बिहार : मिथिभोज पर मिथिला गौरव प्रतीक 'कंदर्पी' वृत चित्र जल्द होगा रिलीज - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 26 मार्च 2022

बिहार : मिथिभोज पर मिथिला गौरव प्रतीक 'कंदर्पी' वृत चित्र जल्द होगा रिलीज

documentry-on-mithibhoj
समस्तीपुर : दसौत स्थित शिवाय प्रोडक्शन में आज युवा फ़िल्म निर्देशक सुमित सुमन पहुंचे जहां उनकी मिथिला से जुड़े मिथिला गौरव प्रतीक 'कंदर्पी' डॉक्यूमेंट्री फ़िल्म का एडिटिंग का काम जोड़ शोर से चल रहा है। निर्देशक ने डॉक्यूमेंट्री के संबंध में बताते हुए संवादाताओं से कहा कि ये डॉक्यूमेंट्री मिथिला के पूर्व के इतिहास को दिखाता है। जिसमें 1753 ई. में दरभंगा महाराज नरेंद्र सिंह और अलीवर्दी खां के सेना के बीच कमला नदी के कंदर्पी नामक जगह पर भीषण युद्ध हुआ था और मिथिला को विजयश्री प्राप्त हुआ था। इस डॉक्यूमेंट्री के निर्माता सेवानिवृत्त अपर सचिव डॉ. रंगनाथ दिवाकर ने फ़िल्म से जुड़े कई पहलू को खोलते हुए कहा कि कंदर्पी घाट और वहां अवस्थित मिथिला विजय स्तम्भ से मेरा दिल से जुड़ाव रहा है। हमारी कोशिश है इस ऐतिहासिक इतिहास को डॉक्यूमेंट्री के माध्यम जन-जन तक पहुंचाने का प्रयास करेंगें। जिससे हमरा मिथिला समाज अपने शौर्य को भी जानें। एडिटर सह शिवाय प्रोडक्शन के निर्माता एन मंडल ने फ़िल्म के बारे में कहा कि "मैथिली में ऐसे ही धरोहरों और विभूतियों पर काम होना बहुत जरूरी है जिससे हमारे समाज पर एक सकारात्मक प्रभाव पड़ेगा। फ़िल्म निर्माण प्रसिद्ध फ़िल्म निर्माण कंपनी शिम्मर फिल्म्स इंटरनेशनल द्वारा किया जा रहा है। आगे डॉक्यूमेंट्री के रिलीजिंग के बारे में बताते हुए फ़िल्म निर्देशक सुमित सुमन ने कहा कि इस डॉक्यूमेंट्री को "मिथिभोज" चैनल पर 24 अप्रैल को एक समारोह के दौरान रिलीज किया जाएगा जिसे हम सभी मिथिभोज चैनल पर मिथिला गौरव प्रतीक कंदर्पी के नाम सर्च कर देखा जा सकता है। एडीटिंग टेबल पर फ़िल्म निर्देशक सुमित सुमन, निर्माता सेवानिवृत्त अपर सचिव डॉ. रंगनाथ दिवाकर सेवानिवृत्त अपर सचिव श्यामानंद चौधरी के साथ एडिटर निर्देशक एन मंडल उपस्थित थे।

कोई टिप्पणी नहीं: