भगवंत मान ने मांगा एक लाख करोड़ का पैकेज - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 25 मार्च 2022

भगवंत मान ने मांगा एक लाख करोड़ का पैकेज

bhagwant-mann-demand-one-lakh-crore-package
नयी दिल्ली/ चंडीगढ़, 24 मार्च, पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने गुरुवार को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से मुलाकात कर प्रदेश की वित्तीय हालत पर चर्चा की और दो साल के लिये 50-50 हजार करोड़ रुपये प्रतिवर्ष विशेष पैकेज की मांग की। श्री मान ने प्रधानमंत्री से मुलाकात के बाद कहा कि बातचीत सौहार्दपूर्ण वातावरण में हुई। उन्होंने कहा कि पंजाब की वित्तीय हालत को सुधारने के लिये नयी सरकार को दो साल के लिये एक लाख हजार करोड़ की जरूरत है,क्योंकि पंजाब पर पिछली सरकारों द्वारा छोड़ा गया तीन लाख करोड़ से ज्यादा का कर्ज है, जो माफिया प्रदेश के खजाने को लूटता रहा ताकि उसे भरा जा सके। इसके लिये दो साल तक हर साल 50 हजार करोड़ रुपये प्रति वर्ष का पैकेज मिल जाये तो रात-दिन मेहनत कर हम अपनी वित्तीय स्थिति को संभाल लेंगे ताकि प्रदेश अपने पैरों पर खड़ा हो सके। उन्होेंने कहा कि श्री मोदी ने आश्वासन दिया है कि केन्द्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण से इस मसले पर बात करेंगे। इसके अलावा उनसे बार्डर स्टेट होने के कारण राष्ट्रीय सुरक्षा के मुद्दे पर भी सहयोग मांगा, क्योंकि राष्ट्र विरोधी ताकतों ने पंजाब के शांतिपूर्ण ,सांप्रदायिक सौहार्द को बिगाड़ने की कोशिश की लेकिन राज्य के लोगों ने इसे बिगड़ने नहीं दिया। श्री मान ने कहा कि श्री मोदी ने उन्हें आश्वासन दिया कि वह जो प्रस्ताव सुरक्षा को लेकर लायेंगे, उनका सहयोग किया जायेगा। प्रधानमंत्री ने कहा कि वह देश को मिलकर आगे बढ़ाना चाहते हैं। इस पर श्री मान ने उनसे कहा,“ मैं पंजाब का विकास चाहता हूं। यदि पंजाब का विकास होता तो देश का विकास भी होगा क्योंकि पंजाब एक अंगूठी में नगीना के समान है, बदकिस्मती से नग का रंग फीका पड़ गया। पंजाब ने देश की आजादी में बड़ा योगदान दिया और अब हम पंजाब का गौरव पूर्ण अतीत लौटाकर उसे फिर ‘रंगला पंजाब’ बनाना चाहते हैं। 

कोई टिप्पणी नहीं: