बेतिया : बिहार दिवस के अवसर पर वॉयस ऑफ चम्पारण का रंगारंग - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 22 मार्च 2022

बेतिया : बिहार दिवस के अवसर पर वॉयस ऑफ चम्पारण का रंगारंग

  • * राष्ट्रीय, अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अपना प्रदेश का परचम लहराए और उसमें पश्चिमी चम्पारण का हो वृहत योगदानः जिलाधिकारी

बेतिया से स्वीटी माइकल

bihar-diwas-champaran
बेतिया. बिहार दिवस के अवसर पर वॉयस ऑफ चम्पारण का रंगारंग आयोजन हुआ.नगर भवन तालियों की गड़गड़ाहट से गूँजता रहा. बिहार राज्य का 110 साल हो गया है.इन वर्षों में राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर बिहार ने अपना परचम लहराया हैं.उसमें पश्चिमी चम्पारण का भी वृहत योगदान है और भविष्य में भी होगा.ऐसा जिलाधिकारी कुंदन कुमार का मानना है.जिले को राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय फलक पर दिव्यमान करने में सभी को अपना-अपना योगदान देना होगा.तभी जिले और बिहार राज्य को एक सशक्त, सबल और एक अच्छी पहचान मिल सकेगी. बिहार दिवस के अवसर पर आज दिनांक-22.03.2022 को नगर भवन, बेतिया में एक दिवसीय जिला स्तरीय सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया गया. इस कार्यक्रम का विधिवत उद्घाटन जिलाधिकारी, श्री कुंदन कुमार द्वारा किया गया. इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक, बेतिया, श्री उपेंद्र नाथ वर्मा, उप विकास आयुक्त, श्री अनिल कुमार, एसडीएम, बेतिया, श्री विनोद कुमार, एसडीएम, बेतिया, श्री अनिल कुमार, सहित अन्य जिला स्तरीय पदाधिकारी उपस्थित रहे.


वॉयस ऑफ चम्पारण कार्यक्रम के तहत प्रतिभागियों के गीत-संगीत से पूरा नगर भवन गूँज उठा.रह-रह कर तालियों की गड़गड़ाहट प्रतिभागियों का हौसला और भी बुलंद कर रहा था. इस कार्यक्रम के तहत प्रथम पुरस्कार सुश्री शिखा कुमारी, एमजेके कॉलेज, बेतिया को प्राप्त हुआ. साथ ही द्वितीय पुरस्कार उत्क्रमित मध्य विद्यालय, फुलियाखाड़ के सलमान अली एवं एमजेके कॉलेज, बेतिया के श्री साहेब आलम तथा तृतीय पुरस्कार कुमार आदित्य, ए जी मिशन स्कूल, बेतिया एवं सुश्री लक्ष्मी कुमारी, राज्य संपोषित कन्या उच्च विद्यालय को प्रदान किया गया. पुरस्कार के रूप में मेमोंटो, प्रशस्ति पत्र दिया गया. साथ ही वॉयस ऑफ चम्पारण कार्यक्रम में भाग लेने वाले सभी प्रतिभागियों को भी प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया और हौसला अफजाई की गई. इस अवसर पर जिलाधिकारी ने कहा कि बिहार दिवस के अवसर पर जिला स्तरीय सांस्कृतिक कार्यक्रम का सफलतापूर्वक आयोजन किया गया. इसके लिए पूरी टीम जिसमें जिला स्तरीय अधिकारी, प्रतिभागी, संचालनकर्ता, निर्णायक मंडल, आरक्रेस्ट्रा की टीम आदि का कार्य सराहनीय है.उन्होंने कहा कि मेरी यह दुआ है, मैं यह चाहता हूँ कि देश का जब नाम हो, भारत देश की परिकल्पना हो, तो वह परिकल्पना बिना बिहार राज्य के पूरी नहीं हो, इतना हमारा बिहार राज्य तरक्की करे.उन्होंने कहा कि बिहार राज्य राष्ट्रीय, अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अपनी पहचान बनाएं, अपना परचम लहराए और उसमें पश्चिम चम्पारण का महत्वपूर्ण योगदान हो. जिलाधिकारी ने कहा कि पश्चिमी चम्पारण जिला ऐतिहासिक विरासतों की धरती रही है.इस नवीन बिहार राज्य में हमलोग ऐसा प्रयास करे कि पश्चिमी चम्पारण हर क्षेत्र में अनवरत आगे बढ़ता रहे। उन्होंने कहा कि जिलेवासी अपने-अपने क्षेत्र में बेस्ट करें, पश्चिमी चम्पारण की पहचान देश-विदेश में स्थापित करना होगा.उन्होंने कहा कि नकारात्मकता से सकारात्मकता की ओर, अंधकार से प्रकाश की ओर निरंतर बढ़ते हुए जिले को राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय फलक पर दिव्यमान करने में सभी को अपना-अपना योगदान देना होगा। तभी जिले और बिहार राज्य को एक सशक्त, सबल और एक अच्छी पहचान मिल सकेगी. बिहार दिवस के अवसर पर नगर भवन, बेतिया में तीन दिनों दिनांक 22.03.22 से 24.03.22 तक स्टार्टअप जोन, चनपटिया एवं हरनाटांड़ के बने सामानों का स्टॉल लगाया गया है. इस स्टॉल से आमजन भी पश्चिम चंपारण में बने गुणवत्तापूर्ण सामान की खरीदारी किफायती दामों पर कर सकते हैं.जिलाधिकारी एवं पुलिस अधीक्षक, बेतिया द्वारा सभी स्टॉलों का बारी-बारी से मुआयना किया गया एवं स्टॉल लगाने वाले संस्थाओं को शुभकामनाएं दी गयी.

कोई टिप्पणी नहीं: