बिहार : पंच-सरपंच को वोटर बनाने के लिए MLC चुनाव में हो रहा विलंब - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 25 फ़रवरी 2022

बिहार : पंच-सरपंच को वोटर बनाने के लिए MLC चुनाव में हो रहा विलंब

mlc-election-bihar-delay
पटना : बिहार विधान परिषद चुनाव को लेकर अभी तक कोई अधिसूचना नहीं जारी की गई है। वहीं, स्थानीय निकाय कोटे से 24 सीटों पर चुनाव होने हैं उनके मतदाता को लेकर एक अहम फैसला बहुत ही जल्द लिया जा सकता है। दरअसल, भाजपा नेता और बिहार सरकार में पंचायती राज्य मंत्री सम्राट चौधरी ने कुछ दिन पहले अपने बयानों में कहा था कि उन्होंने केंद्र सरकार से निवेदन किया है कि विधान परिषद चुनाव में पंच सरपंच को भी मतदान करने का अधिकार मिले। इसके बाद अब बिहार विधान परिषद के स्थानीय निकाय वाले कोटे की सीटों पर सरपंच और पंच को वोटिंग का अधिकार दिए जाने का प्रस्ताव बिहार सरकार ने केंद्र के पास भेज दिया है। गौरतलब है कि, बिहार में हालिया पंचायती चुनाव के बाद यह चर्चा होने लगी थी कि इस बार स्थानीय प्राधिकार वाली परिषद की सीटों पर वोटिंग का अधिकार सरपंच और पंच को भी दिया जा सकता है और अब इस दिशा में राज्य सरकार ने महत्वपूर्ण कदम उठाया है। वहीं, दूसरा कारण यह बताया जा रहा है कि अगर ऐसा हो जाता है, तो पहले से ही पंच और सरपंच को मिले अधिकार और वोट देने का अधिकार मिलने के कारण इनलोगों झुकाव सत्ता पक्ष की तरफ होगा, जिसके कारण राजद को इसका नुकसान उठाना पड़ सकता है और इसका सीधा फायदा एनडीए को मिलेगा। मालूम हो कि, इसके पहले लोक जनशक्ति पार्टी (रामविलास) के राष्ट्रीय अध्यक्ष चिराग पासवान ने भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और पंचायती राज मंत्री गिरिराज सिंह को पत्र लिखकर पंच और सरपंच को वोट का अधिकार देने की बात कही थी।

कोई टिप्पणी नहीं: