विदिशा (मध्य प्रदेश) की खबर 17 फ़रवरी - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 17 फ़रवरी 2022

विदिशा (मध्य प्रदेश) की खबर 17 फ़रवरी

सफलता की कहानी : राहत राशि मिलने पर कृषकों ने धन्यवाद ज्ञापित किया


vidisha news
ओलावृष्टि से क्षति हुई फसलों की राहत राशि आज प्राप्त होने पर एनआईसी में मौजूद उनारसीकला ग्राम के पीड़ित कृषकों के चेहरों पर प्रसन्नता झलक रही थी। संकट की इस घड़ी में शासन प्रशासन के द्वारा शीघ्र मिली राहत राशि प्राप्ति के उपरांत मौजूद कृषकों ने मुख्यमंत्री सहित जिला प्रशासन के प्रति साधुवाद व्यक्त किया। उनारसी कला के कृषक श्री राजेश कुमार सेन, श्री सुरेन्द्रसिंह यादव, श्री विवेक जैन, श्री राजेन्द्र विश्वकर्मा और ग्राम छोटी राघौगढ़ के कृषक मलखानसिंह यादव ने मुख्यमंत्री जी के प्रति आभार प्रकट करते हुए धन्यवाद दिया है। मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चैहान के प्रति धन्यवाद देते हुए ग्राम उनारसी कला के कृषक श्री सुरेन्द्रसिंह यादव ने जिला प्रशासन की टीम को भी धन्यवाद दिया है। उन्होंने कहा कि जहां रात्रि में ओलावृष्टि से फसलों को क्षति पहुंची थी। जिसकी सूचना मिलने पर दूसरे दिवस ही प्रातः काल विधायक, जनप्रतिनिधियों एवं कलेक्टर द्वारा क्षतिग्रस्त फसलों का जायजा लिया गया था। और आज गुरूवार को मुख्यमंत्री जी द्वारा राहत राशि का वितरण किया गया है। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री जी के वन क्लिक के  तुरंत बाद ही उन्हें सहायता राशि मिलने का मैसेज भी प्राप्त हुआ है। 


दो के विरूद्ध रासुका, एक प्रकरण में जिला बदर के आदेश जारी


कलेक्टर एवं जिला मजिस्ट्रेट श्री उमाशंकर भार्गव के द्वारा पुलिस अधीक्षक डाॅ मोनिका शुक्ला के पालन प्रतिवेतन पर दो प्रकरणों में रासुका और एक प्रकरण में जिला बदर के आदेश जारी किए हैं। कलेक्टर श्री भार्गव के द्वारा जारी आदेश में उल्लेख है कि पुलिस अधीक्षक की रिपोर्ट के आधार पर समुचित कार्यवाही करते हुए 2 अनावेदकों सिविल लाइन थाना क्षेत्र के शेरपुरा निवासी देवीसिंह कुचबंदिया पुत्र फूलसिंह तथा सिविल लाइन क्षेत्र के पीतलमील निवासी महेन्द्र उर्फ टिंग्गी यादव पुत्र रामसिंह यादव के विरूद्ध राष्ट्रीय सुरक्षा कानून के तहत कार्यवाही करते हुए सेन्ट्रल जेल, भोपाल भेजे जाने के आदेश जारी किए गए हैं। इसी प्रकार एक प्रकरण में अनावेदक कुरवाई विकासखण्ड के रूसिया थाना निवासी मुकेश पारधी पुत्र कल्लू पारधी के विरूद्ध जिला बदर के आदेश जारी किए गए हैं। आदेश में उल्लेख है कि अनावेदक जिले से लगने वाली सीमावर्ती जिलों की सीमाओं से छः माह के लिए निष्कासित किया गया है।


प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना : समायोजन कर बीमा की पूर्ण राशि लौटाने की प्रक्रिया क्रियान्वित

 

जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक मर्यादित विदिशा के सीईओ श्री विनय प्रकाशसिंह ने बताया कि प्रधानमंत्री फसल बीमा योजनांन्तर्गत खरीफ 2020 की क्लेम राशि बीमा कंपनी द्वारा सीधे कृषकों के खातों में जमा कराई जा रही है। चूंकि खरीफ ऋण चुकौती की ड्यू डैट खरीफ फसलों के बाजार में आने से लेकर अंतिम दिनांक 28 मार्च निर्धारित है। इस कारण उक्त राशि को कृषकों के द्वारा लिए गये कर्ज के विरूद्ध समायोजित किया जा रहा है। समायोजन उपरांत समस्त ड्यू कृषकों की जो भी लिमिट निकल रही है। उस किसान को पात्रता अनुसार नया केसीसी ऋण तीन-पांच दिन में वितरित कर दिया जाएगा। सीईओ श्री सिंह ने बताया कि उक्त वितरण में ड्यू कृषकों को बीमा कंपनी से प्राप्त फसल बीमा क्लेम की पूर्ण राशि वापिस कर दी जावेगी। साथ ही कृषकों की यह मांग भी रहती है कि रबी फसल 28 मार्च तक तैयार होकर बाजार में विक्रय नहीं हो पाती है। इस कारण ड्यू डेट को 28 मार्च से बढ़ाकर 15 जून किया जाावे। अतः कृषक कालातीत न हो एवं उन्हें शासन की महत्वपूर्ण शून्य प्रतिशत योजना का लाभ मिलता रहे को दृष्टिगत रखते हुए खरीफ 2020 की प्राप्त फसल बीमा की राशि का समयोजन किया जाकर प्राप्त फसल बीमा की पूर्ण राशि कृषकों को वापिस की जा रही है। जिससे कृषकों की ऋण की चुकौत्ी दिनांक 28 मार्च से बढ़कर 15 जून हो जावेगी। इस स्थिति में कृषक के कालातीत नहीं होने की महत्वपूर्ण शून्य प्रतिशत योजना का लाभ भी जारी रहेगा।


281 परीक्षार्थी अनुपस्थित रहे, जिला पंचायत सीईओ ने परीक्षा केन्‍द्र का लिया जायजा


vidisha news
माध्यमिक शिक्षा मंडल द्वारा जारी परीक्षा टाइम टेबल के अनुसार आयोजित बारहवीं कक्षा के सामान्य अंग्रेजी विषय की परीक्षा आज जिले में सुव्यवस्थित निर्विघ्न रुप से संपन्न हुई है। जिला शिक्षा अधिकारी ने बताया कि जिले में कुल 13771 परीक्षार्थियों में से 13490 परीक्षार्थी परीक्षा केंद्रों पर उपस्थित हुए हैं अर्थात सामान्य अंग्रेजी विषय की परीक्षा में 281 परीक्षार्थी अनुपस्थित रहे हैं। आज जिले में एक भी नकल का प्रकरण दर्ज नहीं हुआ है। जिला पंचायत सीईओ डॉ योगेश भरसट ने आज गुरूवार को विदिशा जिले में बनाए गए परीक्षा केन्द्रों का जायजा लिया। उन्होंने परीक्षा केन्द्रों पर पहुंचकर परीक्षा व्यवस्थाओं का निरीक्षण करने के साथ ही शिक्षकों से संवाद कर स्थिति से अवगत हुए। जिला पंचायत सीईओ डॉ योगेश भरसट ने उत्कृष्ट विद्यालय में बनाए गए परीक्षा केन्द्र का अवलोकन कर जायजा लिया है। 


राष्ट्रीय शिक्षा नीति पर कार्यशाला का आयोजन हुआ


vidisha news
शासकीय कन्या महाविद्यालय विदिशा में आज गुरूवार को राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 पर एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया। इस कार्यशाला में मुख्य वक्ता के रूप डॉ संजय शर्मा, कोर्डिनेटर टीएलसीएसएस डॉ हरिसिंह गौर विश्वविद्यालय सागर शामिल हुए। मुख्य अतिथि के रूप में डॉ मथुरा प्रसाद अतिरिक्त संचालक भोपाल-नर्मदापुरम संभाग ने आॅनलाइन मोड से कार्यशाला को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 चूंकि अभी नई है इसलिए इस पर लगातार संवाद होना आवश्यक है। प्राध्यापकों एवं विद्यार्थियों दोनों के लिए इसे जानना जरूरी है। अतः ऐसी कार्यशाला बहुत उपयोगी है। मुख्य वक्ता डॉ शर्मा ने अपने विद्वत्तापूर्ण व्याख्यान में राष्ट्रीय शिक्षा नीति के महत्त्वपूर्ण बिंदुओं को स्पष्ट किया एवं इसके उद्देश्यों तथा कार्यान्वयन की रूपरेखा पर बात की। उन्होंने प्राध्यापकों के बीच आपसी संवाद और प्रशिक्षण पर जोर दिया। शिक्षण अधिगम की प्रक्रिया पर विशेष ध्यान देने की बात कही। इसके साथ ही उन्होंने डॉ हरिसिंह गौर विश्वविद्यालय सागर के साथ एमओयू साइन करने का आश्वासन दिया। महाविद्यालय की प्राचार्य डॉ मंजू जैन ने महाविद्यालय की गतिविधियों से अवगत कराते हुए भरोसा दिलाया कि हम इस शिक्षा नीति के उद्देश्यों को पूरा करने की दिशा में सदा प्रयासरत रहेंगे। कार्यशाला का संयोजन और संचालन प्रो. सविता सोनी ने किया। आयोजन में आईक्यूएसी प्रभारी प्रो. नीता पांडेय एवं सह-संयोजन प्रो. विनयमणि त्रिपाठी ने योगदान किया। इस कार्यशाला में डॉ विनिता प्रजापति, डॉ ज्योति मिश्रा, डॉ रेखा श्रीवास्तव के साथ महाविद्यालय के समस्त प्राध्यापक एवं छात्राएं उपस्थित रहीं। कार्यशाला में जिले के अन्य शासकीय महाविद्यालयों के प्राध्यापक भी शामिल हुए।


मुख्यमंत्री श्री चौहान ने वन क्लिक से 202.90 करोड़ की राहत राशि किसानों के खातों में जमा की

  • ओलावृष्टि से प्रभावित जिले के 2570 किसानों के खातों में 5 करोड़ से अधिक राशि जमा हुई

मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान ने गुरूवार को प्रदेश में ओलावृष्टि, अतिवृष्टि से क्षति हुई फसलों की कुल 202.90 करोड़ की राहत राशि किसानों के बैंक खातों में वन क्लिक के माध्यम से जमा की गई है। मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चैहान ने कहा कि पीड़ित कृषकों को राहत राशि के अलावा बीमा राशि का भी शीघ्र वितरण किया जाएगा। उन्होंने पीड़ित कृषकों से संवाद कर ढांढस बंधाया है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने आज विदिशा जिले के लटेरी तहसील अंतर्गत जिन 18 गांव में ओलावृष्टि से फसल क्षति हुई थी। उन पीड़ित कृषकों को भी वन क्लिक के माध्यम से राशि जमा की है। एनआईसी के वीसी कक्ष में मुख्यमंत्री जी के लाइव उद्धोधन देखने सुनने हेतु शमशाबाद विधायक श्रीमती राजश्रीसिंह, बासौदा विधायक श्रीमती लीना जैन, जिला क्राइसिस मैनेजमेंट समिति के सदस्य डॉ राकेश जादौन, श्री मुकेश टण्डन, श्री संदीप डोंगर के अलावा पीड़ित कृषकगण समेत कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव, अपर कलेक्टर श्री वृन्दावनसिंह, डिप्टी कलेक्टर एवं राहत राशि प्रकोष्ठ की नोडल अधिकारी सुश्री अनुभा जैन के अलावा एनआईसी के डीआईओ एमएल अहिरवार, लटेरी तहसीलदार अजय शर्मा मौजूद रहे।


डेमो चेक प्रदाय-

एनआईसी के वीसी कक्ष में लटेरी तहसील क्षेत्र के ग्राम उनारसी कला के तीन पीड़ित कृषक श्री राजेश कुमार सेन, श्री सुरेन्द्रसिंह यादव, श्री विवेक जैन सहित प्रत्येक को एक लाख 20 हजार रूपए का और श्री राजेन्द्र विश्वकर्मा को 60 हजार रूपए का जबकि ग्राम छोटी राघौगढ़ के कृषक मलखानसिंह यादव को जनप्रतिनिधियों के द्वारा एक लाख 20 हजार रूपए का डेमो चेक प्रदाय किया गया। 


18 ग्रामों के 2570 किसानों के खातों में राशि 51727988 रूपए जमा हुए


मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान द्वारा बुधवार को वन क्लिक के माध्यम से जिले के जिन पीड़ित कृषकों के बैंक खातों में राहत राशि जमा की गई है के संबंध में कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव ने बताया कि आज वन क्लिक के माध्यम से लटेरी तहसील के जिन 18 ग्रामों के पीड़ित कृषकों को राहत राशि उनके बैंक खातों में जमा कराई गई है। उनमें ग्राम चमरउमरिया के 43 कृषकों को 536109 रूपए, हैदरपुर के 81 कृषकों के खातों में 1550483 रूपए, मूडरारतनसी के 178 कृषकों के खातों में 1236942 रूपए, भीलवावड़ी के 59 कृषकों के खातों में 2574529 रूपए, राधोगढ़ के 44 कृषकों के खातों में 3221169 रूपए, चैपना नौआवाद के 74 कृषकों के खातों में 572095 रूपए, मुक्ताखेड़ा के 120 कृषकों के खातों में 2794039 रूपए, झूकरउमरिया के 72 कृषकों के खातों में 789346 रूपए, अम्हाई के 148 कृषकों के खातों में 2052147 रूपए, उनारसीकला के 495 कृषकों के खातों में 26872371 रूपए उमरियामीना के 150 कृषकों के खातों में 1008504 रूपए, बामोरी के 129 कृषकों के खातों में 1474742 रूपए, शेरगढ़ के 141 कृषकों के खातों में 672832 रूपए, वनारसी के 121 कृषकों के खातों में 2458975 रूपए, सालरा के 81 कृषकों के खातों में 720392 रूपए, मुनीमपुर के 126 कृषकों के खातों में 1425888 रूपए, महोटी के 241 कृषकों के खातों में 982060 रूपए तथा ग्राम वापचा के 267 कृषकों के खातों में 785365 रूपए की राशि जमा की गई है।

कोई टिप्पणी नहीं: