यूक्रेन में भारतीय बच्चे खतरे में, मोदी सरकार ‘पीआर एजेंसी’ बनी : कांग्रेस - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 4 मार्च 2022

यूक्रेन में भारतीय बच्चे खतरे में, मोदी सरकार ‘पीआर एजेंसी’ बनी : कांग्रेस

modi-government-busy-in-pr-congress
नयी दिल्ली, चार मार्च, कांग्रेस ने यूक्रेन में एक और भारतीय छात्र के कथित तौर पर गोली लगने से घायल होने की घटना को लेकर शुक्रवार को सरकार पर निशाना साधते हुए आरोप लगाया कि यूक्रेन में भारतीय छात्र खतरे में हैं, लेकिन केंद्र सरकार ‘पीआर एजेंसी’ बनी हुई है। पार्टी के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने ट्वीट किया, ‘‘एक और भारतीय छात्र को गोली लगी...यूक्रेन-रूस युद्ध में बच्चों पर हर पल ख़तरा है। मग़र मोदी सरकार सिर्फ़ पीआर एजेंसी बनी हुई है।’’ उन्होंने सवाल किया, ‘‘जो हज़ारों बच्चे यूक्रेन के अंदर भारी हमलों के बीच निकल नहीं पा रहे हैं, उन्हें कब निकालेंगे ? क्या चार मंत्रियों को सिर्फ ताली बजाने के लिए भेजा गया है ?’’ सुरजेवाला ने नागर विमानन राज्य मंत्री वीके सिंह के एक बयान को लेकर उन पर निशाना साधते हुए कहा, ‘‘बमों/मिसाइलों के हमलों में 9 दिनों से फ़ंसे बच्चों को मोदी सरकार के मंत्री कह रहे हैं कि अल्टीमेटम था तो पहले क्यों नहीं निकले, थोड़ा लम्बा रास्ता तय करके आ जाइये, जब आप सारे ख़तरों से बचकर आ जाएंगे तो हम आपकी अगवानी कर लेंगे.....। ये देश के मंत्री हैं या ट्रैवल एजेंट?’’ गौरतलब है कि वी के सिंह ने शुक्रवार को बताया कि यूक्रेन की राजधानी कीव में एक भारतीय छात्र कथित तौर पर गोली लगने से घायल हो गया है। सिंह, इस समय युद्धग्रस्त यूक्रेन में फंसे भारतीयों को निकालने के लिए उसके पड़ोसी देश पोलैंड में हैं। मंत्री ने पत्रकारों से कहा, ‘‘ आज, हमें पता चला है कि कीव छोड़कर जा रहे एक छात्र को गोली लग गई है। उसे वापस कीव ले जाया गया है। युद्ध में ऐसा होता है।’’

कोई टिप्पणी नहीं: