘नाकोड़ा’ द्वारा पिछले लंबे समय से सामाजिक एवं धार्मिक क्षेत्र में किए जा रहे कार्यों एवं उनकी भूमिका की सराहना की। साथ ही उनके उज्जवल भविष्य की कामना करते हुए मप्र में उनके नेतृत्व में त्रि-स्तुतिक संघ द्वारा दिन दुगुनी-रात चौगुनी तरक्की करने हेतु आशा व्यक्त की।


इन संस्थाओं और संगठनों ने किया बहुमान

उक्त गरिमामय समारोह में त्रि-स्तुतिक संघ का प्रदेश अध्यक्ष संतोष जैन ‘नाकोड़ा के साथ नव-मनोनीत प्रदेश उपाध्यक्ष सुभाष कोठारी एवं प्रदेश सह-सचिव मुकेश रूनवाल आदि का बारी-बारी से सम्मान के क्रम में श्वेतांबर जैन श्री संघ, श्री ऋषभदेव बावन जिनालय मंदिर, श्वेतांबर जैन श्री संघ की पूर्व कार्यकारिणी, सेवन स्टॉर ग्रुप, श्री नवकार सेवा संस्था झाबुआ, श्री महावीर बाग स्मारक समिति, श्री गौड़ी पार्श्वनाथ मंदिर समिति, श्री आदिनाथ राजेन्द्र ट्रस्ट, संतोष जैन ‘नाकोड़ा’ मित्र मंडल, श्री आदिनाथ राजेन्द्र जैन ट्रस्ट, रोटरी क्लब आजाद, सकल व्यापारी संघ, जैन सोश्यल ग्रुप, सरिता बाबेल एंड ग्रुप, इनरव्हील क्लब ‘मेन’, परिषद् परिवार, श्री हेमेन्द्र सूरी महिला मंडल, श्री राजेन्द्र सूरी क्रांति मंच, कमलेश कोठारी मित्र मंडल, श्री नवकार महामंत्र ग्रुप आदि ने तीनों प्रदेश पदाधिकारियों का साफा पहनाकर, रत्नजड़ित माला और शाल-श्रीफल से बहुमान कर बधाई प्रेषित की। अंत में अपने उद्बोधन में त्रि-स्तुतिक संघ के प्रदेश अध्यक्ष संतोष जैन ‘नाकोड़ा’ ने सभी का आभार व्यक्त करते हुए सभी को साधर्मी वात्सल्य के लिए आमंत्रित किया।


श्री शबरी माता धाम पर धार्मिक वातावरण के बीच होगी शबरी माता के साथ श्री राम-लक्ष्मण-सीता जी की प्रतिमाओं की स्थापना, भव्य कलश यात्रा निकाली जाएगी

  • पं. कमल किशोर नागर के होंगे प्रवचन, मप्र के शिक्षा मंत्री आईएस परमार, कृषि मंत्री कमल पटेल के साथ क्षेत्रीय सांसद जीएस डामोर भी होंगे शामिल

jhabua news
झाबुआ। इंदौर-अहमदाबाद राष्ट्रीय राजमार्ग पर कालीदेवी के समीप शबरी माता मंदिर एवं शबरी गौशाला पर 18 फरवरी, शुक्रवार को शबरी जयंती के अवसर पर शबरी माता की प्रतिमा स्थापना के साथ इस दौरान श्री राम-लक्ष्मण-सीताजी की भी प्रतिमा स्थापना विधि-विधान से संपन्न होगी। स्थापना कार्यक्रम विख्यात पंडित श्री कमल किशोरजी नागर के सानिध्य में संपन्न होगा। इस दौरान करीब 3 घंटे तक कमल किशोरजी नागर द्वारा शबरी माता के जीवन और श्री राम दरबार की प्राचीनता के साथ धर्म पर भी व्याख्यान दिए जाएंगे। अंत में प्रसादी वितरण कार्यक्रम होगा। इस बीच कुलदेवी माताजी मंदिर से भव्य कलश यात्रा भी निकाली जाएगी, जो माताजी के जयकारों के साथ कालीदेवी से होकर ग्राम भूराडाबरा पहुंचेगी। गौशाला में गौ-सेवा का भी क्रम चलेगा।


प्रशासन एवं पुलिस की रहेगी विशेष व्यवस्था

वरिष्ठ कार्यकर्ता शंकर निनामा एवं पानसिंह राठौड़ ने बताया कि वर्तमान में मंदिर में शबरी माता की प्रतिमा नहीं होने से गौशाला में गुरुदेव कमल किशोरजी के सानिध्य में प्रतिमा स्थापना विधि विधान से की जा रही है। प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम में मप्र के साथ समीपस्थ राज्य गुजरात एवं राजस्थान से भी भक्तों का बड़ी तादाद में तांता लगेगा। थाना प्रभारी राजूसिंह बघेल ने बताया कि इस दौरान प्रशासन एवं पुलिस की ओर से सुरक्षा के विशेष इंतजाम रहेंगे, ताकि भक्तों को किसी प्रकार की कोई परेशान नहीं हो तथा कोई घटनाक्रम नहीं हो।


यह करेंगे शिरकत

इस कार्यक्रम में धर्म लाभ लेने हेतु मप्र शासन के शिक्षा मंत्री एवं जिले के प्रभारी मंत्री इंदरसिंह परमार, मप्र कृषि मंत्री कमल पटेल, रतलाम-झाबुआ-आलीराजपुर सांसद गुमानसिंह डामोर भी पहुंचेंगे। आयोजन समिति ने सभी भक्तों से अधिक से अधिक संख्या में पधारकर धर्म लाभ लेने हेतु अपील की है।


श्री  इन्दरसिंह परमार,माननीय राज्यमंत्री स्कूल शिक्षा (स्वतंत्र प्रभार )एवं सामान्य प्रशासन विभाग मध्यप्रदेश शासन का दौरा कार्यक्रम


झाबुआ। श्री इन्दरसिंह परमार,माननीय राज्यमंत्री स्कूल शिक्षा (स्वतंत्र प्रभार) एवं सामान्य प्रशासन विभाग, मध्यप्रदेश शासन का दौरा कार्यक्रम दिनांक 17 फरवरी, 2022 (गुरूवार) दोप. 4 बजे शुजालपुर से झाबुआ प्रस्थान। (व्हाया शाजापुर-उज्जैन-बदनावर-पेटलावद)। रात्री 9 बजे झाबुआ आगमन एवं सर्किट हाउस पर रात्री विश्राम। दिनांक 18 फरवरी 2022 (शुक्रवार) प्रातः 10.30 बजे झाबुआ से ग्राम भुरा डाबरा (रामा) के लिए प्रस्थान। दोप. 11 बजे श्री शबरी गौशाला ग्राम भुरा डाबरा (रामा) में आयोजित कार्यक्रम में भाग लेंगे। सायं 5.30 बजे ग्राम भुरा डाबरा रामा से झाबुआ प्रस्थान। सायं 6 बजे झाबुआ आगमन। सायं  6.30 बजे झाबुआ से दाहोद के लिए प्रस्थान। सायं 7.15 बजे दाहोद आगमन एवं अवंतिका रिसोर्ट दाहोद गुजरात में कु. प्रज्ञा मिश्रा के विवाह समारोह में सम्मिलित होगे। सायं 7.45 बजे दाहोद से महु जिला इन्दौर के लिए प्रस्थान। (व्हाया झाबुआ-धार-पिथमपुर)।


डिप्टी कलेक्टर श्री तरूण जैन ने आज पदभार ग्रहण किया


झाबुआ,। कलेक्टर कार्यालय में नवागत डिप्टी कलेक्टर श्री तरूण जैन द्वारा अपना पदभार ग्रहण किया। श्री जैन प्रोबेशनर परेड के साथ ही विगत  ढाई  वर्षों से अनुविभागीय अधिकारी राजस्व निवाड़ी में पदस्थ थे। निवाड़ी में ईमानदार अधिकारी के रूप में पहचान हासिल कर बहुत ही लोकप्रिय रहे। आज श्री जैन जनसुनवाई में भी उपस्थित रहे।


संत शिरोमणि रविदास जयंती समारोह का आयोजन किया गया, माननीय मुख्यमंत्री जी के द्वारा वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से  संबोधित किया


झाबुआ। झाबुआ रतलाम माननीय  सांसद श्री गुमान सिंह जी डामोर ने मुख्य अतिथि के रूप में जिला पंचायत के नवीन सभा ग्रह में संत रविदास जयंती समारोह के आयोजन में अपना उद्बोधन देते हुए  कहां की संत रविदास जी को रैदास भी कहा जाता था। संत रविदास ने समाज में समरसता लाने  मे अपने जीवन  को न्योछावर कर दिया था ।आज आवश्यकता है कि हम सभी लोग संत रविदास जी के बताए हुए मार्ग पर चलकर गरीब, शोषित ,दिव्यांगों, सर्वहारा वर्ग की  सेवा करें। माननीय  श्री गुमान सिंह जी  डामोर ने संत शिरोमणि रविदास जयंती के अवसर पर आयोजित कार्यक्रम को मुख्य अतिथि के रूप में संबोधित कर रहे थे। माननीय सांसद महोदय ने इस मौके पर  संतो सहित समाज की प्रतिभाओं का भी सम्मान किया और शासन की विभिन्न जनकल्याणकारी योजनाओं के तहत हितग्राहियों को लाभान्वित किया। माननीय सांसद श्री गुमान सिंह  जी डामोर  ने शुरू में संत रैदास की चित्र पर माल्यार्पण एवं दीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया! माननीय सांसद ने संत रविदास जयंती के कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहां की संत रविदास ने अपने भजनों के माध्यम से समाज को एकत्रित करने का कार्य किया। संत रविदास हमें संदेश  दिया कि हम जो भी कार्य करें पूरी इमानदारी और पूरी लगन के साथ करें! इस आयोजन में जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री सिद्धार्थ जैन ,भाजपा जिलाध्यक्ष माननीय श्री लक्ष्मण सिंह जी नायक ,भाजपा के जिला महामंत्री और जिला योजना समिति के सदस्य श्री सोमसिंह  जी सोलंकी ,भील  सेवा संघ के अध्यक्ष श्री अजय डामोर, मंडल अध्यक्ष श्री अंकुर पाठक, भाजपा जिला उपाध्यक्ष श्री करविन यादव ,भाजपा पदाधिकारी श्री  जुवान सिंह जी गुड़िया ,श्री थापा , जिले के प्रसिद्ध इतिहासकार डॉ. श्री के के त्रिवेदी विशेष अतिथि के रूप में उपस्थित थे ! जिनका पुष्प हार से समारोह स्थल पर अभिनंदन किया गया ! कार्यक्रम स्थल पर सहायक आयुक्त जनजाति कार्य विभाग श्री प्रशांत आर्य , लोक कलाकार ,बड़ी संख्या में जिलाधिकारी ,कर्मचारी उपस्थित थे! कार्यक्रम स्थल पर माननीय मुख्यमंत्री जी वर्चुअल उद्बोधन की भी व्यवस्था थी ! जहां पर माननीय मुख्यमंत्री जी के द्वारा संत रविदास जी के व्यक्तित्व और कृतित्व के बारे में उद्बोधन दिया ! समारोह स्थल पर माननीय श्री सोमसिंह जी सोलंकी के द्वारा भी अपना उद्बोधन दीया गया ! जिले के प्रसिद्ध साहित्यकार डॉ. के के त्रिवेदी के द्वारा  संत रविदास के व्यक्तित्व के बारे में विस्तार से सदन को बताया। कार्यक्रम का संचालन श्री हरीश कुंडल के द्वारा किया गया।


वर्ष 2022-2023 डी पी डी पी प्लान तैयार करने हेतु बैठक सम्पन्न, जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमति शांति राजेश डामोर द्वारा बैठक की अध्यक्षता की गई


झाबुआ। वर्ष 2022-2023 की जिला पंचायत डवलपमेंट प्लान ( डी पी डी पी)  तैयार करने के संबध मे 15 फरवरी को जिला  पंचायत सभाकक्ष में बैठक आयोजित की गई थी । जिसकी अध्यक्षता जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती शांति राजेश डामोर द्वारा की गई। बैठक मे जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री सिद्धार्थ जैन, जिला पंचायत के उपाध्यक्ष श्री चंद्रवीरसिंह राठौर, जिला पंचायत सदस्य श्री रूपसिंह डामोर, श्रीमती मनीषा डामोर, श्रीमती देवली ताहेड, अकमालसिंह डामोर, श्रीमती सुशीला प्रेमचंद्र भाबर, श्री मेगजी अमलियार , श्रीमती संता तेरसिंह, श्रीमती शारदा अमरसिंह, श्रीमती कलावती गेहलोत एवं अन्य जिला पंचायत सदस्य एवं जिला अधिकारी मे जिला परियोजना प्रबंधक आजीविका परियोजना श्री देवेन्द्र श्रीवास्तव, उप संचालक कृषि श्री नगीन रावत, लीड बैंक अधिकारी श्री राजेश कुमार, ए पी ओ जिला पंचायत श्री चन्दरसिंह मण्डलोई ,जिला प्रंबधक टी आर आई एफ जिला पंचायत श्री सुहेल अहमद आदि उपस्थित थे। बैठक में 15 वां वित्त आयोग अन्तर्गत टाईट फण्ड की 60 प्रतिशत राशि के लिए कार्य जिसमे जल जीवन मिशन के कार्य, जल संरक्षण एवं संवर्धन के कार्य, वर्षा जल पूर्न र्भरण, के कार्य तथा नल जल योजना के रख रखाव व संधारण के कार्य एवं अनटाईड फण्ड 40 प्रतिशत के लिए कार्य जैसे पंचायत भवन विहिन ग्राम पंचायत में पंचायत भवन, आंगनवाडी भवन, प्राथमिक शाला भवन, प्राथमिक स्वास्थ्य भवन, हाट बाजार/दुकान निर्माण, बस स्टैण्ड निर्माण, आदि के प्रस्ताव माननीय जिला पंचायत सदस्यों से प्राप्त किये गये एवं इस विषय पर माननीय अध्यक्ष महोदय जिला पंचायत उपाध्यक्ष महोदय मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत एवं जिला पंचायत सदस्यों द्वारा चर्चा की गई।


“हत्या करने वाले आरोपियों को आजीवन कारावास की सजा”


झाबुआ । विगत वर्ष दिनांक 22.07.2020 के शाम 05ः00 बजे करीब राजगढ नाका झाबुआ पर आरोपियों ने मिलकर रमेश, दिलीप के साथ समझौता न करने की बात को लेकर गाली गलोच कर पत्थर से मारपीट की थी। मारपीट में आई चोंटो के कारण दोनों को झाबुआ जिला अस्पताल में भर्ती कराया था। जहां पर दिलीप पिता गुला की ईलाज के दौरान मृत्यु हो गयी थी।उक्त प्रकरण की गंभीरता को देखते हुए इस प्रकरण को जघन्य एवं सनसनीखेज चिन्हित किया गया था। ‘‘जघन्य एवं सनसनीखेज चिन्हित प्रकरण‘‘ माननीय जिला एवं सत्र न्यायालय (श्री मोहम्मद अबरार अंसारी साहब) झाबुआ जिला झाबुआ द्वारा सत्र प्रकरण क्रमांक 157ध्2020 थाना झाबुआ के अपराध क्रमांक 559ध्2020 में आरोपीगण मानसिंह पिता भल्लू बिलवाल निवासी पानकी, मंगा पिता भल्लु बिलवाल निवासी पानकी एवं सोहन पिता रंगा बिलवाल निवासी पानकी को धारा 302 सहपठित धारा 34 भादवि के अंतर्गत आजीवन सश्रम कारावास एवं रु 5000-5000 रुपए अर्थदंड  से तथा धारा 323, 34 भादवि के अंतर्गत 06 माह का सश्रम कारावास से दंडित किया गया है।

कोई टिप्पणी नहीं: