सीहोर (मध्य प्रदेश) की खबर 05 फ़रवरी - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 5 फ़रवरी 2022

सीहोर (मध्य प्रदेश) की खबर 05 फ़रवरी

नलजल योजना से ग्रामवासियों को मिला पानी की किल्लत से छुटकारा


sehore news
नागरिकों को रोजमर्रा की जरूरतों और उत्तम स्वास्थ्य के लिये शुद्ध और पर्याप्त मात्रा मे पानी की आवश्यकता होती है। लेकिन कई क्षेत्रों में लोगो को पानी के लिए संघर्ष और कठिन परिश्रम करना पड़ता है। शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रो में पानी की इसी किल्लत से छुटकारा पाने के लिए प्रदेश सरकार द्वारा नल जल योजना चलाई जा रही है। जिसके तहत हर घर में नल से पानी पहुँचाया जा रहा है। सीहोर तहसील के ग्राम सतपिपलिया में भी ग्रामीणो को पानी के लिए बहुत सी समस्याओं का सामना करना पड़ता था। प्रदेश सरकार द्वारा चलाई जा रही नल जल योजना से गांव के समस्त 400 घरो में अब नल से पानी पहुँचाया जा रहा है। जिससे गांव के लोगो को दूर-दराज के क्षेत्रों से पानी ढोकर लाने से निजात मिली है। सतपिपतिला में 01 करोड़ 02 लाख रूपये की लागत से नलजल योजना को शुरू किया गया है। सतपिपलिया की संगीता वर्मा, सुमन बाई, कैलाश नारायण, मनोहर लाल जी ने बताया कि पहले पानी भरने में घंटो समय बर्बाद होता था। लेकिन अब घर पर ही नल कनेक्शन द्वारा पानी मिलने से हमें पानी की जद्दोजहद से मुक्ति मिली है। अब हमें पानी के लिए कोई संघर्ष नहीं करना पड़ रहा और पानी भरने को लेकर कोई लड़ाई झगड़े का झंझट भी नहीं है। गांव में पानी की व्यवस्था करने के लिए सभी ग्रामवासियो ने प्रधानमंत्री एवं मुख्यमंत्री  जी को धन्यवाद दिया।


जिले में 05 फरवरी को 128 व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव मिले


जिले में 05 फरवरी को प्राप्त रिपोर्ट में 128 व्यक्तियों की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई। वर्तमान में एक्टिव पॉजिटिव केस की संख्या 1390 हो गई है।


आज खेला जाएगा क्रिसेंट वारियर्स और सीहोर जूनियर के मध्य फाइनल मैच


सीहोर। शहर के बीएसआई पर जारी क्रिसेंट ट्राफी क्रिकेट प्रतियोगिता के रोमांचक सेमीफाइनल मैच में क्रिसेंट वारियर्स ने यंग स्टार इलेवन को पांच विकेट से हराकर फाइनल में प्रवेश किया। अब रविवार को उसका मुकाबला सीहोर जूनियर से खेला जाएगा। मैच के अंत में विजेता टीम को पुरस्कार वितरण के दौरान जिला क्रिकेट एसोसिएशन के अध्यक्ष विधायक सुदेश राय और भाजपा के नेताओं के द्वारा पुरस्कारों का वितरण किया जाएगा। डीसीए के मीडिया प्रभारी प्रियांशु दीक्षित ने बताया कि शनिवार को पहला सेमीफाइनल मुकाबला क्रिसेंट वारियर्स और यंग स्टार के मध्य खेला गया। इस मैच में पहले बल्लेबाजी करते हुए यंग स्टार ने निर्धारित 20 ओवर में छह विकेट खोकर 135 रन बनाए थे। इसमें विक्की नाविक ने 37 रन, नदीम 44 रन और संजय पेशवानी ने 21 रन की पारी खेली। इधर वारियर्स की ओर से वीरु वर्मा ने दो विकेट, इरफान, गौरव और अबू वाकर ने एक-एक विकेट हासिल किया। जवाब में लक्ष्य का पीछा करने उतरी सीहोर वारियर्स ने विजय लक्ष्य अंतिम ओवर में चौका मारकर हासिल किया। इसमें अक्षय दुबाने ने 41 रन, आशीष शर्मा ने 28 रन और वीरु वर्मा ने 27 रन बनाए। इसके अलावा एक अन्य मैच में सीहोर जूनियर टीम ने पीपीसीए को 19 रन से हराकर प्रतियोगिता के फाइनल में प्रवेश किया। इस मैच में सीहोर जूनियर ने 18 ओवर में सात विकेट खोकर 112 रन बनाए थे। जवाब में लक्ष्य का पीछा करने उतरी पीपीसीए 94 रन ही बना सकी। रविवार को खेले जाने वाले फाइनल के दौरान एसोसिएशन के सचिव अतुल तिवारी, वीरेंद्र वर्मा, सुरेन्द्र रल्हन, नवनीत तोमर, मनोज दीक्षित मामा, मदन कुशवाहा, प्रदीप आहुजा, इरफान हुसैन, आशीष शर्मा, नागेंद्र व्यास, कमलेश पारोचे, सचिन कीर, अक्षय दुबाने, हेमंत केसरिया, संजय पटेल, महेन्द्र शर्मा बंटी विलय गौरव खरे, अमित कटारिया, रुपेश पारोचे, राकेश धनगर, अतुल कुशवाहा, संतोष पांडे, सुरेश नाविक, सुनील जलोदिया आदि मौजूद रहेगे। 


सड़क पर बैठकर सीता ने मांगा इंसाफ, मारपीटकर घर से किया जेठ ने बेदखल

  • एसडीएम ने नहीं की सुनवाई कलेक्टर से की शिकायत, कोतवाली पुलिस ने फरियादिया की दर्ज की एनसीआर

sehore news
सीहोर। दुल्हा बादशाह स्थित घर के सामने बच्चों के साथ सड़क पर बैठकर शनिवार को सीता ने जिला प्रशासन से इंसाफ की मांग की है। महिला थाना पुलिस भी पीडि़त बहु की कोई मदद नहीं कर रही है।पीडि़त सीता ने एसडीएम से गुहार लगाई लेकिन कोई कार्रवाही नहीं की गई है। मारपीट कर जेठ जेठानी के द्वारा बीते दिनों विधवा बहु सीता और उसके बच्चों को उनके पिता के घर से बेदखल कर दिया गया है। रिसोट चौराहा स्थित किराय के मकान में रहकर जीवन यापन करने वाली फरियादिया सीता बाई पत्नि स्वर्गीय कमल प्रजापति ने बताया की सास गंगा बाई पत्नि मुंशीलाल के नाम दुल्हाबादशाह के पुल के पास एक पटटे वाला मकान है। इस मकान से जुड़ी की आधी से अधिक भूमि अवैधानिक रूप से जेठ विष्णू पहलवान ने बेच दी है। सीता बाई ने कहा की उसके हिस्से के मकान पर भी जेठ जेठानी के द्वारा कब्जा कर लिया गया है और मारपीटकर घर से बेदखल कर दिया है। बेची गई भूमि से मिली राशि का भी पुरा पैसा जेठ हजम कर गया है। विरोध करने पर जेठ जेठानी के द्वारा मारपीट की गई बच्चों को भी जान सें मारने की धमकी दी गई है। पीडि़त सीता बाई ने कलेक्टर को शिकायती पत्र देकर अवैधानिक रूप से बेचे गए मकान और भूमि पर रोक लगाने और बच्चों के भविष्य के लिए हिस्सा दिलाने की गुहार जिला प्रशासन से लगाई है। 


युवा परमार क्षत्रिय महासभा ने राजा भोज को किया याद, आस्था और उत्साह के साथ किया गया आयोजन


सीहोर। हर साल की तरह इस साल भी युवा परमार क्षत्रिय महासभा के तत्वाधान में बसंत पंचमी के पावन अवसर पर शहर के प्राचीन जगदीश मंदिर परिसर में कार्यक्रम का आयोजन किया गया था। कार्यक्रम में राजा भोज को भी याद किया गया। शनिवार को आयोजित कार्यक्रम के दौरान समाज के युवाओं के साथ परमार समाज के वरिष्ठजन भी मौजूद थे। कार्यक्रम की शुरूआत देवी सरस्वती मां के चित्र के समक्ष दीप प्रज्जवलित कर की गई और कार्यक्रम में समाज में चल रही मृत्यु भोज, खर्चीली शादी जैसी कुरूतियों को हम सबको आगे आकर समाप्त करना होगा और इसके लिए युवाओं को भी आगे आना होगा अब युवा ही समाज को नई दिशा दे सकते हैं। इस संबंध में जानकारी देते हुए समाज के विष्णु परमार ने बताया कि मंदिर परिसर में बसंत पंचमी का आयोजन किया जाता है, लेकिन लंबे समय से कोरोना संक्रमण के कारण कोई भव्य आयोजन नहीं किया जा रहा है, लेकिन शनिवार को युवा परमार क्षत्रिय महासभा के तत्वाधान में आयोजन किया गया था। जिसमें बड़ी संख्या में समाज के युवाजन शामिल थे। कार्यक्रम में बलराज परमार, योगेश, दीप सिंह, कपिल, वीरेन्द्र, राकेश, गुलाब सिंह, गजराज सिंह, मनोज पटेल, भोजराज, विजय परमार, गब्बर परमार, विक्रम परमार, राकेश परमार, महेन्द्र पटेल, वीर सिंह आदि शामिल थे। 


जारी है जिला चिकित्सालय सीहोर में भारी भ्रष्टाचार, लाखों की सामग्री को लेकर कर दी दो निविदाएं जारी

  • अस्पताल में जारी है लाखों रू के सरकारी सामान की लूटपाट, कार्यकर्ता करेंगे भ्रष्टाचारियों के चेहरों को जल्दी हीं उजागर  
  • यु़वा भाजपा नेता संजय राय के नेतृत्व में कार्यकर्ता करेंगे प्रदर्शन

sehore news
सीहोर। जिला चिकित्सालय सीहोर प्रबंधन अपने कारनामों को लेकर सुखियों में बना रहता है। लाखों रूपये का भ्रष्टाचार चिकित्यालय प्रबंधन के द्वारा किया जा रहा है। पुराने चिकित्सालय भवन की सामग्री को लेकर प्रबंधन के द्वारा दो निविदांए जारी कर दी गई। माधव इंटरप्राईजेस के साथ धोकाधड़ी को अंजाम दिया गया वही लाखों रूपये की कीमती सामग्री को भी हड़पने के लिए प्रबंधन के द्वारा साजिश रची गई। इस गंभीर घोटाले को लेकर युवा भाजपा नेता संजय राय के नेतृत्व में भाजपा कार्यकर्ताओं के द्वारा जल्दी हीं प्रदर्शन किया जाएगा और अस्पताल के भ्रष्टाचारियों के चेहरों को उजागर किया जाएगा। उल्लेखनीय है की पुराने अस्पताल भवन के कमरों में निष्क्रिय सामग्री को लेकर निविदा निकाली गई थी यह सामग्री अस्पताल परिसर के तीन से चार कमरों में रखी हुई है। जिला अस्पताल प्रबंधन के द्वारा ७.१.२०२२ को समाचार पत्रों में कार्यालय सिविल सर्जन सह मुख्य अस्पताल अधीक्षक जिला चिकित्सालय सीहेार के द्वारा सामग्री बिक्रय के लिए निविदा जारी कराई गई थी जिस में जिला चिकित्सालय में निष्क्रिय घोषित अस्पताल स्क्रेप, पलंग, बेड साईड लॉकर पेसेंट ट्राली, स्ट्रेचर फर्नीचर सहित अन्य सामग्री के लिए निविदाएं आमंत्रित की गई थी। सामग्री खरीदी के लिए निविदा में दिए गए नियमानुसार माधव इंटरप्राईजेस के द्वारा 4 लाख 48 हजार रूपये का प्रस्ताव प्रस्तुत किया गया जिस को  सिविल सर्जन सह मुख्य अस्पताल अधीक्षक के द्वारा मान्य भी किया गया और माधव इंटरप्राईजेस को तीन दिनों के अंदर राशि जमा करने के लिए आदेशित भी किया गया लेकिन माधव इंटरप्राईजेस के अधिकारी राशि जमा करते इस से पहले हीं जिला चिकित्सालय सीहेार प्रबंधन के द्वारा ७.१.२०२२ को जारी की गई निविदा को २१.१.२०२२ को निरस्त कर दिया गया। निविदा निरस्तीकरण की सूचना भी माधव इंटरप्राईजेस को नहीं दी गई। इधर चिकित्सालय प्रबंधन के द्वारा २५.१.२०२२ को दूसरी निविदा जारी कर दी गई। इस प्रकार माधव इंटरप्राईजेस के साथ चिकित्सालय प्रबंधन के द्वारा धोकाधड़ी की गई। युवा भाजपा नेता संजय राय ने कहा की अस्पताल प्रबंधन के द्वारा भ्रष्टाचार को अंजाम देते हुए सामग्री में बड़ा गोलमाल किए जाने की कोशिश की जा रही है। अस्पताल के कमरों में रखे गए दो से तीन लाख रूपये के सामान को अस्पताल प्रबंधन के द्वारा बाहर निकलवा दिया गया है। जबकी इस सामग्री का क्या बाजार मूल्य है इस की जानकारी भी अस्पताल प्रबंधन को नहीं है यह सामग्री किस के आदेश पर बाहर निकाली गई यही भी जांच का विषय है। अस्पताल प्रबंधन से जुडेृे कुछ लोग जनता के पैसे से खरीदी गई इस सरकारी सामग्री को हड़पना चाहते है। इस मामले को लेकर जल्दी हीं कार्यकर्ताओं के साथ जिला अस्पताल के सामने प्रदर्शन किया जाएगा। 


प्रदेश में हर माह की 07 तारीख को अन्न उत्सव मनाया जाएगा


राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम-2013 के तहत सम्मिलित पात्र परिवारों को रियायती दर पर नियमित एवं PMKGAY की निःशुल्क खाद्यान सामग्री का शासकीय कर्मचारी की उपस्थिति में वितरण एवं उचित मुल्य दुकान स्तर पर पर्याप्त मॉनिटरिंग मॉनिटरिंग की जाएगी। जिला आपूर्ति अधिकारी श्री एसके तिवारी ने बताया कि प्रत्येक माह की 07 तारीख को अन्न उत्सव मनाने के लिए अधिकारियों की ड्यूटी लगाई गई है। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने विभागीय समीक्षा बैठक एवं कमिश्नर, कलेक्टर्स कांफ्रेंस में प्रत्येक माह की 7 तारीख को सभी उचित मूल्य दुकानों पर नियमित रूप से अन्न उत्सव आयोजित करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने अन्न उत्सव में सभी जनप्रतिनिधियों को उपस्थित रहने एवं राशन वितरण के संबंध में जनता से फीडबैक लेने के लिए भी कहा। समस्त उचित मूल्य दुकानों पर माह की 7 तारीख को जनप्रतिनिधियों एवं सतर्कता समिति के सदस्यों की उपस्थिति में अन्न उत्सव का आयोजन किया जाएगा। साथ ही राशन वितरण के संबंध में जनता से संलग्न प्रारूप में फीडबैक लेकर, की गई कार्यवाही का एकजाई प्रतिवेदन अनुविभागीय अधिकारी (राज०) के माध्यम से कार्यालय खाद्य शाखा जिला सीहोर में 12 फरवरी तक भेजे जाएंगे।


ई-उपार्जन पोर्टल पर चना एवं मसूर का पंजीयन प्रारम्भ


रबी वर्ष 2021-22 (विपणन वर्ष 2022-23) में भारत सरकार की प्राईस सपोर्ट स्कीम अन्तर्गत रबी वर्ष 2021-22 में उपार्जन पोर्टल पर 05 फरवरी से 05 मार्च 2022 तक जिले में चना एवं मसूर के पंजीयन गेहूँ पंजीयन की तरह ही किया जा रहा है। समस्त किसान जिन्होंने चना एवं मसूर की बुवाई की हो वे शासकीय अवकाश दिवसों को छोडकर प्रातः 07:00 बजे से रात्रि 09:00 बजे तक निर्धारित लिंक पर जाकर पंजीयन करें। पंजीयन के लिए किसान स्वयं के मोबाईल, कम्प्यूटर तथा ग्राम,जनपद पंचायत, तहसील कार्यालय के सुविधा केन्द्रो, सहकारी समिति द्वारा संचालित केन्द्रो, एमपी ऑनलाइन कियोस्क एवं  साइवर कैफे पर आवश्यक दस्तावेजों के माध्यम से करवा सकते हैं। पंजीयन में भू-स्वामियों के लिये भूमि संबंधी दस्तावेज आधार कार्ड, आधार नम्बर से पंजीकृत मोबाईल नम्बर एवं अन्य फोटो पहचान पत्र तथा सिकमी एवं वन पट्टाधारी किसान वनाधिकार पट्टाधारी, सिकमीदार को आधार कार्ड, आधार नम्बर से पंजीकृत मोबाईल नम्बर एवं वनपट्टा एवं सिकमी अनुबंध की प्रति दस्तावेज आवश्यक होंगे। सभी किसानों को उपार्जित फसल का भुगतान उनके आधार नम्बर से लिंक बैंक खाते में सीधे किया जाएगा। भविष्य में असुविधा से बचने के लिए किसान अपने आधार नम्बर से बैंक खाता तथा मोबाईल नम्बर लिंक कराकर उसे अपडेट रखें।

      

सीएम हेल्पलाइन कार्यशाला में 271 शिकायतों का संतुष्टि पूर्वक निराकरण


जिला पंचायत सभाकक्ष में सीएम हेल्पलाइन के प्रकरणों के निराकरण के लिए कार्यशाला आयोजित की गई। इस कार्यशाला में अनेक विभागों की 271 शिकायतों का संतुष्टिपूर्ण निराकरण किया गया। सीएम हेल्पलाइन कार्यशाला में स्वास्थ्य विभाग द्वारा कुल 121 शिकायतें, मनरेगा द्वारा 11 शिकायतें, खाद्य आपूर्ति विभाग द्वारा 27 शिकायतें, नगर पालिका द्वारा 03 शिकायतें ,कृषि विकास विभाग द्वारा 5 शिकायतें ,ऊर्जा विभाग द्वारा 27 शिकायतें, संस्थागत वित्त द्वारा 22 शिकायतें ,किसान क्रेडिट कार्ड सहकारिता द्वारा 2 शिकायतें ,लोक निर्माण विभाग द्वारा 11 शिकायतें, राज्य शिक्षा केंद्र द्वारा 3 शिकायतें ,महिला बाल विकास द्वारा 3 शिकायतें एवं पंचायत विभाग द्वारा 8 शिकायतों का निराकरण किया गया। सीएम हेल्पलाइन की नोडल अधिकारी श्रीमती ममता दुबे पांडेय द्वारा सतत शिकायतों के संतुष्टीपूर्ण निराकरण के लिए सभी विभागों को प्रेरित किया जा रहा है।


अमानक औषधियों का क्रय-विक्रय प्रतिबंधित


कृषि विकास विभाग द्वारा कीटनाशी अधिनियम के तहत कीटनाशक औषधि के जांच के लिए नमूने लिए गए। इन नमूनों की जॉच में औषधि के अमानक पाये जाने पर सम्बंधित कम्पनियों की औषधि का क्रय-विक्रय तथा परिवहन प्रतिबंधित किया गया है। जिन कम्पनियों की औषधि बैच एवं लॉट के क्रय-विक्रय पर प्रतिबंध लगाया गया है, उनमें किंगटेक बायो केमिकल प्राइवेट लिमिटेड, अंशिका क्राप केयर प्राइवेट लिमिटेड पाटन, यूनाइटेड फास्फोरस लिमिटेड, का लॉट एंव बैच नंबर KBC-1009104,CP-15, HR3BREN3012  शामिल है। जिन विक्रेता फर्म के औषधि नमूने लिए गये है, उनमें मां लक्ष्मी कृषि सेवा केन्द्र पिपलानी विकासखण्ड नसरूल्लागंज, अंशिका क्राप केयर प्राइवेट लिमिटेड पाटन एवं मेवाड़ा कृषि सेवा केन्द्र मंडी सीहोर शामिल है।



कोई टिप्पणी नहीं: